क्या आपको विभिन्न स्थानों के ग्राहकों से निपटने के लिए कई भाषाएँ सीखनी पड़ती हैं?...


user

Vikash kumar

Business Coach | Growth hacker | Blogger | Entrepreneur | Human Behaviour Analyst

3:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दोस्तों अगर आप वाकई में अपने ग्राहकों से अच्छा रिलेशनशिप रखना चाहते हैं तो आपको उनके नेटिव लैंग्वेज को आना बहुत ही जरूरी है ऐसा नहीं है कि अगर आप नेटिव लैंग्वेज नहीं जानते हैं तो आप एक बिजनेस में अच्छे रिलेशनशिप नहीं रह सकते हैं डेफिनेटली आफ रिलेशनशिप बना सकते हैं बहुत अच्छी तरीके से भाषा एक जरिया है आपके मैसेज को आगे बढ़ाने का ऐसा नहीं है कि अगर आपको भाषा नहीं आता तो आप काम नहीं कर सकते हां कई जगह पर यह परेशानी जरूर आती है कि वह लोग काफी रीजनल होते हैं अपनी लैंग्वेज को लेकर तो उस कंडीशन में ब्लॉक नेशनल लैंग्वेज को बोलना उतना पसंद नहीं करते हैं बट यह नहीं है आप बेशक आप अगर हिंदी बोलेंगे तो वो लोग जरूर समझेंगे हिंदी दिखी हिंदी नेशनल लैंग्वेज हिंदी हर प्रदेश में लोग समझ लेते हैं वह भी लेते हैं यह बहुत बड़ी परेशानी नहीं है कि अगर आपको वहां का नेटिव लैंग्वेज नहीं आता है तो आप बात नहीं कर सकते हैं या आप वहां काम नहीं कर सकते हैं बेशक कर सकते हैं हां थोड़ा परेशानी आपको झेलना पड़ सकता है बट चाहिए ऐसा कुछ नहीं है कि आप काम नहीं कर सकते हैं अब दो भाषा का ज्ञान होना आज के समय बहुत ही जरूरी इंग्लिश और हिंदी हिंदी के साथ-साथ आपको इंग्लिश का भी ज्ञान होना चाहिए इंग्लिश में क्योंकि आज के समय में हर एक का काम जो है वह इंग्लिश लैंग्वेज के द्वारा होता है अगर आप बिजनेस कर रहे हैं ईमेल करना होगा को ईमेल आप करेंगे तो इंग्लिश में ही मिलकर ना होता है कुछ डॉक्यूमेंट साइन करने हैं कुछ डॉक्यूमेंट बनाना है तो सहारा आपका जो डाक्यूमेंट्स है वह इंग्लिश में होता है और आज के समय में लोग इंग्लिश में बात करना भी कंफर्टेबल फील करता है इंग्लिश में बात करने में ज्यादा कंफर्टेबल फील करते हैं बट ऐसा नहीं है कि आप एक आपको इंग्लिश आना बहुत ही जरूरी है अगर आप डोमेस्टिक लेवल में भेजना कर रहे हैं तो अगर आप समस्तीपुर में बिजनेस कर रहे हैं तो ऐसे कोई हार्ड एंड फास्ट फूल नहीं है कि आपको इंग्लिश आना ही चाहिए बढ़िया इंग्लिश इंटरनेशनल लैंग्वेज है तो इसका भी गाना को होना बहुत ही जरूरी है ताकि आप अपने ऐसे बहुत सारे कस्टमर्स मिलेंगे जो आपको इंग्लिश में ही डील करेंगे तो वैसे मैं आपको इंग्लिश आना जरूरी है और हिंदी और इंग्लिश दोनों दोनों अबर कांबिनेशन होना बहुत ही जरूरी है बाकी अगर अब प्रादेशिक भाषा जानते हैं जैसे बंगाली हो गया भोजपुरी हो गया यह जो भी नोट लग जाए आप जहां पर आपके आपके क्लाइम्स है वैसे जगह पर आप जा रहे हैं अगर वहां आपका नेटिव लैंग्वेज आपको आता है तो आपको एक्स्ट्रा प्रेफरेंस मिल सकता है बट वह आपके लिए कोई मेडिट्री नहीं है अगर आप जानते हैं तो वह एक एडिशनल वैल्यू ऐड करेगा नहीं जानते हैं तो भी कोई परेशानी वाली बात नहीं है आप चाहिए वहां बिजनेस के लिए वहां बहुत सारे लोग होते हैं क्योंकि आपकी भाषा को समझते हैं कि बिजनेस में या आप कोई यह करियर आप जॉब करना चाह रहे हैं बिजनेस में जॉब में आपको जरूरी नहीं है कि वह लैंग्वेज आना ही चाहिए बट लैंग्वेज आने से एक प्रेफरेंस मिलता है बट अगर आप नहीं आता है तो भी कोई बात नहीं है आप बेशक कर सकते हैं जाकर काम हिंदी हमारी राष्ट्रभाषा हिंदी पर आंखों हिंदी जरूर आना चाहिए हिंदी हो जाना बहुत ही जरूरी है हिंदी और इंग्लिश अगर आपको आता है तो आप किसी आए भारत में कहीं भी आराम से काम कर सकते हैं अगर विदेश में काम करना चाहते हैं तो इंग्लिश जाना बहुत जरूरी है

doston agar aap vaakai me apne grahakon se accha Relationship rakhna chahte hain toh aapko unke native language ko aana bahut hi zaroori hai aisa nahi hai ki agar aap native language nahi jante hain toh aap ek business me acche Relationship nahi reh sakte hain definetli of Relationship bana sakte hain bahut achi tarike se bhasha ek zariya hai aapke massage ko aage badhane ka aisa nahi hai ki agar aapko bhasha nahi aata toh aap kaam nahi kar sakte haan kai jagah par yah pareshani zaroor aati hai ki vaah log kaafi regional hote hain apni language ko lekar toh us condition me block national language ko bolna utana pasand nahi karte hain but yah nahi hai aap beshak aap agar hindi bolenge toh vo log zaroor samjhenge hindi dikhi hindi national language hindi har pradesh me log samajh lete hain vaah bhi lete hain yah bahut badi pareshani nahi hai ki agar aapko wahan ka native language nahi aata hai toh aap baat nahi kar sakte hain ya aap wahan kaam nahi kar sakte hain beshak kar sakte hain haan thoda pareshani aapko jhelna pad sakta hai but chahiye aisa kuch nahi hai ki aap kaam nahi kar sakte hain ab do bhasha ka gyaan hona aaj ke samay bahut hi zaroori english aur hindi hindi ke saath saath aapko english ka bhi gyaan hona chahiye english me kyonki aaj ke samay me har ek ka kaam jo hai vaah english language ke dwara hota hai agar aap business kar rahe hain email karna hoga ko email aap karenge toh english me hi milkar na hota hai kuch document sign karne hain kuch document banana hai toh sahara aapka jo documents hai vaah english me hota hai aur aaj ke samay me log english me baat karna bhi Comfortable feel karta hai english me baat karne me zyada Comfortable feel karte hain but aisa nahi hai ki aap ek aapko english aana bahut hi zaroori hai agar aap domestic level me bhejna kar rahe hain toh agar aap samastipur me business kar rahe hain toh aise koi hard and fast fool nahi hai ki aapko english aana hi chahiye badhiya english international language hai toh iska bhi gaana ko hona bahut hi zaroori hai taki aap apne aise bahut saare Customers milenge jo aapko english me hi deal karenge toh waise main aapko english aana zaroori hai aur hindi aur english dono dono abr combination hona bahut hi zaroori hai baki agar ab pradeshik bhasha jante hain jaise bengali ho gaya bhojpuri ho gaya yah jo bhi note lag jaaye aap jaha par aapke aapke climes hai waise jagah par aap ja rahe hain agar wahan aapka native language aapko aata hai toh aapko extra prefarens mil sakta hai but vaah aapke liye koi meditri nahi hai agar aap jante hain toh vaah ek additional value aid karega nahi jante hain toh bhi koi pareshani wali baat nahi hai aap chahiye wahan business ke liye wahan bahut saare log hote hain kyonki aapki bhasha ko samajhte hain ki business me ya aap koi yah career aap job karna chah rahe hain business me job me aapko zaroori nahi hai ki vaah language aana hi chahiye but language aane se ek prefarens milta hai but agar aap nahi aata hai toh bhi koi baat nahi hai aap beshak kar sakte hain jaakar kaam hindi hamari rashtrabhasha hindi par aakhon hindi zaroor aana chahiye hindi ho jana bahut hi zaroori hai hindi aur english agar aapko aata hai toh aap kisi aaye bharat me kahin bhi aaram se kaam kar sakte hain agar videsh me kaam karna chahte hain toh english jana bahut zaroori hai

दोस्तों अगर आप वाकई में अपने ग्राहकों से अच्छा रिलेशनशिप रखना चाहते हैं तो आपको उनके नेटिव

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  93
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Sujata Mukherjee

Award-winning Interior Designer

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक्जेक्टली यह जो मैंने आपको कहा कि विद टाइम आपको अपलिफ्ट करना पड़ता है यह सिर्फ कॉन्सेप्ट में ही नहीं आपको अपने अंदर का जो क्वालिटी है उसमें भी आपको अब लिख करना पड़ता है क्योंकि ऐसे जगह में भी हम लोग को जाना पड़ता है कभी-कभी हम लोग को गवर्मेंट जॉब्स के लिए ऐसी जगह में भी जाना पड़ता क्योंकि टोटली विलेज एरिया होते हैं वहां पर हम लोगों को कोई असुविधा नहीं मिलता है लग्जरी तो दूर का बात है ऐसा भी नहीं है कि थोड़ा हम लोग चाय पीना हो वैसा दुकान में नहीं मिलता आपको यह दिमाग में घुसा लेना पड़ेगा कि अगर मुझे यह प्रोफेशन में आगे जाना है तो मुझे टू हंड्रेड परसेंट वह छोटी तो कुछ होता ही नहीं है अपना अंदर का जो कुछ क्वालिटीज है उसको भी लेकिन आपको इंप्रोवाइज करना पड़ेगा उसको भी बढ़ाना पड़ेगा आपको लैंग्वेज जितना आप सीख सकेंगे भी होगा क्योंकि आप उन इंसानों के साथ कमी नहीं कर पाएंगे हम लोग के अंदर में बहुत सारे बस काम करते हैं हम लोग पूर्वक जो है वह लेकिन लेवल एंड कांट्रैक्टर्स एंड डेफिनेशन इन लॉ के साथ है अब तो आपको भूलने में कैद करके रखना पड़ेगा कि उन लोग के साथ मुझे कैसे दिल कर आपको देना पड़ेगा आपको केवल के हिसाब से आपको बात करना पड़ेगा मिक्स अप करना पड़ेगा उस हिसाब से अपना भी सोचना पड़ेगा कि आनंदेरी मैं लेटी हूं मुझे इस जगह कैसे डिलीट करना चाहिए अपना जो आप कितना मुझे जॉब नहीं करना चाहिए उन लोगों कितना फ्री जगा देना चाहिए इस हिसाब से बहुत इंपॉर्टेंट होता है अपने आपको तैयार करना अपना ग्रूमिंग बहुत इंपॉर्टेंट होता है कुछ कोई भी ऐसा काम के लिए तो मैं वही बोलूंगी कि हां भाषा मुझे तो सीखना पड़ा है मुझे बहुत सारे भाषा में आज जानती हूं

exactly yah jo maine aapko kaha ki with time aapko apalift karna padta hai yah sirf concept mein hi nahi aapko apne andar ka jo quality hai usmein bhi aapko ab likh karna padta hai kyonki aise jagah mein bhi hum log ko jana padta hai kabhi kabhi hum log ko government jobs ke liye aisi jagah mein bhi jana padta kyonki totally village area hote hain wahan par hum logon ko koi asuvidha nahi milta hai luxury toh dur ka baat hai aisa bhi nahi hai ki thoda hum log chai peena ho waisa dukaan mein nahi milta aapko yah dimag mein ghusa lena padega ki agar mujhe yah profession mein aage jana hai toh mujhe to hundred percent vaah choti toh kuch hota hi nahi hai apna andar ka jo kuch kwalitij hai usko bhi lekin aapko improvise karna padega usko bhi badhana padega aapko language jitna aap seekh sakenge bhi hoga kyonki aap un insanon ke saath kami nahi kar payenge hum log ke andar mein bahut saare bus kaam karte hain hum log purvak jo hai vaah lekin level and kantraiktars and definition in law ke saath hai ab toh aapko bhulne mein kaid karke rakhna padega ki un log ke saath mujhe kaise dil kar aapko dena padega aapko keval ke hisab se aapko baat karna padega mix up karna padega us hisab se apna bhi sochna padega ki ananderi main leti hoon mujhe is jagah kaise delete karna chahiye apna jo aap kitna mujhe job nahi karna chahiye un logon kitna free jagah dena chahiye is hisab se bahut important hota hai apne aapko taiyar karna apna grooming bahut important hota hai kuch koi bhi aisa kaam ke liye toh main wahi bolungi ki haan bhasha mujhe toh sikhna pada hai mujhe bahut saare bhasha mein aaj jaanti hoon

एक्जेक्टली यह जो मैंने आपको कहा कि विद टाइम आपको अपलिफ्ट करना पड़ता है यह सिर्फ कॉन्सेप्ट

Romanized Version
Likes  26  Dislikes    views  440
WhatsApp_icon
user

Consultant Abhay

Sales And Marketing Executive In AMARON

2:07
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भाई आपका जो क्वेश्चन है कि अलग-अलग स्थानों के ग्राहकों से निपटने के लिए अलग-अलग भाषाएं सीखने पड़ेंगे तो सबसे बड़ी बात कि मैं खुद मार्केट देखता हूं तो यहां पर ऐसी कोई मतलब है जरूरी नहीं कर सकते ऐसा जरूरी नहीं है क्योंकि आप जिस भी जगह रहेंगे तो कहने कहीं जो मां तेरा जो लैंग्वेज होगा वह दे दे उसको आप ऐड कर ही लेंगे कि नहीं इसको अपना लेंगे तो ऑटोमेटिक धीरे-धीरे इसमें कहीं दौरा नहीं दूसरा बात्रा कि ग्राहकों से निपटने के लिए ग्राहकों से निपटने के लिए लैंग्वेज से ज्यादा इंपॉर्टेंट जो होता है वह मेरे हिसाब से एक्सप्रेशन होता है उसके बाद कॉन्फिडेंस होता आपका जो प्रोडक्ट है उसके प्रति आपका क्या समर्पण है क्या उसके बारे में आपको कितनी जानकारी है आप उसको कस्टमर के सामने में किस तरीके से रख सकते हैं वह ज्यादा इंपोर्टेंस है अब विश्वास होता कि वह अपनी बात दूसरों तक इशारों में ही पहुंचा लेते लेटली मार्केट से जुड़े होने के नाते कस्टमर से निपटने के लिए भाषा सीखने से ज्यादा इंपोर्टेंट है कि आप खुद का जो प्रोडक्ट है उसके बारे में पूर्ण जानकारी रखें कंपलीट नॉलेज रखें और कस्टमर को पूरा डिसाइड करें कि भैया यह प्रोडक्ट को अदर के तुलना में कहीं न कहीं बेटर है टर्बो प्राइस के मामले में हो या क्वालिटी के मामले में हो या जो भी हो जिस पर इंटरव्यू से हो इन कहीं ना कहीं बैठा है जब कस्टमर को यह फील हुआ कि नहीं आपका प्रोडक्ट सही मायने में अच्छा तभी वह आपकी बात पर बिलीव करेगा और आपके प्रोडक्ट को खरीदेगा अपना आएगा तो कॉल से ज्यादा इंपोर्टेंट है

bhai aapka jo question hai ki alag alag sthanon ke grahakon se nipatane ke liye alag alag bhashayen seekhne padenge toh sabse badi baat ki main khud market dekhta hoon toh yahan par aisi koi matlab hai zaroori nahi kar sakte aisa zaroori nahi hai kyonki aap jis bhi jagah rahenge toh kehne kahin jo maa tera jo language hoga vaah de de usko aap aid kar hi lenge ki nahi isko apna lenge toh Automatic dhire dhire isme kahin daura nahi doosra batra ki grahakon se nipatane ke liye grahakon se nipatane ke liye language se zyada important jo hota hai vaah mere hisab se expression hota hai uske baad confidence hota aapka jo product hai uske prati aapka kya samarpan hai kya uske bare mein aapko kitni jaankari hai aap usko customer ke saamne mein kis tarike se rakh sakte hain vaah zyada importance hai ab vishwas hota ki vaah apni baat dusron tak ishaaron mein hi pahuncha lete lately market se jude hone ke naate customer se nipatane ke liye bhasha seekhne se zyada important hai ki aap khud ka jo product hai uske bare mein purn jaankari rakhen complete knowledge rakhen aur customer ko pura decide karen ki bhaiya yah product ko other ke tulna mein kahin na kahin better hai turbo price ke mamle mein ho ya quality ke mamle mein ho ya jo bhi ho jis par interview se ho in kahin na kahin baitha hai jab customer ko yah feel hua ki nahi aapka product sahi maayne mein accha tabhi vaah aapki baat par believe karega aur aapke product ko kharidega apna aayega toh call se zyada important hai

भाई आपका जो क्वेश्चन है कि अलग-अलग स्थानों के ग्राहकों से निपटने के लिए अलग-अलग भाषाएं सीख

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  229
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!