सिकंदर की भारत में सफलता के कारण क्या थे?...


user

Sanjeev Vaidya

सिविल सेवा मार्गदर्शक

2:12
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखे पहले तो मैं आपको बता दूं कि सिकंदर भारत में सफल ही नहीं 12 युद्ध जीतने को सफलता नहीं बोल सकते मैं आपको सिलसिलेवार सिकंदर के भारत में आसमानों के क्रम हुआ था आपको कुछ सुना जाएगा किसी के अंदर जो भारत में सफल हुआ तो उसके कारण क्या हो सकते हैं इससे पूर्व 326 में जीतने के बाद सिकंदर ने भारत में प्रवेश किया काबुल होता हुआ हिंदूकुश पर्वत को पार करके तक्षशिला के शासक आंधी ने उसके समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया और सहयोग का वचन दिया हम भी के बाद एक और शासन सचिव गुप्त ने भी सिकंदर के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया इसीपुर 326 में सिंधु नदी को पार करने के बाद झेलम नदी के तट पर उसका सामना पंजाब के राजा पोरस यह युद्ध जिसे झेलम का युद्ध चल रहा है देश में युद्ध भी कहते हैं यम और चिनाब नदी के मध्य लड़ा गया परंतु उसके निर्भीकता से प्रभावित होकर सिकंदर ने उसे उसका राज्य लौटा दिया व्यास नदी पर पहुंचकर चिपक सिकंदर के सिपाहियों ने बगावत कर दी उन्होंने आगे बढ़ने से इंकार कर दिया अंततः अपने विविध भारती क्षेत्र अपने सेनापति फिलिप को साफ कर वापस लौट गया सिकंदर भारत में मात्र 19 मारा और वापस लौटते समय बेबीलोन में इस 323 में 33 वर्ष की आयु में उसकी मृत्यु हो गई रात देखेंगे सिकंदर ने भारत में प्रवेश किया झेलम का युद्ध जीता लेकिन व्यास नदी को वह पार नहीं कर पाया बल व्यास नदी से ही सिकंदर की फौजी वापस लौटने सिकंदर ने भारत में प्रवेश नहीं किया पूरी तरीके से उसके आत्मा को सफल कैसे कर सकते हैं धन्यवाद

dekhe pehle toh main aapko bata doon ki sikandar bharat me safal hi nahi 12 yudh jitne ko safalta nahi bol sakte main aapko silsilewar sikandar ke bharat me asamanon ke kram hua tha aapko kuch suna jaega kisi ke andar jo bharat me safal hua toh uske karan kya ho sakte hain isse purv 326 me jitne ke baad sikandar ne bharat me pravesh kiya kabul hota hua hindukush parvat ko par karke takshashila ke shasak aandhi ne uske samaksh atmasamarpan kar diya aur sahyog ka vachan diya hum bhi ke baad ek aur shasan sachiv gupt ne bhi sikandar ke samaksh atmasamarpan kar diya isipur 326 me sindhu nadi ko par karne ke baad jhelam nadi ke tat par uska samana punjab ke raja porous yah yudh jise jhelam ka yudh chal raha hai desh me yudh bhi kehte hain yum aur chenab nadi ke madhya lada gaya parantu uske nirbhikata se prabhavit hokar sikandar ne use uska rajya lauta diya vyas nadi par pahuchkar chipak sikandar ke sipaahiyon ne bagavat kar di unhone aage badhne se inkar kar diya antatah apne vividh bharati kshetra apne senapati philip ko saaf kar wapas lot gaya sikandar bharat me matra 19 mara aur wapas lautate samay babylon me is 323 me 33 varsh ki aayu me uski mrityu ho gayi raat dekhenge sikandar ne bharat me pravesh kiya jhelam ka yudh jita lekin vyas nadi ko vaah par nahi kar paya bal vyas nadi se hi sikandar ki fauji wapas lautne sikandar ne bharat me pravesh nahi kiya puri tarike se uske aatma ko safal kaise kar sakte hain dhanyavad

देखे पहले तो मैं आपको बता दूं कि सिकंदर भारत में सफल ही नहीं 12 युद्ध जीतने को सफलता नहीं

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  158
KooApp_icon
WhatsApp_icon
4 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!