क्या दोबारा प्यार हो सकता है क्या...


user

DR. I.P.SINGH

Doctorate in Literature

1:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्यों आपने लिखा है क्या दोबारा प्यार हो सकता है क्या क्यों नहीं हो सकता मित्र अगर बीच में किसी विसंगति के कारण ऐसा हो गया हो तो दोबारा प्यार हो सकता है और इस पर आप तो बहुत दूर नहीं जाने की जरूरत है प्रेमचंद जी की कहानी पढ़ लीजिए बड़े घर की बेटी या राजेंद्र यादव जी का एक उपन्यास सारा आकाश अगर किसी कारणवश बीच में मतभेद पैदा हो गया हो कोमल भेद भी बन गया हो तो अपनी अपनी गलती का अगर सच्चे दिल के एहसास हो जाए या बाहर के लोगों ने फटे में टांग अड़ा ने की कोशिश की है जले पर नमक मिर्ची तड़का है उन कारणों को समझने आपस में प्यार क्यों नहीं हो सकता है रामायण में देखिए हुआ है कि नहीं है रामचरितमानस में जो है सबसे ज्यादा राम को प्यार करती थी और मंत्रा के बहकावे में आ गई तो प्यार खत्म हो गया और वही जाकर के पैर चित्रकूट में राम से हाथ जोड़ती हैं कि लौट चलो और भरत की बातें सुन लो तो हमारे धर्म किस बात की दे रहे हैं तो कहा भी गया हिंदुस्तान में किस का भूला शाम को घर लौट आए तो वह बोला नहीं कर रहा था और अगर ऐसी कोई विसंगति है तो हां दुबारा थोड़ा सा सावधान रहने की जरूरत है कि कहीं छल कपट का भाव तो नहीं है क्योंकि के नाम पर धोखा भी बहुत तगड़ा होता

kyon aapne likha hai kya dobara pyar ho sakta hai kya kyon nahi ho sakta mitra agar beech me kisi visangati ke karan aisa ho gaya ho toh dobara pyar ho sakta hai aur is par aap toh bahut dur nahi jaane ki zarurat hai Premchand ji ki kahani padh lijiye bade ghar ki beti ya rajendra yadav ji ka ek upanyas saara akash agar kisi karanvash beech me matbhed paida ho gaya ho komal bhed bhi ban gaya ho toh apni apni galti ka agar sacche dil ke ehsaas ho jaaye ya bahar ke logo ne phate me taang ada ne ki koshish ki hai jale par namak mirchi tadaka hai un karanon ko samjhne aapas me pyar kyon nahi ho sakta hai ramayana me dekhiye hua hai ki nahi hai ramcharitmanas me jo hai sabse zyada ram ko pyar karti thi aur Mantra ke bahakaave me aa gayi toh pyar khatam ho gaya aur wahi jaakar ke pair chitrakoot me ram se hath jodti hain ki lot chalo aur Bharat ki batein sun lo toh hamare dharm kis baat ki de rahe hain toh kaha bhi gaya Hindustan me kis ka bhula shaam ko ghar lot aaye toh vaah bola nahi kar raha tha aur agar aisi koi visangati hai toh haan dubara thoda sa savdhaan rehne ki zarurat hai ki kahin chhal kapat ka bhav toh nahi hai kyonki ke naam par dhokha bhi bahut tagada hota

क्यों आपने लिखा है क्या दोबारा प्यार हो सकता है क्या क्यों नहीं हो सकता मित्र अगर बीच में

Romanized Version
Likes  133  Dislikes    views  899
WhatsApp_icon
10 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Dr. Shakeel Akhtar

Homeopathy Doctor

0:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जीना दोबारा प्यार हो सकता है अगर किसी मित्र मिसअंडरस्टैंडिंग की वजह से किसी गलतफहमी की वजह से प्यार में दरार पड़ गई है तो उस मिसअंडरस्टैंडिंग को खत्म किया जा सकता है और दोनों अपनी अपनी बात को रख दो प्रेमियों को दूर करें और प्यार फिर दोबारा से हो सकता है थैंक यू

jeena dobara pyar ho sakta hai agar kisi mitra misunderstanding ki wajah se kisi galatfahamee ki wajah se pyar me daraar pad gayi hai toh us misunderstanding ko khatam kiya ja sakta hai aur dono apni apni baat ko rakh do premiyon ko dur kare aur pyar phir dobara se ho sakta hai thank you

जीना दोबारा प्यार हो सकता है अगर किसी मित्र मिसअंडरस्टैंडिंग की वजह से किसी गलतफहमी की वजह

Romanized Version
Likes  224  Dislikes    views  2801
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या दोबारा प्यार हो सकता है क्या तुझी हो सकता है कभी-कभी हो जाती है जो हमारा प्यार हमसे परंतु दोबारा आपको प्रेम नहीं हो सकता है तलाश करें तो आपको आपका जीवन साथी मिल सकता है किसी और रूप में तो बस प्रयास करने की जरूरत है आप जीवन में नई शुरुआत दोबारा से कर सकते हैं धन्यवाद आपका दिन शुभ

kya dobara pyar ho sakta hai kya tujhi ho sakta hai kabhi kabhi ho jaati hai jo hamara pyar humse parantu dobara aapko prem nahi ho sakta hai talash kare toh aapko aapka jeevan sathi mil sakta hai kisi aur roop me toh bus prayas karne ki zarurat hai aap jeevan me nayi shuruat dobara se kar sakte hain dhanyavad aapka din shubha

क्या दोबारा प्यार हो सकता है क्या तुझी हो सकता है कभी-कभी हो जाती है जो हमारा प्यार हमसे प

Romanized Version
Likes  206  Dislikes    views  3126
WhatsApp_icon
user

Shubham Saini

Software Engineer

0:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न क्या दोबारा प्यार हो सकता है हां यह तो हुमन नेचर है कि प्यार कर सकते हो पर आप जरा सोचो आप पहला प्यार किया वहां पर धोखा खाए हो या नहीं मिला तो प्लीज अपने समय को बर्बाद मत करो अपने समय का सही इस्तेमाल करो और आप एक्सएक्सज्ज इंसान बनो फिर आप प्यार करते नहीं

aapka prashna kya dobara pyar ho sakta hai haan yah toh human nature hai ki pyar kar sakte ho par aap zara socho aap pehla pyar kiya wahan par dhokha khaye ho ya nahi mila toh please apne samay ko barbad mat karo apne samay ka sahi istemal karo aur aap eksaeksajj insaan bano phir aap pyar karte nahi

आपका प्रश्न क्या दोबारा प्यार हो सकता है हां यह तो हुमन नेचर है कि प्यार कर सकते हो पर आप

Romanized Version
Likes  209  Dislikes    views  2265
WhatsApp_icon
user

vedprakash singh

Psychologist

1:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है क्या दोबारा प्यार हो सकता है क्या तो जहां तक कि मेरा मानना है कि प्यार द्वारा क्या प्यार तो हर क्षण होता है प्यार तो खुद से करो किसी दूसरे से करना क्या आपने ऐसा सवाल किया है मुझे तो शर्म आ रही है प्यार खुद से करो अपने आप से करो यदि आप अपने आप से प्यार नहीं करोगे तो दूसरा करेगा क्या दूसरे को प्यार करने का मतलब अपने आप को भूल जाना है इसीलिए प्यार अंधा होता है लोगों से आप सुनते होंगे क्या मैं गलत बोल रहा हूं क्या मैं थोड़ा कॉमेडीिल भाषा में बोल रहा हूं जवाब दे रहा हूं तो सबसे बड़ी बात है आपको कोई ना दुखी कर सकता ना सुखी आदमी अपना दुखी और सुखी अपने पास रखता है इसीलिए यहां तक कि मेरा मानना है कि मेरा मानना है कि आदमी अपने आप से ही दुखी सुखी होता है तो दोबारा प्यार किया हो तो हर समय हो सकता है और हर किसी से हो सकता है दुनिया में जितने लड़के हैं वह तो भाई देख सकते हैं कोई अंकल देख सकते मतलब हर तरीके से प्यार क्यों के रूप नहीं होता परिभाषा नहीं तो आपके अंदर काबिलियत है यदि माली जी आपको हम दुखी करना चाहेंगे आप नहीं होना चाहेंगे तो कभी न होंगे आप सुबह-सुबह टहलने जाते हैं तो आपको क्या लगता है आप क्यों खुश होते हैं इसका कारण है आपकी ग्रंथ या सुबह सुबह उठते और तुरंत डालने जाते मतलब क्या आप सुबह ताजे होते आपकी ग्रंथि आपके अंदर नहीं होती है कारण आप खुश हो जाते हैं लेकिन मान लीजिए आप सेक्सी वीडियो देखे तो उसे क्या होगा आपका जो ग्रंथियां अंदर एक पन्ना प्ले लेगा और एक शरीर में जाकर कहीं ना कहीं एक ग्रंथि के रूप में इकट्ठा हो जाएगा उस तरीके से इस तरीके की बातें बोलते हैं या तो फिर शरीर में कथावते द्वारा क्या हो सकता है

aapka sawaal hai kya dobara pyar ho sakta hai kya toh jaha tak ki mera manana hai ki pyar dwara kya pyar toh har kshan hota hai pyar toh khud se karo kisi dusre se karna kya aapne aisa sawaal kiya hai mujhe toh sharm aa rahi hai pyar khud se karo apne aap se karo yadi aap apne aap se pyar nahi karoge toh doosra karega kya dusre ko pyar karne ka matlab apne aap ko bhool jana hai isliye pyar andha hota hai logo se aap sunte honge kya main galat bol raha hoon kya main thoda kamediil bhasha me bol raha hoon jawab de raha hoon toh sabse badi baat hai aapko koi na dukhi kar sakta na sukhi aadmi apna dukhi aur sukhi apne paas rakhta hai isliye yahan tak ki mera manana hai ki mera manana hai ki aadmi apne aap se hi dukhi sukhi hota hai toh dobara pyar kiya ho toh har samay ho sakta hai aur har kisi se ho sakta hai duniya me jitne ladke hain vaah toh bhai dekh sakte hain koi uncle dekh sakte matlab har tarike se pyar kyon ke roop nahi hota paribhasha nahi toh aapke andar kabiliyat hai yadi maali ji aapko hum dukhi karna chahenge aap nahi hona chahenge toh kabhi na honge aap subah subah tahlane jaate hain toh aapko kya lagta hai aap kyon khush hote hain iska karan hai aapki granth ya subah subah uthte aur turant dalne jaate matlab kya aap subah taje hote aapki granthi aapke andar nahi hoti hai karan aap khush ho jaate hain lekin maan lijiye aap sexy video dekhe toh use kya hoga aapka jo granthiyan andar ek panna play lega aur ek sharir me jaakar kahin na kahin ek granthi ke roop me ikattha ho jaega us tarike se is tarike ki batein bolte hain ya toh phir sharir me kathavate dwara kya ho sakta hai

आपका सवाल है क्या दोबारा प्यार हो सकता है क्या तो जहां तक कि मेरा मानना है कि प्यार द्वारा

Romanized Version
Likes  51  Dislikes    views  898
WhatsApp_icon
user

Krishanlal Kanwat

Retire Officer

0:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां गलतफहमी में टूट गया हो तो एक दूसरे को समझा इसमें कन्वेंस करके हो सकता

haan galatfahamee mein toot gaya ho toh ek dusre ko samjha isme convence karke ho sakta

हां गलतफहमी में टूट गया हो तो एक दूसरे को समझा इसमें कन्वेंस करके हो सकता

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  136
WhatsApp_icon
user

Yogi Prashant Nath

Business Consultant / M D

6:57
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार सर्वप्रथम सराहनीय हैं आपके द्वारा पूछा गया यह प्रश्न जो प्रेम से संबंधित है उसके उपरांत में अपना परिचय कराना चाहूंगा आपसे मेरा नाम है योगी प्रशांत नाथ चलिए बढ़ते हैं आपके प्रश्न की तरफ आइए जानते आपने क्या प्रश्न किया है अपने प्रश्न किया है क्या जिंदगी में दोबारा प्यार हो सकता है जी हां बिल्कुल जिंदगी में दोबारा प्यार हो सकता है इसमें कोई दो राय नहीं है क्योंकि कई बार हम अपने अपने आप को किसी के प्रति हमारा लगाव होता या ट्रेक्शन होता है तो उस चीज को हम प्यार समझ लेते हैं क्योंकि हम अंतर नहीं कर पाते लगाओ आकर्षण और प्यार में ज्यादा अंतर नहीं होता बस एक बारी सा फर्क होता है और कई बार गलतफहमी में हम अपने किसी के प्रति अगर हमारा का सुन होता है और लगा होता तो हम उसे प्यार समझ लेते हैं तो ऐसे में जब हमें वास्तविक में प्यार का अर्थ पता चलता है प्यार का एहसास होता है तो हम हमें लगता है कि यह गलत है या हम बहुत से कंफ्यूज में दुविधा में फंस जाते हैं कि हम इस दुविधा से किस प्रकार से निकले और क्या यह दोबारा हमसे मिला प्यार हो रहा है हम दोबारा प्यार कर सकते हैं या नहीं कर सकते इस तरह के सवाल हमारे मन में उठते हैं यकीनन जी हां क्योंकि और देखे प्यार जिंदगी में बहुत महत्व रखता है और प्यार की जो परिभाषा है उसको समझना बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि प्यार कभी भी किसी से किसी प्रकार की अपेक्षा नहीं रखता किसी से किसी चीज की कह सकते हैं उम्मीद नहीं करता प्यार निस्वार्थ भाव से किया जाता है प्यार सिर्फ और सिर्फ देने की इच्छा करता है किसी को सुख सुविधा और हमारी द्वारा किसी के लिए कुछ करने का एहसास कुछ करने का जुनून ही प्यार होता है और अगर आप किसी के लिए कुछ करना चाहते हैं उसके बदले आपकी चाहत है कि वह भी आप से प्यार करें तो यह कहीं ना कहीं कह सकते हमारा स्वार्थ है हमें अपनी भावनाओं को व्यक्त करना चाहिए जरूर रखना चाहिए हर किसी को अधिकार है अपनी बातों को किसी के सामने रखना रखने का तो हम कभी भी अपने मन में जो भी किसी के प्रति आपका अगर लगाव होता है किसी को आपको लगता है कि आपको उसके उससे अपनी बातें कहनी चाहिए अपनी भावनाएं व्यक्त करनी चाही तो बिल्कुल कहनी चाहिए इसमें कोई दो राय नहीं है कोई भी समय नहीं बात करना चाहिए और बिल्कुल कहना चाहिए आपकी जो भी किसी व्यक्ति के प्रति किसी शख्स के प्रति आपकी जो विचारधारा है जो भावनाएं आपकी उसे जरूर उसके सामने रखें बताएं और उसके बाद आप उनके जो भी निर्णय होगा उसका जरूर सम्मान करें क्योंकि जिस प्रकार से आपको स्वतंत्रता है अपनी बात कहने की रख ले कि उसी प्रकार से उस शख्स को भी स्वतंत्रता है चुनाव का नेकी निर्णय लेने की वह चाहे तो आपके कह सकते हैं कोई जवाब में हां सहमति रख सकते हैं हां कर सकते हैं और नहीं भी कर सकते क्योंकि यह चुनाव पूरी तरह से यह निर्णय पूरी तरह से उन पर ही आधारित है उन्हीं पर ही डिपेंड करता है आप इसमें कुछ नहीं कर सकते बस आपको यह कि अपनी बातों को जरूर कहना चाहिए क्योंकि कई बार जो हमारी बातें हैं हम मन ही मन है वह हमें परेशान करते रहते हैं अगर हम उसे किसी के सामने नहीं कह पाते नहीं रख पाते तो कहीं लगे हमें अंदर ही अंदर खाए जाते हैं तो अगर आपको किसी के लगता है आपके के लिए किसी के पर फीलिंग है प्यार की फीलिंग है आपको किसी के प्रति किसी के लिए तो जरूर उनसे कहें और यह निर्णय लेना उनका काम है कि वह आपके प्यार को एक्सेप्ट करें आपके प्रपोजल को एक सेट करें या रिजेक्ट करें क्योंकि हर किसी की अपनी निजी जिंदगी होती है हर किसी चुनाव करने की स्वतंत्रता होती है कि वह किस चीज को चुनना चाहते किस चीज के साथ जुड़ना चाहते हैं उनकी सीट को अपनाना चाहते हैं वह हर अपनी निजी स्वतंत्रता होती है निजी निर्णय होता है तो हमें इसमें किसी का दखल नहीं देना चाहे किसी प्रकार का क्योंकि प्यार में कभी भी किसी प्रकार का कैसेट तक फोर्स नहीं होता किसी प्रकार से भी आप किसी को प्रेरित नहीं कर सकते कि आप जबरदस्ती क्या आप भी मैं आपसे प्यार करता हूं तो आप भी मुझसे जबरदस्ती प्यार करें ऐसा बिल्कुल नहीं है और अगर आप ऐसा करते हैं कि आपको किसी से प्यार और आप जबरदस्त जबरदस्ती किसी से कहते हैं करने की कोशिश करते हैं दरगाह के धमकाकर तू कहीं ना कहीं आपका स्वागत है आपका लालच है आप सिर्फ और सिर्फ उसे चाहते हैं कि यह मेरे पास हो जाए जैसे हम कई बार जीतकर इतना किस दिन हो जाती है वह कि मुझे एक गाड़ी चाहिए वह सामान चाहिए वह खिलौना चाहिए तो इस प्रकार से हम भी है बे करते नोट प्यार नहीं होता वह एक तरह से कह सकते तो सबसे पहले इनकी बारी को को समझना बहुत जरूरी है और इस एहसास के साथ अगर आपके अंदर यह पीलिंग से यह सांसे तो आप जरूर अपनी बात रखें उस शख्स के सामने जिसके लिए आपकी यह फिलिंग्स है और उनका है जो भी निर्णय होगा जो भी उनको आप जरूर स्वीकार करें और देखे हमें हमेशा अपने आसपास जो भी लोग हम से जुड़ते क्योंकि वास्तव में हम खुद अकेले नहीं होते हमारे से काफी लोग जुड़े हुए थे हमारे मां-बाप हमारे भाई बहन हमारे रिलेटिव तो हमें उनका उनके बारे में भी जरूर एक बार सोचना चाहिए कि हमारे द्वारा उठाया गया कदम वाक्य हर किसी के लिए अच्छा है कि नहीं क्योंकि कहते ना कई बार प्यार को भी कुर्बान करना पड़ता है कुछ चीजें होती है क्योंकि हर किसी को नहीं मिलता यहां प्यार जिंदगी में तो वही चीज होती है कि कई बार हम बहुत ज्यादा मजबूर हो जाते हैं हालात हमारे ऐसे हो जाते क्या हम मिल नहीं सकते तो उन चीजों को समझना चाहिए हर चीज को और मेरी बेस्ट विशेज आपके साथ हैं आपके जीवन के लिए मेरी बहुत-बहुत शुभकामनाएं आशा करता यह पोस्ट आपको अच्छा लगा तो आप जरूर इसे लाइक करें शेयर करें ज्यादातर लोगों के साथ था कि जिनके भी मन में इस तरह की दुविधा हो तो वह सवाल को सुनकर जरूर कोई ना कोई निर्णय ले सके और आपने अपना मूल्यवान समय दिया इसके लिए मैं आपका आभार व्यक्त करता हूं और यही कहूंगा कि आप हमारे वोकल प्रोफाइल पेज को जरूर फॉलो करें हमसे जुड़ने के लिए धन्यवाद

namaskar sarvapratham sarahniya hain aapke dwara poocha gaya yah prashna jo prem se sambandhit hai uske uprant me apna parichay krana chahunga aapse mera naam hai yogi prashant nath chaliye badhte hain aapke prashna ki taraf aaiye jante aapne kya prashna kiya hai apne prashna kiya hai kya zindagi me dobara pyar ho sakta hai ji haan bilkul zindagi me dobara pyar ho sakta hai isme koi do rai nahi hai kyonki kai baar hum apne apne aap ko kisi ke prati hamara lagav hota ya attraction hota hai toh us cheez ko hum pyar samajh lete hain kyonki hum antar nahi kar paate lagao aakarshan aur pyar me zyada antar nahi hota bus ek baari sa fark hota hai aur kai baar galatfahamee me hum apne kisi ke prati agar hamara ka sun hota hai aur laga hota toh hum use pyar samajh lete hain toh aise me jab hamein vastavik me pyar ka arth pata chalta hai pyar ka ehsaas hota hai toh hum hamein lagta hai ki yah galat hai ya hum bahut se confuse me duvidha me fans jaate hain ki hum is duvidha se kis prakar se nikle aur kya yah dobara humse mila pyar ho raha hai hum dobara pyar kar sakte hain ya nahi kar sakte is tarah ke sawaal hamare man me uthte hain yakinan ji haan kyonki aur dekhe pyar zindagi me bahut mahatva rakhta hai aur pyar ki jo paribhasha hai usko samajhna bahut mahatvapurna hai kyonki pyar kabhi bhi kisi se kisi prakar ki apeksha nahi rakhta kisi se kisi cheez ki keh sakte hain ummid nahi karta pyar niswarth bhav se kiya jata hai pyar sirf aur sirf dene ki iccha karta hai kisi ko sukh suvidha aur hamari dwara kisi ke liye kuch karne ka ehsaas kuch karne ka junun hi pyar hota hai aur agar aap kisi ke liye kuch karna chahte hain uske badle aapki chahat hai ki vaah bhi aap se pyar kare toh yah kahin na kahin keh sakte hamara swarth hai hamein apni bhavnao ko vyakt karna chahiye zaroor rakhna chahiye har kisi ko adhikaar hai apni baaton ko kisi ke saamne rakhna rakhne ka toh hum kabhi bhi apne man me jo bhi kisi ke prati aapka agar lagav hota hai kisi ko aapko lagta hai ki aapko uske usse apni batein kahani chahiye apni bhaavnaye vyakt karni chahi toh bilkul kahani chahiye isme koi do rai nahi hai koi bhi samay nahi baat karna chahiye aur bilkul kehna chahiye aapki jo bhi kisi vyakti ke prati kisi sakhs ke prati aapki jo vichardhara hai jo bhaavnaye aapki use zaroor uske saamne rakhen bataye aur uske baad aap unke jo bhi nirnay hoga uska zaroor sammaan kare kyonki jis prakar se aapko swatantrata hai apni baat kehne ki rakh le ki usi prakar se us sakhs ko bhi swatantrata hai chunav ka neki nirnay lene ki vaah chahen toh aapke keh sakte hain koi jawab me haan sahmati rakh sakte hain haan kar sakte hain aur nahi bhi kar sakte kyonki yah chunav puri tarah se yah nirnay puri tarah se un par hi aadharit hai unhi par hi depend karta hai aap isme kuch nahi kar sakte bus aapko yah ki apni baaton ko zaroor kehna chahiye kyonki kai baar jo hamari batein hain hum man hi man hai vaah hamein pareshan karte rehte hain agar hum use kisi ke saamne nahi keh paate nahi rakh paate toh kahin lage hamein andar hi andar khaye jaate hain toh agar aapko kisi ke lagta hai aapke ke liye kisi ke par feeling hai pyar ki feeling hai aapko kisi ke prati kisi ke liye toh zaroor unse kahein aur yah nirnay lena unka kaam hai ki vaah aapke pyar ko except kare aapke proposal ko ek set kare ya reject kare kyonki har kisi ki apni niji zindagi hoti hai har kisi chunav karne ki swatantrata hoti hai ki vaah kis cheez ko chunana chahte kis cheez ke saath judna chahte hain unki seat ko apnana chahte hain vaah har apni niji swatantrata hoti hai niji nirnay hota hai toh hamein isme kisi ka dakhal nahi dena chahen kisi prakar ka kyonki pyar me kabhi bhi kisi prakar ka kaiset tak force nahi hota kisi prakar se bhi aap kisi ko prerit nahi kar sakte ki aap jabardasti kya aap bhi main aapse pyar karta hoon toh aap bhi mujhse jabardasti pyar kare aisa bilkul nahi hai aur agar aap aisa karte hain ki aapko kisi se pyar aur aap jabardast jabardasti kisi se kehte hain karne ki koshish karte hain dargah ke dhamakakar tu kahin na kahin aapka swaagat hai aapka lalach hai aap sirf aur sirf use chahte hain ki yah mere paas ho jaaye jaise hum kai baar jeetkar itna kis din ho jaati hai vaah ki mujhe ek gaadi chahiye vaah saamaan chahiye vaah khilona chahiye toh is prakar se hum bhi hai be karte note pyar nahi hota vaah ek tarah se keh sakte toh sabse pehle inki baari ko ko samajhna bahut zaroori hai aur is ehsaas ke saath agar aapke andar yah peeling se yah sanse toh aap zaroor apni baat rakhen us sakhs ke saamne jiske liye aapki yah feelings hai aur unka hai jo bhi nirnay hoga jo bhi unko aap zaroor sweekar kare aur dekhe hamein hamesha apne aaspass jo bhi log hum se judte kyonki vaastav me hum khud akele nahi hote hamare se kaafi log jude hue the hamare maa baap hamare bhai behen hamare relative toh hamein unka unke bare me bhi zaroor ek baar sochna chahiye ki hamare dwara uthaya gaya kadam vakya har kisi ke liye accha hai ki nahi kyonki kehte na kai baar pyar ko bhi kurban karna padta hai kuch cheezen hoti hai kyonki har kisi ko nahi milta yahan pyar zindagi me toh wahi cheez hoti hai ki kai baar hum bahut zyada majboor ho jaate hain haalaat hamare aise ho jaate kya hum mil nahi sakte toh un chijon ko samajhna chahiye har cheez ko aur meri best vishej aapke saath hain aapke jeevan ke liye meri bahut bahut subhkamnaayain asha karta yah post aapko accha laga toh aap zaroor ise like kare share kare jyadatar logo ke saath tha ki jinke bhi man me is tarah ki duvidha ho toh vaah sawaal ko sunkar zaroor koi na koi nirnay le sake aur aapne apna mulyavan samay diya iske liye main aapka abhar vyakt karta hoon aur yahi kahunga ki aap hamare vocal profile page ko zaroor follow kare humse judne ke liye dhanyavad

नमस्कार सर्वप्रथम सराहनीय हैं आपके द्वारा पूछा गया यह प्रश्न जो प्रेम से संबंधित है उसके उ

Romanized Version
Likes  118  Dislikes    views  672
WhatsApp_icon
user

sulekhayoga03

Yoga Teacher & health beauty expert

0:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या दुबारा प्यार हो सकता है तो बिल्कुल हो सकता है प्यार लो बोलते हैं एक बार होता है लेकिन यह सब सही है यार कई बार हो सकता है यह सच है लेकिन जब फर्स्ट टाइम किसी को प्यार होता है वह प्यार इंसान को लाइफटाइम याद रहता है यह बात है बट प्यार ऐसा नहीं कि एक ही बार या कहीं बाहर हो सकता है और किसी भी चीज में हो सकता है थैंक यू

kya dubara pyar ho sakta hai toh bilkul ho sakta hai pyar lo bolte hain ek baar hota hai lekin yah sab sahi hai yaar kai baar ho sakta hai yah sach hai lekin jab first time kisi ko pyar hota hai vaah pyar insaan ko lifetime yaad rehta hai yah baat hai but pyar aisa nahi ki ek hi baar ya kahin bahar ho sakta hai aur kisi bhi cheez mein ho sakta hai thank you

क्या दुबारा प्यार हो सकता है तो बिल्कुल हो सकता है प्यार लो बोलते हैं एक बार होता है लेकिन

Romanized Version
Likes  46  Dislikes    views  1142
WhatsApp_icon
user

sumit agarwal

business man

0:48
Play

Likes  10  Dislikes    views  154
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार आपका सवाल है क्या दुबारा प्यार हो सकता है हो सकता है मगर प्यार जो सच्चे मन से जो प्यार करता है वह सिर्फ एक ही बार होता है सच्चे दिल से प्यार तो सौभाग्य आदमी करते हैं मगर जो दिल से प्यार होता है वह सिर्फ एक ही बार होता है ऐसा प्यार जो पहली बार प्यार होता है वह प्यार दोबारा उस प्यार के मुकाबले नहीं होता धन्यवाद

namaskar aapka sawaal hai kya dubara pyar ho sakta hai ho sakta hai magar pyar jo sacche man se jo pyar karta hai vaah sirf ek hi baar hota hai sacche dil se pyar toh saubhagya aadmi karte hain magar jo dil se pyar hota hai vaah sirf ek hi baar hota hai aisa pyar jo pehli baar pyar hota hai vaah pyar dobara us pyar ke muqable nahi hota dhanyavad

नमस्कार आपका सवाल है क्या दुबारा प्यार हो सकता है हो सकता है मगर प्यार जो सच्चे मन से जो प

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  37
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!