प्रेज़ेन्स ऑफ़ माइंड कितना ज़रूरी होता है रेडीओ जॉकी के लिए?...


user

Abhishek Sharma

Forest Range Officer, MP

1:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जितनी भी रेडियो शो चलते हैं वह कभी भी ऑन टाइम नहीं चलते अगर आप ध्यान से किसी रेडियो शो के बारे में सुनते हैं और अगर वह आपको टाइम के बारे में बताते हैं तो आपको समझ में आएगा कि रेडियो शो एग्जैक्ट टाइम से पहले रिकॉर्ड किए जाते हैं और उसके बाद उनको ब्रॉडकास्ट किया जाता है यानी कि अगर 10:00 पर मिनट 15 मिनट पहले भी उनको अगर रिकॉर्डिंग की तंगी गई है उनको प्रकाश किया जाता है ऐसा इसलिए किया जाता है ताकि कोई आवाज नहीं घटना रेडियो पर लाइव प्रसारित ना हो पाए लेकिन फिर भी प्रेजेंस ऑफ माइंड का होना काफी आवश्यक है जोकि के लिए क्योंकि कभी-कभी आपका संपर्क जो होता है वह जनता से होता है और आपके पास ऐसे कॉलेज के भी फोन आ सकते हैं या आपसे कभी कभी गाना बजाने में मिलते हो जाती है हालांकि वह मिस्टिक सुधारी जा सकती है क्योंकि लाइव नहीं होते लेकिन अगर कोई रेडियो लाइव है तो उसके लिए आपको प्रेजेंस ऑफ माइंड बिल्कुल रखना को खुला रखना ओके दिमाग को सारे के सारे ऑप्शन आपको हमेशा और सबसे खास बात यह है कि जब भी आप इस तरह की चीजें मैं काम करेंगे जितनी बड़ी चीज में काम करेंगे उसके लिए आपको ज्यादा अभ्यास की आवश्यकता उतना प्रयास करेंगे उतना ही उस घर में अपने बड़ों से चली जाएंगे धन्यवाद

jitni bhi radio show chalte hain vaah kabhi bhi on time nahi chalte agar aap dhyan se kisi radio show ke bare mein sunte hain aur agar vaah aapko time ke bare mein batatey hain toh aapko samajh mein aayega ki radio show exact time se pehle record kiye jaate hain aur uske baad unko Broadcast kiya jata hai yani ki agar 10 00 par minute 15 minute pehle bhi unko agar recording ki tangi gayi hai unko prakash kiya jata hai aisa isliye kiya jata hai taki koi awaaz nahi ghatna radio par live prasarit na ho paye lekin phir bhi presence of mind ka hona kaafi aavashyak hai joki ke liye kyonki kabhi kabhi aapka sampark jo hota hai vaah janta se hota hai aur aapke paas aise college ke bhi phone aa sakte hain ya aapse kabhi kabhi gaana bajane mein milte ho jaati hai halaki vaah mistik sudhari ja sakti hai kyonki live nahi hote lekin agar koi radio live hai toh uske liye aapko presence of mind bilkul rakhna ko khula rakhna ok dimag ko saare ke saare option aapko hamesha aur sabse khaas baat yah hai ki jab bhi aap is tarah ki cheezen main kaam karenge jitni badi cheez mein kaam karenge uske liye aapko zyada abhyas ki avashyakta utana prayas karenge utana hi us ghar mein apne badon se chali jaenge dhanyavad

जितनी भी रेडियो शो चलते हैं वह कभी भी ऑन टाइम नहीं चलते अगर आप ध्यान से किसी रेडियो शो के

Romanized Version
Likes  72  Dislikes    views  1368
WhatsApp_icon
1 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!