user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रश्न है अवसाद क्या है तो उत्तर और 71 तरह की मानसिक बीमारी या और शांति है और सादा डिप्रेशन का तात्पर्य मनोविज्ञान के क्षेत्र में मनोभाव संबंधित दुखों से होता है इसे रोगिया सिंड्रोम की संज्ञा भी दी जाती है धन्यवाद

prashna hai avsad kya hai toh uttar aur 71 tarah ki mansik bimari ya aur shanti hai aur saada depression ka tatparya manovigyan ke kshetra mein manobhaav sambandhit dukhon se hota hai ise rogiya Syndrome ki sangya bhi di jaati hai dhanyavad

प्रश्न है अवसाद क्या है तो उत्तर और 71 तरह की मानसिक बीमारी या और शांति है और सादा डिप्रेश

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  150
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अप 71 का पूर्णतया मानसिक रोग है और यह एक मनोवैज्ञानिक कारण से होता है जब हमें मानसिक विकार हो जाते हैं किसी के प्रति घृणा होती है या कोई हमारे पति एवं प्रति घृणा रखता है या हमें महसूस होता है कि कोई हमारे लिए घृणा रखते हैं इस प्रकार का जो नेगेटिव थिंकिंग हमारे अंदर आती है नेगेटिव एक जो विचार आते हैं जो उससे हमें यह लगता है कि कोई हमें इन भाव से देख रहा है और हमारे अंदर अप्रत्यक्ष अप्रत्यक्ष कर के हमारे भीतर आम आ जाती है तो उससे हमारा मानसिक अभिकारक इतना बढ़ जाता है कि हम अपराध की श्रेणी में चले जाते हैं और मनोवैज्ञानिक है इसका कारण होता है और इससे मनोवैज्ञानिक तरीके से ही इसको समाप्त भी किया जा सकता है मनोविज्ञान ही इसका एक तरीका है कि मानसिक रूप से हम धीरे-धीरे अच्छे लोगों के साथ होता शुरू करें और अवसाद को समाप्त करें

up 71 ka purnataya mansik rog hai aur yah ek manovaigyanik karan se hota hai jab hamein mansik vikar ho jaate hain kisi ke prati ghrina hoti hai ya koi hamare pati evam prati ghrina rakhta hai ya hamein mehsus hota hai ki koi hamare liye ghrina rakhte hain is prakar ka jo Negative thinking hamare andar aati hai Negative ek jo vichar aate hain jo usse hamein yah lagta hai ki koi hamein in bhav se dekh raha hai aur hamare andar apratyaksh apratyaksh kar ke hamare bheetar aam aa jaati hai toh usse hamara mansik abhikarak itna badh jata hai ki hum apradh ki shreni me chale jaate hain aur manovaigyanik hai iska karan hota hai aur isse manovaigyanik tarike se hi isko samapt bhi kiya ja sakta hai manovigyan hi iska ek tarika hai ki mansik roop se hum dhire dhire acche logo ke saath hota shuru kare aur avsad ko samapt kare

अप 71 का पूर्णतया मानसिक रोग है और यह एक मनोवैज्ञानिक कारण से होता है जब हमें मानसिक विकार

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  83
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!