अवसाद क्या होता है?...


user

Prof (Dr) S. S. Prasad.

Psychiatrist ,Medical Practice & Teaching Faculty.

3:02
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार जी मैं डॉ एसएस प्रसाद मनोरोग विशेषज्ञ आपने प्रश्न किया है अवसाद क्या होता है अवसाद एक मनोरोग के अंदर में आता है और से कोशी डिसऑर्डर है इमोशनल डिसऑर्डर से पैदा होता है जब किसी इंसान को मन की बातें पूरा ना हो जिस को बोलचाल की भाषा में दिस अपॉइंटमेंट ऑफ लव यू बोला जाता है प्यार में निराशा बिजनेस में घाटा काम में परेशानी आपने जो चीज चाहा वह पूरा नहीं हुआ बट नेचुरल है इन सारे परेशानियों के बाद आदमी अवसाद के अंदर में चला जाता है इसको दूसरे से बोलते हैं और इंसान काफी दुखी हो जाता है इसमें में गोलियां भी बोला जाता है अति दुखी होना अति बेचैन रहना अति घबराहट होना यह सारी अवसाद के लक्षण है और इमोशनल कारणों से पैदा होता है यही मोशन आपको कहीं से भी डिस्टर्ब कर सकता है हम भी समाज में रहते हैं इस परिवार में रहते हैं जो भी काम करते हैं वह आपको सही प्यार ना मिला हो सही फायदा ना मिला हो सही रिजल्ट नहीं मिला हो तो अब साथ क्षेत्र से पैदा होगा और अंत में इंसान एंजाइटी जिसे चिंता ही बोलते हैं वैसे ग्रसित हो जाता है और ऐसे इंसान के अंदर में कार्य करने की क्षमता घट जाती है स्वास्थ्य बिगड़ने लगता है भूकंप में लगता है या तो अधिक संतुष्ट होता है या नींद नहीं आती है यह सारी बातें डिवेलप करने लगता है अगर ऐसा किसी में हो रहा है तो निश्चित रूप से वह अवसाद के अंदर में जा रहा है और इसी सबसे अच्छी दवा है प्यार संता बना सहयोग और पॉजिटिव थॉट धन्यवाद

namaskar ji main Dr. SS prasad manorog visheshagya aapne prashna kiya hai avsad kya hota hai avsad ek manorog ke andar me aata hai aur se koshi disorder hai emotional disorder se paida hota hai jab kisi insaan ko man ki batein pura na ho jis ko bolchal ki bhasha me this appointment of love you bola jata hai pyar me nirasha business me ghata kaam me pareshani aapne jo cheez chaha vaah pura nahi hua but natural hai in saare pareshaniyo ke baad aadmi avsad ke andar me chala jata hai isko dusre se bolte hain aur insaan kaafi dukhi ho jata hai isme me goliya bhi bola jata hai ati dukhi hona ati bechain rehna ati ghabarahat hona yah saari avsad ke lakshan hai aur emotional karanon se paida hota hai yahi motion aapko kahin se bhi disturb kar sakta hai hum bhi samaj me rehte hain is parivar me rehte hain jo bhi kaam karte hain vaah aapko sahi pyar na mila ho sahi fayda na mila ho sahi result nahi mila ho toh ab saath kshetra se paida hoga aur ant me insaan anxiety jise chinta hi bolte hain waise grasit ho jata hai aur aise insaan ke andar me karya karne ki kshamta ghat jaati hai swasthya bigadne lagta hai bhukamp me lagta hai ya toh adhik santusht hota hai ya neend nahi aati hai yah saari batein develop karne lagta hai agar aisa kisi me ho raha hai toh nishchit roop se vaah avsad ke andar me ja raha hai aur isi sabse achi dawa hai pyar santa bana sahyog aur positive thought dhanyavad

नमस्कार जी मैं डॉ एसएस प्रसाद मनोरोग विशेषज्ञ आपने प्रश्न किया है अवसाद क्या होता है अवसाद

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  162
WhatsApp_icon
1 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!