जैन धर्म के तीसरे तीर्थंकर कौन थे?...


user

Ashish Raaz Gautam

Teacher 👍पढ़ोगे तो आगे भी बढोगे

2:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

फ्रेंड आपका क्वेश्चन है कि जैन धर्म के तीसरे तीर्थंकर कौन थे अगर फ्रेंड देखा जाए तो इसके अनुसार जैन धर्म में अब तक 24 तीर्थंकर हुए हैं और प्रथम तीर्थंकर की बात करी जाए तो ऋषभदेव थे और जो दूसरे थे वह अजीतनाथ थे और तीसरे तीर्थंकर जो थे वह संभावना थे और चौथे तीर्थंकर थे वह अभिनंदन स्वामी के पांचवे नंबर पर आते हैं तुम 38 और छठे तीर्थंकर पदमप्रभु थे और साथ में जो तूफान करते हो सुपार्श्वनाथ थे आठवें नंबर पर जो आते हैं चंद्रप्रभु थे और नौवें नंबर पर सुविधिनाथ थे दशमी तीर्थंकर शीतलनाथ थे 11 में श्रीनाथ बार में थे वास्तु पूजन हाथ-पैर में नंगा नंबर जूते दान करते हुए विमलनाथ थे और शोध में कहते अनंतनाथ और 15 नंबर पर थे वह धर्मनाथ और 16 नंबर के 2 तीर्थंकर शांतिनाथ थे और सत्र में नंबर चेंज होते हैं वह कुछ सुना थे और 18वें नंबर पर आते हैं हमारे वह क्या बोलते हैं उनको अमरनाथ 19 नंबर गए थे हम मल्लीनाथ और बी सी में नंबर पर थे मुनीसुव्रत और इसमें नंबर पर आते हैं नेमिनाथ 22वें नंबर पाते हैं और स्टोर ने में और देश में पार्श्वनाथ और 24वें तीर्थंकर थे वे थे महावीर स्वामी तो धन्यवाद फ्रेंड

friend aapka question hai ki jain dharm ke teesre tirthankar kaun the agar friend dekha jaaye toh iske anusaar jain dharm mein ab tak 24 tirthankar hue hain aur pratham tirthankar ki baat kari jaaye toh rikhabdeo the aur jo dusre the vaah ajitnath the aur teesre tirthankar jo the vaah sambhavna the aur chauthe tirthankar the vaah abhinandan swami ke paanchve number par aate hain tum 38 aur chhathe tirthankar padamprabhu the aur saath mein jo toofan karte ho suparshwanath the aathven number par jo aate hain chandraprabhu the aur nauvey number par suvidhinath the dashami tirthankar shitalnath the 11 mein srinath baar mein the vastu pujan hath pair mein nanga number joote daan karte hue vimalnath the aur shodh mein kehte anantanath aur 15 number par the vaah dharmanath aur 16 number ke 2 tirthankar shantinath the aur satra mein number change hote hain vaah kuch suna the aur ve number par aate hain hamare vaah kya bolte hain unko amarnath 19 number gaye the hum mallinath aur be si mein number par the munisuvrat aur isme number par aate hain neminath ve number paate hain aur store ne mein aur desh mein pasharvanath aur ve tirthankar the ve the mahavir swami toh dhanyavad friend

फ्रेंड आपका क्वेश्चन है कि जैन धर्म के तीसरे तीर्थंकर कौन थे अगर फ्रेंड देखा जाए तो इसके अ

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  240
KooApp_icon
WhatsApp_icon
1 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!