नए साल में क्या करें और क्या ना करें?...


play
user

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नया साल आता है तो यह वैसे तो है अंग्रेजी कैलेंडर का कन्या अवश्य भारत में कहीं पर भी जो है यह अंग्रेजी शब्द नहीं आता जो भारत में जो आता है वह जो रामनवमी के बाद जो है वहां से जो है लेकिन क्योंकि अभी एक गीत हो गई है एक रिवाज बन गया है कि हम नए साल पर कुछ न कुछ जो है अंकल जो आपने पिछले सालों में नहीं किया है वह आप संकल्प लें विशेष आलाप से छूट गया है उसका संकल्प लें उसको सिर्फ तुम्हें संकल्प ले ही नहीं उसको जो है अच्छे से अपने अपने आप में उठा ले आपको इस बात का पता होना चाहिए जो हमें संकल्प लिया है उसको हम जो है वह किससे कैसे जो है उसको इंप्लीमेंट करें और किस तरीके से नहीं तो आपको संकल्प लेते हैं लेकिन उसके बाद आपको उस पर खरे नहीं उतरते कोशिश करिए कि हम उस पर खरे उतरे और हमारे जो संकल्प जो है वह सुचारु रुप से चलें सुचारू रूप से चलने से मतलब होगा कि हम जो है हमें सेटिस्फेक्शन मिलेगी तू हमारा जो संकल्प है वह पूरे होने चाहिए क्योंकि हमें सेटिस्फेक्शन तभी मिलती है जब हमारे संकल्प पूरे हो गए हैं जो हमें इस बात की चिंता ना हो कि हमारा जो है कोई ना कोई संकल्प अधूरा रह गया है

naya saal aata hai toh yah waise toh hai angrezi calendar ka kanya avashya bharat mein kahin par bhi jo hai yah angrezi shabd nahi aata jo bharat mein jo aata hai vaah jo ramnavami ke baad jo hai wahan se jo hai lekin kyonki abhi ek geet ho gayi hai ek rivaaj ban gaya hai ki hum naye saal par kuch na kuch jo hai uncle jo aapne pichle salon mein nahi kiya hai vaah aap sankalp le vishesh aalap se chhut gaya hai uska sankalp le usko sirf tumhe sankalp le hi nahi usko jo hai acche se apne apne aap mein utha le aapko is baat ka pata hona chahiye jo hamein sankalp liya hai usko hum jo hai vaah kisse kaise jo hai usko implement kare aur kis tarike se nahi toh aapko sankalp lete hain lekin uske baad aapko us par khare nahi utarate koshish kariye ki hum us par khare utare aur hamare jo sankalp jo hai vaah suruchi roop se chalen sucharu roop se chalne se matlab hoga ki hum jo hai hamein setisfekshan milegi tu hamara jo sankalp hai vaah poore hone chahiye kyonki hamein setisfekshan tabhi milti hai jab hamare sankalp poore ho gaye hain jo hamein is baat ki chinta na ho ki hamara jo hai koi na koi sankalp adhura reh gaya hai

नया साल आता है तो यह वैसे तो है अंग्रेजी कैलेंडर का कन्या अवश्य भारत में कहीं पर भी जो है

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  178
KooApp_icon
WhatsApp_icon
4 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!