हिंसक विरोध प्रदर्शन के पहले या बाद में प्रशासन एहतियात के तौर पर इंटरनेट शटडाउन होता है, इससे क्या नुक़सान होता है? आपकी क्या राय है?...


user

Anil Ramola

Yoga Instructor | Engineer

2:47
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आज है कि आजकल देखा गया है कि घर पर कोई हिंसक विरोध प्रदर्शन होता है उससे पहले इंटरनेट बंद कर दे तो कुछ तक तो यह बिल्कुल सही है क्योंकि आज के समय में हम सोशल मीडिया का ज्यादा उपयोग और सूचनाओं को इधर से उधर करने में उपयोग करते हैं और इस समय कुछ अराजक तत्व सोशल मीडिया का उपयोग सॉन्ग को फैलाने में करते हैं जिससे कि हिंसा और अधिक बढ़ सकती है तो इससे यह कदम ठीक है लेकिन यह कि हम काफी समय से देख रहे क्या हर बार यही हो रहा है कि इंटरनेट बंद कर दिया था है लेकिन फिर भी यह पेमेंट समाधान नहीं है हमें कोशिश करनी चाहिए कि कुछ ऐसा प्रोविजन लाया जाए कि अगर कहीं पर कुछ सोच प्रदर्शन हो रहा है तो वहां पर हिंसक घटनाएं ना हो और हिंसक घटना अगर होती है तो उसके लिए जो जिम्मेदार हैं उनके लिए सख्त सख्त कार्रवाई का प्रावधान अभी-अभी हमारे देश में है कोई नहीं है कि किसी आंदोलन में आवेशन में अगर जनता मिलकर कोई हिंसक बना दो फूल करती है तो उसका कोई जुर्माना या फिर सजा का प्रावधान इसलिए कुछ आगरा का तो बेहिचक उसमें क्या फायदा उठाते हैं और समाज में आने की कोशिश करते हैं तो हमें कोशिश करनी चाहिए कि इस समय आवेदक भी कभी ऐसी सिपरेशन हो तो इंटरनेट का सही उपयोग किया जाए और इंटरनेट में आप फॉर्म को नहलाया जाए और प्रशासन को सिर्फ इसी पर फोकस नहीं करना चाहिए साथ ही साथ ही आजकल से होजरी सीसीटी कैमरे हैं अगर कोई भी बंदा विरोध प्रदर्शन के दौरान तोड़फोड़ कर पाया जाए यह प्रश्न करता पाया जाए तो उसके खिलाफ सीसीटी कैमरे का फुटेज लेकर रुपए करवा ही सजा और जुर्माने के तौर पर जो भी नुकसान हुआ है उसकी भरपाई की जाए तो हो सकता है विरोध करेंगे तुम लोग का जो परेशान हो प्रकार होगा अहिंसक ना हो गए एंड सात्मक होगा जिससे कि देश का विकास होगा और जब यह जरूरी है क्योंकि जब भी कोई ऐसा देश को बहुत कुछ होता है आपने भी दिखाओगे बहुत से ऐसे लोग जिन्होंने जिससे कि करोड़ों का नुकसान हुआ है हमारे देश की जनता का हित है क्योंकि जो भी सरकारी संपत्ति है उसमें जो पैसा है वह हमारा ही तो है तो इसीलिए इंटरनेट शटडाउन करना कि सिर्फ एक मात्र उपाय नहीं है पहचान के तौर पे करना और आगे भी मैं प्यार करते रहना चाहिए जिससे कि हिंसक प्रदर्शन में कमी आए

aaj hai ki aajkal dekha gaya hai ki ghar par koi hinsak virodh pradarshan hota hai usse pehle internet band kar de toh kuch tak toh yah bilkul sahi hai kyonki aaj ke samay mein hum social media ka zyada upyog aur suchanaon ko idhar se udhar karne mein upyog karte hain aur is samay kuch arajak tatva social media ka upyog song ko felane mein karte hain jisse ki hinsa aur adhik badh sakti hai toh isse yah kadam theek hai lekin yah ki hum kaafi samay se dekh rahe kya har baar yahi ho raha hai ki internet band kar diya tha hai lekin phir bhi yah payment samadhan nahi hai hamein koshish karni chahiye ki kuch aisa provision laya jaaye ki agar kahin par kuch soch pradarshan ho raha hai toh wahan par hinsak ghatnaye na ho aur hinsak ghatna agar hoti hai toh uske liye jo zimmedar hain unke liye sakht sakht karyawahi ka pravadhan abhi abhi hamare desh mein hai koi nahi hai ki kisi andolan mein aaveshan mein agar janta milkar koi hinsak bana do fool karti hai toh uska koi jurmana ya phir saza ka pravadhan isliye kuch agra ka toh behichak usme kya fayda uthate hain aur samaj mein aane ki koshish karte hain toh hamein koshish karni chahiye ki is samay avedak bhi kabhi aisi separation ho toh internet ka sahi upyog kiya jaaye aur internet mein aap form ko nahlaya jaaye aur prashasan ko sirf isi par focus nahi karna chahiye saath hi saath hi aajkal se hojari CCT camera hain agar koi bhi banda virodh pradarshan ke dauran thorphor kar paya jaaye yah prashna karta paya jaaye toh uske khilaf CCT camera ka footage lekar rupaye karva hi saza aur jurmane ke taur par jo bhi nuksan hua hai uski bharpai ki jaaye toh ho sakta hai virodh karenge tum log ka jo pareshan ho prakar hoga ahinsak na ho gaye and satmak hoga jisse ki desh ka vikas hoga aur jab yah zaroori hai kyonki jab bhi koi aisa desh ko bahut kuch hota hai aapne bhi dikhaoge bahut se aise log jinhone jisse ki karodo ka nuksan hua hai hamare desh ki janta ka hit hai kyonki jo bhi sarkari sampatti hai usme jo paisa hai vaah hamara hi toh hai toh isliye internet shutdown karna ki sirf ek matra upay nahi hai pehchaan ke taur pe karna aur aage bhi main pyar karte rehna chahiye jisse ki hinsak pradarshan mein kami aaye

आज है कि आजकल देखा गया है कि घर पर कोई हिंसक विरोध प्रदर्शन होता है उससे पहले इंटरनेट बंद

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  171
KooApp_icon
WhatsApp_icon
11 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!