6 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

महेश सेठ

रेकी ग्रैंडमास्टर,लाइफ कोच

0:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जाखल हरियाणा महाराज जिसे राज्य सरकार बनाने के लिए कुछ भी नहीं करना चाहिए क्योंकि यह सब हैपनिंग का पाठ है कहीं सरकार बनती कहीं नहीं बनती कभी आप सत्ता में हो तो कभी नहीं होते हो इसके लिए कुछ नहीं अगर यह जहां से बन जाएगी बन जाएगी इसके लिए कोई नहीं वो ज्यादा परेशान नहीं होना चाहिए जनता सब समझती है जनता ने बड़े-बड़े सुरमा खत्म कर दिए चाहे वह भाजपा हो चाहे वह कांग्रेस हो किसी को भी बपौती नहीं होनी चाहिए राजनीति ऐसे ही चलती है धन्यवाद सबका मंगल हो

jakhal haryana maharaj jise rajya sarkar banane ke liye kuch bhi nahi karna chahiye kyonki yah sab happening ka path hai kahin sarkar banti kahin nahi banti kabhi aap satta mein ho toh kabhi nahi hote ho iske liye kuch nahi agar yah jaha se ban jayegi ban jayegi iske liye koi nahi vo zyada pareshan nahi hona chahiye janta sab samajhti hai janta ne bade bade suramaa khatam kar diye chahen vaah bhajpa ho chahen vaah congress ho kisi ko bhi bapauti nahi honi chahiye raajneeti aise hi chalti hai dhanyavad sabka mangal ho

जाखल हरियाणा महाराज जिसे राज्य सरकार बनाने के लिए कुछ भी नहीं करना चाहिए क्योंकि यह सब हैप

Romanized Version
Likes  62  Dislikes    views  937
WhatsApp_icon
user

Anil Ramola

Yoga Instructor | Engineer

3:06
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कुछ समय से लिखा गया है कि भाजपा की सरकार है उसने 5 से अधिक विधानसभा क्षेत्र में अपनी सफल हुई है इसके पीछे बहुत सी वजह है कि हो सकता है कि जो कार्य करने का जो का रूप है उस जनता को पसंद नहीं आया और कुछ समय से 7 सालों से यही चल रहा है कि सरकार है मोदी जी के नाम से ही पूछ लीजिए और जो देश का जो चुनाव होता है लोकसभा चुनाव और जो राज्य विधानसभा चुनाव होता है यह दोनों बिल्कुल अलग-अलग चुनाव में लोकसभा चुनाव पूरे देश का एकमात्र कितना पढ़ा जाता है और जबकि विधानसभा चुनाव राज्य वर्ग तक सीमित रहता है तू जो लोकसभा के चुनाव में पूरा देश चाहता है कि मोदी आ गया है इसलिए उन्होंने भाजपा को सपोर्ट किया है भाजपा की सरकार बनी लेकिन जो राज्य व क्षेत्र होता है कि इसमें शायद भाजपा का जो का कार्य है वह जनता को पसंद नहीं आया इस वजह से जनता ने इस बार इनको हटा से वेद किस समय कोशिशें करने की भाषा को कि अपने जो भी विषय है इस बार उनको कंप्लीट करें और जो अपनी इस समय जो इनकी मनो कोई जाग रही है किसी मोदी के नाम से ही चुनाव लड़ा जाए इसमें थोड़ा शाम को पेमेंट करना पड़ेगा कि आपने जो क्षेत्रीय जो नेता है उनको इंप्रूव करें उन पर क्वालिटी वाले नेता एक ग्रुप करें और इस प्रकार की योजनाओं पर फोकस करें लोगों से जुड़े लोगों को सिर्फ मोदी जी के नाम लेकर वोट मांगे अपना कार्य बताएं मैं कार्य के आधार पर उनसे वोट मांगे कि हमने यह कार्य क्या है और यह इसकी समीक्षा है अगर आपने काम किया होगा तो जनता को बताने की जरूरत ही नहीं होगी तो इस तरीके से भाजपा आगे आने विधानसभा चुनाव में फिर से एक बार अपना बहुमत हासिल कर सकती है और अपनी सकता मना सकती है लेकिन जैसा कि मैं पहले भी कहा कि पिछले कुछ समय से सिर्फ मोदी जी पर ही फोकस बनाए बी के नाम से बोली जा रहे और जीतने के बाद ही आराम से अपनी तनखा ले रहे हैं और मजे मार दे तो सिर्फ कि यह भी कुछ वजह है जिनकी वजह से इनको कुछ राज्यों में अपनी सत्ता गंवानी पड़ी है तो भाजपा की जो कभी नेट है उसको यह देखना होगा कि सिर्फ मोदी जी के नाम से हम एक बार या दो बार वोट दे सकते हैं बाहर बारे में पूछ लेना है तो हमें कार्य करके दिखाना होगा और कुछ हद तक भाजपा ने काफी अच्छा कार्य भी किया है जिसे हम अंतरराष्ट्रीय काम की है और राज्य और भी बहुत काम की जाति की उत्तर प्रदेश की बात की जाए तो आदित्य योगी नाथ जी ने वहां पर जो कानून व्यवस्था भेजो अपना पकड़ बनाई है वह बहुत अच्छी किए उत्तर प्रदेश में मर्यादा का माहौल था लेकिन आज के समय में काफी अच्छी स्थिति है और आगे देखे थे और इंप्रूव हो रही है और हम देश की बात करें तो मोदी जी हमारे देश का प्रथम युद्ध कर रहे हैं अंतरराष्ट्रीय मैच में जहां भी जाएं उनका एक नाम है देश का और अच्छा अच्छा कार्य करने की कोशिश करें धन्यवाद

kuch samay se likha gaya hai ki bhajpa ki sarkar hai usne 5 se adhik vidhan sabha kshetra mein apni safal hui hai iske peeche bahut si wajah hai ki ho sakta hai ki jo karya karne ka jo ka roop hai us janta ko pasand nahi aaya aur kuch samay se 7 salon se yahi chal raha hai ki sarkar hai modi ji ke naam se hi puch lijiye aur jo desh ka jo chunav hota hai lok sabha chunav aur jo rajya vidhan sabha chunav hota hai yah dono bilkul alag alag chunav mein lok sabha chunav poore desh ka ekmatra kitna padha jata hai aur jabki vidhan sabha chunav rajya varg tak simit rehta hai tu jo lok sabha ke chunav mein pura desh chahta hai ki modi aa gaya hai isliye unhone bhajpa ko support kiya hai bhajpa ki sarkar bani lekin jo rajya va kshetra hota hai ki isme shayad bhajpa ka jo ka karya hai vaah janta ko pasand nahi aaya is wajah se janta ne is baar inko hata se ved kis samay koshishein karne ki bhasha ko ki apne jo bhi vishay hai is baar unko complete kare aur jo apni is samay jo inki mano koi jag rahi hai kisi modi ke naam se hi chunav lada jaaye isme thoda shaam ko payment karna padega ki aapne jo kshetriya jo neta hai unko improve kare un par quality waale neta ek group kare aur is prakar ki yojnao par focus kare logo se jude logo ko sirf modi ji ke naam lekar vote mange apna karya bataye main karya ke aadhaar par unse vote mange ki humne yah karya kya hai aur yah iski samiksha hai agar aapne kaam kiya hoga toh janta ko bata ki zarurat hi nahi hogi toh is tarike se bhajpa aage aane vidhan sabha chunav mein phir se ek baar apna bahumat hasil kar sakti hai aur apni sakta mana sakti hai lekin jaisa ki main pehle bhi kaha ki pichle kuch samay se sirf modi ji par hi focus banaye be ke naam se boli ja rahe aur jitne ke baad hi aaram se apni tankha le rahe hain aur maje maar de toh sirf ki yah bhi kuch wajah hai jinki wajah se inko kuch rajyo mein apni satta ganvani padi hai toh bhajpa ki jo kabhi net hai usko yah dekhna hoga ki sirf modi ji ke naam se hum ek baar ya do baar vote de sakte hain bahar bare mein puch lena hai toh hamein karya karke dikhana hoga aur kuch had tak bhajpa ne kaafi accha karya bhi kiya hai jise hum antararashtriya kaam ki hai aur rajya aur bhi bahut kaam ki jati ki uttar pradesh ki baat ki jaaye toh aditya yogi nath ji ne wahan par jo kanoon vyavastha bhejo apna pakad banai hai vaah bahut achi kiye uttar pradesh mein maryada ka maahaul tha lekin aaj ke samay mein kaafi achi sthiti hai aur aage dekhe the aur improve ho rahi hai aur hum desh ki baat kare toh modi ji hamare desh ka pratham yudh kar rahe hain antararashtriya match mein jaha bhi jayen unka ek naam hai desh ka aur accha accha karya karne ki koshish kare dhanyavad

कुछ समय से लिखा गया है कि भाजपा की सरकार है उसने 5 से अधिक विधानसभा क्षेत्र में अपनी सफल ह

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  141
WhatsApp_icon
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

3:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपके अनुसार झारखंड हरियाणा और महाराष्ट्र जैसे राज्यों में भाजपा सरकार को सत्ता से करने के लिए क्या कदम उठाने की झारखंड में जेएमएम और कांग्रेस में गठबंधन किया था और उनकी सरकार बनेगी और हेमंत सोरेन जी बनेंगे चीफ मिनिस्टर को जो जनता की आवाज है और जनता का जो मैच है उसे कबूल करना चाहिए बजट को करेंगे और रही बात सरकार बैटरी की और उन्होंने गठबंधन किया है चौटाला जी के साथ सुरेंद्र चला चल रही महाराष्ट्र की बात करें तो मार्च में जो शिवसेना में गठबंधन तोड़कर तरह से चुनाव के बाद और जिस तरह से कांग्रेस पार्टी की पार्टी के साथ एनसीपी के साथ गठबंधन करके सरकार बनाई है वहां पर वेट करना चाहिए हो सकता है कि आने वाले समय में यह तीनों पार्टियां अलग अलग विचारधारा नहीं भजन से वह टूटने की भी संभावना हो सकती है भाजपा को राधे सत्ता हासिल करना भाजपा को भी गलत बात है सत्ता हासिल किए बिना पब्लिक का सपोर्ट है आम जनता ने अपनी पहचान और अपना स्वार्थ बनाए रखें लंबा समय तक का स्कोर कैसे विश्वास होता है वहीं जरूरी होता है क्योंकि कोई भी होती है तो उसको ऐसे ही करना चाहिए इसलिए आने वाले समय में भले ही आज दिख रहा है कि भारत में से कितने राज्य चले गए मध्यप्रदेश के कर्नाटक गया राजस्थान बिहार झारखंड जो सरकार ने गठबंधन की हो रही है बन रही है उनको अपना कार्य के परिणाम को दिखाने से पहले क्या करें कि भाजपा की सरकार और यह सरकार जाती है वह क्या कर रही पब्लिक उसको मार करेगी यह नोटिस करेगी और आने वाले चुनाव में अपना नाम लेते हो सकता है कि भाजपा को राज इलेक्शन धन्यवाद

aapke anusaar jharkhand haryana aur maharashtra jaise rajyo mein bhajpa sarkar ko satta se karne ke liye kya kadam uthane ki jharkhand mein JMM aur congress mein gathbandhan kiya tha aur unki sarkar banegi aur hemant soren ji banenge chief minister ko jo janta ki awaaz hai aur janta ka jo match hai use kabool karna chahiye budget ko karenge aur rahi baat sarkar battery ki aur unhone gathbandhan kiya hai chautala ji ke saath surendra chala chal rahi maharashtra ki baat kare toh march mein jo shivsena mein gathbandhan todkar tarah se chunav ke baad aur jis tarah se congress party ki party ke saath ncp ke saath gathbandhan karke sarkar banai hai wahan par wait karna chahiye ho sakta hai ki aane waale samay mein yah tatvo partyian alag alag vichardhara nahi bhajan se vaah tutne ki bhi sambhavna ho sakti hai bhajpa ko radhe satta hasil karna bhajpa ko bhi galat baat hai satta hasil kiye bina public ka support hai aam janta ne apni pehchaan aur apna swarth banaye rakhen lamba samay tak ka score kaise vishwas hota hai wahi zaroori hota hai kyonki koi bhi hoti hai toh usko aise hi karna chahiye isliye aane waale samay mein bhale hi aaj dikh raha hai ki bharat mein se kitne rajya chale gaye madhya pradesh ke karnataka gaya rajasthan bihar jharkhand jo sarkar ne gathbandhan ki ho rahi hai ban rahi hai unko apna karya ke parinam ko dikhane se pehle kya kare ki bhajpa ki sarkar aur yah sarkar jaati hai vaah kya kar rahi public usko maar karegi yah notice karegi aur aane waale chunav mein apna naam lete ho sakta hai ki bhajpa ko raj election dhanyavad

आपके अनुसार झारखंड हरियाणा और महाराष्ट्र जैसे राज्यों में भाजपा सरकार को सत्ता से करने के

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  44
WhatsApp_icon
user

Vimal Kumar Gour

General Physician

9:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कार से सभी लोगों को मेरी तरफ से फॉलो वर के लिए आपका कहना है कि आपके अनुसार झारखंड हरियाणा और महाराष्ट्र जैसे राज्यों में भाजपा सरकार क्यों नहीं है ऐसा आपकी गलतफहमी है अभी झारखंड में इलेक्शन हुआ था उसमें हमारे हेमंत सोहन सिंह वह बीजेपी से ही है ऐसा नहीं कि बीजेपी से नहीं है वह सरकार समिति है कुछ चुनाव हासिल करने के लिए कुछ करना पड़ता है जॉइनिंग सिस्टम करके भी सरकार आती है तो ज्वाइनिंग से सरकार बनी है वह दिखाइए हरियाणा में वहां पर भी मिल जुलकर सरकार महाराष्ट्र में शिवसेना और बीजेपी से सत्ता सरकार बनी हुई है सरकार समिति है कि हमारे यहां पर पकड़ नहीं हो रही तो जॉइंट सिस्टम हो जाता है तो वह एक दूसरे जॉइंट होते हो कोई दिक्कत नहीं है मैं उनका सरकार बन जाती है ऐसी कोई फर्क नहीं पड़ता है और जनता से अच्छे से समझा है सुमन पिया जनता समिति है कि हर बार नहीं तो अगली बार ऐसी नारायण होती है अभी वार अभी चुनाव हुआ तो हर जगह उनकी पोस्टिंग हर जगह वोटिंग से हुई दिखाई देती है तो हरियाणा में 45 से 37 सीट पर सिमटी भाजपा जेजीपी संघ सरकार बड़ी भूपेंद्र सिंह हुड्डा के नेतृत्व में कांग्रेसी 17 से बढ़कर 31 सीट पर पहुंची थी महाराष्ट्र में क्या वह महाराष्ट्र में गठबंधन की सरकार है भाजपा को 105 और शिवसेना को 56 सीटें मिली दोनों ने मिलकर सीट भाजपा शिवसेना ने एनसीपी जॉन सीट और कांग्रेस 44 सीट के साथ पर बनाई ऐसी झारखंड में झारखंड में गठबंधन गठबंधन 43 सीटें गठबंधन 47 सीटों के साथ मोहम्मद हेमंत सोरेन हेमंत सोरेन बनेंगे बने सीएम राज में पहली बार 5 साल सरकार चलाने वाले रघुवर दास आदि भाजपा को 25 सीटें मिली सब पांच दशकों में राजनीतिक में सनकी शहद पवार ने महाराष्ट्र में असंभव को संभव कर दिखाया भाजपा और शिवसेना के रास्ते अलग अलग होने के बाद पावन किंग मेकर की भूमिका निभाई और शिवसेना से हाथ मिलाया हाथ मिलाने से मिटा नहीं कांग्रेश को न्यूनतम समझा समझा कर के जरिए साथ लाए और 23 अक्टूबर को प्रणाम ठीक एक माह बाद नेट की गठबंधन घटनाक्रम में जब देवेंद्र फडणवीस अजीत पावर के साथ मिलकर सरकार बना ली पावर विच्छेद विचलित नहीं हुए और राजनेता कौशल की बदौलत परिवार और पार्टी एकजुट रखने में महाराष्ट्र विकास खंड के सांझा अंजड़ मंत्रिमंडल के गठन से लेकर गठन सरकार के पहले इंसान के तौर पर नागरिकता कानून पर शिवसेना के बीच का रास्ता निकालने में उन्होंने अहम भूमिका निभाई थी यह हमारे पीएम शिवसेना नेता उद्धव ठाकरे ने 25 वर्ष पुराना नाता डोडा एनपी सिंह ने साधा पार्टियों को बटन सरकार ने उक्त वर्णित जनों ने पहली बार संभाला तो हमारे नरेंद्र मोदी जी देश में राजनीतिक में यह साल लोकसभा चुनाव में भाजपा को द्वारा शानदार जीत के लिए याद किया आमतौर पर किसी पार्ट के लिए पार्टी के लिए भी अपेक्षित को दोहराने कठिन होता है और उनकी सीटें घट गई मर जाती हैं लेकिन इस चुनाव में भाजपा अबकी बार 300 के पार 9 को चरितार्थ करने में सफल रही है आम चुनाव की 23 मई को घोषित नतीजों में भाजपा को 303 सीटें मिली थी और एंडी एंडी का कांटा लगा दो 356 पर पहुंच गया इससे पहले 2014 में भाजपा को 282 सीटें मिली थी केंद्र भारी बहुमत के साथ वापस असर ये हुआ था मजबूत सरकार बनने के बाद भाजपा ने बड़े राजनीतिक फैसले किए उन्होंने जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटा दिया लाखों केंद्र शासित प्रदेश बनाना हमें तो संशोधन कानून आज चांद निकला है कि इन फैसलों के जरिए भाजपा ने अपने एजेंट को लागू करने की दिशा में कदम उठाए कदम बढ़ाए साल के राजनीतिक नजर डाली उन्होंने एनसीपी गठबंधन का महाराष्ट्र में सरकार बनाना एकदम चौकाने वाला रहा भाजपा को बिल्कुल भी नहीं थी कि शिवसेना कभी उसका साथ छोड़ सकती है झारखंड में झारखंड में भी और आजसू के साथ जोड़ने से भाजपा को नुकसान हुआ इसीलिए उसे सहयोगियों का महत्व यह साल समझा गया है यह भी माना जाता है कि भाजपा के दूसरे सहयोग पर हावी हो सकते गुजराता साल में यह भी संकेत दिया गया है राजनीतिक में कोई विरोध नहीं होता है राजनीतिक फायदे के लिए किसी से भी हाथ मिलाने में गोदरेज जिस नहीं होता है ऐसा नहीं कि किसी से कोई दिक्कत हो तो ऐसा नहीं है इसको कोई तो हरियाणा में भी भाई बने जिस दल जेजीपी को खिलाफ चुनाव लड़ा उसी के साथ मिलकर सरकार भी बना ली महाराष्ट्र में भी यह सरकार एनसीपी को छोड़कर सरकार बनाने की असफलता कोशिश की गई भाजपा हुआ धाम साबित हुआ कर्नाटक में बीते साथ सबसे बड़ी पार्टी के साथ रोने लगी बहुमत साबित करने का मौका मिला भी मगर नाकाम रहे इसके बाद कांग्रेसो जीडीपी सरकार बना ली देखने साल जुलाई में 15 विधायकों को अयोग्य ठहराने जाने कि भाजपा को सरकार बनाने का मौका मिला है एक और बड़ा राज्य राजस्थान आ गया है दक्षिण भारत में ही है एकमात्र राज्य स्थापित राज्य तोपाइस सब किसी के पक्ष या विपक्ष में बुला हो तो उसके लिए वेरी-वेरी सॉरी हमारी अन्ना हजारे ने लोकतंत्र धूल आंदोलन के लिए आम आदमी पार्टी के रूप में एक नई पार्टी का उदय हुआ 26 नवंबर 2012 को गठित पार्टी के संयोजक बने अरविंद केजरीवाल आप पहली बार दिल्ली चुनाव में थे तो यह सब मोदी प्रधानमंत्री का चेहरा बन्ना सत्ता दूर ही नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री पद के लिए पार्टी का चेहरा बनाया है तो भाजपा ने मोदी को प्रधानमंत्री का उम्मीदवार घोषित किया मोदी ने नए 2014 का आम चुनाव लड़कर भाजपा से पूर्ण हो मर्द के साथ सत्ता संभाली है

car se sabhi logo ko meri taraf se follow var ke liye aapka kehna hai ki aapke anusaar jharkhand haryana aur maharashtra jaise rajyo mein bhajpa sarkar kyon nahi hai aisa aapki galatfahamee hai abhi jharkhand mein election hua tha usme hamare hemant sohan Singh vaah bjp se hi hai aisa nahi ki bjp se nahi hai vaah sarkar samiti hai kuch chunav hasil karne ke liye kuch karna padta hai joining system karke bhi sarkar aati hai toh joining se sarkar bani hai vaah dikhaaiye haryana mein wahan par bhi mil julakar sarkar maharashtra mein shivsena aur bjp se satta sarkar bani hui hai sarkar samiti hai ki hamare yahan par pakad nahi ho rahi toh joint system ho jata hai toh vaah ek dusre joint hote ho koi dikkat nahi hai unka sarkar ban jaati hai aisi koi fark nahi padta hai aur janta se acche se samjha hai suman piya janta samiti hai ki har baar nahi toh agli baar aisi narayan hoti hai abhi war abhi chunav hua toh har jagah unki posting har jagah voting se hui dikhai deti hai toh haryana mein 45 se 37 seat par simti bhajpa chahiye sangh sarkar baadi bhupendra Singh hudda ke netritva mein congressi 17 se badhkar 31 seat par pahuchi thi maharashtra mein kya vaah maharashtra mein gathbandhan ki sarkar hai bhajpa ko 105 aur shivsena ko 56 seaten mili dono ne milkar seat bhajpa shivsena ne ncp john seat aur congress 44 seat ke saath par banai aisi jharkhand mein jharkhand mein gathbandhan gathbandhan 43 seaten gathbandhan 47 seaton ke saath muhammad hemant soren hemant soren banenge bane cm raj mein pehli baar 5 saal sarkar chalane waale raghuvar das aadi bhajpa ko 25 seaten mili sab paanch dashakon mein raajnitik mein sanaki shehed power ne maharashtra mein asambhav ko sambhav kar dikhaya bhajpa aur shivsena ke raste alag alag hone ke baad paavan king maker ki bhumika nibhaai aur shivsena se hath milaya hath milaane se mita nahi congress ko ninuntam samjha samjha kar ke jariye saath laye aur 23 october ko pranam theek ek mah baad net ki gathbandhan ghatanaakram mein jab devendra fadnavis ajit power ke saath milkar sarkar bana li power vichched vichalit nahi hue aur raajneta kaushal ki badaulat parivar aur party ekjut rakhne mein maharashtra vikas khand ke sanjha anjad mantrimandal ke gathan se lekar gathan sarkar ke pehle insaan ke taur par nagarikta kanoon par shivsena ke beech ka rasta nikalne mein unhone aham bhumika nibhaai thi yah hamare pm shivsena neta uddhav thakare ne 25 varsh purana nataa doda NP Singh ne saadha partiyon ko button sarkar ne ukth varnit jano ne pehli baar sambhala toh hamare narendra modi ji desh mein raajnitik mein yah saal lok sabha chunav mein bhajpa ko dwara shandar jeet ke liye yaad kiya aamtaur par kisi part ke liye party ke liye bhi apekshit ko dohrane kathin hota hai aur unki seaten ghat gayi mar jaati hai lekin is chunav mein bhajpa abki baar 300 ke par 9 ko charitarth karne mein safal rahi hai aam chunav ki 23 may ko ghoshit nateezon mein bhajpa ko 303 seaten mili thi aur Andy Andy ka kanta laga do 356 par pohch gaya isse pehle 2014 mein bhajpa ko 282 seaten mili thi kendra bhari bahumat ke saath wapas asar ye hua tha majboot sarkar banne ke baad bhajpa ne bade raajnitik faisle kiye unhone jammu kashmir mein anuched 370 hata diya laakhon kendra shasit pradesh banana hamein toh sanshodhan kanoon aaj chand nikala hai ki in faisalon ke jariye bhajpa ne apne agent ko laagu karne ki disha mein kadam uthye kadam badhae saal ke raajnitik nazar dali unhone ncp gathbandhan ka maharashtra mein sarkar banana ekdam chaukane vala raha bhajpa ko bilkul bhi nahi thi ki shivsena kabhi uska saath chod sakti hai jharkhand mein jharkhand mein bhi aur ajasu ke saath jodne se bhajpa ko nuksan hua isliye use sahyogiyon ka mahatva yah saal samjha gaya hai yah bhi mana jata hai ki bhajpa ke dusre sahyog par haavi ho sakte chahiye saal mein yah bhi sanket diya gaya hai raajnitik mein koi virodh nahi hota hai raajnitik fayde ke liye kisi se bhi hath milaane mein godrej jis nahi hota hai aisa nahi ki kisi se koi dikkat ho toh aisa nahi hai isko koi toh haryana mein bhi bhai bane jis dal chahiye ko khilaf chunav lada usi ke saath milkar sarkar bhi bana li maharashtra mein bhi yah sarkar ncp ko chhodkar sarkar banane ki asafaltaa koshish ki gayi bhajpa hua dhaam saabit hua karnataka mein bite saath sabse baadi party ke saath rone lagi bahumat saabit karne ka mauka mila bhi magar nakam rahe iske baad kangreso gdp sarkar bana li dekhne saal july mein 15 vidhayakon ko ayogya thaharane jaane ki bhajpa ko sarkar banane ka mauka mila hai ek aur bada rajya rajasthan aa gaya hai dakshin bharat mein hi hai ekmatra rajya sthapit rajya chahiye sab kisi ke paksh ya vipaksh mein bula ho toh uske liye very very sorry hamari anna hazare ne loktantra dhul andolan ke liye aam aadmi party ke roop mein ek nayi party ka uday hua 26 november 2012 ko gathit party ke sanyojak bane arvind kejriwal aap pehli baar delhi chunav mein the toh yah sab modi pradhanmantri ka chehra bana satta dur hi narendra modi ko pradhanmantri pad ke liye party ka chehra banaya hai toh bhajpa ne modi ko pradhanmantri ka ummidvar ghoshit kiya modi ne naye 2014 ka aam chunav ladkar bhajpa se purn ho mard ke saath satta sambhali hai

कार से सभी लोगों को मेरी तरफ से फॉलो वर के लिए आपका कहना है कि आपके अनुसार झारखंड हरियाणा

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  219
WhatsApp_icon
user

Ajeett Tripathi

Motivational Speaker

2:07
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भत्ता के लिए झारखंड में जो भाजपा ने एक बहुत ही भूतपूर्व साहसिक कदम उठाया उस कदम कि मैं सराहना करता हूं जिससे महाराष्ट्र में हुआ कि शिवसेना ने भाजपा का साथ छोड़ दिया जबकि ज्यादातर प्रत्याशी मोदी जी के बल पर बीते दिन उसके बाद झारखंड में प्रयोग केवल प्रयोग बहुत अच्छा था एक तो सिद्धांतों से समझौता न करना भाजपा के लिए बहुत अच्छा था कि किसानों को लोन माफ करना और जैसा की अभी झारखंड सरकार ने किया है कि ग्रेजुएट को 5000 और पुलिस को साथ में जोड़ देना इन सिद्धांतों से समझौता न करना यह भाजपा के लिए बहुत अच्छे जी सेक्स हो सकता कि शुरुआती दौर में यह नुकसान के तौर पर दिखे लेकिन आने वाले दिनों में भाजपा के पक्ष में बहुत तेजी से जाएगी कि भाजपा ने तो किया है आज इस तरह के लोग उनको समर्थन कर रहे हैं या जो लोगों के मन में भाजपा के प्रति आकर्षण है इसलिए बनाया की पार्टी वोट पाने की से ज्यादा देश हित में सोचती है चाहे धारा सो सत्तर हो चाहे वह अंतिम ट्रिपल तलाक का मामला हो जो गवर्नमेंट के दिशा में बहुत काम कर रहा है और घर पर आओ अपने आप में एक नई चीज़ थी कि झारखंड इतना ने एक नई ही भाजपा को का भाजपा को दिखाया हमको हम चाहते थे कि भाजपा ऐसी ही दिखे जो किसी से जातिगत समीकरणों को ध्यान दें कि जातिगत राजनीति को खत्म करेगी कि जातिगत राजनीति जो है वह भ्रष्टाचार का मूल कारण बनती जा रही है जातिगत और धर्मनिरपेक्ष राज्य जो तथाकथित धर्मनिरपेक्ष राजनीति है वह कहीं ना कहीं जाकर इत्र का भ्रष्टाचार को पैदा कर रही है तू जो इन्होंने समझौता नहीं किया जातिगत राजनीति से जोड़ने समझौता नहीं किया अपने सहयोगी दलों से एरोगेंस नहीं दिखाता बल्कि इस सिद्धांत दिखाता है कि हम सत्ता के लिए किसी से भी समझौता नहीं कर सकते थे हरियाणा के सिटी में एक नई चीज़ हुई थी वहां पर भी इन्होंने जाट जाट मुख्यमंत्री ना देखें जो नुकसान है और उसके बाद इससे भी सरकार बनाई है उसके झारखंड में सरकार ना बनाना भाजपा के लिए ज्यादा अच्छा है

bhatta ke liye jharkhand mein jo bhajpa ne ek bahut hi bhutpurv sahasik kadam uthaya us kadam ki main sarahana karta hoon jisse maharashtra mein hua ki shivsena ne bhajpa ka saath chod diya jabki jyadatar pratyashi modi ji ke bal par bite din uske baad jharkhand mein prayog keval prayog bahut accha tha ek toh siddhanto se samjhauta na karna bhajpa ke liye bahut accha tha ki kisano ko loan maaf karna aur jaisa ki abhi jharkhand sarkar ne kiya hai ki graduate ko 5000 aur police ko saath mein jod dena in siddhanto se samjhauta na karna yah bhajpa ke liye bahut acche ji sex ho sakta ki shuruati daur mein yah nuksan ke taur par dikhe lekin aane waale dino mein bhajpa ke paksh mein bahut teji se jayegi ki bhajpa ne toh kiya hai aaj is tarah ke log unko samarthan kar rahe hai ya jo logo ke man mein bhajpa ke prati aakarshan hai isliye banaya ki party vote paane ki se zyada desh hit mein sochti hai chahen dhara so sattar ho chahen vaah antim triple talak ka maamla ho jo government ke disha mein bahut kaam kar raha hai aur ghar par aao apne aap mein ek nayi cheez thi ki jharkhand itna ne ek nayi hi bhajpa ko ka bhajpa ko dikhaya hamko hum chahte the ki bhajpa aisi hi dikhe jo kisi se jaatigat samikaranon ko dhyan de ki jaatigat raajneeti ko khatam karegi ki jaatigat raajneeti jo hai vaah bhrashtachar ka mul karan banti ja rahi hai jaatigat aur dharmanirapeksh rajya jo tathakathit dharmanirapeksh raajneeti hai vaah kahin na kahin jaakar itra ka bhrashtachar ko paida kar rahi hai tu jo inhone samjhauta nahi kiya jaatigat raajneeti se jodne samjhauta nahi kiya apne sahyogi dalon se erogens nahi dikhaata balki is siddhant dikhaata hai ki hum satta ke liye kisi se bhi samjhauta nahi kar sakte the haryana ke city mein ek nayi cheez hui thi wahan par bhi inhone jaat jaat mukhyamantri na dekhen jo nuksan hai aur uske baad isse bhi sarkar banai hai uske jharkhand mein sarkar na banana bhajpa ke liye zyada accha hai

भत्ता के लिए झारखंड में जो भाजपा ने एक बहुत ही भूतपूर्व साहसिक कदम उठाया उस कदम कि मैं सरा

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  29
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!