हम कैसे सुधरेंगे?...


play
user
2:09

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सवाल है हम कैसे सुख में तो बहुत अच्छा सवाल है तो मैं कहना चाहूंगा सुधारने का तरीका भी कई प्रकार का होता है मगर जिस सरल तरीका से इंसान सुधर जाएगी मैं 15 तरीकों में हमारे जीवन में एक दिन सुधारने की वजह बिगड़ जाते तुकाराम यही है कि हम सुधरे कैसे तो सुधारने के लिए हमें ना दवा खाने की जरूरत है न कहीं जाने की जरूरत है सुधरने के लिए कमी सच्चे गुरु की जरूरत होती है जो सच्चा ज्ञान वाला हरीश सिन्हा का दाता क्योंकि जो सच्चा ज्ञान देता है जो सच्ची बातें करता है तो हमारा मन विचलित नहीं होता और उन अगर हमारे अंदर सुधरने का वो अंदर से सुधारने की हमारे अंदर सोच है कब हम सच्चे गुरु की जो शख्स साथ में रहकर उनकी सत्संग करते उनकी बातों को सुनकर अपने मन में सही विचार करती तो हमारा सही मार्ग होता है तब जाकर हमारे जीवन जितनी सुधार आती तब हमारे परिवार में इज्जत प्यार सम्मान हर जगह मिल जाता है तो सुधारने का सबसे सरल ही तरीका है कि हम कोई अच्छे मित्र अच्छे गुरु अच्छी बुजुर्गों के पास गए थे और उनसे सही बातों को ध्यान दें और बुरी बातों को यहीं पर छोड़ दी एक बुरे इंसान के द्वारा भी में चुदाती हुई थी अच्छा क्या लगता है

sawaal hai hum kaise sukh me toh bahut accha sawaal hai toh main kehna chahunga sudhaarne ka tarika bhi kai prakar ka hota hai magar jis saral tarika se insaan sudhar jayegi main 15 trikon me hamare jeevan me ek din sudhaarne ki wajah bigad jaate tukaram yahi hai ki hum sudhre kaise toh sudhaarne ke liye hamein na dawa khane ki zarurat hai na kahin jaane ki zarurat hai sudharne ke liye kami sacche guru ki zarurat hoti hai jo saccha gyaan vala harish sinha ka data kyonki jo saccha gyaan deta hai jo sachi batein karta hai toh hamara man vichalit nahi hota aur un agar hamare andar sudharne ka vo andar se sudhaarne ki hamare andar soch hai kab hum sacche guru ki jo sakhs saath me rahkar unki satsang karte unki baaton ko sunkar apne man me sahi vichar karti toh hamara sahi marg hota hai tab jaakar hamare jeevan jitni sudhaar aati tab hamare parivar me izzat pyar sammaan har jagah mil jata hai toh sudhaarne ka sabse saral hi tarika hai ki hum koi acche mitra acche guru achi bujurgon ke paas gaye the aur unse sahi baaton ko dhyan de aur buri baaton ko yahin par chhod di ek bure insaan ke dwara bhi me chudati hui thi accha kya lagta hai

सवाल है हम कैसे सुख में तो बहुत अच्छा सवाल है तो मैं कहना चाहूंगा सुधारने का तरीका भी कई प

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  80
KooApp_icon
WhatsApp_icon
1 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!