लोग IFS अधिकारियों (वन सेवा) के बारे में ज्यादा बात क्यों नहीं करते हैं, हालांकि यह एक अखिल भारतीय सेवा है और एक बहुत महत्वपूर्ण है?...


user

Shri Praveen Srivastava

Indian Forest Service officer; Currently serving as PCCF of Maharashtra Forest Department at its Nagpur Head Office

1:60
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बात सही है और थोड़ी सही नहीं है कम से कम 10 वर्ष से विदाउट स्वच्छता चिल्ड्रन स्कूल प्रॉमिनेंट पेपर प्रिंट मीडिया में कलर में हूं मैं अभी तो जरूर बताना चाहता हूं कि पिछले चार-पांच लोगों ने समाज में पड़ी है और डिपार्टमेंट से बड़े नहीं सिर्फ स्टेट बल्कि नेशनल और इंटरनेशनल लेवल में बुनियादी सवाल यही रहता है कि किसी भी सर्विस को अगर लाइट लाइट के रहना है तो ऐसा काम करना होगा जो समाज से जुड़ा वो लोगों से जुड़ा हुआ और जिसके बारे में मंत्रियों शासन की स्वीकृति को पिछले 10 साल के पहले शायद यह समीकरण व्यवस्थित नहीं क्योंकि आगे आने वाले समय में स्टेशन मास्टर का प्ले स्टोर बैक करने वालों के बारे में

baat sahi hai aur thodi sahi nahi hai kam se kam 10 varsh se without swachhta children school praminent paper print media mein color mein hoon main abhi toh zaroor bataana chahta hoon ki pichle char paanch logo ne samaj mein padi hai aur department se bade nahi sirf state balki national aur international level mein buniyadi sawaal yahi rehta hai ki kisi bhi service ko agar light light ke rehna hai toh aisa kaam karna hoga jo samaj se juda vo logo se juda hua aur jiske bare mein mantriyo shasan ki swikriti ko pichle 10 saal ke pehle shayad yah samikaran vyavasthit nahi kyonki aage aane waale samay mein station master ka play store back karne walon ke bare mein

बात सही है और थोड़ी सही नहीं है कम से कम 10 वर्ष से विदाउट स्वच्छता चिल्ड्रन स्कूल प्रॉमिन

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  164
WhatsApp_icon
1 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!