जब आप ड्यूटी पर नहीं होते हैं, तो आप अपना खाली समय कैसे व्यतीत करते हैं?...


play
user

Shri Praveen Srivastava

Indian Forest Service officer; Currently serving as PCCF of Maharashtra Forest Department at its Nagpur Head Office

0:47

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरी तो देख ली जो ऑफिस में जो भी सोच रखती है कहीं ना कहीं नाटक कर दी उसको अपने विचार जरूर चला करता है कि उस बात को आगे कैसे बनाना है इसलिए अपना अपने परिवार के साथ और अपने व्यक्तिगत में ही समय बाद गाड़ी के साथ उतनी ही महत्वपूर्ण है

meri toh dekh li jo office mein jo bhi soch rakhti hai kahin na kahin natak kar di usko apne vichar zaroor chala karta hai ki us baat ko aage kaise banana hai isliye apna apne parivar ke saath aur apne vyaktigat mein hi samay baad gaadi ke saath utani hi mahatvapurna hai

मेरी तो देख ली जो ऑफिस में जो भी सोच रखती है कहीं ना कहीं नाटक कर दी उसको अपने विचार जरूर

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  169
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जब आप खाली रहते हैं तो सबसे पहले अपने शरीर को टाइम देना जरूरी है आज के टाइम पर अपने शरीर को कोई टाइम नहीं दे रहा है बाकी के सब को टाइम देता है सब कुछ करता है जैसे गाड़ी खराब हो गई तो गाड़ी की सर्विसिंग हो जाती है और इंसान की सर्विसिंग कभी भी नहीं होती वह अपने आप के तरफ ध्यान ही नहीं देते तो जब भी खाली टाइम मिले आधा घंटे अपने आप को समझो कि मेरे में क्या चीज है मैं क्या चीज कर सकता हूं मेडिटेशन करना भगवान का नाम लेना या एक जगह शांत अकेले में बैठ कर आज मैंने क्या-क्या अच्छा है कि उसको अकाउंट करना और क्या खराब किया है उसको अकाउंट करना है तो इससे अपना लाइफ कैसे अपन बदल सकते हैं वह चीज मालूम पड़ेगा

jab aap khaali rehte hain toh sabse pehle apne sharir ko time dena zaroori hai aaj ke time par apne sharir ko koi time nahi de raha hai baki ke sab ko time deta hai sab kuch karta hai jaise gaadi kharab ho gayi toh gaadi ki servicing ho jaati hai aur insaan ki servicing kabhi bhi nahi hoti vaah apne aap ke taraf dhyan hi nahi dete toh jab bhi khaali time mile aadha ghante apne aap ko samjho ki mere me kya cheez hai main kya cheez kar sakta hoon meditation karna bhagwan ka naam lena ya ek jagah shaant akele me baith kar aaj maine kya kya accha hai ki usko account karna aur kya kharab kiya hai usko account karna hai toh isse apna life kaise apan badal sakte hain vaah cheez maloom padega

जब आप खाली रहते हैं तो सबसे पहले अपने शरीर को टाइम देना जरूरी है आज के टाइम पर अपने शरीर क

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  93
WhatsApp_icon
user

Suman Saurav

Government Teacher & Carrear Counsultent

0:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां जब मैं ड्यूटी पर नहीं होता हूं तो आप उस समय तो वह कल पर देता हूं और बाकी समय में खुद के स्टडीज में अपनी सिविल सर्विस की तैयारी तैयारी में देता हूं मैं कोशिश करता हूं कभी सभी समय पढ़ाई को दे सकूं क्योंकि जॉब से आने के बाद 9 से 4 की ड्यूटी के बाद माइंड को भी थोड़ा लिस्ट चाहिए क्योंकि इतनी देर में बच्चे के शोरगुल और बच्चों को बढ़ाने कारण शरीर से लेकर मंत्र बहुत ज्यादा थक जाता है तो मैं तो अपनी पढ़ाई पर जितना अधिक हो सके उतना अधिक समझने का कोशिश करता हूं थैंक यू

haan jab main duty par nahi hota hoon toh aap us samay toh vaah kal par deta hoon aur baki samay mein khud ke studies mein apni civil service ki taiyari taiyari mein deta hoon main koshish karta hoon kabhi sabhi samay padhai ko de sakun kyonki job se aane ke baad 9 se 4 ki duty ke baad mind ko bhi thoda list chahiye kyonki itni der mein bacche ke shoragul aur baccho ko badhane karan sharir se lekar mantra bahut zyada thak jata hai toh main toh apni padhai par jitna adhik ho sake utana adhik samjhne ka koshish karta hoon thank you

हां जब मैं ड्यूटी पर नहीं होता हूं तो आप उस समय तो वह कल पर देता हूं और बाकी समय में खुद क

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  139
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!