समय बर्बाद करने से कैसे बचे?...


user

Hemant Priyadarshi

Writer | Philospher| Teacher |

3:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

समय कभी बर्बाद नहीं होता पहली तो बात या समय अपनी गति से चलता है कल अपनी गति से चलता है वह कभी बर्बाद नहीं होता बर्बाद आप होते हैं हम होते समय तो कभी बर्बाद ही नहीं होता वह तो अबाध गति से निरंतर चल रहा है हम स्थिर हो सकते हैं हम रुक सकते हैं समय नहीं रुकता तो पहली बात तो यह कि समय बर्बाद नहीं होता दूसरी बात या कि जो मैंने अभी अभी कहा कि हम या आप बर्बाद होते हैं असल में वह भी पर बात नहीं करता ना समय बर्बाद होता है ना हम बर्बाद होते हैं यह प्रारब्ध होता है यह हमारा कर्म होता है पूर्व जन्म से अब तक का यह हमारा प्रारब्ध होता है यह हमारा कर्म होता है या हमारे मां-बाप का कर्म होता है यह हमारा ईश्वर के द्वारा लिखित जो विधि विधान है हमें क्या होना है हम क्या करेंगे यह सब कुछ उसके हाथों में होता है हम उसे बर्बाद नहीं करते हां सांत्वना देने के लिए अपने को समाज को दिखाने के लिए किसी को दिखाने के लिए अपने आप को तसल्ली देने के लिए आपने जो यह सवाल पूछा उसके कुछ टिप्स दिए जा सकते हैं बर्बाद करने से अगर आपको लगता है कि समय बर्बाद हो रहा है तू पाए हैं बहुत सारा उपाय सीधा सीधा तो बात यही है कि बर्बाद अगर आपको लगता है कि यह समय मैं फील कर रहा हूं आप उस समय कुछ और करें कुछ और का क्या मतलब मोबाइल टीवी देखें किसी से लंबा लंबा डिंग हाक नहीं आबाद करने का मतलब क्रिएटिव होता है अगर बर्बाद का आवाज करने का मतलब क्रिएटिव होता है अगर आपको लगता है बर्बाद कर रहे हैं इसका मतलब आप समझ रहे हैं कि हम जो कर रहे हैं उसका कोई फल नहीं मिलने वाला उसका शुभ फल नहीं मिलेगा तभी वह ब बर्बाद और आवाज में बस इतना सा का ही फर्क है जब आपको लगे कि मैं जो कम काम कर रहा हूं उससे कोई लाभ नहीं होने वाला तो अब बर्बाद कर रहे हैं और जब आपको लगे कि मैं जो कर रहा हूं इसका कुछ ना कुछ जरूर फल मिलेगा अच्छा तो आप आबाद कर रहे हैं और दोनों के लिए मात्र एक एक सूत्र है जब आप आवाज कर रहे हो इसका मतलब आप कुछ क्रिएटिव कार्य कर रहे हैं कुछ न कुछ क्रिएटिव कर रहे हैं योग कर रहे हैं ध्यान कर रहे हैं इसी पुस्तक को अच्छी पुस्तक को पढ़ रहे हैं कोई अच्छी कोई अच्छी बात सुन रहे हैं किसी का कहीं प्रवचन सुन रहे हैं कहीं कोई धार्मिक स्थान में आप रहते हैं कहीं संगीत में अपनी रखते हैं इन सब कामों को जवाब कर रहे हैं तो आप आवाज समय को आवाज करते हैं और जब आप कुछ ऐसा कर रहे हैं जिसका कोई लाभ नहीं है बस टाइम पास सो रहा है तो आप बर्बाद कर रहे हैं तब खुद तय करें अपने लिए क्योंकि आपका इंटरेस्ट आपका इंटरेस्ट होता है आप ही जानते हैं कि आपको किस किस चीज में रुचि है और भूल कर भी किसी दूसरे के रुचि को अपना रुचि बनाने की कोशिश मत कीजिए आप जिस जिस चीज में आपको मन लगता है आप उसी उसी चीज को कीजिए लेकिन उसमें पहचान यह रखिए कि मैं बर्बाद कर रहा हूं यह चीज बर्बादी का है या यह चीज आबादी का है तो आप इसे करके आप समय को ठीक कर सकते हैं अपने आप को ठीक कर सकते हैं

samay kabhi barbad nahi hota pehli toh baat ya samay apni gati se chalta hai kal apni gati se chalta hai vaah kabhi barbad nahi hota barbad aap hote hain hum hote samay toh kabhi barbad hi nahi hota vaah toh abadh gati se nirantar chal raha hai hum sthir ho sakte hain hum ruk sakte hain samay nahi rukata toh pehli baat toh yah ki samay barbad nahi hota dusri baat ya ki jo maine abhi abhi kaha ki hum ya aap barbad hote hain asal me vaah bhi par baat nahi karta na samay barbad hota hai na hum barbad hote hain yah prarabdh hota hai yah hamara karm hota hai purv janam se ab tak ka yah hamara prarabdh hota hai yah hamara karm hota hai ya hamare maa baap ka karm hota hai yah hamara ishwar ke dwara likhit jo vidhi vidhan hai hamein kya hona hai hum kya karenge yah sab kuch uske hathon me hota hai hum use barbad nahi karte haan santwana dene ke liye apne ko samaj ko dikhane ke liye kisi ko dikhane ke liye apne aap ko tasalli dene ke liye aapne jo yah sawaal poocha uske kuch tips diye ja sakte hain barbad karne se agar aapko lagta hai ki samay barbad ho raha hai tu paye hain bahut saara upay seedha seedha toh baat yahi hai ki barbad agar aapko lagta hai ki yah samay main feel kar raha hoon aap us samay kuch aur kare kuch aur ka kya matlab mobile TV dekhen kisi se lamba lamba ding haak nahi aabaad karne ka matlab creative hota hai agar barbad ka awaaz karne ka matlab creative hota hai agar aapko lagta hai barbad kar rahe hain iska matlab aap samajh rahe hain ki hum jo kar rahe hain uska koi fal nahi milne vala uska shubha fal nahi milega tabhi vaah bsp barbad aur awaaz me bus itna sa ka hi fark hai jab aapko lage ki main jo kam kaam kar raha hoon usse koi labh nahi hone vala toh ab barbad kar rahe hain aur jab aapko lage ki main jo kar raha hoon iska kuch na kuch zaroor fal milega accha toh aap aabaad kar rahe hain aur dono ke liye matra ek ek sutra hai jab aap awaaz kar rahe ho iska matlab aap kuch creative karya kar rahe hain kuch na kuch creative kar rahe hain yog kar rahe hain dhyan kar rahe hain isi pustak ko achi pustak ko padh rahe hain koi achi koi achi baat sun rahe hain kisi ka kahin pravachan sun rahe hain kahin koi dharmik sthan me aap rehte hain kahin sangeet me apni rakhte hain in sab kaamo ko jawab kar rahe hain toh aap awaaz samay ko awaaz karte hain aur jab aap kuch aisa kar rahe hain jiska koi labh nahi hai bus time paas so raha hai toh aap barbad kar rahe hain tab khud tay kare apne liye kyonki aapka interest aapka interest hota hai aap hi jante hain ki aapko kis kis cheez me ruchi hai aur bhool kar bhi kisi dusre ke ruchi ko apna ruchi banane ki koshish mat kijiye aap jis jis cheez me aapko man lagta hai aap usi usi cheez ko kijiye lekin usme pehchaan yah rakhiye ki main barbad kar raha hoon yah cheez barbadi ka hai ya yah cheez aabadi ka hai toh aap ise karke aap samay ko theek kar sakte hain apne aap ko theek kar sakte hain

समय कभी बर्बाद नहीं होता पहली तो बात या समय अपनी गति से चलता है कल अपनी गति से चलता है वह

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  153
KooApp_icon
WhatsApp_icon
3 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!