जो इंसान अपने मन में बातें करते रहता है वह इंसान मानसिक बीमार है या नहीं?...


user

Dr. K. C. Bhagat

Psychologist

1:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

खुद से बातें करना मेरे ख्याल से मानसिक बीमारी नहीं है हां यह मानसिक बीमारी तब बनेगी जब आप इसे बहुत ज्यादा आया हाथ में यूज करें वहां भी यूज करें जहां लोग हैं क्योंकि लोग फिर इसे देखकर कुछ और समझते हैं आप खुद से बातें और आप ही नहीं दुनिया में हर इंसान खुद से वास्ते कभी न कभी करता है खुद की बारे में सोचता है खुद की सुनता है तो मेरे ख्याल से यह कोई मानसिक बीमारी नहीं है बल्कि यह बहुत अच्छी बात है कि आप अपनी खुद की सुनते हैं अपने बारे में अपने अंदर से जो आवाज आती है उससे बातें करते हैं और कहीं ना कहीं उससे आपको ही अच्छा भी लगता है इसलिए खुद की सुने बस इतना ध्यान रखें यह सबके सामने ना हो आप एक अपने साथ खुद के साथ जब टाइम बिता तब ऐसा होता कि किसी को कुछ गलत भी ना लगे तो बहुत बेहतर होगा कि आप बिल्कुल अपने आप से बातें करें और एक लिमिटेड एक सही तरीके से तक की विकृति नहीं बल्कि यह एक शक्ति बनकर आपके साथ काम करें धन्यवाद

khud se batein karna mere khayal se mansik bimari nahi hai haan yah mansik bimari tab banegi jab aap ise bahut zyada aaya hath me use kare wahan bhi use kare jaha log hain kyonki log phir ise dekhkar kuch aur samajhte hain aap khud se batein aur aap hi nahi duniya me har insaan khud se vaaste kabhi na kabhi karta hai khud ki bare me sochta hai khud ki sunta hai toh mere khayal se yah koi mansik bimari nahi hai balki yah bahut achi baat hai ki aap apni khud ki sunte hain apne bare me apne andar se jo awaaz aati hai usse batein karte hain aur kahin na kahin usse aapko hi accha bhi lagta hai isliye khud ki sune bus itna dhyan rakhen yah sabke saamne na ho aap ek apne saath khud ke saath jab time bita tab aisa hota ki kisi ko kuch galat bhi na lage toh bahut behtar hoga ki aap bilkul apne aap se batein kare aur ek limited ek sahi tarike se tak ki vikriti nahi balki yah ek shakti bankar aapke saath kaam kare dhanyavad

खुद से बातें करना मेरे ख्याल से मानसिक बीमारी नहीं है हां यह मानसिक बीमारी तब बनेगी जब आप

Romanized Version
Likes  286  Dislikes    views  2420
KooApp_icon
WhatsApp_icon
11 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!