मानसिक स्वास्थ्य है?...


user

Vinod Kumar Pandey

Life Coach | Career Counsellor ::Relationship Counsellor :: Parenting Counsellor

2:49
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अपने प्रश्न किया कि मानसिक स्वास्थ्य है लेकिन मानसिक स्वास्थ्य वह होता है कि जब आपका मस्तिष्क और आपके विचार सकारात्मक हूं और आपका मस्तिष्क कहीं नहीं कहीं आपके जीवन को अच्छा बनाने के लिए अच्छे प्रकार से कार्य कर रहा है और आप कुछ अच्छा सोच पा रहे हैं तो उसको कहीं ना कहीं आप मानसिक स्वास्थ्य कह सकते हैं कि आपका अच्छा है ध्यान दीजिए मस्तिष्क में इतनी क्षमता होती है कि वह आपके जीवन को बहुत कुछ अच्छा भी बना सकता है और वही मस्तिष्क कहीं ना कहीं आपके जीवन को बहुत कुछ नुकसान भी कर सकता है जो मस्तिष्क होता है उसकी गुणवत्ता या उसका स्वास्थ्य से निर्धारित होता है कि आपके मस्तिष्क में कैसे विचार आ रहे हैं कैसे थॉट आ रहे हैं अगर आपके विचार बहुत सकारात्मक हैं बहुत अच्छे हैं तो कहीं ना कहीं आपका जीवन बहुत अच्छा होगा आप कुछ कुछ बहुत अच्छा सिर्फ करेंगे लेकिन अगर वही आपके जीवन में नकारात्मक विचार आ गए अगर आपका दृष्टिकोण नकारात्मक हो गया तो वही मस्तिष्क कहीं ना कहीं आपके जीवन को बहुत नुकसान पहुंचा सकता है और आपके शरीर को बहुत नुकसान पहुंचा सकता है इसलिए ध्यान रखेंगे कि आपका मानसिक स्वास्थ्य भी अच्छा कहा जा सकता है जब आप में कहीं ना कहीं सकारात्मक विचार हूं आपका दृष्टिकोण जीवन को ले करके अपने आप को लेकर पर बहुत सकारात्मक हो और उसके साथ साथ जरूरी है कि जीवन के प्रति उत्साह को एक उमंग हो और तब आप आएंगे इस दशा में ही क्यों संभव है कि आपको अपना जीवन कहीं ना कहीं संतुष्टि भरा लगेगा और तब अपने चीजों को अपने जीवन को आप इंजॉय कर पाएंगे इसलिए व्यक्ति के जीवन के लिए बहुत जरूरी होता है कि आपका मानसिक स्वास्थ्य बढ़िया है जितना ही ज्यादा आपका अच्छा मानसिक स्वास्थ रहेगा आपके जीवन की गुणवत्ता कहीं ना कहीं उतनी ही अच्छी होगी ध्यान रखेंगे जिस व्यक्ति का मानसिक स्वास्थ्य बहुत अच्छा नहीं होता उसमें सकारात्मक नहीं पाई जाती उसको कहीं ना कहीं किए जीवन दुख में प्रतीत होता है और यह जीवन उसको कहीं नसीम पॉज लगता है इसलिए ध्यान रखिएगा कि अगर आप जीवन में अपने लिए और दुनिया के लिए बहुत कुछ सकारात्मक करना चाह रहे हैं बहुत कुछ अच्छा करना चाह रहे हैं तो उसके लिए बहुत जरूरी है कि आपका मानसिक स्वास्थ बहुत अच्छा हो आपका दृष्टिकोण बहुत सकारात्मक हो आपकी सोच बहुत अच्छी हो तभी आप कुछ बहुत अच्छा कर पाएंगे और बहुत कुछ अच्छा अजीब कर पाएंगे मेरी शुभकामनाएं आपके अच्छे मानसिक स्वास्थ्य के लिए धन्यवाद

apne prashna kiya ki mansik swasthya hai lekin mansik swasthya vaah hota hai ki jab aapka mastishk aur aapke vichar sakaratmak hoon aur aapka mastishk kahin nahi kahin aapke jeevan ko accha banane ke liye acche prakar se karya kar raha hai aur aap kuch accha soch paa rahe hain toh usko kahin na kahin aap mansik swasthya keh sakte hain ki aapka accha hai dhyan dijiye mastishk mein itni kshamta hoti hai ki vaah aapke jeevan ko bahut kuch accha bhi bana sakta hai aur wahi mastishk kahin na kahin aapke jeevan ko bahut kuch nuksan bhi kar sakta hai jo mastishk hota hai uski gunavatta ya uska swasthya se nirdharit hota hai ki aapke mastishk mein kaise vichar aa rahe hain kaise thought aa rahe hain agar aapke vichar bahut sakaratmak hain bahut acche hain toh kahin na kahin aapka jeevan bahut accha hoga aap kuch kuch bahut accha sirf karenge lekin agar wahi aapke jeevan mein nakaratmak vichar aa gaye agar aapka drishtikon nakaratmak ho gaya toh wahi mastishk kahin na kahin aapke jeevan ko bahut nuksan pohcha sakta hai aur aapke sharir ko bahut nuksan pohcha sakta hai isliye dhyan rakhenge ki aapka mansik swasthya bhi accha kaha ja sakta hai jab aap mein kahin na kahin sakaratmak vichar hoon aapka drishtikon jeevan ko le karke apne aap ko lekar par bahut sakaratmak ho aur uske saath saath zaroori hai ki jeevan ke prati utsaah ko ek umang ho aur tab aap aayenge is dasha mein hi kyon sambhav hai ki aapko apna jeevan kahin na kahin santushti bhara lagega aur tab apne chijon ko apne jeevan ko aap enjoy kar payenge isliye vyakti ke jeevan ke liye bahut zaroori hota hai ki aapka mansik swasthya badhiya hai jitna hi zyada aapka accha mansik swaasth rahega aapke jeevan ki gunavatta kahin na kahin utani hi achi hogi dhyan rakhenge jis vyakti ka mansik swasthya bahut accha nahi hota usme sakaratmak nahi payi jaati usko kahin na kahin kiye jeevan dukh mein pratit hota hai aur yah jeevan usko kahin naseem pause lagta hai isliye dhyan rakhiega ki agar aap jeevan mein apne liye aur duniya ke liye bahut kuch sakaratmak karna chah rahe hain bahut kuch accha karna chah rahe hain toh uske liye bahut zaroori hai ki aapka mansik swaasth bahut accha ho aapka drishtikon bahut sakaratmak ho aapki soch bahut achi ho tabhi aap kuch bahut accha kar payenge aur bahut kuch accha ajib kar payenge meri subhkamnaayain aapke acche mansik swasthya ke liye dhanyavad

अपने प्रश्न किया कि मानसिक स्वास्थ्य है लेकिन मानसिक स्वास्थ्य वह होता है कि जब आपका मस्ति

Romanized Version
Likes  50  Dislikes    views  660
KooApp_icon
WhatsApp_icon
4 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!