सर्कार के बारे में बताये?...


user
4:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो दोस्तों हाउ आर यू लिखे आज पार्टी से संबंधित एक प्रश्न मेरे साथ आया है कि सरकार का क्या आशय है इसके बारे में बताना है तो सरकार एक राजनीतिक संकल्पना है और उसके गठन जो है के लिए संविधान में प्रावधान दिया गया है कि कोई ऐसी संस्था जो सार्वजनिक उद्देश्यों का काम करती है जो जो जो उसका काम जो है सार्वजनिक हितों को पूरा करना होता है वह सरकार के अंतर्गत आती है सरकार एक प्रशासनिक इकाई होती है और प्रशासन के अंतर्गत जो भी कार्य संपादन होते हैं वह सरकार के अंतर्गत आता है अतः सरकार के पास प्रशासन और नीति निर्माण के सारे अधिकार भी शामिल होते हैं कि भारत में क्योंकि गणतंत्र शासन प्रणाली और संघीय प्रणाली को अपनाया गया है जिसमें केंद्र और राज्य स्तर पर दो अलग-अलग सरकार गठन का प्रावधान है कि केंद्र के स्तर पर एक संगीत सरकार का गठन किया जाएगा जिसमें लोकसभा और राज्यसभा से चयनित जो हमारे सांसद होंगे उन्हें जो सबसे बड़ी पार्टी को बहुमत को प्राप्त करेगी उससे पार्टी के के द्वारा जो है मिलकर एक सरकार का गठन किया जाएगा जिसमें एक मंत्र पर सत्यजीत होगी और मंत्र परसों जो है उसका हेड प्रधानमंत्री होगा और प्रधानमंत्री अपने मंत्रियों के सहयोग से मिलकर सरकार का गठन करेगा तू सबसे पहली जो सर्वोच्च इकाई है संगीत स्तर पर सरकार की उसके अंतर्गत मंत्रिपरिषद प्रधानमंत्री और उसकी सहायक जितने भी कार्यकारी खाई है इसके अलावा सरकार के अंतर्गत सभी विभाग आते हैं मंत्रिमंडल आते हैं वह सभी सभी विभाग आते हैं जो एक पार्टी कलर उद्देश्य से बनाए जाते हैं जैसे कि सरकार के सभी मंत्रालय सरकार के अधीनस्थ जितने भी सचिवालय स्तर पर काम करने वाले लोग सभी सरकार के अंतर्गत आते हैं इसके अलावा सरकार के अंतर्गत जो कार्यकारी खाई है जैसे की प्रशासनिक व्यवस्था और लोक प्रशासन उसके कर्मचारी भी उसके अधिकारियों और कर्मचारियों को भी सरकार के अंतर्गत ही रखा जाता है अतः सरकार का आशय कार्यपालिका से जो कार्यकारी संस्था है जो सार्वजनिक कार्यों के उद्देश्यों के प्रति समर्पित होती है इसकी अपनी जिम्मेदारियां और उत्तर दायित्व होते हैं जिसके अपने अधिकारों तथा सरकार कई स्तरों पर काम करती है इसका सर्वोच्च स्तर जो संगीत स्तर पर है वह प्रधानमंत्री और उसकी कार्यकारी परिषद राज्य के स्तर पर मुख्यमंत्री और उसकी कार्यकारी परिषद और इसके अलावा केंद्र और राज्य स्तर पर चयनित प्रशासन व्यवस्था क्या काम होता है सरकार द्वारा बनाई गई नीतियां हैं उनको स्थानीय स्तर पर लागू करने वाले जो लोग होते हैं उनको भी सरकार की इकाई के अंतर्गत माना जाता है प्रश्न उठता है कि सरकार के अंतर्गत महाकवि से न्यायपालिका की न्यायिक सक्रियता की शक्ति विद्या के अलावा प्रशासन संबंधी कार्यों पर न्यायपालिका कई परामर्श सरकार को देती है जिनको सरकार को फॉलो करना होता है अभी हाल फिलहाल में असम में जब एनआरसी लागू हुआ था तो कोर्ट के फैसले के आधार पर ही शुरू किया गया था इसके अलावा आप चाहे नदियों की सफाई से संबंधित हो पर्यावरण से संबंधित हो सरकार को जो निर्देश न्यायपालिका द्वारा दिए जाते हैं सरकार के अंतर्गत संख्या जाता है संगीता प्रधानमंत्री मुख्यमंत्री

hello doston how R you likhe aaj party se sambandhit ek prashna mere saath aaya hai ki sarkar ka kya aashay hai iske bare mein bataana hai toh sarkar ek raajnitik sankalpana hai aur uske gathan jo hai ke liye samvidhan mein pravadhan diya gaya hai ki koi aisi sanstha jo sarvajanik udyeshyon ka kaam karti hai jo jo jo uska jo hai sarvajanik hiton ko pura karna hota hai vaah sarkar ke antargat aati hai sarkar ek prashaasnik ikai hoti hai aur prashasan ke antargat jo bhi karya sampadan hote hai vaah sarkar ke antargat aata hai atah sarkar ke paas prashasan aur niti nirmaan ke saare adhikaar bhi shaamil hote hai ki bharat mein kyonki gantantra shasan pranali aur sanghiy pranali ko apnaya gaya hai jisme kendra aur rajya sthar par do alag alag sarkar gathan ka pravadhan hai ki kendra ke sthar par ek sangeet sarkar ka gathan kiya jaega jisme lok sabha aur rajya sabha se chayanit jo hamare saansad honge unhe jo sabse baadi party ko bahumat ko prapt karegi usse party ke ke dwara jo hai milkar ek sarkar ka gathan kiya jaega jisme ek mantra par satyajeet hogi aur mantra parso jo hai uska head pradhanmantri hoga aur pradhanmantri apne mantriyo ke sahyog se milkar sarkar ka gathan karega tu sabse pehli jo sarvoch ikai hai sangeet sthar par sarkar ki uske antargat mantriparishad pradhanmantri aur uski sahayak jitne bhi kaaryakari khai hai iske alava sarkar ke antargat sabhi vibhag aate hai mantrimandal aate hai vaah sabhi sabhi vibhag aate hai jo ek party color uddeshya se banaye jaate hai jaise ki sarkar ke sabhi mantralay sarkar ke adhinasth jitne bhi sachivalaya sthar par kaam karne waale log sabhi sarkar ke antargat aate hai iske alava sarkar ke antargat jo kaaryakari khai hai jaise ki prashaasnik vyavastha aur lok prashasan uske karmchari bhi uske adhikaariyo aur karmachariyon ko bhi sarkar ke antargat hi rakha jata hai atah sarkar ka aashay karyapalika se jo kaaryakari sanstha hai jo sarvajanik karyo ke udyeshyon ke prati samarpit hoti hai iski apni zimmedariyan aur uttar dayitva hote hai jiske apne adhikaaro tatha sarkar kai staron par kaam karti hai iska sarvoch sthar jo sangeet sthar par hai vaah pradhanmantri aur uski kaaryakari parishad rajya ke sthar par mukhyamantri aur uski kaaryakari parishad aur iske alava kendra aur rajya sthar par chayanit prashasan vyavastha kya kaam hota hai sarkar dwara banai gayi nitiyan hai unko sthaniye sthar par laagu karne waale jo log hote hai unko bhi sarkar ki ikai ke antargat mana jata hai prashna uthata hai ki sarkar ke antargat mahakavi se nyaypalika ki nyayik sakriyata ki shakti vidya ke alava prashasan sambandhi karyo par nyaypalika kai paramarsh sarkar ko deti hai jinako sarkar ko follow karna hota hai abhi haal filhal mein assam mein jab NRC laagu hua tha toh court ke faisle ke aadhaar par hi shuru kiya gaya tha iske alava aap chahen nadiyon ki safaai se sambandhit ho paryavaran se sambandhit ho sarkar ko jo nirdesh nyaypalika dwara diye jaate hai sarkar ke antargat sankhya jata hai sangeeta pradhanmantri mukhyamantri

हेलो दोस्तों हाउ आर यू लिखे आज पार्टी से संबंधित एक प्रश्न मेरे साथ आया है कि सरकार का क्य

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  163
KooApp_icon
WhatsApp_icon
3 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!