अब्दुल कवि देसनवी के बारे में बताये?...


user
0:27
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जो अब्दुलकावी 10 नवी जी का भारत के उर्दू भाषा के बहुत बड़े प्रख्यात लेखक और काफी उन्होंने अपनी उर्दू भाषा में उन्होंने अपनी रचना है जिसमें मौलाना अब्दुल कलाम आजाद निशागांधी अल्लामा मोहम्मद इकबाल गोसाई किताबे उन्होंने लिखिए इनका जन्म 1 नवंबर 1930 में हुआ था

jo abdulakavi 10 navi ji ka bharat ke urdu bhasha ke bahut bade prakhyaat lekhak aur kaafi unhone apni urdu bhasha mein unhone apni rachna hai jisme maulana abdul kalam azad nishagandhi allama muhammad iqbal gosai kitabe unhone likhiye inka janam 1 november 1930 mein hua tha

जो अब्दुलकावी 10 नवी जी का भारत के उर्दू भाषा के बहुत बड़े प्रख्यात लेखक और काफी उन्होंने

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  110
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

RAZIBUL ISLAM KHAN

Teacher- 10 Years experience in colleges as a assistant professor

1:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अब्दुल को विदेशियों की के बारे में बताएं बिहार के लोग आज भी उनकी मौत के बाद कहते हैं कि देश रवि को हम से भोपाल वाले में सिम ले आ रही है जावेद जावेद अख्तर मुजफ्फर हनफी इक्वल मसाज जैसे शायर शायर और लेखक जिनके संगीत रहे हैं उनके बारे में दो शब्द भी लिखा है लिखना और कहना मुश्किल काम है लेकिन न्यूज़ एटिन हिंदी ढक्कन से एक वशिका की है माशाअल्लाह अश्वघोष उर्दू लेखक और आलोचक अब्दुल कवी देश राशि के बारे में कुछ बताने की और लाखों की जिनके बारे में बिहार के लोग आज भी उनकी मौत के बाद कहती है कि देश नाभि को इसमें भोपाल भागने से

abdul ko videshiyon ki ke bare mein bataye bihar ke log aaj bhi unki maut ke baad kehte hain ki desh ravi ko hum se bhopal waale mein sim le aa rahi hai javed javed akhtar mujaffar hanafi equal Massage jaise shayar shayar aur lekhak jinke sangeet rahe hain unke bare mein do shabd bhi likha hai likhna aur kehna mushkil kaam hai lekin news etin hindi dhakkan se ek vashika ki hai mashaallah ashwaghosh urdu lekhak aur aalochak abdul kavi desh rashi ke bare mein kuch batane ki aur laakhon ki jinke bare mein bihar ke log aaj bhi unki maut ke baad kehti hai ki desh nabhi ko isme bhopal bhagne se

अब्दुल को विदेशियों की के बारे में बताएं बिहार के लोग आज भी उनकी मौत के बाद कहते हैं कि दे

Romanized Version
Likes  46  Dislikes    views  805
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अब्दुल कवी देशन हुए के बारे में बताइए उन्होंने उर्दू साहित्य पर उनके काम में मौलाना अब्दुल कलाम आजाद मिर्जा गालिब और अल्लामा मोहम्मद इकबाल के बारे में शामिल था इस काम के लिए कई पुस्तकों को सम्मानित किया गया है

abdul kavi deshan hue ke bare mein bataiye unhone urdu sahitya par unke kaam mein maulana abdul kalam azad mirza galib aur allama muhammad iqbal ke bare mein shaamil tha is kaam ke liye kai pustakon ko sammanit kiya gaya hai

अब्दुल कवी देशन हुए के बारे में बताइए उन्होंने उर्दू साहित्य पर उनके काम में मौलाना अब्दुल

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  147
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!