मैं डिप्रेशन से पीड़ित हूँ तथा यादाश्त में कमज़ोरी महसूस होती है क्या करूँ?...


user

Monika Sharma

Psychologist

1:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां जी बिल्कुल सही है यह बात कि अगर कोई इंसान डिप्रेशन से पीड़ित है डिप्रेशन की प्रॉब्लम है उसको तो फिर उसका इंपैक्ट कहीं ना कहीं लांचर में उसकी मेमोरी पर भी पड़ता कि लोगों ने इसको महसूस किया है बताया है और कई सारे लोगों ने अपनी बातें मुझे शेयर की भी है कि उनको अब चीजें ठीक से याद नहीं रहती है वह चीज जल्दी भूल जाते हैं अपने बहुत इंपॉर्टेंट जो लोग हैं उनके द्वारा कही हुई बातें में उनके दिमाग से लेकर जाती है याद रहता है या कभी-कभी यह भी हो जाता है कि वह क्या काम कर रहे थे वही भूल गए तो यह थोड़ा सा सीरियल सितम है जब डिप्रेशन ज्यादा हो जाता है और काफी लॉन्ग टर्म में हम ओवरथिंकिंग और स्ट्रेस में घिरे रहते हैं नेगेटिव थॉट्स की थिंकिंग लगातार चलती रहती है तो हमारे दिमाग पर इसका असर पड़ता है और हमारी मेमोरी है वह भी पड़ती है तो इसके लिए जरूरी है कि प्लीज साइक्लोजिकल हेल्प लीजिए और अपने आप को ठीक करने की कोशिश करिए अगर आप धीरे-धीरे अपने आप को थोड़ा सा चलाने की कोशिश करेंगे कि ऐसी चीज नहीं है जिससे ओके

haan ji bilkul sahi hai yah baat ki agar koi insaan depression se peedit hai depression ki problem hai usko toh phir uska impact kahin na kahin lanchar me uski memory par bhi padta ki logo ne isko mehsus kiya hai bataya hai aur kai saare logo ne apni batein mujhe share ki bhi hai ki unko ab cheezen theek se yaad nahi rehti hai vaah cheez jaldi bhool jaate hain apne bahut important jo log hain unke dwara kahi hui batein me unke dimag se lekar jaati hai yaad rehta hai ya kabhi kabhi yah bhi ho jata hai ki vaah kya kaam kar rahe the wahi bhool gaye toh yah thoda sa serial sitam hai jab depression zyada ho jata hai aur kaafi long term me hum overthinking aur stress me ghire rehte hain Negative thoughts ki thinking lagatar chalti rehti hai toh hamare dimag par iska asar padta hai aur hamari memory hai vaah bhi padti hai toh iske liye zaroori hai ki please saiklojikal help lijiye aur apne aap ko theek karne ki koshish kariye agar aap dhire dhire apne aap ko thoda sa chalane ki koshish karenge ki aisi cheez nahi hai jisse ok

हां जी बिल्कुल सही है यह बात कि अगर कोई इंसान डिप्रेशन से पीड़ित है डिप्रेशन की प्रॉब्लम ह

Romanized Version
Likes  514  Dislikes    views  5537
KooApp_icon
WhatsApp_icon
19 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!