निर्भयाकेस: क्या निर्भया केस के दोषियों को बचाने के लिए जान बुझ कर टाला जा रहा है? आपकी क्या राय है?...


user

Vimal Kumar Gour

General Physician

5:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो गुड आफ्टरनून सभी लोगों को मेरी तरफ से मिल गया के इलाके को दोषियों को बचाने के लिए कानून कर डाला जा रहा है नया हम लोगों में ऐसी बात नहीं आना चाहिए और हमारे अंदर सभी को को रहन-सहन के लिए अपनी सिस्टर समझते मौसम कि उनको समझे तो ऐसे काम में दोषी नहीं पाया वैसे तो यह सजा है मौसी है ऐसे लोगों को एनकाउंटर रीगन देना चाहिए उससे फर्क पड़ेगा पहला दूसरा अदालत में उत्तर पीटीएस में टायर कर दिए थे दूसरा राष्ट्रपति के समक्ष दया याचिका दायर की जा सकती है यदि यहां से भी राहत नहीं मिली तो फांसी उच्च न्यायालय ने जो मामला दोषी को अक्षय कुमार सिंह को पुनर्विचार याचिका खारिज करते हुए फांसी की सजा बरकरार रखी इसके बाद दोषियों के बेटवा पटियाला हाउस कोर्ट में सुनवाई हुई अदालत ने तिहाड़ के अफसरों को 1 सप्ताह में जाने का निर्देश दिया दोस्ती दया राज का वह अंदर करना चाहा था मामले की सुनवाई 7 जनवरी 2020 को होगी ashokafun30 2017 के निर्णय पर दोबारा विचार पर कोई आधार नहीं है पीठ ने पुनर्विचार याचिका किसे अपील बार-बार सुनवाई नहीं होती हम लोग फैसला हमें चाहिए अगर दास चार दोषियों को एक पवन कुमार ने बुधवार को दिल्ली उच्च न्यायालय का रुख किया उसने दावा किया कि वह अपराध के साथ नाबालिक था उसकी आज का गुरुवार को सुनवाई में अगर ऐसी में दोषी को जैसे अभी हैदराबाद केस फाइनल हुआ उसी तरह अभी तक लोगों को थोड़ा सा डर रहता है और कानून सेक्स के लिए थोड़ा सुधार हुआ इसमें स्टैंड काम पर करना इसे था पर सरकार सोचती इनको थोड़ा मौका देने के लिए और मौका देने से ही करना और लोगों के प्याज का बढ़ जाते हैं तो सब राज हाई कोर्ट ने सख्त था कि बिजनौर की सीजेएम कोर्ट ने आयुक्त की गोली मारकर हत्या करने की घटना से सबक लेते हुए हाजी दिसंबर को तलब किया अदालत ने उनसे यह बताने का खास रूपेश को अदालत की सुरक्षा के लिए सरकार ने क्या कदम उठाए यह आदेश न्यायमूर्ति सुधीर अग्रवाल ने मुझसे सुन सुनीत कुमार खरीदनी बिजनौर के जिला अध्यक्ष की रिपोर्ट ज्ञान वाले कर दिया कोर्ट ने का नगर बागरा ज्यादा फॉलो सरकारी उनके साथ खर्च और करेजा में कोई गलत यूज़ किया हो उसके लिए सॉरी

hello good afternoon sabhi logo ko meri taraf se mil gaya ke ilaake ko doshiyon ko bachane ke liye kanoon kar dala ja raha hai naya hum logo mein aisi baat nahi aana chahiye aur hamare andar sabhi ko ko rahan sahan ke liye apni sister samajhte mausam ki unko samjhe toh aise kaam mein doshi nahi paya waise toh yah saza hai mausi hai aise logo ko encounter regal dena chahiye usse fark padega pehla doosra adalat mein uttar PTS mein tyre kar diye the doosra rashtrapati ke samaksh daya yachika dayar ki ja sakti hai yadi yahan se bhi rahat nahi mili toh fansi ucch nyayalaya ne jo maamla doshi ko akshay kumar Singh ko punarvichar yachika khareej karte hue fansi ki saza barkaraar rakhi iske baad doshiyon ke betva patiala house court mein sunvai hui adalat ne tihad ke afsaron ko 1 saptah mein jaane ka nirdesh diya dosti daya raj ka vaah andar karna chaha tha mamle ki sunvai 7 january 2020 ko hogi ashokafun30 2017 ke nirnay par dobara vichar par koi aadhaar nahi hai peeth ne punarvichar yachika kise appeal baar baar sunvai nahi hoti hum log faisla hamein chahiye agar das char doshiyon ko ek pawan kumar ne budhavar ko delhi ucch nyayalaya ka rukh kiya usne daawa kiya ki vaah apradh ke saath nabalik tha uski aaj ka guruwaar ko sunvai mein agar aisi mein doshi ko jaise abhi hyderabad case final hua usi tarah abhi tak logo ko thoda sa dar rehta hai aur kanoon sex ke liye thoda sudhaar hua isme stand kaam par karna ise tha par sarkar sochti inko thoda mauka dene ke liye aur mauka dene se hi karna aur logo ke pyaaz ka badh jaate hain toh sab raj high court ne sakht tha ki bijnor ki CJM court ne aayukt ki goli marakar hatya karne ki ghatna se sabak lete hue haji december ko talab kiya adalat ne unse yah bata ka khaas rupesh ko adalat ki suraksha ke liye sarkar ne kya kadam uthye yah aadesh nyaymurti sudheer agrawal ne mujhse sun sunit kumar kharidani bijnor ke jila adhyaksh ki report gyaan waale kar diya court ne ka nagar bagra zyada follow sarkari unke saath kharch aur kareja mein koi galat use kiya ho uske liye sorry

हेलो गुड आफ्टरनून सभी लोगों को मेरी तरफ से मिल गया के इलाके को दोषियों को बचाने के लिए कान

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  287
KooApp_icon
WhatsApp_icon
6 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!