ब्रह्मचर्य रक्षा के लिए कौन-कौन सी चीज़ें नहीं खानी चाहिए?...


user

Lalit Maheshwari

Social Worker

1:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इस दुनिया के अंदर अगर कोई पर्सन बहुत ज्यादा सक्सेस हो ना जाता है और किसी भी काम को जो लगभग लगभग इंपॉसिबल होता है उस इंपॉसिबल काम को भी पॉसिबल कर ले वह प्रसन्न कैसे कर पाते काफी सारे लोग जो बहुत बड़ा क्वक कर लेते हैं और काफी सारे होते हैं वह छोटे-छोटे काम कर लेते हैं तो इसमें सबसे बड़ी चीज हमारा कहीं ना कहीं ब्रह्मचर्य होता है काफी सारे लोग इतने बड़े हो जाते हैं इसलिए अच्छे अच्छे और बड़े काम कर लेते हैं क्योंकि उन्होंने अपनी डेली लाइफ के अंदर ब्रह्मचर्य का पालन किया है ब्रह्मचर्य का मतलब यह नहीं कि आप गलती जीवन को ना चाहिए ब्रह्मचर्य का मतलब है कि आप टीवी में कितने हैं अपने जो इस क्रम होता शुक्राणु होते हैं उनको आपने कितना बचा के रखा है और स्त्री होती उन्होंने अपने कितने रथ को बचा के रखा है यह ब्रह्मचर्य का पालन होता है तो इसमें काफी सारी ऐसी चीज होती है जो आपके डेली लाइफ को इनफेक्ट करती है जिसमें आपका खाना-पीना पहले आता है तो खाने-पीने के अंत ज्यादा उत्तेजक चीजें हैं जो ज्यादा high-energy वाली चीज है उनको नहीं खाना चाहिए क्योंकि इससे आपके शरीर के अंदर कामुकता का विकास बुक करा है और ऐसी चीजें खाने से हमारे जो ब्रह्मचर्य है उसका टूट भी जाता है तो आपके शरीर के अंदर कांस्टिट्यूशन नहीं होनी चाहिए और सेकंड चीज यह है कि आपके जो डेली लाइफ के अंदर है वह मतलब कि ज्यादा गर्म चटपटी चीजें नहीं होनी चाहिए और आप इसमें सिंपल और जो फल सब्जी वगैरह है उन्हीं कहीं ज्यादा से ज्यादा सेवन करें और ज्यादा से ज्यादा प्रोडक्टिव वर्क करें और अपने आपको सेल्फ एनालिसिस जरूर करें

is duniya ke andar agar koi person bahut zyada success ho na jata hai aur kisi bhi kaam ko jo lagbhag lagbhag Impossible hota hai us Impossible kaam ko bhi possible kar le vaah prasann kaise kar paate kaafi saare log jo bahut bada kwak kar lete hai aur kaafi saare hote hai vaah chote chhote kaam kar lete hai toh isme sabse baadi cheez hamara kahin na kahin brahmacharya hota hai kaafi saare log itne bade ho jaate hai isliye acche acche aur bade kaam kar lete hai kyonki unhone apni daily life ke andar brahmacharya ka palan kiya hai brahmacharya ka matlab yah nahi ki aap galti jeevan ko na chahiye brahmacharya ka matlab hai ki aap TV mein kitne hai apne jo is kram hota shukraanu hote hai unko aapne kitna bacha ke rakha hai aur stree hoti unhone apne kitne rath ko bacha ke rakha hai yah brahmacharya ka palan hota hai toh isme kaafi saree aisi cheez hoti hai jo aapke daily life ko inafekt karti hai jisme aapka khana peena pehle aata hai toh khane peene ke ant zyada uttejak cheezen hai jo zyada high energy wali cheez hai unko nahi khana chahiye kyonki isse aapke sharir ke andar kamukata ka vikas book kara hai aur aisi cheezen khane se hamare jo brahmacharya hai uska toot bhi jata hai toh aapke sharir ke andar constitution nahi honi chahiye aur second cheez yah hai ki aapke jo daily life ke andar hai vaah matlab ki zyada garam chatpati cheezen nahi honi chahiye aur aap isme simple aur jo fal sabzi vagera hai unhi kahin zyada se zyada seven kare aur zyada se zyada productive work kare aur apne aapko self analysis zaroor karen

इस दुनिया के अंदर अगर कोई पर्सन बहुत ज्यादा सक्सेस हो ना जाता है और किसी भी काम को जो लगभग

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  154
KooApp_icon
WhatsApp_icon
4 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!