फिल्म समीर में काम करने का अनुभव कैसा रहा?...


user

Neeraj Pandey

Indian screenwriter and lyricist

2:08
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नेटवर्क बिल्कुल भी चले कुछ नहीं जाता उसका मुंबई वरुण धवन ने रखा था कि राइटिंग कॉलोनी शुरू हो चुकी थी तो बोल दिया कि उसके जस्ट पहले एक और मेरे दोस्त हैं अनुराग गोस्वामी के समय किया जाता था जमीर में यह कटौती करने के बाद कभी भी मुझे कई बार किंतु जहां भी सब्जेक्टिविटी गांव में शूटिंग होती है बात कह तो रहे हो पर सामने वाले तक बात कितनी पहुंच रही है इस बार एसोसिएशन बजट उस टाइम पर तो अच्छी बात है

network bilkul bhi chale kuch nahi jata uska mumbai varun dhawana ne rakha tha ki writing colony shuru ho chuki thi toh bol diya ki uske just pehle ek aur mere dost hai anurag goswami ke samay kiya jata tha jamir mein yah katauti karne ke baad kabhi bhi mujhe kai baar kintu jaha bhi subjectivity gaon mein shooting hoti hai baat keh toh rahe ho par saamne waale tak baat kitni pohch rahi hai is baar association budget us time par toh achi baat hai

नेटवर्क बिल्कुल भी चले कुछ नहीं जाता उसका मुंबई वरुण धवन ने रखा था कि राइटिंग कॉलोनी शुरू

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  156
KooApp_icon
WhatsApp_icon
1 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!