BJP प्राइवेट कर्मचारियों के लिए क्या कर रही है?...


play
user

Girish Soni

Indian Politician

2:22

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सरकारी उनके लिए कुछ नहीं कर पा रही है कितने लाख पद खाली हैं वह नहीं भरे जा रहे हैं खुद के कर्मचारी व केंद्र सरकार के कर्मचारियों को दिल्ली सरकार के कर्मचारियों को सरकारी कर्मचारियों के नियुक्ति हुई है गेस्ट गेस्ट टीचर को पक्का करना है ठेका प्रथा को हटाने वाली बात है कि टीचर काम करें तभी आपने सुना है परमानेंट जॉब को आप पहले वाला हो सकता बनाने वाला हो सकता है घर का रिपेयरिंग करने वाला बनाने वाला हो सकता है कि नर्स भी ठेके पर रख लो ठेके पर रख लो तू सो क्यूट हैं कि तारीफ करता पकड़ा गया क्यों क्या करेंगे प्राइवेट के लिए यह तो यह चाहते हैं हमारा पिंड छूट है हम से काम ले उनको बेरोजगार बना देते यह प्राइवेट उनके लिए क्या कर पाएंगे मैं नहीं समझता जब उनके लिए नहीं कर पा रहे हैं और किस तरह से ठेकेदारी प्रथा के लिए लाइसेंस दिए गए थे लाइसेंस सोचेंगे यार जाने इसके विषय में टेस्ट में जाएंगे तो आपको पता लगेगा अभी किस तरह इन्होंने जो इस तरह से तड़प उठा के दूसरा कंपनी बना ली है और उसमें शोषण करने का पूरा पूरा मौका मिलता है जहां से ठेकेदारी प्रथा में ठेकेदार देता है गवर्नमेंट की लेती है उसे ठेकेदारी में ऐसे-ऐसे मेरे को प्रूफ है कि ₹8000 उसके कर्मचारी को मिलता है बैंक में भेजा क्रेडिट कार्ड से पैसा निकाल लिया जो भी है वहीं प्राइवेट के लिए क्या करेंगे बल्कि 30 तारीख को बढ़ावा दिया जा रहा है उसे और ज्यादा दिक्कत आ रही है बहुत ज्यादा हो रहा है

sarkari unke liye kuch nahi kar paa rahi hai kitne lakh pad khaali hai vaah nahi bhare ja rahe hai khud ke karmchari va kendra sarkar ke karmachariyon ko delhi sarkar ke karmachariyon ko sarkari karmachariyon ke niyukti hui hai guest guest teacher ko pakka karna hai theka pratha ko hatane wali baat hai ki teacher kaam kare tabhi aapne suna hai permanent job ko aap pehle vala ho sakta banane vala ho sakta hai ghar ka repairing karne vala banane vala ho sakta hai ki nurse bhi theke par rakh lo theke par rakh lo tu so cute hai ki tareef karta pakada gaya kyon kya karenge private ke liye yah toh yah chahte hai hamara pind chhut hai hum se kaam le unko berozgaar bana dete yah private unke liye kya kar payenge main nahi samajhata jab unke liye nahi kar paa rahe hai aur kis tarah se thekedari pratha ke liye license diye gaye the license sochenge yaar jaane iske vishay mein test mein jaenge toh aapko pata lagega abhi kis tarah inhone jo is tarah se tadap utha ke doosra company bana li hai aur usme shoshan karne ka pura pura mauka milta hai jaha se thekedari pratha mein thekedaar deta hai government ki leti hai use thekedari mein aise aise mere ko proof hai ki Rs uske karmchari ko milta hai bank mein bheja credit card se paisa nikaal liya jo bhi hai wahi private ke liye kya karenge balki 30 tarikh ko badhawa diya ja raha hai use aur zyada dikkat aa rahi hai bahut zyada ho raha hai

सरकारी उनके लिए कुछ नहीं कर पा रही है कितने लाख पद खाली हैं वह नहीं भरे जा रहे हैं खुद के

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  513
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Shreekant

Startups

0:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे कुछ कुछ मतलब इस बजट में जैकलिन क्या वह होगा वह थोड़े टाइम बाद ही मेरे ख्याल से ज्यादा क्लियर होगा और जो जो पॉलिसी सभी इस बजट में थोड़ा पहले उन्होंने जो किया था हमारी सरकार ने तो यह क्या था कि अगर किसी भी तरह employee कि अगर 2018 से पहले से अगर उनका प्रोविडेंट DPS चल रहा है एंप्लॉय प्रोविडेंट फंड स्कीम चल रही है तो वह है उसमें मतलब ऐसा टेंशन भी उसको निकाल सकते हैं और एक बार मैं क्रम संख्या निकालने की जरूरत है तो यह एक चीज़ ऐसी जो लागू हुई थी उस टाइम पहले

mujhe kuch kuch matlab is budget mein jacqueline kya vaah hoga vaah thode time baad hi mere khayal se zyada clear hoga aur jo jo policy sabhi is budget mein thoda pehle unhone jo kiya tha hamari sarkar ne toh yah kya tha ki agar kisi bhi tarah employee ki agar 2018 se pehle se agar unka provident DPS chal raha hai employee provident fund scheme chal rahi hai toh vaah hai usme matlab aisa tension bhi usko nikaal sakte hain aur ek baar main kram sankhya nikalne ki zarurat hai toh yah ek cheez aisi jo laagu hui thi us time pehle

मुझे कुछ कुछ मतलब इस बजट में जैकलिन क्या वह होगा वह थोड़े टाइम बाद ही मेरे ख्याल से ज्यादा

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  106
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!