हमारे देश के कॉलेज स्कूल में क्या-क्या चीज़ की कमी है?...


play
user

Sonika Mishra

Research & Poetry

0:39

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारे देश के कॉलेज और स्कूल में किताबी ज्ञान तो मिलता है लेकिन संस्कार की कमी होती जा रही है अभी संस्कार आएंगे कहां से इस छोटी सी एक माध्यम है जैसे संस्कार इंसान खुद ब खुद सीख जाता है तो इसके लिए जरूरी है कि हमारे जो वेद पुराण उनकी शिक्षा हर कॉलेज में दी जाए जैसे कि गीता का ज्ञान रामायण इससे खुद-ब-खुद इंसान और जो स्टूडेंट है वह अपने जीवन में बदलाव लाए थैंक यू वेरी मच

hamare desh ke college aur school mein kitabi gyaan toh milta hai lekin sanskar ki kami hoti ja rahi hai abhi sanskar aayenge kahaan se is choti si ek madhyam hai jaise sanskar insaan khud bsp khud seekh jata hai toh iske liye zaroori hai ki hamare jo ved puran unki shiksha har college mein di jaaye jaise ki geeta ka gyaan ramayana isse khud bsp khud insaan aur jo student hai vaah apne jeevan mein badlav laye thank you very match

हमारे देश के कॉलेज और स्कूल में किताबी ज्ञान तो मिलता है लेकिन संस्कार की कमी होती जा रही

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  158
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Raghuveer Singh

👤Teacher & Advisor🙏

0:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका बस में है मुझे देसी कॉलेज स्कूल में क्या-क्या चीज की कमी है तो सबसे बड़ी जो कभी हमारे स्कूल कॉलेजों में वह है टीचरों की कमी है टीचर अध्यापक बहुत ही कम है स्कूल हो चाहे वह कॉलेज जहां तक अच्छी खासी मात्रा में है वहां पढ़ाई होगी ही होगी ओके निश्चित रूप से हमारे स्कूल कालेजों में सबसे बड़ी कमी यह है कि यहां कागज कार्रवाई बहुत ज्यादा करते हैं और उसके लिए कोई अलग से कोई स्टाफ नहीं रखते हैं वहीं स्टाफ जो बनाने वाले हैं उन से करवाए जाते हैं इससे पढ़ाई बहुत भयंकर तरीके से बात होती है हमारी स्कूल कॉलेज नहीं खेल किस पूरी सामग्री नहीं होती है और होती भी है तो जो वीडियो वगैरह धोखा देते से गिर की सीख देते नहीं है मारी स्कूल कालेजों में है बैठक की सही व्यवस्था नहीं होती है पूरी होती आधुनिक सुविधा नहीं मिल पाती है जो आपस में एक्चुअली होनी चाहिए बहुत सारी कमी है हमारी स्कूल कॉलेजों में काफी

aapka bus mein hai mujhe desi college school mein kya kya cheez ki kami hai toh sabse baadi jo kabhi hamare school collegeon mein vaah hai ticharon ki kami hai teacher adhyapak bahut hi kam hai school ho chahen vaah college jaha tak achi khasee matra mein hai wahan padhai hogi hi hogi ok nishchit roop se hamare school kalejon mein sabse baadi kami yah hai ki yahan kagaz karyawahi bahut zyada karte hai aur uske liye koi alag se koi staff nahi rakhte hai wahi staff jo banane waale hai un se karwaye jaate hai isse padhai bahut bhayankar tarike se baat hoti hai hamari school college nahi khel kis puri samagri nahi hoti hai aur hoti bhi hai toh jo video vagera dhokha dete se gir ki seekh dete nahi hai mari school kalejon mein hai baithak ki sahi vyavastha nahi hoti hai puri hoti aadhunik suvidha nahi mil pati hai jo aapas mein actually honi chahiye bahut saree kami hai hamari school collegeon mein kafi

आपका बस में है मुझे देसी कॉलेज स्कूल में क्या-क्या चीज की कमी है तो सबसे बड़ी जो कभी हमारे

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  241
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!