राहुल गांधी अपने बयान पर माफ़ी क्यूँ नहीं माँग रहे?...


user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

1:01
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राहुल गांधी राहुल गांधी के 44 अधिवेशन बाजी करते हैं और फिर बाद में माफी मांगने की बात आती है तो कुछ दिनों तक हो रही है और फिर बाद में माफी भी मांग लेंगे ऐसा वह सुप्रीम कोर्ट में भी कर चुके हैं राहुल गांधी जी का जो बाली निवेदन होता है वह टीका टिप्पणी करते हैं और फिर खुद ही फंस जाते हैं इसलिए अपने भूल को सुधारने के बजाय वह अपने हाथों से माफी मांग कर उसको सुधार सकते थे उन्होंने ऐसा नहीं किया और न्यूज़ में बने रहना चाहते हैं इसलिए ऐसा कर रहे हैं देखिए

rahul gandhi rahul gandhi ke 44 adhiveshan baazi karte hain aur phir baad mein maafi mangne ki baat aati hai toh kuch dino tak ho rahi hai aur phir baad mein maafi bhi maang lenge aisa vaah supreme court mein bhi kar chuke hain rahul gandhi ji ka jo baali nivedan hota hai vaah tika tippani karte hain aur phir khud hi fans jaate hain isliye apne bhool ko sudhaarne ke bajay vaah apne hathon se maafi maang kar usko sudhaar sakte the unhone aisa nahi kiya aur news mein bane rehna chahte hain isliye aisa kar rahe hain dekhiye

राहुल गांधी राहुल गांधी के 44 अधिवेशन बाजी करते हैं और फिर बाद में माफी मांगने की बात आती

Romanized Version
Likes  73  Dislikes    views  1488
WhatsApp_icon
10 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

महेश सेठ

रेकी ग्रैंडमास्टर,लाइफ कोच

0:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राहुल गांधी ऐसे माफी नहीं मांगते जब उनको कोर्ट से सम्मान आता है जेल होने की संभावना होती तब माफी मांगते हैं तो कोई दिक्कत नहीं है वह तो सारी जनता समझती ही है कि एक बेवकूफी वाला बयान है और पप्पू इसे ज्यादा बढ़िया बयान दे भी नहीं सकता यह भी सबको मालूम है इसलिए को दिक्कत नहीं है राहुल गांधी अपना काम करें मोदी जी अपना काम कर रहे हैं मोदी जी जिंदाबाद जय हो

rahul gandhi aise maafi nahi mangate jab unko court se sammaan aata hai jail hone ki sambhavna hoti tab maafi mangate hain toh koi dikkat nahi hai vaah toh saree janta samajhti hi hai ki ek bewakoofi vala bayan hai aur pappu ise zyada badhiya bayan de bhi nahi sakta yah bhi sabko maloom hai isliye ko dikkat nahi hai rahul gandhi apna kaam karen modi ji apna kaam kar rahe hain modi ji zindabad jai ho

राहुल गांधी ऐसे माफी नहीं मांगते जब उनको कोर्ट से सम्मान आता है जेल होने की संभावना होती त

Romanized Version
Likes  184  Dislikes    views  2476
WhatsApp_icon
user

Abhishek Shekher Gaur

Civil Engineer

2:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अपने बयान पर माफी नहीं मांग रहे हैं क्योंकि जो उन्होंने बोला है कि रेप कैपिटल है ना वह बहुत लोग बोल चुके हैं कितना से माफी मांगोगे और बीजेपी जो कर रही है वह भी गलत कर रही है बीजेपी के नरेंद्र मोदी जब चुनाव की तैयारी कर रहे थे वह खुद यह पर कांग्रेस के टाइम पर आरोप लगा चुके हैं कि उनको तो कोई मतलब ही नहीं होना चाहिए एक बार तेरे जनता ऐसा कहे तो एक बार समझ में आता है आप किस मुंह से कह रहे हैं कि कांग्रेस के राहुल गांधी ने ऐसा कहा कि प्रधानमंत्री खुद कह चुके हैं लोग लाइन और जब उन्होंने माफी नहीं मांगी तो इनको भी माफी माफी करो तो पहले मोदी से आपको कुछ लोग सपोर्ट करते हैं बस इसलिए आप उनका सपोर्ट लेकर आप राहुल गांधी के पीछे पड़ जाएंगे कि नहीं तो माफी मांगो यह जो रेप कैपिटल होने की बात कही है देश के लिए राहुल गांधी ने यह गलत है पहली बात गलत इसलिए है क्योंकि इंडिया कभी रेप कैपिटल कितना नहीं रहा है क्यों क्योंकि जो दुनिया में सबसे ज्यादा जो रेप होते हैं उस मामले में इंडिया बाकी देशों से बहुत पीछे टॉप टेन टॉप टेन में भी नहीं आता है ठीक है लेकिन होता क्या है कि जब हाईलाइट हो जाती है हां यहां होता क्या है जब कोई होता तो यहां बहुत ज्यादा भीषण तरीक ज्यादा दर्शन हो जाती है चीजें मतलब जला दिया जिंदा बताइए यह सब चीज होगी ना तो रेप की वजह से इतना है लाइट नहीं हुआ है क्योंकि रेप तो रोज ही हो रहा ठीक है बीच अभी यह न्यूज़ अभी उठने लग गई है रोज रोज हो रहे और आप न्यूज़ पेपर आगरा देखते हैं तो आप रोज पढ़ते हैं कि इतने हो रहा है और आप नहीं ध्यान दे तो आपको पता भी नहीं चलता कि कहां क्या हो रहा है कितने रेप हो गया घर पर नहीं पड़ा रेप हो रहे हैं खूब लेकिन बाकी देशों से कंपैरिजन में रेप कैपिटल और यह बात चाहे मोदी कहे चाहे राहुल गांधी कहां दोनों के कहने में गलत है लेकिन और भगवान आपको माफी तो दोनों से पहले मोदी ने कहा तो पहले मोदी से आई और फिर अगर मोदी मांग ले

apne bayan par maafi nahi maang rahe hain kyonki jo unhone bola hai ki rape capital hai na vaah bahut log bol chuke hain kitna se maafi mangoge aur bjp jo kar rahi hai vaah bhi galat kar rahi hai bjp ke narendra modi jab chunav ki taiyari kar rahe the vaah khud yah par congress ke time par aarop laga chuke hain ki unko toh koi matlab hi nahi hona chahiye ek baar tere janta aisa kahe toh ek baar samajh mein aata hai aap kis mooh se keh rahe hain ki congress ke rahul gandhi ne aisa kaha ki pradhanmantri khud keh chuke hain log line aur jab unhone maafi nahi maangi toh inko bhi maafi maafi karo toh pehle modi se aapko kuch log support karte hain bus isliye aap unka support lekar aap rahul gandhi ke peeche pad jaenge ki nahi toh maafi mango yah jo rape capital hone ki baat kahi hai desh ke liye rahul gandhi ne yah galat hai pehli baat galat isliye hai kyonki india kabhi rape capital kitna nahi raha hai kyon kyonki jo duniya mein sabse zyada jo rape hote hain us mamle mein india baki deshon se bahut peeche top ten top ten mein bhi nahi aata hai theek hai lekin hota kya hai ki jab highlight ho jaati hai haan yahan hota kya hai jab koi hota toh yahan bahut zyada bhishan tarik zyada darshan ho jaati hai cheezen matlab jala diya zinda bataiye yah sab cheez hogi na toh rape ki wajah se itna hai light nahi hua hai kyonki rape toh roj hi ho raha theek hai beech abhi yah news abhi uthane lag gayi hai roj roj ho rahe aur aap news paper agra dekhte hain toh aap roj padhte hain ki itne ho raha hai aur aap nahi dhyan de toh aapko pata bhi nahi chalta ki kahaan kya ho raha hai kitne rape ho gaya ghar par nahi pada rape ho rahe hain khoob lekin baki deshon se kampairijan mein rape capital aur yah baat chahen modi kahe chahen rahul gandhi kahaan dono ke kehne mein galat hai lekin aur bhagwan aapko maafi toh dono se pehle modi ne kaha toh pehle modi se I aur phir agar modi maang le

अपने बयान पर माफी नहीं मांग रहे हैं क्योंकि जो उन्होंने बोला है कि रेप कैपिटल है ना वह बहु

Romanized Version
Likes  75  Dislikes    views  2472
WhatsApp_icon
user

Nikhil Ranjan

HoD - NIELIT

0:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अकबर ने राहुल गांधी अपने बयान पर माफी क्यों नहीं मांग रहे हैं तो यहां पर बताना चाहेंगे कि राहुल गांधी कब अपना स्टैंड है वह कहते हैं

akbar ne rahul gandhi apne bayan par maafi kyon nahi maang rahe hain toh yahan par bataana chahenge ki rahul gandhi kab apna stand hai vaah kehte hain

अकबर ने राहुल गांधी अपने बयान पर माफी क्यों नहीं मांग रहे हैं तो यहां पर बताना चाहेंगे कि

Romanized Version
Likes  470  Dislikes    views  5922
WhatsApp_icon
user
5:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विकी राहुल गांधी ने मेक इन इंडिया स्लोगन को रेप इन इंडिया करके बोला है और उन्होंने कहा है मैं माफी नहीं मांगूंगा और यह बीजेपी और पार्लियामेंट में जिस तरह से हुआ की माफी मांगनी पड़ेगी तो देखिए हमें यह समझना चाहिए कि हमें कब किस चीज पर विरोध करना है और कब हमें भारत के सिटीजन होने के नाते भारत के नागरिक होने के नाते यह समझना है कि किन चीजों पर हमें किस नेता का विरोध करना है तुम्हारा की स्मृति ईरानी कह रही हैं कि उन्होंने को मेक इन इंडिया का मतलब है कि भारत में आओ व्यापार करो अरे लेकिन उन्होंने बोला है रेप इन इंडिया तो इसका मतलब है आओ और रेप करो यह कतई भी उचित नहीं है यह किस तरह से जो है बीजेपी की मिनिस्टर ने इस तरह की गलत मतलब निकाल रहे हमें समझना चाहिए कि हमें किस मामले में विरोध करना यहां पर बीजेपी गलत है इसलिए गलत है कि आप और सारी बातें अलग बात है राहुल गांधी और क्या कहते हैं उन्हें कोई बुद्धू कहता है क्या कहते हैं वह बात अलग यहां पर एक यीशु एक मुद्दे की बात है महिलाओं से जुड़े हुए तो राहुल गांधी और क्या कहते रहते हैं कभी प्रधानमंत्री के बारे में कभी प्रधानमंत्री चोर है या समझ तो वह बात अलग है लेकिन जब बात आती है कोई मेन यीशु की उस पर हमें विरोध नहीं करना चाहिए आज एक हमारा इंडिया एक रेप के एक जो है उस से गुजर रहा है जबकि देश में रेप के बारे में गुस्सा है इस तरह का ग्रेशन है आउटरेज है तो ऐसी स्थिति में रेप के बारे में बात हो तो बहुत अच्छी बात है अब और राहुल गांधी कहते हैं या बीजेपी का कोई नेता कहता है उससे कोई मतलब नहीं कुल मिलाकर विमर्श हो राष्ट्रीय विमर्श होना चाहिए किसी भी सामाजिक समस्या की बारी अब उसके लिए कौन बयान देता है उससे कोई मतलब नहीं होना चाहिए वह राहुल गांधी दे रहे हैं बयान या बीजेपी के कोई बीजेपी का कोई लीडर दे रहा है इसे नहीं समस्या यही है कि महिलाओं को रेप इन इंडिया बोला हुआ वैसे भी रेप तो बहुत हो रहे हैं इसमें कोई गलत बात नहीं की रेप रेप इतने सारे हो रहे जब कोई नेता बोलेगा आगे आकर तभी तो बात होगी अब इसमें मुझे नहीं पता या किसी को नहीं पता कि राहुल गांधी इसमें सच में उनका कोई हित है इंटरेस्ट है अब उनका इंटरेस्ट हो या ना हो कोई मिलाकर राष्ट्रीय विमर्श होना चाहिए अब राष्ट्रीय विमर्श चाहे जैसे हो जब राष्ट्रीय विमर्श होगा महिलाओं की सुरक्षा के बारे में रेप रुकने के बारे में तभी उनके लिए समाधान भी नहीं मिलेगा जब तक समस्या पर विमर्श नहीं होगा चर्चा नहीं होगी तो समाधान कैसे निकलेगा और यह गुस्सा इस तरह ठंडा ठंडा हो जाता है देखी मुद्दे आते रहते हैं और जो पिछला मुद्दा है वह देखता रहता है तो एक बहुत अच्छा समय था कि जो बलात्कार की घटना है देश में हो रही थी और पब्लिक में गुस्सा बढ़ रहा था चैनलों पर मीडिया में इसके बारे में चर्चा हो रही थी तो ऐसे समय में और चर्चा होनी चाहिए थी और बात करनी चाहिए थी किस तरह से समाज में बलात्कार और सामाजिक समस्या है रेप की वो रुके रुके तो उसके लिए उसी तरह की विमर्श होना चाहिए था तो ऐसी स्थिति में हमें कि राहुल गांधी का या ऐसे किसी भी का विरोध नहीं करना चाहिए और हमें बात करनी चाहिए कि बलात्कार क्यों नहीं रुक रहे हैं रेप इन इंडिया क्यों है तो इसमें हमें यह नहीं देखना चाहिए अपने कि किस पार्टी का बीजेपी का है कांग्रेसका है नेता जब कोई भी नेता अच्छी बात कही चाहे बीजेपी का हो कांग्रेसका हो हमें हमें विरोध के उस पर नहीं उठाना चाहिए केवल विरोध के लिए विरोध नहीं करना चाहिए आलोचना नहीं करनी चाहिए ब्लू अगर कोई सामाजिक समस्या है तो उसको उसी तरह से बोलना चाहिए तो यह एक स्टैंड होना चाहिए सभी का हमारा 1 समाज के एक शब्द नागरिक होने के नाते यह होना चाहिए और यह क्योंकि ऐसी अभी 4 दिन के लिए गुस्सा था समाज का 4 दिन बाद ठंडा हो गया दूसरा मुद्दा आ जाता है अभी दूसरे मुद्दे चल रहे हैं तो यह जब मुद्दा हो तो उस पर जो है कायदे से बहस हो जाए तो उस बैसे कुछ समाधान निकले तो इसलिए जरूरी होता कि अगर लोग समर्थन करते राहुल गांधी की बहन का भाई कुछ कुछ लोगों की सोच बदली जाए मानसिकता बदली जाए कानून बदला न्यायिक प्रक्रिया जो चल रही है फास्ट ट्रैक कोर्ट की उसको मजबूत किया जाए तो इन पर बात होनी चाहिए थी अब बात हम लोग केवल इस बार करने लगे भाजपा कांग्रेस भाजपा कांग्रेस करके तो इस तरह से मुद्दा तो गायब हो गया भाजपा कांग्रेसी आ गई बस बस कांग्रेसी भाजपा की 1 लड़ाई तक रह गया और मुद्दा जोहेब कथा वह चला गया तो समाज के हाथ में कुछ नहीं लगा नागरिक के हाथ में कुछ नहीं लगा जो लगा वह पार्टी के हाथ में लगा इसे कहते हैं राजनीतिक लाभ

vicky rahul gandhi ne make in india slogan ko rape in india karke bola hai aur unhone kaha hai main maafi nahi mangunga aur yah bjp aur parliament mein jis tarah se hua ki maafi mangani padegi toh dekhiye hamein yah samajhna chahiye ki hamein kab kis cheez par virodh karna hai aur kab hamein bharat ke citizen hone ke naate bharat ke nagarik hone ke naate yah samajhna hai ki kin chijon par hamein kis neta ka virodh karna hai tumhara ki smriti irani keh rahi hain ki unhone ko make in india ka matlab hai ki bharat mein aao vyapar karo arre lekin unhone bola hai rape in india toh iska matlab hai aao aur rape karo yah katai bhi uchit nahi hai yah kis tarah se jo hai bjp ki minister ne is tarah ki galat matlab nikaal rahe hamein samajhna chahiye ki hamein kis mamle mein virodh karna yahan par bjp galat hai isliye galat hai ki aap aur saree batein alag baat hai rahul gandhi aur kya kehte hain unhe koi buddhu kahata hai kya kehte hain vaah baat alag yahan par ek yeshu ek mudde ki baat hai mahilaon se jude hue toh rahul gandhi aur kya kehte rehte hain kabhi pradhanmantri ke bare mein kabhi pradhanmantri chor hai ya samajh toh vaah baat alag hai lekin jab baat aati hai koi main yeshu ki us par hamein virodh nahi karna chahiye aaj ek hamara india ek rape ke ek jo hai us se gujar raha hai jabki desh mein rape ke bare mein gussa hai is tarah ka greshan hai autarej hai toh aisi sthiti mein rape ke bare mein baat ho toh bahut achi baat hai ab aur rahul gandhi kehte hain ya bjp ka koi neta kahata hai usse koi matlab nahi kul milakar vimarsh ho rashtriya vimarsh hona chahiye kisi bhi samajik samasya ki baari ab uske liye kaun bayan deta hai usse koi matlab nahi hona chahiye vaah rahul gandhi de rahe hain bayan ya bjp ke koi bjp ka koi leader de raha hai ise nahi samasya yahi hai ki mahilaon ko rape in india bola hua waise bhi rape toh bahut ho rahe hain isme koi galat baat nahi ki rape rape itne saare ho rahe jab koi neta bolega aage aakar tabhi toh baat hogi ab isme mujhe nahi pata ya kisi ko nahi pata ki rahul gandhi isme sach mein unka koi hit hai interest hai ab unka interest ho ya na ho koi milakar rashtriya vimarsh hona chahiye ab rashtriya vimarsh chahen jaise ho jab rashtriya vimarsh hoga mahilaon ki suraksha ke bare mein rape rukane ke bare mein tabhi unke liye samadhan bhi nahi milega jab tak samasya par vimarsh nahi hoga charcha nahi hogi toh samadhan kaise niklega aur yah gussa is tarah thanda thanda ho jata hai dekhi mudde aate rehte hain aur jo pichla mudda hai vaah dekhta rehta hai toh ek bahut accha samay tha ki jo balatkar ki ghatna hai desh mein ho rahi thi aur public mein gussa badh raha tha channelon par media mein iske bare mein charcha ho rahi thi toh aise samay mein aur charcha honi chahiye thi aur baat karni chahiye thi kis tarah se samaaj mein balatkar aur samajik samasya hai rape ki vo ruke ruke toh uske liye usi tarah ki vimarsh hona chahiye tha toh aisi sthiti mein hamein ki rahul gandhi ka ya aise kisi bhi ka virodh nahi karna chahiye aur hamein baat karni chahiye ki balatkar kyon nahi ruk rahe hain rape in india kyon hai toh isme hamein yah nahi dekhna chahiye apne ki kis party ka bjp ka hai kangresaka hai neta jab koi bhi neta achi baat kahi chahen bjp ka ho kangresaka ho hamein hamein virodh ke us par nahi uthaana chahiye keval virodh ke liye virodh nahi karna chahiye aalochana nahi karni chahiye blue agar koi samajik samasya hai toh usko usi tarah se bolna chahiye toh yah ek stand hona chahiye sabhi ka hamara 1 samaaj ke ek shabd nagarik hone ke naate yah hona chahiye aur yah kyonki aisi abhi 4 din ke liye gussa tha samaaj ka 4 din baad thanda ho gaya doosra mudda aa jata hai abhi dusre mudde chal rahe hain toh yah jab mudda ho toh us par jo hai kayade se bahas ho jaaye toh us baise kuch samadhan nikle toh isliye zaroori hota ki agar log samarthan karte rahul gandhi ki behen ka bhai kuch kuch logon ki soch badli jaaye mansikta badli jaaye kanoon badla nyaayik prakriya jo chal rahi hai fast track court ki usko mazboot kiya jaaye toh in par baat honi chahiye thi ab baat hum log keval is baar karne lage bhajpa congress bhajpa congress karke toh is tarah se mudda toh gayab ho gaya bhajpa congressi aa gayi bus bus congressi bhajpa ki 1 ladai tak reh gaya aur mudda joheb katha vaah chala gaya toh samaaj ke hath mein kuch nahi laga nagarik ke hath mein kuch nahi laga jo laga vaah party ke hath mein laga ise kehte hain raajnitik labh

विकी राहुल गांधी ने मेक इन इंडिया स्लोगन को रेप इन इंडिया करके बोला है और उन्होंने कहा है

Romanized Version
Likes  32  Dislikes    views  769
WhatsApp_icon
user

Dr Manoj Kumar Bhambu

Doctorate of Philosophy

0:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राहुल गांधी अपने बयान पर माफी क्यों नहीं मान रहे हैं माफी मांगने के लिए बड़ा दिल चाहिए बड़ा जिगर चाहिए और अपनी गलती का एहसास चाहिए जिन लोगों को ना ही अपनी गलती का एहसास और ना ही इतना बड़ा बेटा अपनी गलती बस पगले के लिए माफी मांगते वह कभी माफी नहीं मांगेंगे बाकी आप खुद समझदार

rahul gandhi apne bayan par maafi kyon nahi maan rahe hain maafi mangne ke liye bada dil chahiye bada jigar chahiye aur apni galti ka ehsaas chahiye jin logon ko na hi apni galti ka ehsaas aur na hi itna bada beta apni galti bus pagle ke liye maafi mangate vaah kabhi maafi nahi mangege baki aap khud samajhdar

राहुल गांधी अपने बयान पर माफी क्यों नहीं मान रहे हैं माफी मांगने के लिए बड़ा दिल चाहिए बड़

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  187
WhatsApp_icon
user

pervs

Tutor

1:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राहुल गांधी अपने बयान पर माफी क्यों नहीं मांग रहे तो मैं आपको समझाने की कोशिश कर सकता हूं कि ऐसे राहुल गांधी ने क्या कह दिया तूने माफी मांगने की जरूरत पड़ी यहां पर आती है जो मतलब बड़े-बड़े बलात्कारी है आसाराम बापू हो गया हो गया हो गया और आपकी और भी बड़े-बड़े जो सांसद हो गए माफी उनको मांगनी चाहिए और जो देश में गद्दार है माफी उनको मांगनी चाहिए उन्होंने विस्तृत रिपोर्ट बोला है कि मेक इन इंडिया मेक इन इंडिया मेक इन इंडिया के प्रधानमंत्री है बोला था और उन्होंने एक शब्द बोला था कि मेक इन इंडिया की जगह आप अखबार उठा कर देख सकते हो कि हर जगह यूपी बेस्ट रेप ज्यादा बढ़ गई है मतलब यह बयान है तो इस पर मतलब कोई गलत चीज नहीं है बिल्कुल सही बात है इस बात से आप भी सहमत पर हम भी सहमत हैं और

rahul gandhi apne bayan par maafi kyon nahi maang rahe toh main aapko samjhaane ki koshish kar sakta hoon ki aise rahul gandhi ne kya keh diya tune maafi mangne ki zaroorat padi yahan par aati hai jo matlab bade bade balaatkari hai aasaram bapu ho gaya ho gaya ho gaya aur aapki aur bhi bade bade jo saansad ho gaye maafi unko mangani chahiye aur jo desh mein gaddar hai maafi unko mangani chahiye unhone vistrit report bola hai ki make in india make in india make in india ke pradhanmantri hai bola tha aur unhone ek shabd bola tha ki make in india ki jagah aap akhbaar utha kar dekh sakte ho ki har jagah up best rape zyada badh gayi hai matlab yah bayan hai toh is par matlab koi galat cheez nahi hai bilkul sahi baat hai is baat se aap bhi sahmat par hum bhi sahmat hain aur

राहुल गांधी अपने बयान पर माफी क्यों नहीं मांग रहे तो मैं आपको समझाने की कोशिश कर सकता हूं

Romanized Version
Likes  50  Dislikes    views  711
WhatsApp_icon
user

Vimal Kumar Gour

General Physician

1:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो हां भाई लोगों मेरी तरफ से नमस्कार मैं आपको एक राहुल गांधी अपने बयान पर माफी क्यों नहीं मांग रहे हैं माफी मांगने की विनायक दामोदर सावरकर कटाक्ष करने वाले राहुल गांधी पर भाजपा ने तत्काल पलटवार किया है पार्टी प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव ने कहा कि कांग्रेसी नेता के अध्यक्ष उपयुक्त नाम राहुल जिन्ना है क्योंकि मुस्लिम तुष्टिकरण की राजनीतिक उन्हें पाकिस्तान के संस्थापक और कार्यकारी मनाते हैं उल्लेखनीय है कि भाजपा स्वतंत्रा सेनानी वीर शिवा को कार्टून 4 दर्जा देती है लेकिन उसके विरोध विरोधी जेल से छूटने के लिए सावरकर ब्रिटिश शासन से माफी मांगने का आरोप लगाते हैं इसीलिए राहुल अपने बयान पर माफी मांगने से नहीं भाग रहा खांग्रेस को भारत बचाओ रैली को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि भाजपा के लोग उनके बयान पर उनके माफी मांगने के लिए कह रहे हैं लेकिन वह काफी नहीं आप ही नहीं मांगेंगे यह बता रहे हैं राहुल गांधी एक रेप इन इंडिया वाले बयान से नाराज भाजपा ने शुक्रवार को संसद के भीतर और बाहर माफी मांगने की राहुल की राहों में यह नहीं रुके इन सरकार भी जमकर बरसे अवस्था बेरोजगारी नागरिकता कानून जैसे मुद्दों को उन्होंने मोदी सरकार पर तीखा हमला बोला

hello haan bhai logon meri taraf se namaskar main aapko ek rahul gandhi apne bayan par maafi kyon nahi maang rahe hain maafi mangne ki vinayak damodar savarkar kataksh karne waale rahul gandhi par bhajpa ne tatkal palatwaar kiya hai party pravakta GVL narsimha rav ne kaha ki congressi neta ke adhyaksh upyukt naam rahul jinnah hai kyonki muslim Tustikaran ki raajnitik unhe pakistan ke sansthapak aur kaaryakari manaate hain ullekhaniya hai ki bhajpa swatantra senani veer shiva ko cartoon 4 darja deti hai lekin uske virodh virodhi jail se chutney ke liye savarkar british shasan se maafi mangne ka aarop lagate hain isliye rahul apne bayan par maafi mangne se nahi bhag raha khangres ko bharat bachao rally ko sambodhit karte hue rahul gandhi ne kaha ki bhajpa ke log unke bayan par unke maafi mangne ke liye keh rahe hain lekin vaah kafi nahi aap hi nahi mangege yah bata rahe hain rahul gandhi ek rape in india waale bayan se naaraj bhajpa ne sukravaar ko sansad ke bheetar aur bahar maafi mangne ki rahul ki rahon mein yah nahi ruke in sarkar bhi jamakar barase avastha berojgari nagarikta kanoon jaise muddon ko unhone modi sarkar par teekha hamla bola

हेलो हां भाई लोगों मेरी तरफ से नमस्कार मैं आपको एक राहुल गांधी अपने बयान पर माफी क्यों नही

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  177
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखेंगे उतना बड़ा राजनेता या राज्य की नहीं हो तो राहुल गांधी को पर कोई कमेंट कर सकूं लेकिन इतना जरूर कहूंगा राहुल गांधी राहुल गांधी ने जो बयान दिया वह बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है क्योंकि कोई भी शिक्षित संस्कारित संस्कृत देखिए जो असभ्यता होता है वह बिल्कुल एजेंसी जो बातें नहीं बोलते हैं अपने देश के लिए या अपने समाज के लिए यह बहुत गलत है इसी में उनका विरोध करता हूं और उसे भी राहुल गांधी के विरोध लाइक की है खुशी कभी भी अच्छी बिहार या देश के लिए या समाज के लिए कभी कुछ सोचा ही नहीं उसकी पूरा ही यही स्टोरी है धन्यवाद

dekhenge utana bada raajneta ya rajya ki nahi ho toh rahul gandhi ko par koi comment kar sakun lekin itna zaroor kahunga rahul gandhi rahul gandhi ne jo bayan diya vaah bahut hi durbhagyapurn hai kyonki koi bhi shikshit sanskarit sanskrit dekhiye jo asabhyata hota hai vaah bilkul agency jo batein nahi bolte hain apne desh ke liye ya apne samaj ke liye yah bahut galat hai isi me unka virodh karta hoon aur use bhi rahul gandhi ke virodh like ki hai khushi kabhi bhi achi bihar ya desh ke liye ya samaj ke liye kabhi kuch socha hi nahi uski pura hi yahi story hai dhanyavad

देखेंगे उतना बड़ा राजनेता या राज्य की नहीं हो तो राहुल गांधी को पर कोई कमेंट कर सकूं लेकिन

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  124
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!