नागरिकता संशोधन बिल 2019: मुस्लिम लीग के चार सांसदों ने सुप्रीम कोर्ट में क्यूँ दी चुनौती?...


user

Liyakat Ali Gazi

Motivational Speaker, Life Coach & Soft Skills Trainer 📲 9956269300

0:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नागरिकता संशोधन बिल पूरी तरीके से जो है जो मुस्लिम लीग के चार सांसदों उन्हें सुप्रीम कोर्ट में इस को चुनौती दी है उन लोगों ने इस आधार पर दिया कि इससे संशोधन बिल में संविधान के कुछ अनुच्छेदों का पालन नहीं किया गया है संविधान का अपमान किया गया जैसा कि हमारे संविधान में अनुच्छेद 14 21 में बताया गया है संविधान संविधान के अनुच्छेद 14 में बताया गया है कि समानता का अधिकार सभी का है इस आधार पर मुस्लिम लिखकर 4 में सनसनी कोर्ट में जो है इस को चुनौती दी है तो सच में मुस्लिम धर्म के मानने वालों को नहीं शामिल किया गया है तो यही आधार कुछ है

nagarikta sanshodhan bill puri tarike se jo hai jo muslim league ke char sansadon unhe supreme court mein is ko chunauti di hai un logo ne is aadhaar par diya ki isse sanshodhan bill mein samvidhan ke kuch anuchhedon ka palan nahi kiya gaya hai samvidhan ka apman kiya gaya jaisa ki hamare samvidhan mein anuched 14 21 mein bataya gaya hai samvidhan samvidhan ke anuched 14 mein bataya gaya hai ki samanata ka adhikaar sabhi ka hai is aadhaar par muslim likhkar 4 mein sansani court mein jo hai is ko chunauti di hai toh sach mein muslim dharm ke manne walon ko nahi shaamil kiya gaya hai toh yahi aadhaar kuch hai

नागरिकता संशोधन बिल पूरी तरीके से जो है जो मुस्लिम लीग के चार सांसदों उन्हें सुप्रीम कोर्ट

Romanized Version
Likes  76  Dislikes    views  1693
WhatsApp_icon
11 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Vimal Kumar Gour

General Physician

1:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं आपको समझाना चाहूंगा दोष क्या है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कहा कि देश को बचाने के लिए है इसमें किए गए संशोधन 1300 सही है हम विपक्ष इस से लेकर तूफान मचा रहे हैं आगजनी की जा रहे बातें दुमका एयरपोर्ट पर 9 विधानसभा सीटों के लिए चुनाव के दौरान रैली को संबोधित करते हुए कहा है आरोप लगाया कि भाजपा करते हैं लगाया है कि वह करते भी बहुत सारी सीमाएं देश विदेश का विश्वास खत्म हो गया कानून बवाल खड़ा कर पाकिस्तान अफगानिस्तान और बांग्लादेश के पास और हाथी जाएगी उन्हें

main aapko samajhana chahunga dosh kya hai pradhanmantri narendra modi ne raviwar ko kaha ki desh ko bachane ke liye hai isme kiye gaye sanshodhan 1300 sahi hai hum vipaksh is se lekar toofan macha rahe hai agajani ki ja rahe batein dumka airport par 9 vidhan sabha seaton ke liye chunav ke dauran rally ko sambodhit karte hue kaha hai aarop lagaya ki bhajpa karte hai lagaya hai ki vaah karte bhi bahut saree simaye desh videsh ka vishwas khatam ho gaya kanoon bawaal khada kar pakistan afghanistan aur bangladesh ke paas aur haathi jayegi unhe

मैं आपको समझाना चाहूंगा दोष क्या है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कहा कि देश को ब

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  186
WhatsApp_icon
user

Anil Kumar

Fashion Expert

0:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने पूछा नागरिक संशोधन बिल 2019 मुस्लिम लिखकर चार सांसदों ने सुप्रीम कोर्ट में क्यों दी चुनौती तो मैं आसान से शब्दों में बताना चाहूंगा कि मुस्लिम लिखकर 414 चुनौती इसलिए दी क्योंकि उन अपना वोट बैंक बनाए रखना है नहीं तो जो भी अल्पसंख्यक हिंदू मुस्लिम हिंदू जैन सिख जो भी बाहर के दिन हमारे आस पड़ोसी मुल्कों से आए हुए हैं जो वहां पर रहकर दिक्कत में थे या परेशान थे उनके लिए जीवन जब रहोगे तभी हमारे देश में आए और शरणार्थी बनकर रह रहे थे अब उन्हें आकर नागरिक नागरिकता दी जा रही तो उन सबके लिए अच्छी बात है और मुस्लिमों को नागरिकता इसलिए नहीं दी जा रही क्योंकि वह सब मुस्लिम बहुल देश रहे हैं वहां उन लोगों को कोई दिक्कत नहीं है तो फिर इस तरह उन्हें भी कोई आपत्ति वाली बात थी लेकिन सिर्फ क्या है यह सिर्फ राजनीति की जो वोट बैंक वाली राजनीति है बस और कुछ भी नहीं है

aapne poocha nagarik sanshodhan bill 2019 muslim likhkar char sansadon ne supreme court mein kyon di chunauti toh main aasaan se shabdon mein bataana chahunga ki muslim likhkar 414 chunauti isliye di kyonki un apna vote bank banaye rakhna hai nahi toh jo bhi alpsankhyak hindu muslim hindu jain sikh jo bhi bahar ke din hamare aas padosi mulko se aaye hue hain jo wahan par rahkar dikkat mein the ya pareshan the unke liye jeevan jab rahoge tabhi hamare desh mein aaye aur sharanarthi bankar reh rahe the ab unhe aakar nagarik nagarikta di ja rahi toh un sabke liye achi baat hai aur muslimo ko nagarikta isliye nahi di ja rahi kyonki vaah sab muslim bahul desh rahe hain wahan un logo ko koi dikkat nahi hai toh phir is tarah unhe bhi koi apatti wali baat thi lekin sirf kya hai yah sirf raajneeti ki jo vote bank wali raajneeti hai bus aur kuch bhi nahi hai

आपने पूछा नागरिक संशोधन बिल 2019 मुस्लिम लिखकर चार सांसदों ने सुप्रीम कोर्ट में क्यों दी च

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  128
WhatsApp_icon
user

Subrat Kar

Tax , Project , Consultant, Spiritual Guru

1:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नागरिक संशोधन बिल 2019 लोकसभा राज्यसभा से पारित हो चुका है आप राष्ट्रपति के अनुमोदन के बाद यह बिल कानून बन जाएगा पाकिस्तान अफगानिस्तान और बांग्लादेश से आए हिंदू सीचेन चाहिए गैर मुस्लिम अल्पसंख्यक शरणार्थी अब आसानी से भारत का नागरिक बन पाएंगे धर्म के आधार पर भारत का विभाजन हुआ और पाकिस्तान बना पाकिस्तान अफगानिस्तान और बांग्लादेश में हिंदुओं का गीत जनसंख्या बताती है या तो ज्यादातर हिंदू मारेंगे या जबरन धर्मांतर कराए के कुछ पलायन करें नागरिक संशोधन बिल 2019 के खिलाफ मुस्लिम लीग के चार सांसदों ने सुप्रीम कोर्ट जाने के लिए तय किया है उनके हिसाब से यह बिल संविधान का आर्टिकल फोर्टीन समान अधिकार का उल्लंघन करता है सुप्रीम कोर्ट में उनका पक्ष रखने के लिए कांग्रेस के नेता कपिल सिब्बल को चुना है दरअसल यह बिल भारत में रह रहे मुस्लिमों से कोई संबंध नहीं पाकिस्तान अफगानिस्तान और बांग्लादेश मुस्लिम बहुल देश है वहां रह रहे हैं ना मुस्लिम ही मेहनती है तभी माइनॉरिटी के लिस्ट में मुस्लिमों को शामिल नहीं कराया गया सिटीजनशिप अमेंडमेंट बिल 2019 किसी तरीके से आर्टिकल फोर्टीन का उल्लंघन नहीं करता

nagarik sanshodhan bill 2019 lok sabha rajya sabha se paarit ho chuka hai aap rashtrapati ke anumodan ke baad yah bill kanoon ban jaega pakistan afghanistan aur bangladesh se aaye hindu sichen chahiye gair muslim alpsankhyak sharanarthi ab aasani se bharat ka nagarik ban payenge dharm ke aadhaar par bharat ka vibhajan hua aur pakistan bana pakistan afghanistan aur bangladesh mein hinduon ka geet jansankhya batati hai ya toh jyadatar hindu marenge ya jabran dharmantar karae ke kuch palayan kare nagarik sanshodhan bill 2019 ke khilaf muslim league ke char sansadon ne supreme court jaane ke liye tay kiya hai unke hisab se yah bill samvidhan ka article fourteen saman adhikaar ka ullanghan karta hai supreme court mein unka paksh rakhne ke liye congress ke neta kapil sibbal ko chuna hai darasal yah bill bharat mein reh rahe muslimo se koi sambandh nahi pakistan afghanistan aur bangladesh muslim bahul desh hai wahan reh rahe hain na muslim hi mehanati hai tabhi minority ke list mein muslimo ko shaamil nahi karaya gaya Citizenship Amendment bill 2019 kisi tarike se article fourteen ka ullanghan nahi karta

नागरिक संशोधन बिल 2019 लोकसभा राज्यसभा से पारित हो चुका है आप राष्ट्रपति के अनुमोदन के बाद

Romanized Version
Likes  96  Dislikes    views  2606
WhatsApp_icon
user
Play

Likes  6  Dislikes    views  149
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

वह नहीं चाहते कि सीएल लागू तो मुस्लिम जी बिल्कुल नहीं चाहते हैं इसलिए उन्होंने यह याचिका दायर की है

vaah nahi chahte ki cl laagu toh muslim ji bilkul nahi chahte hain isliye unhone yah yachika dayar ki hai

वह नहीं चाहते कि सीएल लागू तो मुस्लिम जी बिल्कुल नहीं चाहते हैं इसलिए उन्होंने यह याचिका द

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  101
WhatsApp_icon
user

Shailesh Thakur

Abhi To Graduate hu.

0:27
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

व साहेब आंबेडकर ने कहा था कि जब तक मुस्लिम अपने धाम के हो गए तब तक वह भारत के या भारत की भूमि को कभी कभी अपना नहीं मानेंगे इसीलिए मुस्लिमों ने अपने मुस्लिम भाइयों का पक्ष लेते हुए नागरिकता संशोधन बिल 2019 को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी

va saheb ambedkar ne kaha tha ki jab tak muslim apne dhaam ke ho gaye tab tak vaah bharat ke ya bharat ki bhoomi ko kabhi kabhi apna nahi manenge isliye muslimo ne apne muslim bhaiyo ka paksh lete hue nagarikta sanshodhan bill 2019 ko supreme court me chunauti di

व साहेब आंबेडकर ने कहा था कि जब तक मुस्लिम अपने धाम के हो गए तब तक वह भारत के या भारत की भ

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  76
WhatsApp_icon
user
2:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पहला तो यह कानून जो अभी बना है तो वह राज्यसभा लोकसभा से पास हो चुका है और राष्ट्रपति के अभिभाषण के बाद वो कानून भी बन चुका है जय भीम कोर्ट में चैलेंज देने का अधिकार है ऐसे कानून के बारे में चैलेंज किया गया है उनको पिन कोड को रद्द करने का यह सकती है उस कानून को न्लर्न बैठ कर सकती है तो हम पहला तो यह कि क्यों दिया है पहले यह है कि यह आर्टिकल 14 का खुलेआम उल्लंघन करता है कॉन्सीट्यूशन की जो अंदर की आत्मा है वह कोई लाता है कॉन्स्टिट्यूशन आर्टिकल 14 में साफ-साफ लिखा है यह जहां धर्म जाति अन्य किसी भी चीज को किसी से नहीं कर सकते इस में भेदभाव बांग्लादेश अफगानिस्तान पाकिस्तान ईसाई बौद्ध जैन जॉब मिल जाएगी तो मुस्लिम बचे पिक्चर का 61 का कागज कहां से लाएंगे जब इंडिया में अधिक जनसंख्या को कोई कागज के फूल के ही हैं यह सब तो सीए के थ्रू आ जाएंगे सब नहीं होटल पर कागज ना हो तब भी नागरिकता होने देंगे पर हम पर कागज है वोटर आईडी कार्ड नहीं मांगने पासवर्ड जो कहीं भी जा उस कंट्री का पासवर्ड क्या पहचाने भैया पैन कार्ड नहीं है यह यह चीज घुमा फिरा कर लाई जा रही है इसलिए अपनी राजनीति करने के लिए फायदा उठाने के लिए लोगों को एक दूसरे के खिलाफ करने के लिए एक करा जा रहा है अभी बहुत गलत है भेदभाव का है यह नहीं करना चाहिए

pehla toh yah kanoon jo abhi bana hai toh vaah rajya sabha lok sabha se paas ho chuka hai aur rashtrapati ke abhibhashan ke baad vo kanoon bhi ban chuka hai jai bhim court mein challenge dene ka adhikaar hai aise kanoon ke bare mein challenge kiya gaya hai unko pin code ko radd karne ka yah sakti hai us kanoon ko nlarn baith kar sakti hai toh hum pehla toh yah ki kyon diya hai pehle yah hai ki yah article 14 ka khuleaam ullanghan karta hai kansityushan ki jo andar ki aatma hai vaah koi lata hai Constitution article 14 mein saaf saaf likha hai yah jaha dharm jati anya kisi bhi cheez ko kisi se nahi kar sakte is mein bhedbhav bangladesh afghanistan pakistan isai Baudh jain job mil jayegi toh muslim bache picture ka 61 ka kagaz kahan se layenge jab india mein adhik jansankhya ko koi kagaz ke fool ke hi hain yah sab toh ca ke through aa jaenge sab nahi hotel par kagaz na ho tab bhi nagarikta hone denge par hum par kagaz hai voter id card nahi mangne password jo kahin bhi ja us country ka password kya pehchane bhaiya pan card nahi hai yah yah cheez ghuma fira kar lai ja rahi hai isliye apni raajneeti karne ke liye fayda uthane ke liye logo ko ek dusre ke khilaf karne ke liye ek kara ja raha hai abhi bahut galat hai bhedbhav ka hai yah nahi karna chahiye

पहला तो यह कानून जो अभी बना है तो वह राज्यसभा लोकसभा से पास हो चुका है और राष्ट्रपति के अभ

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  84
WhatsApp_icon
user
0:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारा संविधान से किधर है और यह भी नागरिकता बिल जो है यह धार्मिक आधार पर नागरिकता रहता है जबकि हमारा संविधान से किलर दोपहर नाती को शामिल करता है जिसमें sc.st.obc भी शामिल है और इससे एक एनआरसी के साथ जोड़कर देखा जाएगा इसलिए इसको हमारी संविधान का जो मूलभूत ढांचा है सेक्यूलर जिसमें साड़ी नातिया शामिल है इसके वजह से इस बिल की वजह से यह भी इससे बाहर जाती है इसलिए इसको चुनौती दिया गया है

hamara samvidhan se kidhar hai aur yah bhi nagarikta bill jo hai yah dharmik aadhar par nagarikta rehta hai jabki hamara samvidhan se killer dopahar nati ko shaamil karta hai jisme sc st obc bhi shaamil hai aur isse ek NRC ke saath jodkar dekha jaega isliye isko hamari samvidhan ka jo mulbhut dhancha hai Secular jisme saree natiya shaamil hai iske wajah se is bill ki wajah se yah bhi isse bahar jaati hai isliye isko chunauti diya gaya hai

हमारा संविधान से किधर है और यह भी नागरिकता बिल जो है यह धार्मिक आधार पर नागरिकता रहता है ज

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  128
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुस्लिम के चार सांसदों ने सुप्रीम कोर्ट में चुनौती वह किस लिए चुनौती दी है क्योंकि यह घटना हमेशा पैर की ओर ही मिलेगा हमेशा प्रेम की ओर बढ़ेगा उनके धर्म की इस्लामी धर्म मुस्लिम धर्म में अगर किसी का विरोध करते हैं तो सभी लोग एक साथ होकर के विरोध करते हैं और यह अच्छाई को भी छोड़ कर के अगर बुरे के रास्ते में जाना हो तो अच्छे को भी छोड़ कर के अच्छे लोग भी बुरे के रास्ते में फंस जाते हैं यही लोगों की खासियत है नागरिकता संशोधन बिल एक ऐसा पेड़ है जिसके अंदर एक भारत देश के अंदर एक चार्ट बनाना 4 से बदला हर घर में कितने लोग रहते हैं कहां से आएगा नहीं देते हमें अपना अधिकार देने के लिए सरकार अगर करनी है तो अच्छा कर रही है और उसी का विरोध यह लोग मुस्लिम लोग करना है क्योंकि यह पाकिस्तानियों को अफगानिस्तानी और को और अन्य मूर्ति के मुस्लिम लोगों को भारत देश के बना देना चाहते थे क्योंकि भारत के ऊपर कब्जा करें इस्लामिक कंट्री घोषित करें इसलिए लोग हमारे मोदी जी के समर्थन में नहीं रहे और मुस्लिम लोगों के साथ मिलकर के जैसे विरोध कर रहे थे उनके साथ होगा

muslim ke char sansadon ne supreme court me chunauti vaah kis liye chunauti di hai kyonki yah ghatna hamesha pair ki aur hi milega hamesha prem ki aur badhega unke dharm ki islami dharm muslim dharm me agar kisi ka virodh karte hain toh sabhi log ek saath hokar ke virodh karte hain aur yah acchai ko bhi chhod kar ke agar bure ke raste me jana ho toh acche ko bhi chhod kar ke acche log bhi bure ke raste me fans jaate hain yahi logo ki khasiyat hai nagarikta sanshodhan bill ek aisa ped hai jiske andar ek bharat desh ke andar ek chart banana 4 se badla har ghar me kitne log rehte hain kaha se aayega nahi dete hamein apna adhikaar dene ke liye sarkar agar karni hai toh accha kar rahi hai aur usi ka virodh yah log muslim log karna hai kyonki yah pakistaniyon ko afaganistani aur ko aur anya murti ke muslim logo ko bharat desh ke bana dena chahte the kyonki bharat ke upar kabza kare islamic country ghoshit kare isliye log hamare modi ji ke samarthan me nahi rahe aur muslim logo ke saath milkar ke jaise virodh kar rahe the unke saath hoga

मुस्लिम के चार सांसदों ने सुप्रीम कोर्ट में चुनौती वह किस लिए चुनौती दी है क्योंकि यह घटना

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  116
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!