क्या देश को लूटने वाले लोग आतंकवादी नहीं होते हैं?...


user

Mr Praveen kr yadav

Social Worker

1:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह प्रश्न था क्या देश को लूटने वाले लोग आप आतंकवादी नहीं होते तो साहब ज्योति स्कूल लूटते हैं वह आतंकवादी नहीं उसका बाप होते हैं और आतंकवादी को रोकना है तो आतंकवादी के बाप को मारना पड़ेगा क्योंकि अगर आप आतंकवादी को मारे तो फिर आतंकवादी पैदा होंगे अगर आप आतंकवादी को बाप को मारते हैं तो आतंकवादी आएंगे नहीं मतलब क्या कुछ लोग हमारे देश के अंदर जो आतंकवादी पैदा कर रहे हैं क्या अपनी पत्नी से नहीं बना रहे हैं मतलब उनको इस तरह से मोटिवेशन और इस तरह से मतलब जो होता है क्यों इस तरह से लोगों को तब बताते हैं तो बिल्कुल 23 को लूटने वाला आतंकवादी क्या उसके लिए कुछ शब्द नहीं है उन्हें काट काट के ना कुत्ते को खिला देना चाहिए थैंक यू

yah prashna tha kya desh ko lutane waale log aap aatankwadi nahi hote toh saheb jyoti school lootate hain vaah aatankwadi nahi uska baap hote hain aur aatankwadi ko rokna hai toh aatankwadi ke baap ko marna padega kyonki agar aap aatankwadi ko maare toh phir aatankwadi paida honge agar aap aatankwadi ko baap ko marte hain toh aatankwadi aayenge nahi matlab kya kuch log hamare desh ke andar jo aatankwadi paida kar rahe hain kya apni patni se nahi bana rahe hain matlab unko is tarah se motivation aur is tarah se matlab jo hota hai kyon is tarah se logo ko tab batatey hain toh bilkul 23 ko lutane vala aatankwadi kya uske liye kuch shabd nahi hai unhe kaat kaat ke na kutte ko khila dena chahiye thank you

यह प्रश्न था क्या देश को लूटने वाले लोग आप आतंकवादी नहीं होते तो साहब ज्योति स्कूल लूटते ह

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  130
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Rohit singh

I can do it....@212@

2:00

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए सर क्या देश को लूटने वाले लोग आतंकवादी नहीं होते लेकिन बिल्कुल मुझे लगता है अब देश को लूटने वाले लोग सबसे बड़े आतंकवादी होते हैं लुटेरे होते क्योंकि आतंकवादी ठीक है आतंकवादी है वह आतंक फैलाते हैं ठीक है पर उनका एक दिन वह बताएं कि हमें आतंक ही आतंक फैलाना है हमें जो वर्क दिया है उसको पूरा नगर भरतपुर नहीं होगा तो हमें अपनी जान दे दी नहीं जानते दीदी नहीं है लेकिन वहां तक वह अपना अपना वर्क पूरी तरीके से करते हैं वह आतंकवादी है तो वह उसी बात पर चलेंगे जून का मार्ग दिखाया गया है जो निकला है जून का टारगेट है लेकिन जो देश को लूटने वाले हैं जो देश को लूटने वाले हैं वह हमारे हितेषी बनकर जैसे नेता लोग बड़े लोग किसी बात करूंगा मैं मतलब जो देश को चला रहे हैं जिनके हाथ में देश को आगे बढ़ाने का जिम्मा है वह देश को लूटने के सिवा कुछ नहीं कर रहे हैं वह देश के हितेषी बनकर देश के हितेषी बनकर लोगों को लगता है कि विदेशी है वह लोगों को दिखाना चाहते हैं कि हम आपके हितेषी हैं हम आपके लिए भला करेंगे हम हमें आप का विकास करेंगे तो अगर आप किस चीज को आप अब आप खुद को अच्छा दिखा रहे हैं और अच्छा दिखा कर खुद को और लोग से 2 लोगों को धोखा देते मतलब लोगों को लूटते हैं फिर तो लूट नहीं हुआ जो आजकल हो रहा है राजनीति में लूटपाट मची हुई है लोग आते हैं लूट कर चले जाते हैं जनता रूठ जाती है तो सबसे बड़े लुटेरे हैं यह जो देश के साथ गद्दारी करते हैं जो देश को लूटते हैं जो देश को भ्रष्ट बना रहे हैं नथिंग यू

dekhiye sir kya desh ko lutane waale log aatankwadi nahi hote lekin bilkul mujhe lagta hai ab desh ko lutane waale log sabse bade aatankwadi hote hain lutere hote kyonki aatankwadi theek hai aatankwadi hai vaah aatank failate hain theek hai par unka ek din vaah bataye ki hamein aatank hi aatank faillana hai hamein jo work diya hai usko pura nagar bharatpur nahi hoga toh hamein apni jaan de di nahi jante didi nahi hai lekin wahan tak vaah apna apna work puri tarike se karte hain vaah aatankwadi hai toh vaah usi baat par chalenge june ka marg dikhaya gaya hai jo nikala hai june ka target hai lekin jo desh ko lutane waale hain jo desh ko lutane waale hain vaah hamare hiteshi bankar jaise neta log bade log kisi baat karunga main matlab jo desh ko chala rahe hain jinke hath mein desh ko aage badhane ka jimma hai vaah desh ko lutane ke siva kuch nahi kar rahe hain vaah desh ke hiteshi bankar desh ke hiteshi bankar logo ko lagta hai ki videshi hai vaah logo ko dikhana chahte hain ki hum aapke hiteshi hain hum aapke liye bhala karenge hum hamein aap ka vikas karenge toh agar aap kis cheez ko aap ab aap khud ko accha dikha rahe hain aur accha dikha kar khud ko aur log se 2 logo ko dhokha dete matlab logo ko lootate hain phir toh loot nahi hua jo aajkal ho raha hai raajneeti mein lutpat machi hui hai log aate hain loot kar chale jaate hain janta rooth jaati hai toh sabse bade lutere hain yah jo desh ke saath gaddari karte hain jo desh ko lootate hain jo desh ko bhrasht bana rahe hain nothing you

देखिए सर क्या देश को लूटने वाले लोग आतंकवादी नहीं होते लेकिन बिल्कुल मुझे लगता है अब देश क

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  124
WhatsApp_icon
user

Bhaskar Saurabh

Politics Follower | Engineer

1:04
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आतंकवादियों का यही मकसद होता है कि वह लोगों को नुकसान पहुंचाए उनकी हत्या करें उनके जान माल का नुकसान करें और मुझे लगता है आपकी बात बिल्कुल सही है कि जो देश को लूट रहे हैं घोटाले कर रहे हैं और लोगों को बेवकूफ बना रहे हैं वह भी कहीं ना कहीं एक तरह से आतंकवादी की श्रेणी में ही आते हैं क्योंकि उनके कामों की वजह से भी लोग काफी परेशान होते हैं उनकी जान तक चली जाती है तो ऐसे लोग जो देश को लूटते हैं पैसों का गबन करते हैं उन्हें भी आतंकवादी ही कहा जा सकता है क्योंकि उनके कामों की वजह से भी बहुत लोग परेशान होते हैं उनकी जिंदगी तबाह हो जाती है और कई मामलों में तो उनकी जान तक चली जाती है तो जिस प्रकार आतंकवादी लोगों की हत्या करते हैं लेकिन वह प्रत्यक्ष रुप से होता है लेकिन जो यह घोटालेबाज होते हैं देश को लूटते हैं उनके कामों का अप्रत्यक्ष रूप से जनता पर बुरा असर होता है और उससे उनकी जान तक जाती है तो इसी वजह से मुझे लगता है कि उन्हें भी आतंकवादियों की श्रेणी में बिल्कुल डाला जा सकता है

aatankwadion ka yahi maksad hota hai ki vaah logo ko nuksan pahunchaye unki hatya kare unke jaan maal ka nuksan kare aur mujhe lagta hai aapki baat bilkul sahi hai ki jo desh ko loot rahe hai ghotale kar rahe hai aur logo ko bewakoof bana rahe hai vaah bhi kahin na kahin ek tarah se aatankwadi ki shreni mein hi aate hai kyonki unke kaamo ki wajah se bhi log kaafi pareshan hote hai unki jaan tak chali jaati hai toh aise log jo desh ko lootate hai paison ka gaban karte hai unhe bhi aatankwadi hi kaha ja sakta hai kyonki unke kaamo ki wajah se bhi bahut log pareshan hote hai unki zindagi tabah ho jaati hai aur kai mamlon mein toh unki jaan tak chali jaati hai toh jis prakar aatankwadi logo ki hatya karte hai lekin vaah pratyaksh roop se hota hai lekin jo yah ghotalebaaj hote hai desh ko lootate hai unke kaamo ka apratyaksh roop se janta par bura asar hota hai aur usse unki jaan tak jaati hai toh isi wajah se mujhe lagta hai ki unhe bhi aatankwadion ki shreni mein bilkul dala ja sakta hai

आतंकवादियों का यही मकसद होता है कि वह लोगों को नुकसान पहुंचाए उनकी हत्या करें उनके जान माल

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  121
WhatsApp_icon
user

Pragati

Aspiring Lawyer

1:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आतंकवादी का मतलब होता है और वह लोग जो कि देश में आप कुछ ऐसे काम कर रहे हो और जो कि और देश को हानि पहुंचा रहे हो तो मुझे लगता है कि जो लोग देश को लूट कर देश का पैसा बाहर की बैंकों में जमा करते हैं अपने लिए वह भी इस तरह से आतंकवादी है क्योंकि जो पैसा वह लूटकर ले कर जाते हैं उस से देश को बहुत ज्यादा हानि होती है देश शक्ति कॉलोनी के लिए कौन निकली है उसका वैल्यू खराब होती है और दूसरे देश की जो आर्थिक स्थिति होती है वह बहुत ज्यादा खराब हो जाती है तो यह बात बिल्कुल सही है कि जो देश का पैसा लूट कर बाहर चले जाते हैं लोग या फिर खुद के जो देश में नेता वगैरह जो कि बाहर की बैंकों में स्पेशल स्विस बैंक पर जिनके अकाउंट होते हैं और देश का पैसा बाहर जाकर वह छुपा देते वह भी लोग एक तरह से आतंकवादी हैं और ऐसे लोगों के साथ बहुत ही स्ट्रीट एक्शन लेना चाहिए क्योंकि इनकम टैक्स डिपार्टमेंट जो भी ऐसे लोगों को पकड़ता है वह जल्द आसानी से छूट जाता है या तो पैसे के बदौलत या फिर राजनीति की बदौलत तो ऐसा काम करना बंद करना होगा जब तक स्ट्रिक्ट एक्शन नहीं लिया तब तक लोगों को समझ में नहीं आएगी कि देश का पैसा लूटा कितनी गलत बात है और इससे देश का कितना नुकसान होता है कितना बुरा हालत होती है और दूसरा एक चीज और सरकार को ध्यान देना चाहिए जो लोग Facebook पर अपना अकाउंट बनाकर रखे हुए उन लोगों के अकाउंट में एक्सिस बैंक में वह लोग देखें कि किस-किस का अकाउंट है और किस-किस का पैसा है और जो वापस नहीं ला सकते तो कम से कम वहां पर ही उनका अकाउंट सीज करा दिया जाए ताकि वह लोग उस पैसे का कुछ भी किसी भी तरह से उपयोग ना कर सके

aatankwadi ka matlab hota hai aur vaah log jo ki desh mein aap kuch aise kaam kar rahe ho aur jo ki aur desh ko hani pohcha rahe ho toh mujhe lagta hai ki jo log desh ko loot kar desh ka paisa bahar ki bankon mein jama karte hai apne liye vaah bhi is tarah se aatankwadi hai kyonki jo paisa vaah lutakar le kar jaate hai us se desh ko bahut zyada hani hoti hai desh shakti colony ke liye kaun nikli hai uska value kharab hoti hai aur dusre desh ki jo aarthik sthiti hoti hai vaah bahut zyada kharab ho jaati hai toh yah baat bilkul sahi hai ki jo desh ka paisa loot kar bahar chale jaate hai log ya phir khud ke jo desh mein neta vagera jo ki bahar ki bankon mein special swiss bank par jinke account hote hai aur desh ka paisa bahar jaakar vaah chupa dete vaah bhi log ek tarah se aatankwadi hai aur aise logo ke saath bahut hi street action lena chahiye kyonki income tax department jo bhi aise logo ko pakadta hai vaah jald aasani se chhut jata hai ya toh paise ke badaulat ya phir raajneeti ki badaulat toh aisa kaam karna band karna hoga jab tak strict action nahi liya tab tak logo ko samajh mein nahi aayegi ki desh ka paisa loota kitni galat baat hai aur isse desh ka kitna nuksan hota hai kitna bura halat hoti hai aur doosra ek cheez aur sarkar ko dhyan dena chahiye jo log Facebook par apna account banakar rakhe hue un logo ke account mein axis bank mein vaah log dekhen ki kis kis ka account hai aur kis kis ka paisa hai aur jo wapas nahi la sakte toh kam se kam wahan par hi unka account seas kara diya jaaye taki vaah log us paise ka kuch bhi kisi bhi tarah se upyog na kar sake

आतंकवादी का मतलब होता है और वह लोग जो कि देश में आप कुछ ऐसे काम कर रहे हो और जो कि और देश

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  129
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!