सब्जेक्टिव और ऑब्जेक्टिव सवालों में क्या फर्क होता है?...


play
user
1:29

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो फ्रेंड मैं हूं नेहा आपका क्वेश्चन है सब्जेक्टिव और ऑब्जेक्टिव सवालों में क्या फर्क है इसके लिए मैं आपको यह बताना चाहूंगी कि सब्जेक्ट इन सवालों में या सब्जेक्ट इस सवाल का आंसर देते समय आप चोरी के हिसाब से अपने आंसर को दे सकते हैं उसमें जो भी आप आंसर देंगे उसको आप अपने अनुसार यानी अपने शब्दों में डालकर या फिर अपने आप से कुछ बनाकर भी आंसर दे सकते हैं अगर आपको उस आंसर में कुछ भी नहीं आ रहा है वह आंसर 5 नंबर का है वह फिर भी आप उसमें अपने हिसाब से अपने थॉट प्रोसेस के हिसाब से उसको आंसर को देंगे तो आप पांच नंबर के जगह पर आपको उसे पांच में से दो नंबर तो मिल ही जाएंगे अगर आपने अच्छी राइटिंग में और एक उसी टॉपिक के ऊपर कुछ भी अच्छे से लिखा है तो और ऑब्जेक्ट में यह फर्क पड़ता है अगर आप आपने सही जवाब दिया अब तो आपको तो पूरा नंबर मिलना अगर आपका जवाब गलत हो गया आपने अपने हिसाब से कोई भी अंदर नहीं दे सकते अपने अपने अनुसार से किसी निकला और वह गलत है तो उसमें आपको एक नंबर भी नहीं मिलेगा सब्जेक्टिव एग्जाम में पास होना आसान होता है इसकी अपेक्षा ऑब्जेक्टिव सवालों में सिर्फ वही लोग पास हो सकते हैं जिन्होंने उसकी ठीक से प्रिपरेशन की है अधिकतर लोगों को ऐसा कहते सुना है मैंने कि ऑब्जेक्टिव में क्या सुख का लगा दो पर ऐसा नहीं होता है कोई भी तो कैसे पास नहीं हो सकता आशा करती हूं क्या मेरे आंसर से संतुष्ट होंगे धन्यवाद

hello friend main hoon neha aapka question hai subjective aur objective sawalon mein kya fark hai iske liye main aapko yah bataana chahungi ki subject in sawalon mein ya subject is sawaal ka answer dete samay aap chori ke hisab se apne answer ko de sakte hain usme jo bhi aap answer denge usko aap apne anusaar yani apne shabdon mein dalkar ya phir apne aap se kuch banakar bhi answer de sakte hain agar aapko us answer mein kuch bhi nahi aa raha hai vaah answer 5 number ka hai vaah phir bhi aap usme apne hisab se apne thought process ke hisab se usko answer ko denge toh aap paanch number ke jagah par aapko use paanch mein se do number toh mil hi jaenge agar aapne achi writing mein aur ek usi topic ke upar kuch bhi acche se likha hai toh aur object mein yah fark padta hai agar aap aapne sahi jawab diya ab toh aapko toh pura number milna agar aapka jawab galat ho gaya aapne apne hisab se koi bhi andar nahi de sakte apne apne anusaar se kisi nikala aur vaah galat hai toh usme aapko ek number bhi nahi milega subjective exam mein paas hona aasaan hota hai iski apeksha objective sawalon mein sirf wahi log paas ho sakte hain jinhone uski theek se preparation ki hai adhiktar logo ko aisa kehte suna hai maine ki objective mein kya sukh ka laga do par aisa nahi hota hai koi bhi toh kaise paas nahi ho sakta asha karti hoon kya mere answer se santusht honge dhanyavad

हेलो फ्रेंड मैं हूं नेहा आपका क्वेश्चन है सब्जेक्टिव और ऑब्जेक्टिव सवालों में क्या फर्क है

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  221
KooApp_icon
WhatsApp_icon
1 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!