फिजिक्स को कैसे पढ़ना चाहिए?...


play
user

Mohitg

Student & Shopkeeper

0:25

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

फिजिक्स को इडली समझना है पढ़ने की अपेक्षा समझने की कोशिश कीजिए आपके आसपास होने वाली घटित घटनाओं में सप्लाई होती है इसके हरदोल आपके दैनिक जीवन में कैसे लें तथा उपयोगी है आपको इसी तरह एग्जांपल के तू समझे अब अच्छे से फिजिक्स डिफाइन बडे टाइप कर सकें

physics ko idli samajhna hai padhne ki apeksha samjhne ki koshish kijiye aapke aaspass hone wali ghatit ghatnaon mein supply hoti hai iske hardol aapke dainik jeevan mein kaise le tatha upyogi hai aapko isi tarah example ke tu samjhe ab acche se physics define bade type kar sakein

फिजिक्स को इडली समझना है पढ़ने की अपेक्षा समझने की कोशिश कीजिए आपके आसपास होने वाली घटित घ

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  182
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

anamika

Student

1:04
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है कि फिजिक्स को कैसे पढ़ना चाहिए

aapka prashna hai ki physics ko kaise padhna chahiye

आपका प्रश्न है कि फिजिक्स को कैसे पढ़ना चाहिए

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  194
WhatsApp_icon
user
0:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर आपको फिजिक्स की पढ़ाई करनी हो ना तो शुरुआत से पढ़ना पड़ेगा 115 से शुरू करना होता है तब जाकर फिजिक समझ में आता है नहीं तो जिंदगी में कभी फिजिक्स समझ में नहीं आएगा क्योंकि जिस में 1 भाग के आगे दूसरा बढ़ सिपाही होता है और उसमें अगर आप पतन आपको नहीं चलता है पहला बड़ा पूजा ना बहुत जरूरी है उसके बाद दूसरा बड़ा सकते हो नहीं तो आपके लिए बहुत मुश्किल हो जाती है जी से बहुत हार्ड विषय पर इसको एक पाठ से सीखना शुरुआत करता है ना तो सीख जाता है इसमें प्रॉब्लम नहीं होती है

agar aapko physics ki padhai karni ho na toh shuruat se padhna padega 115 se shuru karna hota hai tab jaakar physic samajh mein aata hai nahi toh zindagi mein kabhi physics samajh mein nahi aayega kyonki jis mein 1 bhag ke aage doosra badh sipahi hota hai aur usme agar aap patan aapko nahi chalta hai pehla bada puja na bahut zaroori hai uske baad doosra bada sakte ho nahi toh aapke liye bahut mushkil ho jaati hai ji se bahut hard vishay par isko ek path se sikhna shuruat karta hai na toh seekh jata hai isme problem nahi hoti hai

अगर आपको फिजिक्स की पढ़ाई करनी हो ना तो शुरुआत से पढ़ना पड़ेगा 115 से शुरू करना होता है तब

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  162
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!