वैज्ञानिक बनने के लिए किन-किन चीजों को करना पड़ेगा?...


user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

वैज्ञानिक बनने के लिए किन-किन चीजों को करना पड़ेगा तो दोस्त वैज्ञानिक बना नहीं जाता मैं सबसे पहले तो यह बता दूं वैज्ञानिक कोई बनता नहीं है विज्ञानिक अपने आप से बन जाता होता क्या है अगर आप किसी भी समस्या का समाधान ढूंढ रहे हैं तो आप विज्ञानिक कोई भी समस्या है जो समाज में या फिर किसी भी मोर्चे पर है और अगर आपने उसका सलूशन ढूंढ लिया ऐसा सलूशन जो सबके लिए सहज है सब आसानी से उस सॉल्यूशन का यूज कर पा रहे हैं तो आप वैज्ञानिक है कि नहीं आपको यही करना है आप जो भी चीजें करते हैं उनको बहुत गहनता से देखिए उनके जो अभी के सोल्यूशन है उनमें परेशानियां देखिए कि अभी के सोल्यूशन में क्या क्या दिक्कत है क्या मैं इससे कोई बेहतर सॉल्यूशन दे सकता हूं जैसे मान के चलिए पहले डाक के द्वारा माध्यम से सारी चीजें होती थी एक दूसरे को से बात होती थी डाक के माध्यम से के चिट्ठी पत्री के माध्यम से किसी ने सोचा क्या इसके अलावा भी मैं ऐसा कर सकता हूं कि किसी और माध्यम से ऐसी बातें हो सके तो फिर टेलीफोन का आविष्कार हुआ ऐसे ही कोई ऐसी समस्या होनी चाहिए जिससे सभी लोग जूझ रहे हो और आपने उस समस्या में कुछ भी समाधान कर दिया तो आप भी ज्ञानी के अकेले आविष्कारक है विज्ञान के लिए आप यह मत सोचिए कि आपको कोई अलग से डिग्री करनी है कुछ करना है आप वैज्ञानिक कभी भी हो सकते हैं वैज्ञानिक बनने के क्रिएट को मत सोचिए आप आप चीजों को सरल करने के बारे में सोचिए अपनी पढ़ाई अगर आप अच्छे से करोगे तो प्राइमरी लेवल से पढ़ाई की जाती है स्कूल इन है आपकी यह सब अगर आप बहुत अच्छे से पढ़ोगे एक एक चीज को हेलो ब्रेड करके पढ़ोगे समझ के पढ़ोगे प्रैक्टिकल्स के साथ पढ़ोगे तो यह बाद में आपको बहुत काम आएगा जब आप समस्याओं को देखोगी उनको समझाने में आपको बहुत काम आएगा तो आपको करना केवल इतना है जो भी प जो भी आप का सिलेबस है जो भी आपका इंटरेस्ट का सब्जेक्ट है उसमें कोई कमी नहीं रखना है उसको बहुत अच्छी तरीके से पढ़ना है ठीक है आपको अलग-अलग विज्ञान को के बारे में पढ़ना चाहिए अलग-अलग आविष्कारक को की बारे में पढ़ना चाहिए उनकी जीवनी के बारे में पढ़ना चाहिए कि वह क्या करते थे क्या से उन्होंने यह काम किया कैसे उन्होंने वह काम किया तो आपको जनरल यह चीजें समझ में आ जाएगी यह कुछ इन्होंने विज्ञानिक तलने के लिए कुछ नहीं किया इनके अंदर एक अलग ही ललक थी जिस वजह से यह ऐसे ऐसे आविष्कार कर पाए तो उम्मीद है आपको यह चीज समझ में आई होगी और भी आप इसी तरीके से करिए आप की शिक्षा को दबाइए गा नहीं कभी भी बढ़ाते जाइएगा ऑल द बेस्ट

vaigyanik banne ke liye kin kin chijon ko karna padega toh dost vaigyanik bana nahi jata main sabse pehle toh yah bata doon vaigyanik koi banta nahi hai vigyanik apne aap se ban jata hota kya hai agar aap kisi bhi samasya ka samadhan dhundh rahe hai toh aap vigyanik koi bhi samasya hai jo samaj mein ya phir kisi bhi morche par hai aur agar aapne uska salution dhundh liya aisa salution jo sabke liye sehaz hai sab aasani se us solution ka use kar paa rahe hai toh aap vaigyanik hai ki nahi aapko yahi karna hai aap jo bhi cheezen karte hai unko bahut gahanata se dekhiye unke jo abhi ke solution hai unmen pareshaniya dekhiye ki abhi ke solution mein kya kya dikkat hai kya main isse koi behtar solution de sakta hoon jaise maan ke chaliye pehle dak ke dwara madhyam se saree cheezen hoti thi ek dusre ko se baat hoti thi dak ke madhyam se ke chitthi patarri ke madhyam se kisi ne socha kya iske alava bhi main aisa kar sakta hoon ki kisi aur madhyam se aisi batein ho sake toh phir telephone ka avishkar hua aise hi koi aisi samasya honi chahiye jisse sabhi log joojh rahe ho aur aapne us samasya mein kuch bhi samadhan kar diya toh aap bhi gyani ke akele avishkarak hai vigyan ke liye aap yah mat sochiye ki aapko koi alag se degree karni hai kuch karna hai aap vaigyanik kabhi bhi ho sakte hai vaigyanik banne ke create ko mat sochiye aap aap chijon ko saral karne ke bare mein sochiye apni padhai agar aap acche se karoge toh primary level se padhai ki jaati hai school in hai aapki yah sab agar aap bahut acche se padhoge ek ek cheez ko hello bread karke padhoge samajh ke padhoge praiktikals ke saath padhoge toh yah baad mein aapko bahut kaam aayega jab aap samasyaon ko dekhogi unko samjhane mein aapko bahut kaam aayega toh aapko karna keval itna hai jo bhi pa jo bhi aap ka syllabus hai jo bhi aapka interest ka subject hai usme koi kami nahi rakhna hai usko bahut achi tarike se padhna hai theek hai aapko alag alag vigyan ko ke bare mein padhna chahiye alag alag avishkarak ko ki bare mein padhna chahiye unki jeevni ke bare mein padhna chahiye ki vaah kya karte the kya se unhone yah kaam kiya kaise unhone vaah kaam kiya toh aapko general yah cheezen samajh mein aa jayegi yah kuch inhone vigyanik talane ke liye kuch nahi kiya inke andar ek alag hi lalak thi jis wajah se yah aise aise avishkar kar paye toh ummid hai aapko yah cheez samajh mein I hogi aur bhi aap isi tarike se kariye aap ki shiksha ko dabaiye ga nahi kabhi bhi badhate jaiega all the best

वैज्ञानिक बनने के लिए किन-किन चीजों को करना पड़ेगा तो दोस्त वैज्ञानिक बना नहीं जाता मैं सब

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  177
KooApp_icon
WhatsApp_icon
2 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!