फिल्म रिव्यू कैसे लिखते हैं?...


user
2:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

फिल्म वीडियो देखने के लिए सबसे पहले आप फिल्म को बहुत अच्छे से देखिए और समझिए कि फिल्म किस्मत सर से बनाई गई है और जिस मकसद से फिल्म बनाई गई है अपने इस मकसद को कह पाने में क्या फिल्म कामयाब हो पा रही है और जो भी सब्जेक्ट में ले लिया है उस सब्जेक्ट का क्या प्रॉब्लम दिखा रहे हैं क्या सोशल दिखा रहे हैं उनका जो मापदंड है उस मापदंड पर निर्देशक अपनी फिल्म के जरिए कितना खरा उतरता रहा है इसको देखिए कई बार कोई समीक्षा के एक बार को देख करके उसका रिव्यू लिख देते हैं दो बार देखते ही मार देते आप जितनी बार में उस फिल्म को बहुत बेहतर ढंग से समझ पाएंगे ना सिंह के करीब जा सके उतनी बार में उतनी बार आप देखिए और उसके बारे में उसको समझ करके फिर आप उसके एक बार गहनता से जांच कर ले और थोड़ा सा अपने आप में भी एक बार बातचीत कर लेती क्या आपको सही लग रहा है क्या गलत लग रहा है उसको नोट करें लोड करने के बाद पूरे प्रेमी होली खेले उसको पढ़ा पढ़ने के बाद उसमें हो सकता कुछ चीजें ऐसी लिख रही हूं कि जो आपको भी ठीक नहीं लग रही होंगी तो उसको आप फ्री डाइट करिए रिलीज करने के बाद अपना कोई परिचित होगा उसको लेक आईएस को पढ़ाइए और अपने परिचित में ऐसे लोग भी होनी चाहिए जो थोड़े से समझ रखते हो और कुछ ऐसे लोग भी होना चाहिए जो आम आम लोग हैं जो मतलब जिनको बहुत ज्यादा किसी भी चीज़ से मतलब बहुत थी वह जरा जाकर सोचने वाले ना हो मनोरंजन की दृष्टि से देखते हो कोई पढ़ाई है कुछ लोगों को पढ़ाने के बाद में फिर फाइनल ड्राफ्ट तैयार कर ली है तो आपका रिव्यू फिल्म का आ जाएगा और इस संबंध में और ज्यादा जानकारी अगर आपको चाहिए तो हमारे यूट्यूब चैनल भिलाई टॉकीज पिक्चर करके अब यूट्यूब में भिलाई टॉकीज पिक्चर्स मुलानगर मंसूरी डालेंगे तो उसमें आप कुछ शौक से मोगरा देखने को मिलेगी तो आप उसको देखिए और देख करके कम समय में छोटे-छोटे फिल्म स्टार्ट करें कम समय की फिल्मों को देखकर से करीब लिखी है तो वह धीरे धीरे धीरे धीरे आपके अंदर में जो क्षमता है बहुत अच्छे से उभर कर आने लगी तो आप एक बार यूट्यूब चैनल में जाकर वहां पर फ्री में देखिए और वहां पर आपको अभी बहुत सारी चीजें देखने को मिलेंगे

film video dekhne ke liye sabse pehle aap film ko bahut acche se dekhiye aur samjhiye ki film kismat sir se banai gayi hai aur jis maksad se film banai gayi hai apne is maksad ko keh paane me kya film kamyab ho paa rahi hai aur jo bhi subject me le liya hai us subject ka kya problem dikha rahe hain kya social dikha rahe hain unka jo maapdand hai us maapdand par nirdeshak apni film ke jariye kitna Khara utarata raha hai isko dekhiye kai baar koi samiksha ke ek baar ko dekh karke uska review likh dete hain do baar dekhte hi maar dete aap jitni baar me us film ko bahut behtar dhang se samajh payenge na Singh ke kareeb ja sake utani baar me utani baar aap dekhiye aur uske bare me usko samajh karke phir aap uske ek baar gahanata se jaanch kar le aur thoda sa apne aap me bhi ek baar batchit kar leti kya aapko sahi lag raha hai kya galat lag raha hai usko note kare load karne ke baad poore premi holi khele usko padha padhne ke baad usme ho sakta kuch cheezen aisi likh rahi hoon ki jo aapko bhi theek nahi lag rahi hongi toh usko aap free diet kariye release karne ke baad apna koi parichit hoga usko lake ias ko padhaiye aur apne parichit me aise log bhi honi chahiye jo thode se samajh rakhte ho aur kuch aise log bhi hona chahiye jo aam aam log hain jo matlab jinako bahut zyada kisi bhi cheez se matlab bahut thi vaah zara jaakar sochne waale na ho manoranjan ki drishti se dekhte ho koi padhai hai kuch logo ko padhane ke baad me phir final draft taiyar kar li hai toh aapka review film ka aa jaega aur is sambandh me aur zyada jaankari agar aapko chahiye toh hamare youtube channel bhilai talkies picture karke ab youtube me bhilai talkies pictures mulanagar mansuri daalenge toh usme aap kuch shauk se mogra dekhne ko milegi toh aap usko dekhiye aur dekh karke kam samay me chote chote film start kare kam samay ki filmo ko dekhkar se kareeb likhi hai toh vaah dhire dhire dhire dhire aapke andar me jo kshamta hai bahut acche se ubhar kar aane lagi toh aap ek baar youtube channel me jaakar wahan par free me dekhiye aur wahan par aapko abhi bahut saari cheezen dekhne ko milenge

फिल्म वीडियो देखने के लिए सबसे पहले आप फिल्म को बहुत अच्छे से देखिए और समझिए कि फिल्म किस्

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  72
WhatsApp_icon
7 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Harender Kumar Yadav

Career Counsellor.

1:03
Play

Likes  458  Dislikes    views  5212
WhatsApp_icon
user

Pratik Verma

Program Manager

3:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सबसे पहले मैं बताऊंगा फिल्म का रिव्यू कैसे करना है और फिर में बताओ मुझे फिल्म का रिव्यू कहां करना है आपको रिव्यू डालना तो फिर भी यू कैसे लिखते हैं तो एक आध स्ट्रक्चर तरीके से सेंड कर लिख सकते हो जैसे आप सबसे पहले फिल्म के 29 दिनों से सेक्स प्लॉट है वह बता सकते हो कि फिल्म की जो एक्टिव कोई कोई थ्रिल कोई सस्पेंस है उसको देवी नहीं सकते उसको नहीं बताते वह फिल्म की फिल्म का प्लॉट लोगों को बता सकते हो उसके अलावा स्टोरी है उसका रिमूव कर सकते हो कि आपको स्टोरी कैसी लगी फ़िल्म थॉमस के अलावा फिल्म में जो किरदार है उनके बारे में बता सकते गाने हसन के मुकेश ने कंपोज किया और गाने कैसे हैं तो उसके बारे में बता सकते हैं उनको स्क्रीन प्ले करें उसके बारे में बता सकते हो जो फिल्म शूटिंग कैसे कर सकते हो क्या बेस्ट आप अपना एक किस दे सकते हो कि आपको कैसी लगी है कि लोग तो आप हो सर मीठे होते हैं जहां पर एक मेरी भी लिख सकते हो जैसे आप गूगल पर गूगल गूगल प्लीज गूगल के पेज पर जाकर भी लिख सकता आप अपने पर्सनल ब्लॉग पर gopro.com पर आप अपना एक खोल के ब्लॉक खोल सकते हो और व्हाट्सएप फेसबुक ताकि लोगों को ज्यादा से ज्यादा पढ़े या फिर आप बुकमायशो पर जाकर आता है

sabse pehle main bataunga film ka review kaise karna hai aur phir me batao mujhe film ka review kaha karna hai aapko review dalna toh phir bhi you kaise likhte hain toh ek adh structure tarike se send kar likh sakte ho jaise aap sabse pehle film ke 29 dino se sex plot hai vaah bata sakte ho ki film ki jo active koi koi thrill koi suspense hai usko devi nahi sakte usko nahi batatey vaah film ki film ka plot logo ko bata sakte ho uske alava story hai uska remove kar sakte ho ki aapko story kaisi lagi film thomas ke alava film me jo kirdaar hai unke bare me bata sakte gaane hasan ke mukesh ne compose kiya aur gaane kaise hain toh uske bare me bata sakte hain unko screen play kare uske bare me bata sakte ho jo film shooting kaise kar sakte ho kya best aap apna ek kis de sakte ho ki aapko kaisi lagi hai ki log toh aap ho sir meethe hote hain jaha par ek meri bhi likh sakte ho jaise aap google par google google please google ke page par jaakar bhi likh sakta aap apne personal blog par gopro com par aap apna ek khol ke block khol sakte ho aur whatsapp facebook taki logo ko zyada se zyada padhe ya phir aap bukmaysho par jaakar aata hai

सबसे पहले मैं बताऊंगा फिल्म का रिव्यू कैसे करना है और फिर में बताओ मुझे फिल्म का रिव्यू कह

Romanized Version
Likes  36  Dislikes    views  487
WhatsApp_icon
user

Crazera

Blogger/Influencer

0:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

फिल्म रिव्यू क्या ट्विटर पर लिख सकते हैं फेसबुक पर लिख सकते किसी भी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर लिख सकते हैं उसके अलावा भी आप जब एनडीए गूगल आप ब्राउज करते हैं उस एमडी रेटिंग सोते हैं या बहुत सी रेटिंग्स के जो कंपनी सेटिंग देते आए अपडेट सेटिंग देते आप वहां जाकर वीडियोस दे सकते हैं

film review kya twitter par likh sakte hain facebook par likh sakte kisi bhi social media platform par likh sakte hain uske alava bhi aap jab nda google aap browse karte hain us MD rating sote hain ya bahut si ratings ke jo company setting dete aaye update setting dete aap wahan jaakar videos de sakte hain

फिल्म रिव्यू क्या ट्विटर पर लिख सकते हैं फेसबुक पर लिख सकते किसी भी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म

Romanized Version
Likes  58  Dislikes    views  790
WhatsApp_icon
user

Gopal Srivastava

Acupressure Acupuncture Sujok Therapist

1:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

फिल्म रिव्यू दीक्षा के लिए आपको कहां लिखना चाहते किसी मैगजीन के लिए छा जाते हैं कि पेपर कि लिखना चाहते हैं या इंटरनेट पर लिखना चाहते हैं किस चीज के लिखना चाहते हैं मतलब यह है कि फायदा है दिल देखे हैं कौन किसको पूछ रहा है और उसे बहुत सी चीजें ऐसी होती है जो आपके समझ आती है आपको अच्छी लगती है दूसरे को अच्छी नहीं लगती तो क्या करोगे तो आज की टाइम में फिल्म वीडियो देखने वाले पहले रिलीज लिखा करते थे जब उसके अखबार में दिखा जाता था तो अखबार वाले उनको पैसे देते थे जो पिक्चर बनाने वाले हैं उनको भी अच्छी लगनी है जिससे हमारी पिक्चर की बहुत अच्छी हो अगर आपको खाली अपने शौक के लिए निवेदन से कोई फायदा नहीं पिक्चर देख कर आएंगे इतना दिमाग परेशान करेंगे सब कुछ करेंगे इस से मतलब थोड़ी है

film review diksha ke liye aapko kahaan likhna chahte kisi magazine ke liye cha jaate hain ki paper ki likhna chahte hain ya internet par likhna chahte hain kis cheez ke likhna chahte hain matlab yah hai ki fayda hai dil dekhe hain kaun kisko puch raha hai aur use bahut si cheezen aisi hoti hai jo aapke samajh aati hai aapko achi lagti hai dusre ko achi nahi lagti toh kya karoge toh aaj ki time mein film video dekhne waale pehle release likha karte the jab uske akhbaar mein dikha jata tha toh akhbaar waale unko paise dete the jo picture banane waale hain unko bhi achi lagani hai jisse hamari picture ki bahut achi ho agar aapko khaali apne shauk ke liye nivedan se koi fayda nahi picture dekh kar aayenge itna dimag pareshan karenge sab kuch karenge is se matlab thodi hai

फिल्म रिव्यू दीक्षा के लिए आपको कहां लिखना चाहते किसी मैगजीन के लिए छा जाते हैं कि पेपर कि

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  548
WhatsApp_icon
user

Jeet Dholakia

Anchor and Media Professional

2:07
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

फिल्म रिव्यू जो होते हैं वह अक्सर देखा गया है कि आकाशीय से बड़े-बड़े फिल्म क्रिटिक्स होते हैं जिनकी ओर से आइए फिल्म का रिव्यू दिया जाता है वैसे देखते जाए तो वह फिल्म क्रिटिक्स होते हैं आज जो आफ इनकॉरपोरेशन भी करते हैं और पंखों के डिजाइन भी करते हैं अब यहां पर बात है कि फिल्म रिव्यू कैसे लिखें तो मेरे ख्याल से तुम रिव्यू मैं आपको अपना फिल्म की सारी टैक्टिकल इट इस बीच एक करनी पड़ेगी और फिल्म की स्टोरी लाइन के हिसाब से जा रही है आखिर में जो एक्टर एक्ट्रेस से उनकी केमिस्ट्री किस तरह से बैठ रही है ऐसे में डायलॉग किस तरह से हैं उस सारी बात को आप को इस में रखना पड़ेगा फिल्म रिव्यू में और ज्यादा देखने जाए तो फिल्म रिव्यू में उनका म्यूजिक के बारे में आप बता सकते हो आप फिर उनके जी शूटिंग लोकेशन सोते हैं उनके बारे में आप फिक्र कर सकते हो दाने दाने किस तरह के लिए गए हैं या तो आसन के जोखिम होती है उसको ऑफ फिल्म के डायलॉग 100 फिल्म की स्टोरी जस्टिफाई कर पाते हैं या नहीं यह भी आपको फेवरेट में आप लिख सकते हैं और उनमें आपको फिल्म के बारे में पूरा का पूरा डिटेल नहीं दे देनी है पर फिल्म कैसी है और लोग इसे देखने के लिए क्यों जाए आखिर में से कौन-कौन से पॉइंट से आदमी को आप लोगों के सामने रखोगे और उसके बाद आप लोगों को बता सकोगे लायक है या नहीं है तो मैं आपको दिखा नहीं पड़ेगी इस फिल्म के डायरेक्टर कौन है प्रोडूसर कौन है उनकी आप दूसरी कोई फिल्में आई हो तो उसमें यह हटा दिया गया था वह टेस्ट दिया गया था फिल्म के स्टोरी लाइन इस तरह से आ मैं छोरी कुछ भी आप बता सकते हो पर उसमें जो टेक्निकली थी है वह सब आप रेलवे में लिख सकते हो तो इन शॉर्ट रिव्यू जो होता है वह फिल्म की पूरी कहानी नहीं बतानी आपको फिल्में लायक बात होती है जिससे फिल्म लोग देखते जाए ऐसे ऐसे पॉइंट सबको लोगों के सामने रखने हैं

film review jo hote hain vaah aksar dekha gaya hai ki akashiy se bade bade film critics hote hain jinki aur se aaiye film ka review diya jata hai waise dekhte jaaye toh vaah film critics hote hain aaj jo of inakarporeshan bhi karte hain aur pankhon ke design bhi karte hain ab yahan par baat hai ki film review kaise likhen toh mere khayal se tum review main aapko apna film ki saree tactical it is beech ek karni padegi aur film ki story line ke hisab se ja rahi hai aakhir mein jo actor actress se unki chemistry kis tarah se baith rahi hai aise mein dialogue kis tarah se hain us saree baat ko aap ko is mein rakhna padega film review mein aur zyada dekhne jaaye toh film review mein unka music ke bare mein aap bata sakte ho aap phir unke ji shooting location sote hain unke bare mein aap fikra kar sakte ho daane daane kis tarah ke liye gaye hain ya toh aasan ke jokhim hoti hai usko of film ke dialogue 100 film ki story justify kar paate hain ya nahi yah bhi aapko favourite mein aap likh sakte hain aur unmen aapko film ke bare mein pura ka pura detail nahi de deni hai par film kaisi hai aur log ise dekhne ke liye kyon jaaye aakhir mein se kaun kaunsi point se aadmi ko aap logo ke saamne rakhoge aur uske baad aap logo ko bata sakoge layak hai ya nahi hai toh main aapko dikha nahi padegi is film ke director kaun hai producer kaun hai unki aap dusri koi filme I ho toh usme yah hata diya gaya tha vaah test diya gaya tha film ke story line is tarah se aa main chhori kuch bhi aap bata sakte ho par usme jo technically thi hai vaah sab aap railway mein likh sakte ho toh in short review jo hota hai vaah film ki puri kahani nahi batani aapko filme layak baat hoti hai jisse film log dekhte jaaye aise aise point sabko logo ke saamne rakhne hain

फिल्म रिव्यू जो होते हैं वह अक्सर देखा गया है कि आकाशीय से बड़े-बड़े फिल्म क्रिटिक्स होते

Romanized Version
Likes  199  Dislikes    views  2420
WhatsApp_icon
user
1:08
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

फिल्म का रिव्यू लिखना या बताने के लिए कुछ नहीं आपको सबसे पहले पूरी फिल्म को देखना होगा फिर आपके मन में जो पहली इच्छा थी कि हां इस फिल्म में यह चीजें ऐसी ऐसी होनी चाहिए थी उसी को एकदम बंद करके लिखना या बता दीजिए पिक्चर में डायलॉग में क्या कमी रह गया क्या अच्छा हुआ गानों में क्या कमी थी या क्या अच्छा था एक्टिंग में कलाकारी में कमी थी क्या अच्छा था निर्देशन में क्या कमी थी या क्या खता और मूवी कैसी बनी है यह सब पूरा जो है आपको पहले मूवी को देखना पड़ेगा समझना पड़ेगा फिर आप स्वयं ही उसे कर्म पत्र करके दे सकते हैं और इसके लिए चाहता कुछ नहीं बस आपको आप उत्तेजना को समझना चाहिए कि दुनिया क्या देखना चाह रही है उसका और क्या देखने के लिए अपने पैसे खर्चा करती अगर आपको यही नहीं पता है तो आप बिल्कुल भी नहीं कर सकते लेकिन इसको पता है कि व्यक्ति के मनोरंजन के लिए क्या होना चाहिए औषध व्यक्तियों को क्या देना चाहिए वैसे काफी लोग की तो कुछ लोग अलग-अलग औसत जो लोगों की मानसिकता होती उस हिसाब से आपको ही देना चाहिए तभी आप लोगों के क्षेत्र में आगे बढ़ सकते हैं धन्यवाद

film ka review likhna ya batane ke liye kuch nahi aapko sabse pehle puri film ko dekhna hoga phir aapke man me jo pehli iccha thi ki haan is film me yah cheezen aisi aisi honi chahiye thi usi ko ekdam band karke likhna ya bata dijiye picture me dialogue me kya kami reh gaya kya accha hua gaano me kya kami thi ya kya accha tha acting me kalakari me kami thi kya accha tha nirdeshan me kya kami thi ya kya khata aur movie kaisi bani hai yah sab pura jo hai aapko pehle movie ko dekhna padega samajhna padega phir aap swayam hi use karm patra karke de sakte hain aur iske liye chahta kuch nahi bus aapko aap uttejna ko samajhna chahiye ki duniya kya dekhna chah rahi hai uska aur kya dekhne ke liye apne paise kharcha karti agar aapko yahi nahi pata hai toh aap bilkul bhi nahi kar sakte lekin isko pata hai ki vyakti ke manoranjan ke liye kya hona chahiye awasadhi vyaktiyon ko kya dena chahiye waise kaafi log ki toh kuch log alag alag ausat jo logo ki mansikta hoti us hisab se aapko hi dena chahiye tabhi aap logo ke kshetra me aage badh sakte hain dhanyavad

फिल्म का रिव्यू लिखना या बताने के लिए कुछ नहीं आपको सबसे पहले पूरी फिल्म को देखना होगा फिर

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  123
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!