एक लड़की मेरी तरफ देखती है और मैं भी उसको देखता हूँ, तो क्या मुझसे प्यार है या नहीं?...


user

Ujjawal Kumar

MOTIVATOR

3:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गुड मॉर्निंग दोस्तों आपका सवाल बहुत ही सकारात्मक है और मैं सकारात्मक और साइंटिफिक तरीके से मैं आपको समझाने की कोशिश करता हूं क्योंकि यह आपने अपने अंदर की बात कही है जैसे कि जिस किसी विषय के बारे में आपने चर्चा की है कि मेरी तरफ देखती है और आप भी देखते हो या नहीं अंतरात्मा से आप लोगों का एक दूसरे के प्रति आकर्षण है आत्मा से आपको वह अच्छे लग रही है आप उसको अच्छे लग रहे हो यह तो आपके प्रश्न से निष्कर्ष निकलता है यह एकदम सही बात है हंड्रेड परसेंट फिजिकल बाय दुनिया में आने के बाद आपका दिमाग इन चीजों को कैसे समझेगा तो आपने यह लिखा तो क्या मुंह से वह प्यार करती है आध्यात्मिक दृष्टिकोण से यह साबित हो चुका है कि आप दोनों एक दूसरे को चाहते हो लेकिन व्यवहारिक जिंदगी में दोनों इंतजार कर रहे हो उन शब्दों को सुनने का चुप रे आया हम लोग यूज़ करते हैं तो तरीका आजमाओ अगर सही में आप दोनों का अट्रैक्शन प्रकृति प्रदत्त है तू कुछ दिनों के लिए आप उधर ना देखो अगर उसमें बेचैनी वर्ड है तो यह जरूर से समझ लेना कि कहीं ना कहीं उसकी अंतरात्मा में आस्था स्थान है उसने आपको अपने जिंदगी में सकारात्मक तरीके से स्थान दिया है यह आपके संस्कार के ऊपर निर्भर करता है कि आप इन चीजों को क्योंकि प्यार ईश्वर का दिया हुआ तोहफा है यह किसी दुकान में नहीं मिलती तो आप अगर संस्कार के साथ ही से जोड़ो गे तो इसमें सुगंधा आएगी इसमें खूबसूरती आएगी अगर आप इसे प्रकाश के साथ नहीं छोड़ोगे अपने संस्कार के साथ नहीं छोड़ोगे तो इसकी प्रकाश धूमिल हो जाएगी और समाज आपको बुरी नजरों से देखेगा आप अगर इस को सकारात्मक तरीके से जोड़ते हो तो आपकी प्रशंसा भी होगी और आप जो चाह रहे हो वह आपको प्राप्त हो जाएगा क्योंकि एक समीकरण सिद्ध हो चुका है कि आंखें एक दूसरे को पसंद कर रही हैं जुबान से बोल नहीं सक रहे हो क्योंकि इस शब्द में शुद्धता है इसीलिए और आप दोनों सही हो आप दोनों के मन में एक दूसरे के प्रति सिर्फ सकारात्मक सोच है इसलिए इस शब्द को कहने में सुगमता नहीं हो रही आप इन चीजों को समझो थोड़ा सा अपने आप को नियंत्रण करके हटके छुपके वॉच करो बेचैनियां अगर लगे तो समझ लेना कि वह आपसे बहुत प्यार करती है धन्यवाद

good morning doston aapka sawaal bahut hi sakaratmak hai aur main sakaratmak aur scientific tarike se main aapko samjhane ki koshish karta hoon kyonki yah aapne apne andar ki baat kahi hai jaise ki jis kisi vishay ke bare me aapne charcha ki hai ki meri taraf dekhti hai aur aap bhi dekhte ho ya nahi antaraatma se aap logo ka ek dusre ke prati aakarshan hai aatma se aapko vaah acche lag rahi hai aap usko acche lag rahe ho yah toh aapke prashna se nishkarsh nikalta hai yah ekdam sahi baat hai hundred percent physical bye duniya me aane ke baad aapka dimag in chijon ko kaise samjhega toh aapne yah likha toh kya mooh se vaah pyar karti hai aadhyatmik drishtikon se yah saabit ho chuka hai ki aap dono ek dusre ko chahte ho lekin vyavaharik zindagi me dono intejar kar rahe ho un shabdon ko sunne ka chup ray aaya hum log use karte hain toh tarika ajamao agar sahi me aap dono ka attraction prakriti pradatt hai tu kuch dino ke liye aap udhar na dekho agar usme bechaini word hai toh yah zaroor se samajh lena ki kahin na kahin uski antaraatma me astha sthan hai usne aapko apne zindagi me sakaratmak tarike se sthan diya hai yah aapke sanskar ke upar nirbhar karta hai ki aap in chijon ko kyonki pyar ishwar ka diya hua tohfa hai yah kisi dukaan me nahi milti toh aap agar sanskar ke saath hi se jodon gay toh isme sugandha aayegi isme khoobsoorti aayegi agar aap ise prakash ke saath nahi chodoge apne sanskar ke saath nahi chodoge toh iski prakash dhumil ho jayegi aur samaj aapko buri nazro se dekhega aap agar is ko sakaratmak tarike se jodte ho toh aapki prashansa bhi hogi aur aap jo chah rahe ho vaah aapko prapt ho jaega kyonki ek samikaran siddh ho chuka hai ki aankhen ek dusre ko pasand kar rahi hain jubaan se bol nahi suck rahe ho kyonki is shabd me shuddhta hai isliye aur aap dono sahi ho aap dono ke man me ek dusre ke prati sirf sakaratmak soch hai isliye is shabd ko kehne me sugamata nahi ho rahi aap in chijon ko samjho thoda sa apne aap ko niyantran karke hatake chupke watch karo bechainiyan agar lage toh samajh lena ki vaah aapse bahut pyar karti hai dhanyavad

गुड मॉर्निंग दोस्तों आपका सवाल बहुत ही सकारात्मक है और मैं सकारात्मक और साइंटिफिक तरीके से

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  501
KooApp_icon
WhatsApp_icon
14 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!