एक मिथक है कि निवेशक अच्छे उद्यमी साबित नहीं होते हैं, इस पर आपके क्या विचार हैं?...


user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

1:40
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक मिथक है कि निवेशक अच्छे उद्यमी साबित नहीं होती पर आपके क्या विचार है कि वह सही है कि जो निवेशक हो तो सिर्फ निवेश करता है और निवेश करके उसमें से वो ऐसे पार्ट ऑफ प्रॉफिट वह कमाता है और क्या तो ब्याज कमाता है हालांकि जो भी व्यापारी है वह निवेश लेता है लेकिन और व्यापार करता है तो उसने जिस दोस्त निवेशक है उसको गया जो देखकर और फिर भी नफा कमाता है इसलिए जो उद्यमी जो होता है उद्यमी ज्यादा पैसा कमाता है और निवेशक है उसका पैसा कमाता है देखा गया है कि निवेशक से बढ़कर उद्यमी होता है जो कि उद्यमी के पास बहुत सारे निवेशक होते हैं और जो जमीन है वह आगे चलते अपनी कमाई बड़ा आ जाता है निवेश करने वाला कोई और होता है और उद्यमी कोई और हो इसलिए उद्यमी जो है वही आगे बढ़ता है उसकी सबसे ज्यादा होती है तो उसकी मूल राशि होती है उसमें सिर्फ ब्याज मिलता है इसलिए हमें यह सोचना चाहिए कि हमें निश्चित बनना है या एक उद्यमी और सेवकों को उनसे ले सकता है और बहुत सारे लोगों को रोजगार भी मुहैया कराता है और अपना उद्यम चलाता है धन्यवाद

ek mithak hai ki niveshak acche udyami saabit nahi hoti par aapke kya vichar hai ki vaah sahi hai ki jo niveshak ho toh sirf nivesh karta hai aur nivesh karke usme se vo aise part of profit vaah kamata hai aur kya toh byaj kamata hai halaki jo bhi vyapaari hai vaah nivesh leta hai lekin aur vyapar karta hai toh usne jis dost niveshak hai usko gaya jo dekhkar aur phir bhi nafa kamata hai isliye jo udyami jo hota hai udyami zyada paisa kamata hai aur niveshak hai uska paisa kamata hai dekha gaya hai ki niveshak se badhkar udyami hota hai jo ki udyami ke paas bahut saare niveshak hote hain aur jo jameen hai vaah aage chalte apni kamai bada aa jata hai nivesh karne vala koi aur hota hai aur udyami koi aur ho isliye udyami jo hai wahi aage badhta hai uski sabse zyada hoti hai toh uski mul rashi hoti hai usme sirf byaj milta hai isliye hamein yah sochna chahiye ki hamein nishchit banna hai ya ek udyami aur sevakon ko unse le sakta hai aur bahut saare logo ko rojgar bhi muhaiya karata hai aur apna udyam chalata hai dhanyavad

एक मिथक है कि निवेशक अच्छे उद्यमी साबित नहीं होती पर आपके क्या विचार है कि वह सही है कि जो

Romanized Version
Likes  55  Dislikes    views  1095
WhatsApp_icon
1 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!