भारत में दुष्कर्म बढ़ते जा रहे हैं, इन्हें कम करने के लिए क्या करना चाहिए?...


user

Nikhil Ranjan

HoD - NIELIT

0:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लिखे जैसे क्या का प्रश्न है भारत हिंदुस्तान बढ़ते जाते हैं जो न्याय मिलने की प्रक्रिया हो बहुत स्लो है जिसके कानून का भय खत्म होता जा रहा है तो बेहतर होगा कि इस प्रक्रिया को तेजी लाई जाए जल्द से जल्द ऐसे मुकदमों की सुनवाई हो और उन पर सख्त से सख्त एक्शन लिया जाए और लोग के बीच में डर का माहौल पैदा किया जाए जैसे कि आपने भी कुछ दिन पहले देखा है कि मोटरसाइकिल कानून आया और लोगों ने हेलमेट पहनना शुरू कर दिया चालान के डर से ऐसी सजा के डर से लोग क्राइम करना भी छोड़ेंगे बशर्ते भाषा कानून सख्त हो जाए मैं शुभकामनाएं आपके साथ हैं धन्यवाद

likhe jaise kya ka prashna hai bharat Hindustan badhte jaate hain jo nyay milne ki prakriya ho bahut slow hai jiske kanoon ka bhay khatam hota ja raha hai toh behtar hoga ki is prakriya ko teji lai jaaye jald se jald aise mukadamon ki sunvai ho aur un par sakht se sakht action liya jaaye aur log ke beech mein dar ka maahaul paida kiya jaaye jaise ki aapne bhi kuch din pehle dekha hai ki motorcycle kanoon aaya aur logo ne helmet pahanna shuru kar diya chalan ke dar se aisi saza ke dar se log crime karna bhi chodenge basharte bhasha kanoon sakht ho jaaye main subhkamnaayain aapke saath hain dhanyavad

लिखे जैसे क्या का प्रश्न है भारत हिंदुस्तान बढ़ते जाते हैं जो न्याय मिलने की प्रक्रिया हो

Romanized Version
Likes  445  Dislikes    views  6514
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
2:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत में दुष्कर्म करते जा रहे हैं इन्हें कम करने के लिए क्या करना चाहिए जिस क्रम को लगाम लगाना चाहिए इसके लिए मोबाइल और टीवी अगर भेजो तुष्टिकरण की जा रही है यह कैरी गूगल पर सर्च करके सब गलत चीजें हम देख रहे हैं उस विकार को हमें पड़ेगा सेम के लिए भी और दूसरों की सोच में बदलना होगा इसी प्रकार शिक्षा का स्तर सुधारना होगा और शिक्षकों को शिक्षित करने का प्रयत्न करना होगा आर्थिक स्थिति मजबूत करना होगा अर्थात आर्थिक कार्य में ऐसे बेरोजगार जरूर पढ़ रहे हैं उसे निभाऊंगा और उन्हें कार्य में लगाना होगा नशे में डूबे जो नवयुवक है उन्हें समझाना होगा उन्हें रोकना होगा उन्हें सही रास्ते पर लाना पड़ेगा तो जाकर हम यह दो फिल्म को बनने से रोक सकता नेता नहीं आज भी हम जितने भी बलात्कार हुए उसके गाने ध्यान करें तो हमें उसमें अधिकृत आर्थिक और नशे में डूबे हुए युवा हुए दिखाई देते हैं जो कि 24 घंटे अपने आप को नशे में डूबे हुए हैं और अपने आपको कोई परिवर्तन करने को तैयार नहीं है आज की स्थिति में उनकी बड़ी विकट होती है परंतु सही है वह गलत रास्ते बिछड़ जाते हैं उसे गाने की कम शिक्षण का होना वह जो शाला त्यागी हो जाते हैं तो वह दिन भर से कहां काटे तो ऐसे लोगों के संपर्क में आते हैं और वह प्रोग्रेसिव करके वह गलत रसीगण बढ़ते चले आते हैं अतः इन चीजों पर ध्यान करके फिर इस ओर कदम बढ़ाना चाहिए और इसी देकर दुष्कर्म को रोक लेंगे धन्यवाद

bharat mein dushkarm karte ja rahe hain inhen kam karne ke liye kya karna chahiye jis kram ko lagaam lagana chahiye iske liye mobile aur TV agar bhejo Tustikaran ki ja rahi hai yah carry google par search karke sab galat cheezen hum dekh rahe hain us vikar ko hamein padega same ke liye bhi aur dusro ki soch mein badalna hoga isi prakar shiksha ka sthar sudharna hoga aur shikshakon ko shikshit karne ka prayatn karna hoga aarthik sthiti majboot karna hoga arthat aarthik karya mein aise berozgaar zaroor padh rahe hain use nibhaunga aur unhe karya mein lagana hoga nashe mein doobe jo navayuvak hai unhe samajhana hoga unhe rokna hoga unhe sahi raste par lana padega toh jaakar hum yah do film ko banne se rok sakta neta nahi aaj bhi hum jitne bhi balatkar hue uske gaane dhyan kare toh hamein usme adhikrit aarthik aur nashe mein doobe hue yuva hue dikhai dete hain jo ki 24 ghante apne aap ko nashe mein doobe hue hain aur apne aapko koi parivartan karne ko taiyar nahi hai aaj ki sthiti mein unki badi vikat hoti hai parantu sahi hai vaah galat raste bichhad jaate hain use gaane ki kam shikshan ka hona vaah jo shala tyagi ho jaate hain toh vaah din bhar se kahaan kaate toh aise logo ke sampark mein aate hain aur vaah progressive karke vaah galat rasigan badhte chale aate hain atah in chijon par dhyan karke phir is aur kadam badhana chahiye aur isi dekar dushkarm ko rok lenge dhanyavad

भारत में दुष्कर्म करते जा रहे हैं इन्हें कम करने के लिए क्या करना चाहिए जिस क्रम को लगाम ल

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  248
WhatsApp_icon
user
0:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पिछले भारत में दुष्कर्म भर रहे हैं यह लोगों को भजन से हो रहे हैं मुझे लगते हैं हर इंसान को यह सोचना चाहिए कि हमें कुछ अच्छा करना है सही रास्ते पर चलना चाहिए तब तक यह हो पाएंगे

pichhle bharat mein dushkarm bhar rahe hain yah logo ko bhajan se ho rahe hain mujhe lagte hain har insaan ko yah sochna chahiye ki hamein kuch accha karna hai sahi raste par chalna chahiye tab tak yah ho payenge

पिछले भारत में दुष्कर्म भर रहे हैं यह लोगों को भजन से हो रहे हैं मुझे लगते हैं हर इंसान को

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  198
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!