हिंदुत्व क्या है?...


play
user

Vikas Singh

Political Analyst

2:00

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हिंदुत्व एक विचार है हिंदुत्व एक सेवा है हिंदुत्व एक सभी धर्मों के फलने फूलने की कल्पना करने वाला एक आदर्शवादी धर्म है जो कि सभी धर्मों के लोगों के फलने फूलने की दिल्ली कल्पना करता है भारतीय संस्कृति में हिंदुत्व है और हिंदुस्तान के लोगों की यही प्रार्थना होती है कि हमारे हिंदुत्व के साथ हम सभी धर्मों का आदर करें उनका सत्कार करें किसी भी स्थिति में किसी भी परिस्थिति में अगर किसी भी धर्म का कोई भी पसंद परेशान है तो उसकी सेवा करें हिंदुत्व से ही सारे धर्मों की पहचान बनी है आज पूरे विश्व में बहुत सारे धर्म बना दिए गए हैं क्योंकि वह मानव के द्वारा निर्मित किए हुए धर्मगुरु ना मैं बोलना चाहता हूं कि गुरु नानक देव से पहले ना तो कोई सी कथा मुसलमान जो थे मोहम्मद साहब के पहले कोई मुसलमान नहीं था ईसा मसीह के पहले कोई इसाई नहीं था लेकिन भगवान राम के पहले दशरथ जीते दशरथ जी के पहले राजा हरिश्चंद्र थे और भी बहुत सारे ऋषि मुनि हमारे धर्म में बहुत पहले से इनका जिक्र मिलता है पूरे विश्व में अगर देखा जाए तो सारे धर्म के लोग एक टाइम सनातन धर्म से बिलॉन्ग करते थे हां यह जरूर है कि जो कुछ धर्म वाले आतंकवादी संगठन में जोड़ के सभी लोगों का धर्म परिवर्तन जबरदस्ती कर आते हैं यह कोई धर्म नहीं है कोई भी धर्म गलत नहीं है किसी भी धर्म की किताब में कोई भी सेंटेंस गलत नहीं लिखा गया है बस उसे पढ़ने का सोचने का और एक पैन कनेक्ट करने का तरीका लोगों का अलग है जिसे मुस्लिम धर्म के लोग आतंकवादी लोग कहते हैं कि सभी पूरे विश्व को मुस्लिम कंट्री बना दो ऐसा कहीं किसी किताब में कोई जिक्र नहीं है कि सारे धर्म के लोगों को परिवर्तित कर दो

hindutv ek vichar hai hindutv ek seva hai hindutv ek sabhi dharmon ke falane phulne ki kalpana karne vala ek aadarshvaadi dharm hai jo ki sabhi dharmon ke logo ke falane phulne ki delhi kalpana karta hai bharatiya sanskriti mein hindutv hai aur Hindustan ke logo ki yahi prarthna hoti hai ki hamare hindutv ke saath hum sabhi dharmon ka aadar kare unka satkar kare kisi bhi sthiti mein kisi bhi paristithi mein agar kisi bhi dharm ka koi bhi pasand pareshan hai toh uski seva kare hindutv se hi saare dharmon ki pehchaan bani hai aaj poore vishwa mein bahut saare dharm bana diye gaye hain kyonki vaah manav ke dwara nirmit kiye hue dharmguru na main bolna chahta hoon ki guru nanak dev se pehle na toh koi si katha musalman jo the muhammad saheb ke pehle koi musalman nahi tha isa masih ke pehle koi isai nahi tha lekin bhagwan ram ke pehle dashrath jeete dashrath ji ke pehle raja harishchandra the aur bhi bahut saare rishi muni hamare dharm mein bahut pehle se inka jikarr milta hai poore vishwa mein agar dekha jaaye toh saare dharm ke log ek time sanatan dharm se Belong karte the haan yah zaroor hai ki jo kuch dharm waale aatankwadi sangathan mein jod ke sabhi logo ka dharm parivartan jabardasti kar aate hain yah koi dharm nahi hai koi bhi dharm galat nahi hai kisi bhi dharm ki kitab mein koi bhi sentence galat nahi likha gaya hai bus use padhne ka sochne ka aur ek pan connect karne ka tarika logo ka alag hai jise muslim dharm ke log aatankwadi log kehte hain ki sabhi poore vishwa ko muslim country bana do aisa kahin kisi kitab mein koi jikarr nahi hai ki saare dharm ke logo ko parivartit kar do

हिंदुत्व एक विचार है हिंदुत्व एक सेवा है हिंदुत्व एक सभी धर्मों के फलने फूलने की कल्पना कर

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  336
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Ridhima

Mass Communications Student

1:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हिंदुत्व हिंदू धर्म के अनुयायियों को एक और अकेले राष्ट्र में देखने की अवधारणा है हिंदुत्ववादियों के अनुसार हिंदुत्व कोई उपासना पत्नी नहीं है बल्कि जीवन शैली है वीर सावरकर ने हिंदुत्व और हिंदू शब्दों की एक परिभाषा दी थी जो हिंदुत्ववादियों के लिए बहुत महत्वपूर्ण है उन्होंने कहा कि हिंदू वह व्यक्ति है जो भारत को अपनी पितृभूमि और अपनी पुण्यभूमि दोनों मानता है हिंदू धर्म को सनातन वैदिक यज्ञ धर्म भी कहते हैं हिंदू एक अपभ्रंश शब्द है हिंदुत्व या हिंदू धर्म को प्राचीन काल में सनातन धर्म कहा जाता था 1000 वर्ष पूर्व हिंदू शब्द का प्रचलन नहीं था क्रिक देश में कई बार सप्तसिंधु का उल्लेख मिलता है हिंदू शब्द का अर्थ नदिया जलराशि होता है इसी आधार पर एक नदी का नाम सिंधु नदी रखा गया जो लड़ा कर पार्क से बहती है

hindutv hindu dharm ke anuyayiyon ko ek aur akele rashtra mein dekhne ki avdharna hai hindutwavadiyon ke anusaar hindutv koi upasana patni nahi hai balki jeevan shaili hai veer savarkar ne hindutv aur hindu shabdon ki ek paribhasha di thi jo hindutwavadiyon ke liye bahut mahatvapurna hai unhone kaha ki hindu vaah vyakti hai jo bharat ko apni pitribhumi aur apni punyabhumi dono manata hai hindu dharm ko sanatan vaidik yagya dharm bhi kehte hain hindu ek apbransh shabd hai hindutv ya hindu dharm ko prachin kaal mein sanatan dharm kaha jata tha 1000 varsh purv hindu shabd ka prachalan nahi tha crick desh mein kai baar saptasindhu ka ullekh milta hai hindu shabd ka arth nadiya jalrashi hota hai isi aadhaar par ek nadi ka naam sindhu nadi rakha gaya jo lada kar park se behti hai

हिंदुत्व हिंदू धर्म के अनुयायियों को एक और अकेले राष्ट्र में देखने की अवधारणा है हिंदुत्वव

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  158
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!