माना कि इंसान के पास सब कुछ है लेकिन फिर भी परेशान क्यों रहता है?...


user

Aniel K Kumar Imprints

NLP Master Life Coach, Motivational Speaker

3:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार मैं निखिल कुमार इंप्रिंट चैनल पर मास्टर लाइफ कोच आज आपके साथ जुड़ा हूं आप का सवाल है कि माना इंसान के पास सब कुछ है फिर भी परेशान क्यों रहता है क्योंकि अमूमन लोग ही गलती कर देते हैं कि उनको वह अपने काम पर फोकस नहीं कर रहे वह समस्याओं पर फोकस कर रहे हैं वह गोल्ड पर फोकस नहीं कर रही है मेरे को एक बार अपने आप में बहुत है उसकी इमेज बहुत डाउन हो रखी थी मूड बहुत खराब हो रखा था कि मैं सबसे काला हूं मैं सबसे काला हूं और घूमते हुए एक दिन एक बुगले को देखता है सोचता है यह बिल्कुल सच है तो यह बहुत खुश होगा उसके पास जाता है होगा भाई आज तो आप बहुत खुश होंगे आप तो बिल्कुल सफेद हैं ना आपसे एक सफेद इस दुनिया में कोई भी नहीं है और मैं तो बहुत काला हूं वह कहता है नहीं नहीं मैं का हां इतना अच्छा हूं वह देखो ऊपर बैठा पैरेट कितना रंगीन है वह कितना सुंदर है मैं तो वे रंग हूं बिना रंग का हूं वह देखो कितना सुंदर है उसका कलर है लाल चौथ है कितना खुश है वह खुशनसीब है उसके पास जाता है कब दौड़ता हुआ उड़ता हुआ और वे आप तो बहुत खुश होंगे तो उससे पूछता है वह नहीं नहीं नहीं मैं कहां मेरे से सुंदर तो बहुत है इस दुनिया में वह कौन है और वहां जाकर देखो चिड़ियाघर में अपना और मोर के पास पहुंचता है वहां करो तो वहां पर से पूछता है कि जारी तुम बहुत सुंदर हो बहुत सुंदर हो तुम तो रियली लगी हो तो चिड़ियाघर में पहुंचता है मोर वहां पर होता है लोग उसे उसके साथ फोटो खींच रहे थे वह देखते देखते फोटो खींच रहा तुम्हारे साथ मोर कहता है क्या फायदा है यहां पर रहने इतना सुंदर होने का मैं यहां पर बने जाना कि हर कोई परेशान है हर कोई दुखी है इसलिए दूसरे वाला दिखाई दे रहा है अपनी जो उसके पास जो है उसको उसको पर फोकस ही नहीं है उस पर ध्यान ही नहीं है उसके लिए वह कभी से शुक्रगुजार हुआ ही नहीं इसलिए यह कहा जाता है कि लोग अपने दुख से दुखी नहीं है दूसरों के सुख से दुखी हैं उसके पास वह है उसके पास हुआ है उसके पास हुआ है जबकि वह अपने इस चीज पर ध्यान नहीं दे रहा है उसके पास क्या है एक बार इमेजिंग करके देखिए दोस्त कितने लोग ऐसे हैं जो आप जैसे जिंदगी जा रहे हैं कितने लोग ऐसे हैं जो आप जैसा बनना चाह रहे हैं और आप हैं कि दूसरों के लिए परेशान हो रही उनके पास यह उनके पास यह है और इनके पास ही है यही वजह है जो लोग सब कुछ होने के बावजूद भी परेशान रहते हैं क्योंकि उनका होकर दूसरों पर की तरफ रहता है अपनी तरफ नहीं रहता अपने पास जो है उसके लिए थैंक स्कूल नहीं है वह दूसरों के पास क्या है उस पर होकर से तो मेरा नशा करता हूं आपको जवाब मिल गया होगा आप पर ज्यादा डिटेल्स के लिए आप हमारे वर्कशॉप सेमिनार में आ सकते हैं हमारे सोशल कर सकते हैं चलेगा तो उसके स्माइलिंग की ग्रोइंग हैव ए नाइस डे

namaskar main nikhil kumar imprint channel par master life coach aaj aapke saath juda hoon aap ka sawaal hai ki mana insaan ke paas sab kuch hai phir bhi pareshan kyon rehta hai kyonki amuman log hi galti kar dete hain ki unko vaah apne kaam par focus nahi kar rahe vaah samasyaon par focus kar rahe hain vaah gold par focus nahi kar rahi hai mere ko ek baar apne aap me bahut hai uski image bahut down ho rakhi thi mood bahut kharab ho rakha tha ki main sabse kaala hoon main sabse kaala hoon aur ghumte hue ek din ek bugle ko dekhta hai sochta hai yah bilkul sach hai toh yah bahut khush hoga uske paas jata hai hoga bhai aaj toh aap bahut khush honge aap toh bilkul safed hain na aapse ek safed is duniya me koi bhi nahi hai aur main toh bahut kaala hoon vaah kahata hai nahi nahi main ka haan itna accha hoon vaah dekho upar baitha Parrot kitna rangeen hai vaah kitna sundar hai main toh ve rang hoon bina rang ka hoon vaah dekho kitna sundar hai uska color hai laal chauth hai kitna khush hai vaah khushnaseeb hai uske paas jata hai kab daudata hua udta hua aur ve aap toh bahut khush honge toh usse poochta hai vaah nahi nahi nahi main kaha mere se sundar toh bahut hai is duniya me vaah kaun hai aur wahan jaakar dekho chidiyaghar me apna aur mor ke paas pahuchta hai wahan karo toh wahan par se poochta hai ki jaari tum bahut sundar ho bahut sundar ho tum toh really lagi ho toh chidiyaghar me pahuchta hai mor wahan par hota hai log use uske saath photo khinch rahe the vaah dekhte dekhte photo khinch raha tumhare saath mor kahata hai kya fayda hai yahan par rehne itna sundar hone ka main yahan par bane jana ki har koi pareshan hai har koi dukhi hai isliye dusre vala dikhai de raha hai apni jo uske paas jo hai usko usko par focus hi nahi hai us par dhyan hi nahi hai uske liye vaah kabhi se shukragujar hua hi nahi isliye yah kaha jata hai ki log apne dukh se dukhi nahi hai dusro ke sukh se dukhi hain uske paas vaah hai uske paas hua hai uske paas hua hai jabki vaah apne is cheez par dhyan nahi de raha hai uske paas kya hai ek baar imaging karke dekhiye dost kitne log aise hain jo aap jaise zindagi ja rahe hain kitne log aise hain jo aap jaisa banna chah rahe hain aur aap hain ki dusro ke liye pareshan ho rahi unke paas yah unke paas yah hai aur inke paas hi hai yahi wajah hai jo log sab kuch hone ke bawajud bhi pareshan rehte hain kyonki unka hokar dusro par ki taraf rehta hai apni taraf nahi rehta apne paas jo hai uske liye thank school nahi hai vaah dusro ke paas kya hai us par hokar se toh mera nasha karta hoon aapko jawab mil gaya hoga aap par zyada details ke liye aap hamare workshop seminar me aa sakte hain hamare social kar sakte hain chalega toh uske smiling ki growing have a nice day

नमस्कार मैं निखिल कुमार इंप्रिंट चैनल पर मास्टर लाइफ कोच आज आपके साथ जुड़ा हूं आप का सवाल

Romanized Version
Likes  108  Dislikes    views  1460
KooApp_icon
WhatsApp_icon
13 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!