यदि कोई युवा अपने जीवन के कई साल बर्बाद करदे यह जानने में की उसे क्या बनना है और तब भी वो किसी निर्णय पर ना पहुँच पाए, तो आप उसे क्या सुझाव देंगें?...


user

Sanyog Bansal

Engineer|Writter|Motivational Speaker

1:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इसमें सबसे पहला वर्ड जो लिखा है ना कि जीवन के कई साल बर्बाद करते अगर कोई मनुष्य इस धरती पर जन्मा है वह और वह कुछ अच्छा करना चाहता है कुछ अच्छा बनना चाहता है तो वह कभी भी अपना जीवन के उन सालों को बर्बाद कर ही नहीं सकता वह बर्बाद के लाना नहीं होगा वह होगा कि आपने जो कुछ एक्सपेक्टेशन अपने जीवन में सेट की है आप उनको अजीब नहीं कर पाए कुछ बोल तो अपने सेट किए हैं अब उनको अजीब नहीं कर पाए कारण बहुत से हो सकते हैं क्या कारण है वह हमको आईडेंटिफाई करने पड़ेंगे उन पर वर्क करना पड़ेगा बट यह नहीं तो बर्बाद बर्बाद तो हो ही नहीं सकता बर्बाद गीता में लिखा है गीता में कहा है कि एक मनुष्य बिना कर्म किए रह नहीं सकता अगर आपने जब से जन्म लिया है और आप जहां हो आज अगर आप उसका डिफरेंस देखा तो आप बहुत कुछ प्रोग्रेस कर चुके हो बट मीन कीजिए है कि आपने जो इसमें सेट किए हैं वह नहीं मिल उस पर काम करने की जरूरत है उस पर काम करो उसके लिए समय दो आप हंड्रेड परसेंट सक्सेस करोगे सक्सेस सक्सेस बनोगे और आपको हंड्रेड परसेंट सफलता मिलेगी

isme sabse pehla word jo likha hai na ki jeevan ke kai saal barbad karte agar koi manushya is dharti par janma hai vaah aur vaah kuch accha karna chahta hai kuch accha banna chahta hai toh vaah kabhi bhi apna jeevan ke un salon ko barbad kar hi nahi sakta vaah barbad ke lana nahi hoga vaah hoga ki aapne jo kuch expectation apne jeevan me set ki hai aap unko ajib nahi kar paye kuch bol toh apne set kiye hain ab unko ajib nahi kar paye karan bahut se ho sakte hain kya karan hai vaah hamko aidentifai karne padenge un par work karna padega but yah nahi toh barbad barbad toh ho hi nahi sakta barbad geeta me likha hai geeta me kaha hai ki ek manushya bina karm kiye reh nahi sakta agar aapne jab se janam liya hai aur aap jaha ho aaj agar aap uska difference dekha toh aap bahut kuch progress kar chuke ho but meen kijiye hai ki aapne jo isme set kiye hain vaah nahi mil us par kaam karne ki zarurat hai us par kaam karo uske liye samay do aap hundred percent success karoge success success banogey aur aapko hundred percent safalta milegi

इसमें सबसे पहला वर्ड जो लिखा है ना कि जीवन के कई साल बर्बाद करते अगर कोई मनुष्य इस धरती पर

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  81
WhatsApp_icon
8 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Mohommed Ali Shah

Indian theatre and film personality, Motivational Speaker known worldwide for his powerful talks

1:56

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कोई बड़ी बात नहीं है 1 साल बर्बाद करना या कुछ संथाल बर्बाद करने जाना कर करता है ना वह साल बर्बाद करने के बाद आप कहां तक पहुंचे और आपने क्या किया आपने क्या हासिल किया वह मैं करता है फिर भी तो इंसान समझता है ना आप अगर साइकिल चलाओगे आप गिरोगे करो गलतियां करो करो मगर बात नहीं करो कितनी बार जीते रहो कोई बात नहीं है आपसे क्या मांग रही है आपको अपने आप से यह सवाल पूछना है भरत ने कहा था और मुझे यू आई फोन रेट क्यू कोई और तीसरा बताने के लिए आपको अपने आपको कुछ बताना है आपको यहां पहुंचना है तो आपके साथ कोई था अगर आपको दिखता है मोहम्मद अली शाह अपने लिए आपको वहां तक पहुंचना है और आप क्यों रहे हैं आपको यकीन है कि नहीं पहुंच पाउंगा

koi badi baat nahi hai 1 saal barbad karna ya kuch santhal barbad karne jana kar karta hai na vaah saal barbad karne ke baad aap kahaan tak pahuche aur aapne kya kiya aapne kya hasil kiya vaah main karta hai phir bhi toh insaan samajhata hai na aap agar cycle chalaoge aap giroge karo galtiya karo karo magar baat nahi karo kitni baar jeete raho koi baat nahi hai aapse kya maang rahi hai aapko apne aap se yah sawaal poochna hai Bharat ne kaha tha aur mujhe you I phone rate kyu koi aur teesra batane ke liye aapko apne aapko kuch bataana hai aapko yahan pahunchana hai toh aapke saath koi tha agar aapko dikhta hai muhammad ali shah apne liye aapko wahan tak pahunchana hai aur aap kyon rahe hain aapko yakin hai ki nahi pohch paunga

कोई बड़ी बात नहीं है 1 साल बर्बाद करना या कुछ संथाल बर्बाद करने जाना कर करता है ना वह साल

Romanized Version
Likes  37  Dislikes    views  663
WhatsApp_icon
user

Niraj Devani

PHILOSOPHER

1:04
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए जो आपने साल बिताए हैं तो वह बर्बाद नहीं किए पहले तो यह आपको गलतफहमी से बाहर निकल जाइए जितने भी आप जितनी निकलता है वह सब स्टेप से सफलता की ओर बढ़ने के इस तरह से सूची ठीक है और ऐसा नहीं है कि आपको प्रयत्न छोड़ देना चाहिए या फिर आपके जो पावे उसको ठोकर मार के एक काम जिंदगी जीनी चाहिए कई बार ऐसा होता है कि हम जब छोड़ते हैं तब आखिरी आखिरी गांव बस करना बाकी है और हम छोड़ देते हैं सफलता बस थोड़ी सी दूर है हमसे और हम कोशिश करना छोड़ देते ऐसा भी होता है कई बार तो ऐसा मत कीजिए अगर आपको थोड़ी आर्थिक तंगी भी नहीं है और अच्छे पैसे भी आपको फैमिली से मिल रहा है तो फिर आप अपनी टीम को पूरा करने की तरफ से भी ज्यादा छोड़ दीजिएगा और शायद ऐसा हो कि अब तक जो ना हुआ वह शायद 2 दिन में या 6 महीने में हो जाए साल में हो जाए

dekhiye jo aapne saal bitae hain toh vaah barbad nahi kiye pehle toh yah aapko galatfahamee se bahar nikal jaiye jitne bhi aap jitni nikalta hai vaah sab step se safalta ki aur badhne ke is tarah se suchi theek hai aur aisa nahi hai ki aapko prayatn chod dena chahiye ya phir aapke jo paave usko thokar maar ke ek kaam zindagi gini chahiye kai baar aisa hota hai ki hum jab chodte hain tab aakhiri aakhiri gaon bus karna baki hai aur hum chod dete hain safalta bus thodi si dur hai humse aur hum koshish karna chod dete aisa bhi hota hai kai baar toh aisa mat kijiye agar aapko thodi aarthik tangi bhi nahi hai aur acche paise bhi aapko family se mil raha hai toh phir aap apni team ko pura karne ki taraf se bhi zyada chod dijiyega aur shayad aisa ho ki ab tak jo na hua vaah shayad 2 din mein ya 6 mahine mein ho jaaye saal mein ho jaaye

देखिए जो आपने साल बिताए हैं तो वह बर्बाद नहीं किए पहले तो यह आपको गलतफहमी से बाहर निकल जाइ

Romanized Version
Likes  27  Dislikes    views  541
WhatsApp_icon
user

Vinod Kumar Pandey

Life Coach | Career Counsellor ::Relationship Counsellor :: Parenting Counsellor

3:04
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपके प्रश्न के उत्तर में मैं यही कहना चाहूंगा कि उसे इसका जवाब पहाड़ ढूंढने के बजाय अपने अंदर देखना चाहिए अपने अंदर यह पहचानने की कोशिश करनी चाहिए कि उसके अंदर कौन सी ऐसी प्रतिभा है कौन सा सा टैलेंट है जो सबसे ज्यादा है ध्यान रखेंगे ज्यादातर जो हमारा जीवन में सफलता मिलती है आना कामयाबी मिलती है उसका उसके पीछे बहुत बड़ा कारण होता है कि हम अपना कैरियर अपना प्रोफेशन बाहर की चीजों में ढूंढते बाहर की दुनिया में ढूंढने का प्रयास करते हैं और दुनिया के आकर्षण में कहीं ना कहीं हम भागते रहते हैं और इस वजह से हमें कामयाबी नहीं मिलती है लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि हम अपनी कामयाबी पा नहीं सकते हैं उसके लिए बहुत जरूरी है कि व्यक्ति को अपने अंदर देखने का प्रयास करिए अपने अंदर पहचानने के प्रयास करना चाहिए कि हमारे अंदर क्या मजबूती है क्या टैलेंट है क्या सर क्लास में है और जिस दिन आप अपनी व्यक्तिगत जो को अपने अंदर टैलेंट अपनी प्रतिभा को पहचान जाएंगे उसको इंप्रूव करने की कोशिश करिए उसको अच्छा से अच्छा बनाने की कोशिश करिए जिस दिन आप अपना ध्यान नहीं बुर्जा अपनी सोच को अपनी प्रतिभा अपने टैलेंट को मजबूत बनाने के लिए करेंगे तो अपने आप आपको जीवन में कोई ना कोई रास्ता ऐसा जरूर निकल आएगा कि आप अपने जीवन में बहुत सफलता हासिल करेंगे ध्यान रखेंगे हमें बाहर की दुनिया में अगर सफलता मिली तो इसका यह मतलब कतई नहीं है कि हम फिर से सफल नहीं हो सकते अभी असफलता सिर्फ यह बता रही है कि अभी आप अपने जीवन के सही रास्ते पर नहीं पहुंचे हैं अपने आप को आप पहचान नहीं पाए हैं कि आप किसके लिए बने हो ध्यान रखेंगे इसके लिए आप अपने सिर्फ और सिर्फ अपने व्यक्तित्व को देखने का प्रयास कीजिए समझने का प्रयास करिए जितना ही ज्यादा अपने आपसे प्रश्न पूछेंगे देखने को सोचेंगे अपने आप आपके अंदर से कोई ना कोई ऐसी चीज कल की आएगी कि जो आपके व्यक्तित्व में सबसे मजबूत है सबसे प्लस में है वही चीज जवाब पकड़ेंगे उन चीजों को इंप्रूव करेंगे उन चीजों को अच्छा बनाने की कोशिश करेंगे तो वहां से कोई ना कोई ऐसा रास्ता निकलेगा जो आपको अपनी जिंदगी में बहुत काम है अभी दिलाएगा यह बहुत बड़ी बात होती है कि हमें अगर जीवन में बहुत समय तक सफलता मिलती है तो उसमें एक अच्छी बात यह छुपी होती है कि शायद प्रक्रिया शायद ईश्वर हमसे यह चाहता है कि हम वही काम करें जिसके लिए हमारा व्यक्तित्व है जो हमारा अंदर जिसके प्रतिभा है हम वही काम करें क्योंकि उसी के द्वारा हम इस जीवन में बहुत महत्वपूर्ण सफलता हासिल कर सकते हैं इसीलिए शायद व्यक्ति अपने जीवन में असफलता ही सफलता देखता है तो उन चीजों को पहचानने की कोशिश करिए इसमें थोड़ा समय लग सकता है लेकिन ध्यान रखेंगे जिस दिन आप अपने आप को पहचानने की कोशिश करेंगे और जिस दिन आपने अपनी प्रतिभा को पहचान लिया तो आपको फिर सफलता आपसे बहुत दूर नहीं रह शक्ति मेरी शुभकामनाएं आपके लिए धन्यवाद

aapke prashna ke uttar mein main yahi kehna chahunga ki use iska jawab pahad dhundhne ke bajay apne andar dekhna chahiye apne andar yah pahachanne ki koshish karni chahiye ki uske andar kaun si aisi pratibha hai kaun sa sa talent hai jo sabse zyada hai dhyan rakhenge jyadatar jo hamara jeevan mein safalta milti hai aana kamyabi milti hai uska uske peeche bahut bada karan hota hai ki hum apna carrier apna profession bahar ki chijon mein dhoondhate bahar ki duniya mein dhundhne ka prayas karte hain aur duniya ke aakarshan mein kahin na kahin hum bhagte rehte hain aur is wajah se hamein kamyabi nahi milti hai lekin iska matlab yah nahi hai ki hum apni kamyabi paa nahi sakte hain uske liye bahut zaroori hai ki vyakti ko apne andar dekhne ka prayas kariye apne andar pahachanne ke prayas karna chahiye ki hamare andar kya majbuti hai kya talent hai kya sir class mein hai aur jis din aap apni vyaktigat jo ko apne andar talent apni pratibha ko pehchaan jaenge usko improve karne ki koshish kariye usko accha se accha banane ki koshish kariye jis din aap apna dhyan nahi burja apni soch ko apni pratibha apne talent ko majboot banane ke liye karenge toh apne aap aapko jeevan mein koi na koi rasta aisa zaroor nikal aayega ki aap apne jeevan mein bahut safalta hasil karenge dhyan rakhenge hamein bahar ki duniya mein agar safalta mili toh iska yah matlab katai nahi hai ki hum phir se safal nahi ho sakte abhi asafaltaa sirf yah bata rahi hai ki abhi aap apne jeevan ke sahi raste par nahi pahuche hain apne aap ko aap pehchaan nahi paye hain ki aap kiske liye bane ho dhyan rakhenge iske liye aap apne sirf aur sirf apne vyaktitva ko dekhne ka prayas kijiye samjhne ka prayas kariye jitna hi zyada apne aapse prashna puchenge dekhne ko sochenge apne aap aapke andar se koi na koi aisi cheez kal ki aayegi ki jo aapke vyaktitva mein sabse majboot hai sabse plus mein hai wahi cheez jawab pakdenge un chijon ko improve karenge un chijon ko accha banane ki koshish karenge toh wahan se koi na koi aisa rasta niklega jo aapko apni zindagi mein bahut kaam hai abhi dilaega yah bahut badi baat hoti hai ki hamein agar jeevan mein bahut samay tak safalta milti hai toh usme ek achi baat yah chhupee hoti hai ki shayad prakriya shayad ishwar humse yah chahta hai ki hum wahi kaam kare jiske liye hamara vyaktitva hai jo hamara andar jiske pratibha hai hum wahi kaam kare kyonki usi ke dwara hum is jeevan mein bahut mahatvapurna safalta hasil kar sakte hain isliye shayad vyakti apne jeevan mein asafaltaa hi safalta dekhta hai toh un chijon ko pahachanne ki koshish kariye isme thoda samay lag sakta hai lekin dhyan rakhenge jis din aap apne aap ko pahachanne ki koshish karenge aur jis din aapne apni pratibha ko pehchaan liya toh aapko phir safalta aapse bahut dur nahi reh shakti meri subhkamnaayain aapke liye dhanyavad

आपके प्रश्न के उत्तर में मैं यही कहना चाहूंगा कि उसे इसका जवाब पहाड़ ढूंढने के बजाय अपने अ

Romanized Version
Likes  33  Dislikes    views  540
WhatsApp_icon
user

Nparkara

Motivational Speaker&Business Trainer And YouTube Channel

3:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो दोस्त आपने जो अपने जीवन की इस साल बर्बाद कर दें यहां जाने में कि उसे क्या बनना है और अभी वह किसी ने नहीं पहुंच पाए तो आप उसे क्या सुविधा तो आपका दिमाग है यह करूंगा कभी वह करूंगा अभी बिजनेस कभी आपका दिन होती है दिमाग की हालत हो आपको आपका कौन-कौन से कैसे पता चलेगा कि आप के दिन क्या चाहता है इसके बारे में आपको अंदर क्वालिटी के अंदर किसी के साथ तुलना न करें कंपेयर करें कुछ नहीं होता मिट्टी के बने यही कहूंगा कि अपना माइंड को कॉल करना बहुत जरूरी है ध्यान राम करके ध्यान करें 5 मिनट में बिजली के रोज मुझे क्या करना है कैसे ठीक होगा और अपना काम करेंगे अशोक की आपको बहुत पसंद आएगा कि बहुत सारे लोग देख चुका हूं जिन्होंने माइंड कौन से डेट करके आज सफल पूर्वक बन चुका है आप सबको कमा भी रहा है पैसा तो कोई बात नहीं है व्हाट्सएप कमिटमेंट है क्या मेरा यह बोलना ही पड़ेगा

hello dost aapne jo apne jeevan ki is saal barbad kar de yahan jaane mein ki use kya banna hai aur abhi vaah kisi ne nahi pohch paye toh aap use kya suvidha toh aapka dimag hai yah karunga kabhi vaah karunga abhi business kabhi aapka din hoti hai dimag ki halat ho aapko aapka kaun kaunsi kaise pata chalega ki aap ke din kya chahta hai iske bare mein aapko andar quality ke andar kisi ke saath tulna na kare compare kare kuch nahi hota mitti ke bane yahi kahunga ki apna mind ko call karna bahut zaroori hai dhyan ram karke dhyan kare 5 minute mein bijli ke roj mujhe kya karna hai kaise theek hoga aur apna kaam karenge ashok ki aapko bahut pasand aayega ki bahut saare log dekh chuka hoon jinhone mind kaunsi date karke aaj safal purvak ban chuka hai aap sabko kama bhi raha hai paisa toh koi baat nahi hai whatsapp commitment hai kya mera yah bolna hi padega

हेलो दोस्त आपने जो अपने जीवन की इस साल बर्बाद कर दें यहां जाने में कि उसे क्या बनना है और

Romanized Version
Likes  24  Dislikes    views  270
WhatsApp_icon
user

Sunil Yadav

Teacher - Chemistry

2:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यदि कोई व्यक्ति या युवा अपने जीवन के कई साल बर्बाद करके यह जानने में कि उसे क्या बनना है बर्बाद कर चुका है और तब भी किसी निर्णय पर नहीं पहुंच पा रहा है तो मेरा यह सुझाव है कि अगर हम उससे कोई सुझाव देंगे भी तो मानने वाला नहीं है क्योंकि कोई भी युवा 2320 साल तक किया नहीं किया उसका पोस्ट ग्रेजुएशन होते तक अपने विषय के बारे में जान लेता है और अगर वह ऐसा नहीं कर पाया है तो वह झूठ बोल रहा है या अपने आप को धोखा दे रहा है क्योंकि हम जब देखते हैं कि दसवीं के बाद हमें अपने पढ़ाई के लिए आगे विषय चयन करना होता है तो कोई व्यक्ति आईटीआई का चयन करता है कोई व्यक्ति पॉलिटेक्निक में जाना चाहता है कोई व्यक्ति 11वीं 12वीं अपने रुचि का विषय है जैसे कि अगर वह कॉमर्स मैंटल सकता है तो कॉमर्स लेता है साइंस और उसे लगता है तो वह साइंस विषय के अंतर्गत बायोलॉजी या गणित ग्रुप लेता है अगर उसे एग्रीकल्चर विषय की तैयारी कल्चर लेता है जिससे आगे डॉक्टर बनना है वह बालाजी लेता जिसे आगे इंजीनियर बनना है वह मैथमेटिक्स लेता है उसके आगे और भी जैसे वह बीएससी करता है तो बीएससी में फिर अगर उसे आगे कंप्यूटर विभाग में जाना है तो कंप्यूटर एप्लीकेशन कोर्स लेता है और अगर डॉक्टर बनना है तो एमबीबीएस की तैयारी करता है इंजीनियर बनना है तो इंजीनियरिंग एग्जाम देता है तो इस तरह से दसवीं के बाद सही जो है हमारा रुझान जो है वह पता चल जाता करवा कि आज का विद्यार्थी है तो वह 11वीं सही ₹8 ले लेता है और अपने रुझान के अनुसार बेचैन कर लेता है तो अगर व्यक्ति में बुद्धि है तो उसे ज्यादा समय नहीं लगता है अपने निर्णय को बताने में कि वह क्या बनना चाहता है माता पिता के प्रभाव में अगर व्यक्ति है तब भी वह एक निश्चित समय के बच्चा जो हम मान ले तो 25 वर्ष की उम्र तक वह किसी के प्रभाव में नहीं रहता और अगर उसका जो रुचि है वह तय हो जाती है उसके बाद वह अपने सूची को बदल नहीं पाता है तो हम कह सकते हैं कि हमारे दिए हुए सुझाव के अनुसार वहां अपना निर्णय नहीं बदलेगा वह से स्वयं ही अपने मन से अपना उत्तर पूछना होगा और उसे अवश्य इसका जवाब मिलेगा और अगर ऐसा नहीं कर पा रहा है तो व्यक्ति मूर्ख है

yadi koi vyakti ya yuva apne jeevan ke kai saal barbad karke yah jaanne mein ki use kya banna hai barbad kar chuka hai aur tab bhi kisi nirnay par nahi pohch paa raha hai toh mera yah sujhaav hai ki agar hum usse koi sujhaav denge bhi toh manne vala nahi hai kyonki koi bhi yuva 2320 saal tak kiya nahi kiya uska post graduation hote tak apne vishay ke bare mein jaan leta hai aur agar vaah aisa nahi kar paya hai toh vaah jhuth bol raha hai ya apne aap ko dhokha de raha hai kyonki hum jab dekhte hai ki dasavi ke baad hamein apne padhai ke liye aage vishay chayan karna hota hai toh koi vyakti iti ka chayan karta hai koi vyakti polytechnic mein jana chahta hai koi vyakti vi vi apne ruchi ka vishay hai jaise ki agar vaah commerce mantle sakta hai toh commerce leta hai science aur use lagta hai toh vaah science vishay ke antargat biology ya ganit group leta hai agar use agriculture vishay ki taiyari culture leta hai jisse aage doctor banna hai vaah balaji leta jise aage engineer banna hai vaah mathematics leta hai uske aage aur bhi jaise vaah bsc karta hai toh bsc mein phir agar use aage computer vibhag mein jana hai toh computer application course leta hai aur agar doctor banna hai toh MBBS ki taiyari karta hai engineer banna hai toh Engineering exam deta hai toh is tarah se dasavi ke baad sahi jo hai hamara rujhan jo hai vaah pata chal jata karva ki aaj ka vidyarthi hai toh vaah vi sahi Rs le leta hai aur apne rujhan ke anusaar bechain kar leta hai toh agar vyakti mein buddhi hai toh use zyada samay nahi lagta hai apne nirnay ko batane mein ki vaah kya banna chahta hai mata pita ke prabhav mein agar vyakti hai tab bhi vaah ek nishchit samay ke baccha jo hum maan le toh 25 varsh ki umr tak vaah kisi ke prabhav mein nahi rehta aur agar uska jo ruchi hai vaah tay ho jaati hai uske baad vaah apne suchi ko badal nahi pata hai toh hum keh sakte hai ki hamare diye hue sujhaav ke anusaar wahan apna nirnay nahi badlega vaah se swayam hi apne man se apna uttar poochna hoga aur use avashya iska jawab milega aur agar aisa nahi kar paa raha hai toh vyakti murkh hai

यदि कोई व्यक्ति या युवा अपने जीवन के कई साल बर्बाद करके यह जानने में कि उसे क्या बनना है ब

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  230
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यदि नहीं हुआ अपने जीवन में 23 साल बर्बाद कर दे तो मेरे से एक ही सुधार दूंगा कि वह अपने आप पर मंथन चिंतन करें तथा अपने सुझाव तथा अपनी जिंदगी के बारे में सोचें तथा सफलता असफलता के बारे में सोचें और पास्ट फ्यूचर के बारे में सोचें वह तथा अपनी शांति बनाए रखें और देवर के साथ आगे बढ़ता जाए कुछ ना कुछ उसके जीवन में सफलता जरूर मिलेगी साल बर्बाद होने से नहीं इंसान तो चाय एक पल में जिंदगी बदल सकता है उसमें ताकत में परिश्रम इसमें एकता का संक्षेप होना जरूरी है चाहे

yadi nahi hua apne jeevan me 23 saal barbad kar de toh mere se ek hi sudhaar dunga ki vaah apne aap par manthan chintan kare tatha apne sujhaav tatha apni zindagi ke bare me sochen tatha safalta asafaltaa ke bare me sochen aur past future ke bare me sochen vaah tatha apni shanti banaye rakhen aur devar ke saath aage badhta jaaye kuch na kuch uske jeevan me safalta zaroor milegi saal barbad hone se nahi insaan toh chai ek pal me zindagi badal sakta hai usme takat me parishram isme ekta ka sankshep hona zaroori hai chahen

यदि नहीं हुआ अपने जीवन में 23 साल बर्बाद कर दे तो मेरे से एक ही सुधार दूंगा कि वह अपने आप

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  160
WhatsApp_icon
user
1:53
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं तुमसे यही सुझाव दूंगा कि आप बनने का सोचने से अच्छा है कि आप कुछ बन जाइए इससे आपका एक प्रेशर खत्म होगा और आप आगे बढ़ सकते हैं हम ऊंचाइयों तक पहुंच सकते हैं लेकिन हम शिविरों में कदम दर कदम तेरा करके ही ऊंचाई तक पहुंचेंगे तो इसलिए है कि आप राकेट इस्तेमाल न करे आप सीढ़ियों से चलिए अभी तक नहीं बने हैं तो आप ऊंचाइयों को देख रहे हैं तो आप जो भी है आसपास छोटी-छोटी नौकरी नौकरी की तैयारी कर रहे हैं जो भी मिल जाए इसलिए बोलते फिरेंगे सोचे क्योंकि यदि यदि आपने कई साल बर्बाद कर दिया है तो आप उस पोजीशन पर पहुंचने वाले हैं जिससे आप फ्रस्ट्रेट हो जाएंगे क्योंकि जब आपने सोचने में इतना समय लगा दिया है तो खुदा भी करना है तो इसलिए जो भी नजदीक हो उसको तुरंत करिए और काम को देखिए सफलता पाने का यही सबसे अच्छा काम होता है आप जो सोच रहे हैं तो उसको आप भी इसे करना शुरू कर दो सोचने के सारे भी शुरू कर दो किताब बन जाएंगे यह भी देखें कि काम करने की कोई शुभ मुहूर्त को मत पकड़ी है कि मैं कल से करूंगा यह करूंगा और मुझे यह बनना है क्या कर रही है या और कुछ चलते रहिए आप अपना अपनों से एक शांत माइंड में अब डिसीजन लीजिए और लगातार काम करते रहिए सब काम अच्छा होता है और यह बात ध्यान दीजिए कि कोई भी ऐसा सेक्टर नहीं है कि इसमें से उन्नति करने वाले नहीं होते हैं आप किसी भी देख लीजिए आप नौकरी में देखेंगे तो नौकरी में भी बहुत ऊंचे तक आदमी पहुंचता है आप देखे तो आदमी तक डांस करके भी बहुत अच्छा कमा लेता है गाना गाकर की भी कमा लेता है तो कोई भेजा 70 नहीं है कि जो कमजोर होता है सर सब सेक्टर मजबूत होते हैं मजबूत आपको होना है करना आपको है आप मोटिवेट हो जाई हो जिसका में सक्षम है उस काम को करिए स्वयं को पहचानिए

main tumse yahi sujhaav dunga ki aap banne ka sochne se accha hai ki aap kuch ban jaiye isse aapka ek pressure khatam hoga aur aap aage badh sakte hain hum unchaiyon tak pohch sakte hain lekin hum shiviron me kadam dar kadam tera karke hi unchai tak pahunchenge toh isliye hai ki aap raaket istemal na kare aap sidhiyon se chaliye abhi tak nahi bane hain toh aap unchaiyon ko dekh rahe hain toh aap jo bhi hai aaspass choti choti naukri naukri ki taiyari kar rahe hain jo bhi mil jaaye isliye bolte firenge soche kyonki yadi yadi aapne kai saal barbad kar diya hai toh aap us position par pahuchne waale hain jisse aap frustrate ho jaenge kyonki jab aapne sochne me itna samay laga diya hai toh khuda bhi karna hai toh isliye jo bhi nazdeek ho usko turant kariye aur kaam ko dekhiye safalta paane ka yahi sabse accha kaam hota hai aap jo soch rahe hain toh usko aap bhi ise karna shuru kar do sochne ke saare bhi shuru kar do kitab ban jaenge yah bhi dekhen ki kaam karne ki koi shubha muhurt ko mat pakadi hai ki main kal se karunga yah karunga aur mujhe yah banna hai kya kar rahi hai ya aur kuch chalte rahiye aap apna apnon se ek shaant mind me ab decision lijiye aur lagatar kaam karte rahiye sab kaam accha hota hai aur yah baat dhyan dijiye ki koi bhi aisa sector nahi hai ki isme se unnati karne waale nahi hote hain aap kisi bhi dekh lijiye aap naukri me dekhenge toh naukri me bhi bahut unche tak aadmi pahuchta hai aap dekhe toh aadmi tak dance karke bhi bahut accha kama leta hai gaana gaakar ki bhi kama leta hai toh koi bheja 70 nahi hai ki jo kamjor hota hai sir sab sector majboot hote hain majboot aapko hona hai karna aapko hai aap motivate ho jaii ho jiska me saksham hai us kaam ko kariye swayam ko pehchaniye

मैं तुमसे यही सुझाव दूंगा कि आप बनने का सोचने से अच्छा है कि आप कुछ बन जाइए इससे आपका एक प

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  67
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!