आप गणतंत्र दिवस की परेड में मार्च करने की कहानी बहुत दिलचस्प है, जिसके लिए आप अपनी मौत से खेल गए थे, इसके बारे में हमें बताएँ?...


play
user

Mohommed Ali Shah

Indian theatre and film personality, Motivational Speaker known worldwide for his powerful talks

11:52

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

साडे 4 साल हो चुके थे फौज में 2 साल खाते में जम्मू कश्मीर में बॉर्डर पर स्वागत कराता है नोटिस में नागालैंड में ठान है और अपने लोगों की भाषा सी की नाकामी की परेड कमांडर का नया कोशिश तो करो यार कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती हरिवंश बच्चन राय साहब ने कहा था लहरों से डर कर नैया पार नहीं होती कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती अरे कब तक फेल हो गई चींटी चढ़ती है दीवार के ऊपर पहाड़ के ऊपर गिरती है समझती है फिर चढ़ती है फिर गिरती है आखिर में कामयाब तो होती है तो ठीक है अब मैं 30 अफसरों में से निकले गया उनको देखकर घबरा गया कि नहीं आता कि यहां पर मेरा इतना नंबर लगता है क्या यहां से लक्ष्मी ना हो पाएगा जो एक से एक धुरंधर ऑप्शन आते हैं वैसे 30205 मैसेज लक्षण हुआ था तो अभी हम लोग मत करना शुरू कर दिया में परेड ग्राउंड में हम मेहनत करते थे नागालैंड में 26 जनवरी से एक डेढ़ महीने पहले हम लोग दिल्ली है ड्यूटी पर केवल दिल्ली में आर्मी परेड ग्राउंड में तय करेंगे पूरी धरती के साथ भैया जिस देश में बार बार बार बार बार बार फिर रहा हूं मैं इतना बुरा नहीं हूं यह मेरा मौका है दिखाने के लिए कि मैं क्या दिखा सकता हूं 26 जनवरी 2008 सिस्टम दिन पहले दोनों में बहुत जबरदस्त तरीके का दर्द हुआ कुछ अलग किस्म का डर था कि पानी आ रहा था कमरिया शेखर को बुखार हो गया फिर बुखार क्यों कितना दे दूंगा झेलने की क्षमता होती है जेल जेल जेल का तू मेरे चांसेस 26 जनवरी परेड में नहीं होते एक्स सीकरी में नौटंकी बोला आपके दोनों टांगों में तो शेयर में पैसा किलो रखें और स्ट्रेट की वजह यह थी कि अंदर कूट-कूट के भरा है और जंपिंग के लिए जो हड्डी के डॉक्टर को भी खड़े हो तुम चल रहे हो तुमको मैं रेस्ट की सलाह दे रहा हूं प्रेस करना नहीं चलने को परेड तो करनी है और मैं करके रहूंगा दुनिया की कोई भी ताकत ऐसी नहीं होगी पंडित जुनून जज्बात जरूरी है जिंदगी में कुछ हासिल करने के कुछ कर दिखाने के लिए तो फिर मैं मिलिट्री डॉक्टर के पास नहीं करते बाग महादेव छोड़ दिया ना डॉक्टर के पास गया उसने भी एक्सेप्ट किया उसने बोला था आपकी तो बहुत गंदे घाव रखे हड्डी के अंदर जो मैंने आपको किया वह ठीक मैं क्या करूं मैं डॉक्टर हूं ठीक होने का ऑपरेशन कराया तब जाकर थोड़ा बहुत सुधार हो पाएगा कुछ चंद दिन बचे थे परेड के लिए सपना था कि नहीं करनी है और किसी को भी आपको पूछ लिया अपना क्या है वह बोलेगा राजपथ पर राष्ट्रपति को सलामी देनी है और वहां 26 जन परेड कमांड करनी है उसके बाद मैंने इसलिए दर्द को दवा खाना तीनप्लेट के जरिए और रोज सुबह दिल्ली के झाड़ों में सर्दी में 4:00 बजे अपने दोस्त के साथ आर्मी परेड ग्राउंड जाकर मैथ प्रैक्टिस करता था तभी था कि दुनिया की कोई ताकत नहीं हमको अप्लाई डेट पर जा रहे हैं और अपने जब ने राष्ट्रपति के डाइट की तरफ पहुंच रहा था तब दर्द हुआ दर्द के कंडे जिनके पीछे आर्मी बैंड बैंड बजाते जा रहा होता है तो आप की वर्तमान आपकी जहां तक पहुंचेगी नहीं और अगर आपकी बड़प्पन तक नहीं पहुंची तो उनके कदम डगमगा जाएंगे जन्मदिन बहुत ही अच्छी होगी आपकी पलटन कि आपकी मैं तो किस तरीके से लोग आते हैं देखने के लिए फ्री ड्यूटी पर देखते हैं और साल विधि प्रधानमंत्री अब आप परेड कमांड नहीं करेंगे 2 घंटे बाद परेड है आपको इसकी जरूरत है आप रेस्ट करिए मैं दिल टूट गया दिल को इतनी कड़ी मेहनत तपस्या कुर्बानियां झील झील के मैं यहां तक पहुंचा हूं और 2 दिन पहले करो बोल दिया गया क्या फर्क नहीं करेंगे मुझे ऐसा महसूस हुआ जैसे कि प्यासा आदमी रेगिस्तान में रहते हुए पानी की ओर बढ़ाएं पानी की ओर जा रहा है उसको पानी देख रहा है लिख जाता है ऐसा सोचा क्यों पानी पानी नहीं है उसके दिमाग की एक कल्पना है एक मिराज है अब कुछ इच्छा नहीं थी क्या बीती कुछ बहुत कम बोलना आपको मैं बयां नहीं कर सकता है मेरे दिल पर क्या बीतेगी और एक दूसरे में ले लिया गया कि मैं परेड कमांड नहीं करूंगा 2 दिन के बाद के 11:30 बजे जनरल के आर्डर है मेजर मोहम्मद अली शाह में ही कमांड करूंगा क्योंकि इस बंदे ने उसे मजबूती है उसके दिमाग में बात है इस वजह एक परिक्रमा लिए कर लेगा हमें भरोसा इतना भी हो 26 जनवरी 2008 पर रायसिना हिल्स राष्ट्रपिता इंडस्ट्री के साथ सुबह सुरेश दिल्ली की चारों बहुत ही शादी थी पूरा हो रहा था थोड़ा बहुत किया पेन किलर लिए वोट दिया नतीजतन तोशीबा को मारती नहीं जान को शीला को और मजबूत रहती है इसलिए उत्तर प्रदेश झांसी में राष्ट्रीय केदारे की तरफ पहुंच रहा था दोबारा वही प्रॉब्लम सुभाष क्योंकि मेरे को एक किस्म का ब्लैकआउटस हो रहा था और बहुत तेज बुखार इसलिए तुम कितना ज्यादा था क्योंकि मैं राष्ट्र की राई किधर पहुंचा लेकिन मैं सिविल की तलाश में 29 सेकंड के लिए बिल्कुल भूल गया के दर्द को छूट है विश्वा चरणों में हो गया दिमाग में होता है और अग्रणी टॉर्च नहीं आ रहे हैं अपने हारेंगे राष्ट्रपति को सलामी दी उसके बाद खत्म हुआ किलोमीटर की मार्कशीट लाल किले पर बैठी थी जहां पर आपको कोई नहीं देख रहे हैं कोई आर्डर नहीं है कोई मीडिया नहीं है कोई कैमरा नहीं है कोई भी देख रहे हो उस टाइम देखना चाहता तुम्हें आराम से चलकर वहां से जा सकता था लेकिन नाटक इंटरनेट क्या है इंटीग्रिटी कुछ नहीं है अपने आप के प्रति ईमानदार होना चाहिए आपको कोई नहीं देख रहा अपने आप के लिए माधार है और दूसरी जवान मेरे पीछे से मैं अपने कदम आराम से चला था उस टाइम पर तो आप सोचिए उनके दिल में मेरे लिए कितनी इज्जत रह जाती है मैं लाल किला मिलेंगे पूरी मातरम पूरी कंप्लीट करी लाल किले पहुंचा और वहां जाकर में गिर गया 27 जनवरी को अगले थी इंग्लिश में हमें 26 जनवरी की थी लेकिन तू किधर इंजरी रहती थी और करना भी था तो उसके बाद नहीं मांगी थी 27 जनवरी को लेकिन मैंने बात की हमें जवानों को विश्वकर्मा की अफसर ने हिम्मत नहीं हारी वह लड़का हर कृतियों से और यह वही कैरेट है वही ऑप्शन है इसको पासिंग आउट परेड चुके बहुत बड़ी चीज होती है उसमें शरीक होने की सम्मेलन की अनुमति नहीं थी और मैं यह चाहता हूं कि आज दिल में चोट थी 1 दिन में आज शीशा हूं इसलिए दुनिया देखती रह जाएगी और 9 को साबित किया

saade 4 saal ho chuke the fauj mein 2 saal khate mein jammu kashmir mein border par swaagat karata hai notice mein nagaland mein than hai aur apne logo ki bhasha si ki nakami ki parade commander ka naya koshish toh karo yaar koshish karne walon ki kabhi haar nahi hoti harivansh bachchan rai saheb ne kaha tha laharon se dar kar naiya par nahi hoti koshish karne walon ki kabhi haar nahi hoti are kab tak fail ho gayi chinti chadhati hai deewaar ke upar pahad ke upar girti hai samajhti hai phir chadhati hai phir girti hai aakhir mein kamyab toh hoti hai toh theek hai ab main 30 afsaron mein se nikle gaya unko dekhkar ghabara gaya ki nahi aata ki yahan par mera itna number lagta hai kya yahan se laxmi na ho payega jo ek se ek dhurandhar option aate hai waise 30205 massage lakshan hua tha toh abhi hum log mat karna shuru kar diya mein parade ground mein hum mehnat karte the nagaland mein 26 january se ek dedh mahine pehle hum log delhi hai duty par keval delhi mein army parade ground mein tay karenge puri dharti ke saath bhaiya jis desh mein baar baar baar baar baar baar phir raha hoon main itna bura nahi hoon yah mera mauka hai dikhane ke liye ki main kya dikha sakta hoon 26 january 2008 system din pehle dono mein bahut jabardast tarike ka dard hua kuch alag kism ka dar tha ki paani aa raha tha kamriya shekhar ko bukhar ho gaya phir bukhar kyon kitna de dunga jhelne ki kshamta hoti hai jail jail jail ka tu mere chances 26 january parade mein nahi hote x sikri mein nautanki bola aapke dono tangon mein toh share mein paisa kilo rakhen aur straight ki wajah yah thi ki andar kut kut ke bhara hai aur jumping ke liye jo haddi ke doctor ko bhi khade ho tum chal rahe ho tumko main rest ki salah de raha hoon press karna nahi chalne ko parade toh karni hai aur main karke rahunga duniya ki koi bhi takat aisi nahi hogi pandit junun jazbaat zaroori hai zindagi mein kuch hasil karne ke kuch kar dikhane ke liye toh phir main miltary doctor ke paas nahi karte bagh mahadev chod diya na doctor ke paas gaya usne bhi except kiya usne bola tha aapki toh bahut gande ghaav rakhe haddi ke andar jo maine aapko kiya vaah theek main kya karu main doctor hoon theek hone ka operation karaya tab jaakar thoda bahut sudhaar ho payega kuch chand din bache the parade ke liye sapna tha ki nahi karni hai aur kisi ko bhi aapko puch liya apna kya hai vaah bolega raajpath par rashtrapati ko salaami deni hai aur wahan 26 jan parade command karni hai uske baad maine isliye dard ko dawa khana tinaplet ke jariye aur roj subah delhi ke jhadon mein sardi mein 4 00 baje apne dost ke saath army parade ground jaakar math practice karta tha tabhi tha ki duniya ki koi takat nahi hamko apply date par ja rahe hai aur apne jab ne rashtrapati ke diet ki taraf pohch raha tha tab dard hua dard ke kande jinke peeche army band band bajaate ja raha hota hai toh aap ki vartaman aapki jaha tak pahunchegi nahi aur agar aapki badappan tak nahi pahuchi toh unke kadam dagmaga jaenge janamdin bahut hi achi hogi aapki paltan ki aapki main toh kis tarike se log aate hai dekhne ke liye free duty par dekhte hai aur saal vidhi pradhanmantri ab aap parade command nahi karenge 2 ghante baad parade hai aapko iski zarurat hai aap rest kariye main dil toot gaya dil ko itni kadi mehnat tapasya kurbaniyan jheel jheel ke main yahan tak pohcha hoon aur 2 din pehle karo bol diya gaya kya fark nahi karenge mujhe aisa mehsus hua jaise ki pyaasa aadmi registan mein rehte hue paani ki aur badhaye paani ki aur ja raha hai usko paani dekh raha hai likh jata hai aisa socha kyon paani paani nahi hai uske dimag ki ek kalpana hai ek miraj hai ab kuch iccha nahi thi kya biti kuch bahut kam bolna aapko main bayaan nahi kar sakta hai mere dil par kya bitegi aur ek dusre mein le liya gaya ki main parade command nahi karunga 2 din ke baad ke 11 30 baje general ke order hai major muhammad ali shah mein hi command karunga kyonki is bande ne use majbuti hai uske dimag mein baat hai is wajah ek parikrama liye kar lega hamein bharosa itna bhi ho 26 january 2008 par raysina hills rashtrapita industry ke saath subah suresh delhi ki charo bahut hi shadi thi pura ho raha tha thoda bahut kiya pen killer liye vote diya natijatan toshiba ko marti nahi jaan ko shila ko aur majboot rehti hai isliye uttar pradesh jhansi mein rashtriya kedare ki taraf pohch raha tha dobara wahi problem subhash kyonki mere ko ek kism ka blaikaautas ho raha tha aur bahut tez bukhar isliye tum kitna zyada tha kyonki main rashtra ki rai kidhar pohcha lekin main civil ki talash mein 29 second ke liye bilkul bhool gaya ke dard ko chhut hai vishva charno mein ho gaya dimag mein hota hai aur agranee torch nahi aa rahe hai apne harenge rashtrapati ko salaami di uske baad khatam hua kilometre ki marksheet laal kile par baithi thi jaha par aapko koi nahi dekh rahe hai koi order nahi hai koi media nahi hai koi camera nahi hai koi bhi dekh rahe ho us time dekhna chahta tumhe aaram se chalkar wahan se ja sakta tha lekin natak internet kya hai integrity kuch nahi hai apne aap ke prati imaandaar hona chahiye aapko koi nahi dekh raha apne aap ke liye madhar hai aur dusri jawaan mere peeche se main apne kadam aaram se chala tha us time par toh aap sochiye unke dil mein mere liye kitni izzat reh jaati hai laal kila milenge puri mataram puri complete kari laal kile pohcha aur wahan jaakar mein gir gaya 27 january ko agle thi english mein hamein 26 january ki thi lekin tu kidhar injury rehti thi aur karna bhi tha toh uske baad nahi maangi thi 27 january ko lekin maine baat ki hamein jawano ko vishvakarma ki officer ne himmat nahi haari vaah ladka har kritiyon se aur yah wahi carat hai wahi option hai isko passing out parade chuke bahut baadi cheez hoti hai usme sharique hone ki sammelan ki anumati nahi thi aur main yah chahta hoon ki aaj dil mein chot thi 1 din mein aaj shisha hoon isliye duniya dekhti reh jayegi aur 9 ko saabit kiya

साडे 4 साल हो चुके थे फौज में 2 साल खाते में जम्मू कश्मीर में बॉर्डर पर स्वागत कराता है नो

Romanized Version
Likes  30  Dislikes    views  396
WhatsApp_icon
1 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!