लघु व्यवसाय के स्वामी को कौन कौन सी समस्या का सामना करना पड़ता है?...


user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

2:25
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लघु व्यवसाय के स्वामी को कौन-कौन सी समस्या का सामना करना पड़ता है लघु व्यवसाय के जो ऐसे ऐसे साइकिल इंडस्ट्रीज स्वामी को काफी समस्या का सामना करना पड़ता है जिससे वॉलपेपर फोन में बहुत सारे निकालने पड़ते हैं उन को खुश रखना पड़ता है हमको एस एस आई यूनिट काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है बैंक लोन देने से भी जितने से सही नहीं चल रहा है उनको लोन लेने में दिक्कत बहुत ही पापड़ बेलने पड़ते हैं इसके अलावा सरकारी कायदे कानून मिनिमम वेजेस एक्ट फैक्ट्री एक्ट है और 2 पावर का कनेक्शन लेने का है तो उसमें बहुत ही मेहनत करने के बाद वह कर सकता है काम लेकिन फिर भी उसको भेजिए हिंदी का कर्नाटक अभी समस्या होती है तो लेबर मार्केट के पास फोन नहीं है सरकार मीनिंग प्रोग्राम ऐसा तय करती है लेकिन उसमें कोमल platform.sh आयु में ऐसा कोई प्रावधान नहीं करती हो करती है तो उसका प्रचार-प्रसार नहीं हो पाता है और इसके अलावा जो वर्किंग कैपिटल की समस्या तो है चमार की समस्या होती कभी-कभी वह भी उसकी कीमतों में उछाल आता है कभी नीचे हो जाता है ऐसे सभी को बहुत समस्या का सामना करना पड़ता है उसको बैलेंस करना पड़ता है

laghu vyavasaya ke swami ko kaun kaun si samasya ka samana karna padta hai laghu vyavasaya ke jo aise aise cycle industries swami ko kaafi samasya ka samana karna padta hai jisse wallpaper phone mein bahut saare nikalne padte hain un ko khush rakhna padta hai hamko s s I unit kaafi dikkaton ka samana karna padta hai bank loan dene se bhi jitne se sahi nahi chal raha hai unko loan lene mein dikkat bahut hi papad belne padte hain iske alava sarkari kayade kanoon minimum wedges act factory act hai aur 2 power ka connection lene ka hai toh usme bahut hi mehnat karne ke baad vaah kar sakta hai kaam lekin phir bhi usko bhejiye hindi ka karnataka abhi samasya hoti hai toh labour market ke paas phone nahi hai sarkar meaning program aisa tay karti hai lekin usme komal platform sh aayu mein aisa koi pravadhan nahi karti ho karti hai toh uska prachar prasaar nahi ho pata hai aur iske alava jo working capital ki samasya toh hai chamaar ki samasya hoti kabhi kabhi vaah bhi uski kimton mein uchal aata hai kabhi niche ho jata hai aise sabhi ko bahut samasya ka samana karna padta hai usko balance karna padta hai

लघु व्यवसाय के स्वामी को कौन-कौन सी समस्या का सामना करना पड़ता है लघु व्यवसाय के जो ऐसे ऐस

Romanized Version
Likes  53  Dislikes    views  1077
KooApp_icon
WhatsApp_icon
2 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!