#rapist_jalao: 13 दिन गैंगरेप हुआ, 2 गोली मारी गईं। क्या अब भी लड़कियों को दोषी ठहराना उचित है?...


play
user

Nikhil Ranjan

HoD - NIELIT

1:10

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लिखे जैसे कि चर्चा का विषय है कि 13 दिन गैंगरेप हुआ दो गोली मारी गई क्या अब भी लड़कियों को दोषी ठहराना उचित है तो यहां बताना चाहेंगे कि यह जो समाज में हम रह रहे हैं इसमें ऐसे इंसान के रूप में भेड़िए भी रहते हैं जो कि अपना मतलब निकालने के लिए या कहीं पर भी अपनी वारदात को अंजाम देने के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं और ऐसे वीडियो से बचकर इंसानों को लड़कियों को और समाज को रहना चाहिए और इन लोगों से इनके जीने घर जाना चाहिए तभी कुछ हो सकता है और जहां तक बात रही लड़कियों को दोष देना ने की लड़कियां दोषी नहीं होती हैं एक 5 साल की बच्ची का भी रेप होता है कुछ महीने की बच्ची का रेप भी होता है और एक अधेड़ उम्र की महिला का भी रेप हो जाता है तो यहां पर कोई इफेक्ट नहीं है कोई पहनावा नहीं है यहां पर सिर्फ सोच की बात है अगर वह सोच समाज के अंत पंक्ति रहेगी तो इस तरह की वारदात हो नीति रहेंगे s.m.s. सख्त से सख्त सजा मिलनी चाहिए ताकि ऐसी वारदातों पर अंकुश लगाया जा सके धन्यवाद

likhe jaise ki charcha ka vishay hai ki 13 din gangrape hua do goli mari gayi kya ab bhi ladkiyon ko doshi thahrana uchit hai toh yahan bataana chahenge ki yah jo samaj mein hum reh rahe hain isme aise insaan ke roop mein bhedie bhi rehte hain jo ki apna matlab nikalne ke liye ya kahin par bhi apni vaardaat ko anjaam dene ke liye kisi bhi had tak ja sakte hain aur aise video se bachakar insano ko ladkiyon ko aur samaj ko rehna chahiye aur in logo se inke jeene ghar jana chahiye tabhi kuch ho sakta hai aur jaha tak baat rahi ladkiyon ko dosh dena ne ki ladkiyan doshi nahi hoti hain ek 5 saal ki bachi ka bhi rape hota hai kuch mahine ki bachi ka rape bhi hota hai aur ek adhed umr ki mahila ka bhi rape ho jata hai toh yahan par koi effect nahi hai koi pahanava nahi hai yahan par sirf soch ki baat hai agar vaah soch samaj ke ant pankti rahegi toh is tarah ki vaardaat ho niti rahenge s m s sakht se sakht saza milani chahiye taki aisi vardaton par ankush lagaya ja sake dhanyavad

लिखे जैसे कि चर्चा का विषय है कि 13 दिन गैंगरेप हुआ दो गोली मारी गई क्या अब भी लड़कियों को

Romanized Version
Likes  425  Dislikes    views  5386
WhatsApp_icon
5 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए जलियाबाग गलत गलत क्या है कि वह लड़की उसकी संगत में रही होगी तभी तो उसको इतना हंड्रेड 13 दिन तक तो रिक्वेस्ट किया था परेशान है सरकार खुद सरकार को ध्यान देना चाहिए

dekhiye jaliyabag galat galat kya hai ki vaah ladki uski sangat mein rahi hogi tabhi toh usko itna hundred 13 din tak toh request kiya tha pareshan hai sarkar khud sarkar ko dhyan dena chahiye

देखिए जलियाबाग गलत गलत क्या है कि वह लड़की उसकी संगत में रही होगी तभी तो उसको इतना हंड्रे

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  703
WhatsApp_icon
user

pervs

Tutor

2:60
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो एवरीबॉडी तू बहुत दो इसको क्या कहें कि मतलब एक यह दुष्कर्म वाली बात है जो मतलब आज हमारे समाज में होती रहती है और पूरे देश को दहला देने वाली बात है यह और हमारे देश पर कलंक ही बन गया है कि ऐसे घिनौने काम होते रहते हमारे देश में थोड़ी बहुत ही दर्दनाक स्थिति है तो सबसे पहले मैं आपको बता दूं क्वेश्चन के पूछा काफी अच्छा क्वेश्चन पूछा कि रेपिस्ट जलाओ और 13 दिन गैंगरेप हुआ गोली मारकर क्या अब को दोषी ठहराना उचित लड़कियों को बिल्कुल दोषी ठहराना उचित नहीं है मैं आपको बता दूं तो अभी एक अभी आपने जो तेलंगाना हैदराबाद वाला केस सुना होगा और पैकिंग 12 मतलब झारखंड में लॉ स्टूडेंट के साथ हुआ जो 12 लोगों ने गैंगरेप किया तो इंडिया में बता दो हर छह सेकेंड के बाद किसी ना किसी लड़की बच्ची महिला और का मतलब बलात्कार हो जाता है हमारे देश में इतनी गिरी स्थिति आ गई है कि ना तो इस पर कोई नेता एक्शन ले रहा है ना देश की सरकार एक्शन ले रही है ना पोजीशन एक्शन ले रहा है तो क्या किया जाए तो सबसे पहले हम एक बात तो हो सकती है कि या तो आदमी की सोच बदल सकती हो या फिर अगर आप लड़की को चुस्ती समझाते हैं वही आप लोगों को समझाया तो ज्यादा बेहतर है क्योंकि लड़कों की मानसिकता ज्यादा खराब होती जा रही है या फिर वह अनएजुकेटेड लोग हो सकते हैं ऐसा हो सकता है कि अगर जो लॉ स्टूडेंट के साथ जो रेप हुआ उसका अनएजुकेटेड मोरिया पर आएगी क्रिकेट हो या फिर उनका कोई दिव्यांशु लेकिन जो हैदराबाद वाला केस हुआ उसमें तो अनएजुकेटेड लोग ही थे जिनको समझ ही नहीं थी कि एजुकेटेड होते तो फिर भी वह एक बार सोच लेते जो ट्रक ड्राइवर होता उसकी मानसिकता यही होती है कि कोई लड़की जा रही है तो यह कुछ भी नहीं है जितना भी हुई है और हमारे देश की अर्थव्यवस्था तो व्यवस्था भी ज्यादा गिर रही है इसको रोकने के लिए सरकार को एक या तो डिपेंड ओं लीगल बना देना चाहिए कि वह कुछ भी लेकर अपने साथ चल सकती है कहीं कोई चैटिंग नहीं होगी क्योंकि सरकार को इसके खिलाफ हाई जोड़ना न कर देना चाहिए जैसे व्हीकल एक्ट भेजो कर दिया है तो एकदम बोले बैलेंस में आ गया और नंबर यह क्यों उनको फांसी की सजा देनी चाहिए और अगर रेप होता है रेप मान के चलो होने के बाद में करार हो जाता है कि दीप हुआ है तो उसके बाद में उनको फांसी की सजा सुना देनी चाहिए या कोर्ट चीज को पब्लिक के हवाले कर देना चाहिए थैंक यू क्वेश्चन को पूछने के लिए धन्यवाद लाइक करें कमेंट करें शेयर करें और वह कल को फॉलो करना ना भूलें

hello everybody tu bahut do isko kya kahein ki matlab ek yah dushkarm wali baat hai jo matlab aaj hamare samaj mein hoti rehti hai aur poore desh ko dehla dene wali baat hai yah aur hamare desh par kalank hi ban gaya hai ki aise ghinouni kaam hote rehte hamare desh mein thodi bahut hi dardanak sthiti hai toh sabse pehle main aapko bata doon question ke poocha kaafi accha question poocha ki rapist jalao aur 13 din gangrape hua goli marakar kya ab ko doshi thahrana uchit ladkiyon ko bilkul doshi thahrana uchit nahi hai aapko bata doon toh abhi ek abhi aapne jo telangana hyderabad vala case suna hoga aur packing 12 matlab jharkhand mein law student ke saath hua jo 12 logo ne gangrape kiya toh india mein bata do har cheh second ke baad kisi na kisi ladki bachi mahila aur ka matlab balatkar ho jata hai hamare desh mein itni giri sthiti aa gayi hai ki na toh is par koi neta action le raha hai na desh ki sarkar action le rahi hai na position action le raha hai toh kya kiya jaaye toh sabse pehle hum ek baat toh ho sakti hai ki ya toh aadmi ki soch badal sakti ho ya phir agar aap ladki ko chusti smajhate hain wahi aap logo ko samjhaya toh zyada behtar hai kyonki ladko ki mansikta zyada kharab hoti ja rahi hai ya phir vaah anaejuketed log ho sakte hain aisa ho sakta hai ki agar jo law student ke saath jo rape hua uska anaejuketed moriya par aayegi cricket ho ya phir unka koi divyanshu lekin jo hyderabad vala case hua usme toh anaejuketed log hi the jinako samajh hi nahi thi ki educated hote toh phir bhi vaah ek baar soch lete jo truck driver hota uski mansikta yahi hoti hai ki koi ladki ja rahi hai toh yah kuch bhi nahi hai jitna bhi hui hai aur hamare desh ki arthavyavastha toh vyavastha bhi zyada gir rahi hai isko rokne ke liye sarkar ko ek ya toh depend on legal bana dena chahiye ki vaah kuch bhi lekar apne saath chal sakti hai kahin koi chatting nahi hogi kyonki sarkar ko iske khilaf high jodna na kar dena chahiye jaise vehicle act bhejo kar diya hai toh ekdam bole balance mein aa gaya aur number yah kyon unko fansi ki saza deni chahiye aur agar rape hota hai rape maan ke chalo hone ke baad mein karar ho jata hai ki deep hua hai toh uske baad mein unko fansi ki saza suna deni chahiye ya court cheez ko public ke hawale kar dena chahiye thank you question ko poochne ke liye dhanyavad like kare comment kare share kare aur vaah kal ko follow karna na bhoolein

हेलो एवरीबॉडी तू बहुत दो इसको क्या कहें कि मतलब एक यह दुष्कर्म वाली बात है जो मतलब आज हमार

Romanized Version
Likes  42  Dislikes    views  620
WhatsApp_icon
user
2:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विकी जैसा कि आज चर्चा का विषय है कि 13 दिन तक जो है गैंगरेप हुआ और 2 गोलियां मार दी गई क्या अभी जो है और लड़की को दोषी ठहराना सही है बीच में चर्चा के विषय में दो प्रश्न है और तू बातें रखी गई है पहली बात तो तेरा दिन तक गैंगरेप और तू बोले हमारे दी गई जो आपने पहला प्रश्न पूछे जी बिल्कुल एक बहुत ही गलत अपराध है इसका उदाहरण दिया है और आप हमें देखना पड़े हैं कि हमारे समाज में आज भी ऐसे लोग रहते हैं आज भी ऐसे दरिंदे रहते हैं जो दिखते इंसान हैं लेकिन उनका जो अंदर की सोच रन के अंदर के लिए संवेदना है महिलाओं के प्रति वह खत्म हो चुकी होती है और उनकी कुछ महिलाओं को लेकर अपनी घटित होती है यदि हम देखेंगे यदि हम उनके बारे में उसे इमेजिन भी करें तब भी मेरे ख्याल से बहुत ही निराशाजनक की जीत होगी दूसरी बड़ी बात उनका महिलाओं को देखने का नजरिया जो है वह बहुत ही गिरा हुआ होता है वह केवल महिलाओं को 1 भोग की वस्तु समझ कर बैठे हुए हैं और उनके मन में महिला को लिए कोई सामान नहीं है महिला की प्रक्रिया देखते हैं उसे हमेशा गलत निगाह से देखते हैं कभी भी सम्मान की नजर से देखते हैं और ऐसे लोगों का हमारे समाज में होना मेरे ख्याल से हमारे ऊपर एक बहुत बड़ी विकास में कहूंगा निराशा ही समाज के लिए दूसरी बड़ी बात इन लोगों के रहते रहते महिलाएं जो है वह सुरक्षित नहीं रह सकती हैं आप बाप ने कहा कि क्या आज में महिलाओं को जो है दोषी ठहराना गलत होगा मैं कहूंगा बिल्कुल गलत है महिलाओं को हर चीज की दूसरी नहीं रह नहीं ठहराया जा सकता हमें पुरुषों के भीतर भी झांक कर देखना पड़ेगा हमें पुरुषों को भी सुधारना पड़ेगा कि यह समाज शुरुआती पुरुष प्रधान समाज कहां है तो दिखते की शुरुआत इमिटेटिव चीट कोड जो है वह महिला के अंदर देखे जाते कि देखिए बाप की लड़की बिगड़ गई थी या वह लड़की थी उसको यह बच्चों ने आजो बीपी कि उसकी भी जो सोच है वह गलत होती है तो समाज में परिवर्तन लाने की अवस्था है पुरुषों को सुधारने क्या होता है और जब तक यह नहीं होगा मैं नहीं मानता कि इस देश में और समाज में महिलाएं जय हो और सुरक्षित रहेंगी क्योंकि हम यहां से डरकर बड़ी-बड़ी बातें बोल सकते हैं बड़ी-बड़ी बातें करते हैं लेकिन जब हम उस महिला की जगह पर खुद को रख कर देखेंगे पीड़िता के जगह पर देखेंगे तब हमें पता चले कि वह दर्द और वह जो निराशा है वह किस प्रकार की होती है धन्यवाद

vicky jaisa ki aaj charcha ka vishay hai ki 13 din tak jo hai gangrape hua aur 2 goliya maar di gayi kya abhi jo hai aur ladki ko doshi thahrana sahi hai beech mein charcha ke vishay mein do prashna hai aur tu batein rakhi gayi hai pehli baat toh tera din tak gangrape aur tu bole hamare di gayi jo aapne pehla prashna pooche ji bilkul ek bahut hi galat apradh hai iska udaharan diya hai aur aap hamein dekhna pade hai ki hamare samaj mein aaj bhi aise log rehte hai aaj bhi aise darinde rehte hai jo dikhte insaan hai lekin unka jo andar ki soch run ke andar ke liye samvedana hai mahilaon ke prati vaah khatam ho chuki hoti hai aur unki kuch mahilaon ko lekar apni ghatit hoti hai yadi hum dekhenge yadi hum unke bare mein use imejin bhi kare tab bhi mere khayal se bahut hi nirashajanak ki jeet hogi dusri baadi baat unka mahilaon ko dekhne ka najariya jo hai vaah bahut hi gira hua hota hai vaah keval mahilaon ko 1 bhog ki vastu samajh kar baithe hue hai aur unke man mein mahila ko liye koi saamaan nahi hai mahila ki prakriya dekhte hai use hamesha galat nigah se dekhte hai kabhi bhi sammaan ki nazar se dekhte hai aur aise logo ka hamare samaj mein hona mere khayal se hamare upar ek bahut baadi vikas mein kahunga nirasha hi samaj ke liye dusri baadi baat in logo ke rehte rehte mahilaye jo hai vaah surakshit nahi reh sakti hai aap baap ne kaha ki kya aaj mein mahilaon ko jo hai doshi thahrana galat hoga main kahunga bilkul galat hai mahilaon ko har cheez ki dusri nahi reh nahi thehraya ja sakta hamein purushon ke bheetar bhi jhank kar dekhna padega hamein purushon ko bhi sudharna padega ki yah samaj shuruati purush pradhan samaj kahaan hai toh dikhte ki shuruat imitetiv cheat code jo hai vaah mahila ke andar dekhe jaate ki dekhiye baap ki ladki bigad gayi thi ya vaah ladki thi usko yah baccho ne ajo BP ki uski bhi jo soch hai vaah galat hoti hai toh samaj mein parivartan lane ki avastha hai purushon ko sudhaarne kya hota hai aur jab tak yah nahi hoga main nahi manata ki is desh mein aur samaj mein mahilaye jai ho aur surakshit rahegi kyonki hum yahan se darker baadi badi batein bol sakte hai baadi badi batein karte hai lekin jab hum us mahila ki jagah par khud ko rakh kar dekhenge pidita ke jagah par dekhenge tab hamein pata chale ki vaah dard aur vaah jo nirasha hai vaah kis prakar ki hoti hai dhanyavad

विकी जैसा कि आज चर्चा का विषय है कि 13 दिन तक जो है गैंगरेप हुआ और 2 गोलियां मार दी गई क्य

Romanized Version
Likes  34  Dislikes    views  691
WhatsApp_icon
user

Vishnu manikpuri

interior design anand wartical

0:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गैंगरेप हुआ है तो इसमें लड़की की कोई गलती नहीं मान सकते हो सकते तेरा दिन तक वाले गैंग रेप हुआ इतनी सारी लड़की गैंगरेप ऐसी बातों से अगर कोई व्यक्ति किसी को दबाव में रखा हुआ है और एक लड़की भला क्या कर सकते हैं उस माहौल में क्या करें तो यह लड़की को दोषी ठहराना उचित नहीं है दोषी तो वही है ना जो गलत है उसी तू वही है ना जो यह घिनौना काम की है तो मैंने सोचा कि लड़की को दूसरी चढ़ाना चाहिए

gangrape hua hai toh isme ladki ki koi galti nahi maan sakte ho sakte tera din tak waale gang rape hua itni saree ladki gangrape aisi baaton se agar koi vyakti kisi ko dabaav mein rakha hua hai aur ek ladki bhala kya kar sakte hain us maahaul mein kya kare toh yah ladki ko doshi thahrana uchit nahi hai doshi toh wahi hai na jo galat hai usi tu wahi hai na jo yah ghinauna kaam ki hai toh maine socha ki ladki ko dusri chadhana chahiye

गैंगरेप हुआ है तो इसमें लड़की की कोई गलती नहीं मान सकते हो सकते तेरा दिन तक वाले गैंग रेप

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  127
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!