अनिल अंबानी मुकेश अंबानी जैसा बनने के लिए क्या करना पड़ेगा?...


user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

1:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे मित्र इस संसार में अनिल अंबानी मुकेश अंबानी टाटा बिरला बिल गेट्स एसी अथाह संपत्ति पंप एवं सुख समृद्धि हर कोई अर्जित करना चाहता है इस संसार में हर आदमी यह चाहता है कि उन जैसा धनवान उन जैसा धन वैभव समृद्धि वाला बने लेकिन मेरे मित्र कभी उनके उनके दोनों को याद करूं जनवरी दिनों में इन लोगों ने कठिन संघर्ष करके या इनके गार्डन स्नेक कठिन संघर्ष करके कितने पत्तियों को छीलकर के पैसा कलेक्शन किया है या धन अर्जुन किया है उन परिस्थितियों में हम लोग धैर्य को भी देते हैं हम लोग यही कमी करते हैं हम भारतीयों में एक बस तेरी कमी है कि हम धन अर्जन करने के लिए शार्ट भेद होते हैं सांसद होते हैं इसी का परिणाम है कि हम मुक्ति घाट का भी खो देते हैं बहुत से भारतीय शक्ति में जुए में इंद्र लगा देते हैं पैसा शेयर मार्केटिंग लगा देते हैं परिणाम स्वरूप सकते हो चुके हो शेयर मार्केटिंग में नब्बे पर्सेंट लोग हार जाते हैं सिर्फ 10 परसेंट भी लोग जीत पाते जो भाग्यशाली होते हैं मुक़द्दर वाले होते हैं यतींद्र कम कर लेते हैं तो मुकेश अंबानी अनिल अंबानी जैसा आपको व्यापारी बुद्धि रखें हार्डली परिश्रम करें पर जारी रखी तो उन जैसा बना जा सकता है लोग बनते भी हैं लेकिन उसके लिए बड़ी हार्डली वर्क चाहिए देहरी चाहिए और व्यापारिक बुद्धि समय का उचित लाभ उठाना भी आना चाहिए

mere mitra is sansar mein anil ambani mukesh ambani tata birala bill gates ac athah sampatti pump evam sukh samridhi har koi arjit karna chahta hai is sansar mein har aadmi yah chahta hai ki un jaisa dhanwan un jaisa dhan vaibhav samridhi vala bane lekin mere mitra kabhi unke unke dono ko yaad karu january dino mein in logo ne kathin sangharsh karke ya inke garden snake kathin sangharsh karke kitne pattiyo ko chilakar ke paisa collection kiya hai ya dhan arjun kiya hai un paristhitiyon mein hum log dhairya ko bhi dete hain hum log yahi kami karte hain hum bharatiyon mein ek bus teri kami hai ki hum dhan arjan karne ke liye shaart bhed hote hain saansad hote hain isi ka parinam hai ki hum mukti ghat ka bhi kho dete hain bahut se bharatiya shakti mein jue mein indra laga dete hain paisa share marketing laga dete hain parinam swaroop sakte ho chuke ho share marketing mein nabbe percent log haar jaate hain sirf 10 percent bhi log jeet paate jo bhagyashali hote hain muqaddar waale hote hain yatindra kam kar lete hain toh mukesh ambani anil ambani jaisa aapko vyapaari buddhi rakhen hardali parishram kare par jaari rakhi toh un jaisa bana ja sakta hai log bante bhi hain lekin uske liye badi hardali work chahiye dehri chahiye aur vyaparik buddhi samay ka uchit labh uthana bhi aana chahiye

मेरे मित्र इस संसार में अनिल अंबानी मुकेश अंबानी टाटा बिरला बिल गेट्स एसी अथाह संपत्ति पंप

Romanized Version
Likes  83  Dislikes    views  1687
WhatsApp_icon
6 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

3:05
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अनिल अंबानी मुकेश अंबानी जैसा बनने के लिए क्या करना पड़ेगा धीरूभाई अंबानी जब आए हुए थे तो अनिल अंबानी और मुकेश अंबानी को बराबर की संपत्ति बागी अनिल अंबानी ने जो इन्वेस्टमेंट किया जो उनकी सोच थी उसकी सत्य और मुकेश अंबानी जो सोचती स्पेशल अब कौन पीछे रह गया कौन आगे बढ़ गया उनकी सोच का ही परिणाम था अब अनिल अंबानी को अगर आगे बढ़ना है तो मुकेश अंबानी की जो सोचे विजन अपनाना पड़ेगा इसके सिवाय अनिल अंबानी मुकेश अंबानी के बराबरी में नहीं आ सकते देखिए होता है और ट्रैक्टर में ट्रैक्टर दूसरा होता है काम करके दिखाना तो तीसरा होता है कि रिजल्ट पाना रिजल्ट ओरिएंटेड कोर्स स्कूल में जो अंबानी फैमिली है वह पीछे रह गया एक आगे बढ़ गया तो मुकेश अंबानी के विचारों के साथ अनिल अंबानी उसी को खोलो ना पाएंगे और आगे बढ़ पाएंगे मुकेश अंबानी ने जो कुछ भी किया कर्तव्य स्ट्रक्चर में लेकिन अनिल अंबानी अंबानी फैमिली आगे बढ़े बहुत बढ़िया दो भाइयों में बंटवारा हुआ एक बार पीछे रह गया 1:00 बजे तो फिर अपने भाई का सहारा लेना चाहिए उसकी सोच का सहारा लेना चाहिए और अपने भाई के साथ गिर जाना चाहिए तभी अंबानी का नाम लेना धन्यवाद

anil ambani mukesh ambani jaisa banne ke liye kya karna padega dheerubhai ambani jab aaye hue the toh anil ambani aur mukesh ambani ko barabar ki sampatti baagi anil ambani ne jo investment kiya jo unki soch thi uski satya aur mukesh ambani jo sochti special ab kaun peeche reh gaya kaun aage badh gaya unki soch ka hi parinam tha ab anil ambani ko agar aage badhana hai toh mukesh ambani ki jo soche vision apnana padega iske shivaay anil ambani mukesh ambani ke barabari mein nahi aa sakte dekhiye hota hai aur tractor mein tractor doosra hota hai kaam karke dikhana toh teesra hota hai ki result paana result oriented course school mein jo ambani family hai vaah peeche reh gaya ek aage badh gaya toh mukesh ambani ke vicharon ke saath anil ambani usi ko kholo na payenge aur aage badh payenge mukesh ambani ne jo kuch bhi kiya kartavya structure mein lekin anil ambani ambani family aage badhe bahut badhiya do bhaiyo mein batwara hua ek baar peeche reh gaya 1 00 baje toh phir apne bhai ka sahara lena chahiye uski soch ka sahara lena chahiye aur apne bhai ke saath gir jana chahiye tabhi ambani ka naam lena dhanyavad

अनिल अंबानी मुकेश अंबानी जैसा बनने के लिए क्या करना पड़ेगा धीरूभाई अंबानी जब आए हुए थे तो

Romanized Version
Likes  57  Dislikes    views  1144
WhatsApp_icon
user

Nikhil Ranjan

HoD - NIELIT

1:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐसा क्या करें कि अनिल अंबानी मुकेश अंबानी जैसा बनने के लिए क्या करेगा तो यहां बेसिक लगता है बहुत अमीर बनना चाहते हैं तो देखें मेहनत करने से ही कामयाबी मिलती है कितना कि कष्ट देने से ही कृष्ण प्राप्त होते हैं तो यहां पर आपको भी थोड़ा कष्ट करने पड़ेंगे मेहनत करनी पड़ेगी तभी आपको सफलता मिलेगी आतंक मिलती है वह भी देखने वाली बात है आपने जैसे यहां पर मुकेश अंबानी का जिक्र किया मुकेश अंबानी जी को एक बना बनाया एंपायर धीरूभाई अंबानी की तरफ से मिला और उन्होंने उस को कई गुना बढ़ा या उसको बहुत आगे तक ले कर गए बहुत अच्छे से काम किया बहुत आगे बढ़ाया और दूसरी जगह उनके भाई जो छोटे भाई मुकेश अंबानी के छोटे भाई अनिल अंबानी उन्होंने उसे अंपायर कर जो उनको हिस्से आया उन्होंने उस को डुबो दिया तो आज की डेट में वह कर्ज में डूबे हुए हैं नील अंबानी और मुकेश अंबानी देश के सबसे ज्यादा रिचार्ज प्रश्न बन चुके हैं तो यह चीजें भी होती हैं कि आपको कई बार बना बनाया सेटअप भी मिलता है लेकिन अगर आप में काबिलियत नहीं है तो आप उसको बिजनेस को चला भी नहीं सकते संभाल भी नहीं सकते यह आपको सीखना पड़ता है किस तरह से मेहनत करी जाती है किस तरह से टेक्निक्स लगाई जाती हैं आपके जैसे बिजनेस किया जाता है और अपने आप सही डिवेलप होती तो आपने जिस प्रश्न किया है कि क्या करना पड़ेगा तो सबसे पहले तो आप मेहनत करना स्टार्ट कर दीजिए कोई अपना अच्छा सा बिजनेस प्लान बनाइए बिजनेस मॉडल बनाइए और उस काम में जुट जाइए निश्चित रूप से आपको सफलता मिलेगी मैं शुभकामनाएं आपके साथ हैं धन्यवाद

aisa kya kare ki anil ambani mukesh ambani jaisa banne ke liye kya karega toh yahan basic lagta hai bahut amir bana chahte hain toh dekhen mehnat karne se hi kamyabi milti hai kitna ki kasht dene se hi krishna prapt hote hain toh yahan par aapko bhi thoda kasht karne padenge mehnat karni padegi tabhi aapko safalta milegi aatank milti hai vaah bhi dekhne wali baat hai aapne jaise yahan par mukesh ambani ka jikarr kiya mukesh ambani ji ko ek bana banaya Empire dheerubhai ambani ki taraf se mila aur unhone us ko kai guna badha ya usko bahut aage tak le kar gaye bahut acche se kaam kiya bahut aage badhaya aur dusri jagah unke bhai jo chote bhai mukesh ambani ke chote bhai anil ambani unhone use umpire kar jo unko hisse aaya unhone us ko dubo diya toh aaj ki date mein vaah karj mein doobe hue hain neel ambani aur mukesh ambani desh ke sabse zyada recharge prashna ban chuke hain toh yah cheezen bhi hoti hain ki aapko kai baar bana banaya setup bhi milta hai lekin agar aap mein kabiliyat nahi hai toh aap usko business ko chala bhi nahi sakte sambhaal bhi nahi sakte yah aapko sikhna padta hai kis tarah se mehnat kari jaati hai kis tarah se techniques lagayi jaati hain aapke jaise business kiya jata hai aur apne aap sahi develop hoti toh aapne jis prashna kiya hai ki kya karna padega toh sabse pehle toh aap mehnat karna start kar dijiye koi apna accha sa business plan banaiye business model banaiye aur us kaam mein jut jaiye nishchit roop se aapko safalta milegi main subhkamnaayain aapke saath hain dhanyavad

ऐसा क्या करें कि अनिल अंबानी मुकेश अंबानी जैसा बनने के लिए क्या करेगा तो यहां बेसिक लगता ह

Romanized Version
Likes  498  Dislikes    views  5629
WhatsApp_icon
user

Devi me

Gra n iki

0:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

धीरज धोरी और सफलतापूर्वक काम करने की प्रेरणा आप मन में ठान दीजिए हमको यह काम करना है मुझे ऐसा बनना है वैसा बनना है तो आपको कोई भी नहीं रोक सकता है आप अपनी समझदारी से अपना काम कीजिए और दूसरों की बातों में ना सुने सबका लेकिन करिए अपनी मर्जी से जय महाराज जी की धन्यवाद

dheeraj dhori aur safaltaapurvak kaam karne ki prerna aap man mein than dijiye hamko yah kaam karna hai mujhe aisa banna hai waisa banna hai toh aapko koi bhi nahi rok sakta hai aap apni samajhdari se apna kaam kijiye aur dusro ki baaton mein na sune sabka lekin kariye apni marji se jai maharaj ji ki dhanyavad

धीरज धोरी और सफलतापूर्वक काम करने की प्रेरणा आप मन में ठान दीजिए हमको यह काम करना है मुझे

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  488
WhatsApp_icon
user
1:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अनिल अंबानी मुकेश अंबानी जैसे बनने के लिए पहले तो भाग्य भी जरूरी है बिना भाग्य के नाम अनिल अंबानी बन सकते हैं ना मुकेश अंबानी बन सकते हैं और इसी प्रकार एक श्रेष्ठ पिता की भी आवश्यकता रहती है जैसे धीरु अंबानी जैसे व्यक्ति ने इन बच्चों को मार्गदर्शन प्रदर्शित किया है और उन्हें ऊंचाइयों पर पहुंचने के रास्ते बताया हमने सपने दिखाए तो जाकर उन्हें को प्राप्त कर सकें रही बात हमारे उनके भाग्य में तो जमीन आसमान का अंतर है उनको हिरासत में इतने अधिक पर्ची मिली है कि उन्हें वह जो बना कर सकें हमें जीरो से हमारी बात हुई है हम एक नीचे चल रहे हैं और हमारी सोच होती है हम अपने जीवन यापन जी पाते हैं या हमारे जीवन यापन के ही बारे में सोचते हैं और यह लोगों के सपने बड़े रहते हैं ख्वाब भी बड़े रहते हैं और सोच बड़ी होती है और उसके अनुरूप अपने कार्य की श्रेष्ठता जाने को करते हैं इसलिए अनिल अंबानी और मुकेश अंबानी जैसे बनने के लिए बड़े पापड़ बेलने पड़ेंगे बड़े पैदा करना पड़ेगा तब जाकर हम उनकी ऊंचाइयों को तो ठीक है उनके पैरों की धूल तक हम तभी बन पाएंगे इसलिए अनिल अनिल अंबानी मुकेश अंबानी के बारे में ज्यादा न सोचें अपना जीवन यापन कुलश्रेष्ठ बनाने का प्रयत्न करें तो ज्यादा बेहतर है क्योंकि उसमें से कुछ होना तो नामुमकिन सा है बहुत ही किस्मत वाले हैं या दृढ़ निश्चय ही व्यक्ति ही उनके बच्चे को सकते हैं धन्यवाद

anil ambani mukesh ambani jaise banne ke liye pehle toh bhagya bhi zaroori hai bina bhagya ke naam anil ambani ban sakte hain na mukesh ambani ban sakte hain aur isi prakar ek shreshtha pita ki bhi avashyakta rehti hai jaise dhiru ambani jaise vyakti ne in baccho ko margdarshan pradarshit kiya hai aur unhe unchaiyon par pahuchne ke raste bataya humne sapne dekhiye toh jaakar unhe ko prapt kar sake rahi baat hamare unke bhagya mein toh jameen aasman ka antar hai unko hirasat mein itne adhik parchi mili hai ki unhe vaah jo bana kar sake hamein zero se hamari baat hui hai hum ek niche chal rahe hain aur hamari soch hoti hai hum apne jeevan yaapan ji paate hain ya hamare jeevan yaapan ke hi bare mein sochte hain aur yah logo ke sapne bade rehte hain khwaab bhi bade rehte hain aur soch badi hoti hai aur uske anurup apne karya ki shreshthata jaane ko karte hain isliye anil ambani aur mukesh ambani jaise banne ke liye bade papad belne padenge bade paida karna padega tab jaakar hum unki unchaiyon ko toh theek hai unke pairon ki dhul tak hum tabhi ban payenge isliye anil anil ambani mukesh ambani ke bare mein zyada na sochen apna jeevan yaapan kulashreshth banane ka prayatn kare toh zyada behtar hai kyonki usme se kuch hona toh namumkin sa hai bahut hi kismat waale hain ya dridh nishchay hi vyakti hi unke bacche ko sakte hain dhanyavad

अनिल अंबानी मुकेश अंबानी जैसे बनने के लिए पहले तो भाग्य भी जरूरी है बिना भाग्य के नाम अनिल

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  223
WhatsApp_icon
user

santosh kumar jain

Motivational Speaker

0:57
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर आप यह पूछते कि मैं धीरूभाई अंबानी कैसे बन सकता हूं तो उन्होंने पूरी मेहनत की है जीवन के संघर्षों में लड़े हैं

agar aap yah poochhte ki main dheerubhai ambani kaise ban sakta hoon toh unhone puri mehnat ki hai jeevan ke sangharshon mein lade hain

अगर आप यह पूछते कि मैं धीरूभाई अंबानी कैसे बन सकता हूं तो उन्होंने पूरी मेहनत की है जीवन क

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  188
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!