परीक्षा फोबिया से बचने के लिए क्या उपाय किए जाएं?...


user

Vinod Kumar Pandey

Life Coach | Career Counsellor ::Relationship Counsellor :: Parenting Counsellor

3:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अपने प्रश्न किया कि परीक्षा को भी ऐसे बचने के लिए क्या उपाय किए जाएं परीक्षा हो गया से बचने के लिए बहुत जरूरी है कि जब आप परीक्षा के लिए जाएं तो आप अपने रिजल्ट को लेकर के अपने एग्जाम को लेकर के किसी भी प्रकार का कोई नकारात्मक विचार ना रखें ध्यान रखेंगे हमारे जीवन में किसी प्रकार का भी जो डर है या फोबिया है सिर्फ इसी वजह से आता है जब हम तो कार्य कर रहे हो तुम सब कुछ ना कुछ उसमें गलत सोचते हैं या गलत होने की आशंका करते हैं इसलिए हमारे अंदर उस चीज को लेकर केडरा जाता है ध्यान रखेंगे जब आप अपने अंदर किसी भी चीज को लेकर के बहुत डर बैठा रहेंगे या उसमें गलत सोचते रहेंगे तो उस कार्य में गलत होने का चांस बढ़ जाता है क्योंकि हमारे ब्रेन में सबकॉन्शियस माइंड होता है सबकॉन्शियस माइंड एनालाइज नहीं कर पाता कि जो आप उसको कह रहे हो वह सही है कि गलत है तो जिस प्रकार की धारणा जिस प्रकार के विचार जिस प्रकार का विश्वास आप अपने सबकॉन्शियस माइंड में बार-बार डालेंगे वह उसी हिसाब से कार्य करता है और उसी प्रकार की चीजें हमारे डे टुडे लाइफ में होती हैं इसीलिए इसको देख सकते हैं आप जैसे अगर आपको कहीं यह महसूस होने लगे कि आप की मेमोरी कम हो गई है कि आपकी याददाश्त कमजोर हो गई है तो आप वास्तव में बहुत सारी चीजें भूलने लगते हो इसीलिए यह बहुत जरूरी है कि आप अपने विश्वास अपने सबकॉन्शियस माइंड में जो विश्वास अपना डाली या जो भी अपना विश्व अपने जीवन की धारणा बनाई है वह बहुत सोच समझकर बनाई है कि जितना ही अच्छी धारणा रहेगी जितना ही आपका विश्वास रहेगा उसी प्रकार का आपका मस्तिष्क व्यवहार करता है उसी प्रकार का वह कार्य करता है इसीलिए ध्यान रखेंगे कि सबकॉन्शियस माइंड में सही और गलत की पहचान नहीं कर पाता वह अगर आपने कुछ नकारात्मक विचार या नकारात्मक कल्पना भी अपने मस्तिष्क में डालेंगे तो उसी प्रकार की चीजें करेगा उसी प्रकार का व्यवहार करेगा और अगर उस बहुत अच्छी सकारात्मक सोच डालेंगे और बहुत सकारात्मक दृष्टिकोण डालेंगे तो उसी प्रकार का व्यवहार करेगा इसीलिए बहुत जरूरी है कि जवाब परीक्षा में जाएं या परीक्षा की तैयारी कर रहे हो तो किसी भी प्रकार की कोई नकारात्मक सोच ना रखिए ना ही किसी प्रकार के अपने जीवन में आशंका ऐसी व्यक्त करिए कि कुछ गलत हो जाएगा इस तरीके से अगर आप एग्जाम देने जा नहीं तो बिल्कुल ही आपको किसी भी प्रकार का कोई फोबिया नहीं होगा क्योंकि जब हम एक बार किसी चीज से डरने लगती है कुछ ना कुछ ऐसा सोचते हैं कि गलत होगा तो और कई सारी चीजें ऐसी दिखाई पड़ती है होने लगती हमारे साथ फिर उससे हमारा डर और बढ़ जाता है इसलिए बहुत जरूरी है कि जैसे ही किसी प्रकार का कोई नकारात्मक विचार आया कुछ ऐसी आशंका या कुछ डर सा कुछ लगे तो उस बात को बिल्कुल ही वहां रोक करके उस थॉट को बिल्कुल वहां रुक कर के कुछ अच्छे थॉट जरूरत और ऐसा विश्वास रखिए कि मैंने अच्छी मेहनत की है तो मेरा रिजल्ट अच्छा होगा मेरा पेपर अच्छा होगा मेरा एग्जाम भी बहुत अच्छा होगा जब यह सकारात्मक विचार आपके सबकॉन्शियस माइंड में बैठेंगे और आइए आपका अपने पर विश्वास होगा तो अपने आप आप देखेंगे पेपर बहुत अच्छा हो रहा है और पेपर अच्छा होगा तब परिणाम भी बहुत अच्छा आएगा इसलिए बहुत जरूरी है कि अपने फोटो अपने विश्वास को बहुत सोच समझकर किए बनाएं मेरी शुभकामनाएं आपके साथ धन्यवाद

apne prashna kiya ki pariksha ko bhi aise bachne ke liye kya upay kiye jayen pariksha ho gaya se bachne ke liye bahut zaroori hai ki jab aap pariksha ke liye jayen toh aap apne result ko lekar ke apne exam ko lekar ke kisi bhi prakar ka koi nakaratmak vichar na rakhen dhyan rakhenge hamare jeevan mein kisi prakar ka bhi jo dar hai ya phobia hai sirf isi wajah se aata hai jab hum toh karya kar rahe ho tum sab kuch na kuch usme galat sochte hain ya galat hone ki ashanka karte hain isliye hamare andar us cheez ko lekar kedra jata hai dhyan rakhenge jab aap apne andar kisi bhi cheez ko lekar ke bahut dar baitha rahenge ya usme galat sochte rahenge toh us karya mein galat hone ka chance badh jata hai kyonki hamare brain mein subconscious mind hota hai subconscious mind analyse nahi kar pata ki jo aap usko keh rahe ho vaah sahi hai ki galat hai toh jis prakar ki dharana jis prakar ke vichar jis prakar ka vishwas aap apne subconscious mind mein baar baar daalenge vaah usi hisab se karya karta hai aur usi prakar ki cheezen hamare day today life mein hoti hain isliye isko dekh sakte hain aap jaise agar aapko kahin yah mehsus hone lage ki aap ki memory kam ho gayi hai ki aapki yadadasht kamjor ho gayi hai toh aap vaastav mein bahut saree cheezen bhulne lagte ho isliye yah bahut zaroori hai ki aap apne vishwas apne subconscious mind mein jo vishwas apna dali ya jo bhi apna vishwa apne jeevan ki dharana banai hai vaah bahut soch samajhkar banai hai ki jitna hi achi dharana rahegi jitna hi aapka vishwas rahega usi prakar ka aapka mastishk vyavhar karta hai usi prakar ka vaah karya karta hai isliye dhyan rakhenge ki subconscious mind mein sahi aur galat ki pehchaan nahi kar pata vaah agar aapne kuch nakaratmak vichar ya nakaratmak kalpana bhi apne mastishk mein daalenge toh usi prakar ki cheezen karega usi prakar ka vyavhar karega aur agar us bahut achi sakaratmak soch daalenge aur bahut sakaratmak drishtikon daalenge toh usi prakar ka vyavhar karega isliye bahut zaroori hai ki jawab pariksha mein jayen ya pariksha ki taiyari kar rahe ho toh kisi bhi prakar ki koi nakaratmak soch na rakhiye na hi kisi prakar ke apne jeevan mein ashanka aisi vyakt kariye ki kuch galat ho jaega is tarike se agar aap exam dene ja nahi toh bilkul hi aapko kisi bhi prakar ka koi phobia nahi hoga kyonki jab hum ek baar kisi cheez se darane lagti hai kuch na kuch aisa sochte hain ki galat hoga toh aur kai saree cheezen aisi dikhai padti hai hone lagti hamare saath phir usse hamara dar aur badh jata hai isliye bahut zaroori hai ki jaise hi kisi prakar ka koi nakaratmak vichar aaya kuch aisi ashanka ya kuch dar sa kuch lage toh us baat ko bilkul hi wahan rok karke us thought ko bilkul wahan ruk kar ke kuch acche thought zarurat aur aisa vishwas rakhiye ki maine achi mehnat ki hai toh mera result accha hoga mera paper accha hoga mera exam bhi bahut accha hoga jab yah sakaratmak vichar aapke subconscious mind mein baitheange aur aaiye aapka apne par vishwas hoga toh apne aap aap dekhenge paper bahut accha ho raha hai aur paper accha hoga tab parinam bhi bahut accha aayega isliye bahut zaroori hai ki apne photo apne vishwas ko bahut soch samajhkar kiye banaye meri subhkamnaayain aapke saath dhanyavad

अपने प्रश्न किया कि परीक्षा को भी ऐसे बचने के लिए क्या उपाय किए जाएं परीक्षा हो गया से बचन

Romanized Version
Likes  54  Dislikes    views  607
KooApp_icon
WhatsApp_icon
7 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!