एक आदर्श समाज की परिभाषा आपके अनुसार क्या है?...


play
user

Ambuj Singh

Media Professional

2:00

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिल्ला आदर्श जो समाज है उसके लिए जरूरी है कि क्वालिटी हो और खासकर व्यक्ति भी हो क्योंकि आज के जमाने में तो व्यक्ति का फीता पार्टी है और आप को साथ लेकर चलना होगा क्योंकि जिंदगी नहीं है तो फिर समाज में स्थिरता और शांति लाना काफी मुश्किल होगा वहां तो इन चीजों की राजनीति है इन चीजों से ऊपर उठकर देखना होगा तो ही आप एक आदर्श समाज की कल्पना कर सकते हैं कि इन सेकुलरिज्म नहीं है और क्वालिटी नहीं है तो फिर बहुत मुश्किल है किसी भी सोसाइटी को आज का दर्शन होने में इसलिए अगर आप चाहते हैं कि आप एक आदर्श समाज की कल्पना करें या निर्माण हो उसके लिए जरूरी है और खासकर लव यू जस्टिस सिस्टम है उसे बहुत बैलेंस होना होगा कि पार्टी नहीं होनी चाहिए तू ही आप सभी के बीच शान स्टैंडिंग अच्छी होगी क्योंकि सभी गदर उड़ के साथ रहेंगे और जूही पोलिटिकल पार्टीज इन को थोड़ा सा मॉडल ग्राउंड पर खुद में झांकना होगा कि बस जीतने के लिए हुए लोगों के मौसम से ना करें क्योंकि ऐसा भी चीज से ऊपर एक मानवता का रिश्ता होता है उसको देखकर वह काम करें हार जीत तो ठीक है वह जरूरी है इलेक्शन होते हैं तो उसमें हारना जीतना तो लगा ही रहता है पर इसके लिए अपने जमीर से समझौता ना करें मीठी अंततोगत्वा सब लोग इंसान हैं और इंसान की इंसानियत के लिए जात पात का धर्म और अपने तरीके से ऊपर उठ जाएंगे तो फिर एक आदर्श समाज की कल्पना बिल्कुल हो सकती है

billa adarsh jo samaj hai uske liye zaroori hai ki quality ho aur khaskar vyakti bhi ho kyonki aaj ke jamane mein toh vyakti ka fita party hai aur aap ko saath lekar chalna hoga kyonki zindagi nahi hai toh phir samaj mein sthirta aur shanti lana kaafi mushkil hoga wahan toh in chijon ki raajneeti hai in chijon se upar uthakar dekhna hoga toh hi aap ek adarsh samaj ki kalpana kar sakte hain ki in secularism nahi hai aur quality nahi hai toh phir bahut mushkil hai kisi bhi society ko aaj ka darshan hone mein isliye agar aap chahte hain ki aap ek adarsh samaj ki kalpana kare ya nirmaan ho uske liye zaroori hai aur khaskar love you justice system hai use bahut balance hona hoga ki party nahi honi chahiye tu hi aap sabhi ke beech shan standing achi hogi kyonki sabhi gadar ud ke saath rahenge aur juhi political parties in ko thoda sa model ground par khud mein jhankana hoga ki bus jitne ke liye hue logo ke mausam se na kare kyonki aisa bhi cheez se upar ek manavta ka rishta hota hai usko dekhkar vaah kaam kare haar jeet toh theek hai vaah zaroori hai election hote hain toh usme harana jeetna toh laga hi rehta hai par iske liye apne jamir se samjhauta na kare mithi antatogatwa sab log insaan hain aur insaan ki insaniyat ke liye jaat pat ka dharm aur apne tarike se upar uth jaenge toh phir ek adarsh samaj ki kalpana bilkul ho sakti hai

बिल्ला आदर्श जो समाज है उसके लिए जरूरी है कि क्वालिटी हो और खासकर व्यक्ति भी हो क्योंकि आज

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  110
KooApp_icon
WhatsApp_icon
2 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!