आधुनिक राज्य में नागरिकों को प्राप्त नागरिक अधिकार?...


user

Ashok Bajpai

Rtd. Additional Collector P.C.S. Adhikari

1:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न आधुनिक राज्य में नागरिकों को प्राप्त नागरिक अधिकार लोकतांत्रिक देश में नागरिकों को मूलभूत अधिकार मिले हुए हैं भारत के संविधान में भी नागरिकों को मूलभूत अधिकार मिलेगा रोते हैं स्वतंत्रता का अधिकार आपका जीवन जो है उस पर किसी प्रकार का अपनी जिंदगी पर प्रतिबंध नहीं लगाया जा सकता व्यवसाय का अधिकार आप भारत में कहीं पर किसी प्रकार का व्यवसाय कर सकते हैं संपत्ति का अधिकार आप अपनी संपत्ति किसी हद तक कानूनी रूप से लगाए गए करो को छुपा कर रख सकते हैं बोलने का अधिकार आपको भूलने की पूरी स्वतंत्रता होगी जब तक कि वह दूसरे नागरिक को हर्ट न करें नेक्स्ट अधिकार है जीवित रहने का अधिकार आप की प्राण किसी दशा में राज्य द्वारा नहीं लिए जा सकते जब तक कि आपको कोई अदालत स्थिति दंडित न करें समता का अधिकार राज्य का प्रत्येक नागरिक जो है राज्य के लिए बराबरी का दर्जा रखता है चाहे उसका कोई भी लिंग हो कोई भी जाती हूं कोई भी धर्म हो धार्मिक स्वतंत्रता का अधिकार राज्य भारत का राज्य जो धर्मनिरपेक्ष राज्य है राष्ट्र है सभी धर्मों को स्वतंत्रता का कार्य सभी धर्म अपनी विश्वास के अनुसार अपने अपने धर्मों का धार्मिक रिवाजों का पालन कर सकते हैं

aapka prashna aadhunik rajya me nagriko ko prapt nagarik adhikaar loktantrik desh me nagriko ko mulbhut adhikaar mile hue hain bharat ke samvidhan me bhi nagriko ko mulbhut adhikaar milega rote hain swatantrata ka adhikaar aapka jeevan jo hai us par kisi prakar ka apni zindagi par pratibandh nahi lagaya ja sakta vyavasaya ka adhikaar aap bharat me kahin par kisi prakar ka vyavasaya kar sakte hain sampatti ka adhikaar aap apni sampatti kisi had tak kanooni roop se lagaye gaye karo ko chupa kar rakh sakte hain bolne ka adhikaar aapko bhulne ki puri swatantrata hogi jab tak ki vaah dusre nagarik ko heart na kare next adhikaar hai jeevit rehne ka adhikaar aap ki praan kisi dasha me rajya dwara nahi liye ja sakte jab tak ki aapko koi adalat sthiti dandit na kare samata ka adhikaar rajya ka pratyek nagarik jo hai rajya ke liye barabari ka darja rakhta hai chahen uska koi bhi ling ho koi bhi jaati hoon koi bhi dharm ho dharmik swatantrata ka adhikaar rajya bharat ka rajya jo dharmanirapeksh rajya hai rashtra hai sabhi dharmon ko swatantrata ka karya sabhi dharm apni vishwas ke anusaar apne apne dharmon ka dharmik rivajon ka palan kar sakte hain

आपका प्रश्न आधुनिक राज्य में नागरिकों को प्राप्त नागरिक अधिकार लोकतांत्रिक देश में नागरिको

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  264
KooApp_icon
WhatsApp_icon
2 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!