UPSC में पहले जीएस करना अच्छा रहता है या पहले ऑप्शनल?...


user

Prateek

Engineer, IAS Aspirant

1:03
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐसा कोई कुछ तरीका नहीं है यह आपकी सहूलियत के ऊपर है कि आप क्या करना चाहते हो जनरल मैं बताना आमतौर पर लोग पहले जीएस कंप्लीट करते और दिए जब कंप्लीट होने वाला होता है उसी के बीच में ही अपना ऑप्शन शुरू कर देते हैं हिसाब से कीजिए सर ऑप्शन दोनों साथ-साथ खत्म हो लास्ट में की तैयारी करते हैं जैसे मैंने भी जब मैंने तो हालांकि बाद में किया था कि मैंने जब खत्म हो गया उसके बाद ऑप्शन शुरू किया था लेकिन मैंने देखा था मेरे जितने भी शातिर जितने फ्रेंड सहयोग कर रहे थे उन्होंने क्या किया था जैसे खत्म होने लगा तलाश में 3 महीने 4 महीने बच्चे तभी तो कर देता मैंने पढ़ाई करना शुरू कर रहे होते एक नए तरीके से उसको इन्वॉल्व हो रहे होते हैं जरा पढ़ रहे होते फिर बाद में आपको इतनी हैबिट नहीं होती कि सब के सब एक साथ लगी जल्दी डाल दो महीने हो जाती उसकी पढ़ाई करने की उस लड़के अंडरस्टैंडिंग बन जाती है उसके बारे में ऑप्शन करते हो साथ तो आप कहीं ना कहीं उस पर आसपुर कर पाओगे और एक बार में ही उसको समझ पाओगे उसको आगे

aisa koi kuch tarika nahi hai yah aapki sahuliyat ke upar hai ki aap kya karna chahte ho general main batana aamtaur par log pehle GS complete karte aur diye jab complete hone vala hota hai usi ke beech me hi apna option shuru kar dete hain hisab se kijiye sir option dono saath saath khatam ho last me ki taiyari karte hain jaise maine bhi jab maine toh halaki baad me kiya tha ki maine jab khatam ho gaya uske baad option shuru kiya tha lekin maine dekha tha mere jitne bhi shatir jitne friend sahyog kar rahe the unhone kya kiya tha jaise khatam hone laga talash me 3 mahine 4 mahine bacche tabhi toh kar deta maine padhai karna shuru kar rahe hote ek naye tarike se usko involve ho rahe hote hain zara padh rahe hote phir baad me aapko itni habit nahi hoti ki sab ke sab ek saath lagi jaldi daal do mahine ho jaati uski padhai karne ki us ladke understanding ban jaati hai uske bare me option karte ho saath toh aap kahin na kahin us par aaspur kar paoge aur ek baar me hi usko samajh paoge usko aage

ऐसा कोई कुछ तरीका नहीं है यह आपकी सहूलियत के ऊपर है कि आप क्या करना चाहते हो जनरल मैं बतान

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  116
KooApp_icon
WhatsApp_icon
30 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!