अक्षांश और देशांतर रेखाओं में डेफिनेशन और मुख्य बिंदु?...


play
user
3:59

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रिय दोस्त जैसा कि आपने बात किया है कि अक्षांश और देशांतर रेखाओं की डेफिनिशन के बारे में और उस में क्या अंतर होता है मैं आपको बता रहा हूं आपने जैसे कि बात क्या देशांतर तू उत्तरी ध्रुव और दक्षिणी ध्रुव पृथ्वी के दो आधार बिंदु हैं उत्तरी ध्रुव और दक्षिणी ध्रुव एक गुरु से दूसरी ध्रुव को मिलाने वाली काल्पनिक रेखाएं देशांतर रेखाएं कहलाती दक्षिणी ध्रुव से उत्तरी ध्रुव को मिलाने वाली काल्पनिक रेखाएं हैं वह देशांतर रेखाएं कहलाती हैं काल्पनिक इनको इसलिए बोला जाता है क्योंकि पृथ्वी पर वास्तविक रूप में नहीं है यह केवल ब्लॉग पर कल्पना कल्पना के रूप में माना गया है ठीक है और अक्षांश रेखाएं क्या होती हैं इसके बारे में हम लोग जानते हैं कि ग्रुप पर खींची गई समांतर समानांतर पाठ एवं हेत्तिच काल्पनिक रेखाओं को अक्षांश रेखाएं कहते हैं ब्लॉग पर खींची गई समानांतर एवं पद्य क्षेत्र रेखाओं को हम लोग अक्षांश रेखाएं कहते हैं उनके डिप्रेशन और मुख्य बिंदु के घर आपने बात की तो मैं आपको बता दे रहा हूं कि जो देशांतर रेखाएं होती हैं जो देशांतर रेखाएं होती हैं उनकी संख्या 360 होती है और जो अक्षांश रेखाएं होती हैं उनकी संख्या 180 होती है देशांतर रेखाओं में जो एक मीन देखा है उसको बोलते हैं ग्रीनविच रेखा 180ns पूर्वी देशांतर तक पूर्वी गुलाब एवं 180 पश्चिमी देशांतर तक पश्चिमी गोलार्ध कहलाता है इसका मतलब कि ग्रीनविच को बात को समझिए जो ग्रीनविच रेखा जो होती है उसके 180s पूरी देशांतर तक घर बीच में हो जाएगा उसके 180 अंश तक पूर्वी देशांतर में जो होता है वह पूर्वी गोलार्ध कहा जाता है और ग्रीनविच रेखा के 180 अंस पश्चिमी देशांतर उसको पश्चिमी गोलार्ध बोला जाता है एक अंश देशांतर की दूरी तय करने में पृथ्वी को 4 मिनट का समय लगता है और 15 अंश देशांतर पर 1 घंटे का समय आता है ठीक है एक और बात की जाए कि जो अंतर्राष्ट्रीय तिथि रेखा होती है उसका जो महान होता है जीरो अंश देशांतर होता है यह ग्रीनविच रेखा ज्योति है यह वेधशाला जो कि लंदन के निकट है वहां से यह रेखा गुजरती है इसी से हाथ देश का समय का निर्धारण किया जाता है और अगर हम बात करें अक्षांश रेखाओं के कुछ मुख्य बिंदुओं की तो मुख्यतः तीन अक्षांश रेखाएं महत्वपूर्ण होती हैं जिसमें है यह आपका उत्तरी गोलार्ध इसको बोलते हैं या कर्क रेखा ठीक है कर्क रेखा 23:30 मकर रेखा 23:30 अंटार्कटिक वृत्त 6:30 अंटार्कटिक वृत्त अधीक्षक और एक भूमध्य रेखा होती है जो जीरो होती है और एक अंश अंश अंश के बीच में जो दूरी होती है वह 111 किलोमीटर होती है आपको पसंद आएगा धन्यवाद सर

priya dost jaisa ki aapne baat kiya hai ki akshansh aur deshantar rekhaon ki definition ke bare mein aur us mein kya antar hota hai aapko bata raha hoon aapne jaise ki baat kya deshantar tu uttari dhruv aur dakshini dhruv prithvi ke do aadhaar bindu hain uttari dhruv aur dakshini dhruv ek guru se dusri dhruv ko milaane wali kalpnik rekhayen deshantar rekhayen kahalati dakshini dhruv se uttari dhruv ko milaane wali kalpnik rekhayen hain vaah deshantar rekhayen kahalati hain kalpnik inko isliye bola jata hai kyonki prithvi par vastavik roop mein nahi hai yah keval blog par kalpana kalpana ke roop mein mana gaya hai theek hai aur akshansh rekhayen kya hoti hain iske bare mein hum log jante hain ki group par khinchi gayi samantar samanantar path evam hettich kalpnik rekhaon ko akshansh rekhayen kehte hain blog par khinchi gayi samanantar evam padya kshetra rekhaon ko hum log akshansh rekhayen kehte hain unke depression aur mukhya bindu ke ghar aapne baat ki toh main aapko bata de raha hoon ki jo deshantar rekhayen hoti hain jo deshantar rekhayen hoti hain unki sankhya 360 hoti hai aur jo akshansh rekhayen hoti hain unki sankhya 180 hoti hai deshantar rekhaon mein jo ek meen dekha hai usko bolte hain greenwich rekha 180ns purvi deshantar tak purvi gulab evam 180 pashchimi deshantar tak pashchimi golardh kehlata hai iska matlab ki greenwich ko baat ko samjhiye jo greenwich rekha jo hoti hai uske 180s puri deshantar tak ghar beech mein ho jaega uske 180 ansh tak purvi deshantar mein jo hota hai vaah purvi golardh kaha jata hai aur greenwich rekha ke 180 ans pashchimi deshantar usko pashchimi golardh bola jata hai ek ansh deshantar ki doori tay karne mein prithvi ko 4 minute ka samay lagta hai aur 15 ansh deshantar par 1 ghante ka samay aata hai theek hai ek aur baat ki jaaye ki jo antarrashtriya tithi rekha hoti hai uska jo mahaan hota hai zero ansh deshantar hota hai yah greenwich rekha jyoti hai yah vedhshala jo ki london ke nikat hai wahan se yah rekha gujarati hai isi se hath desh ka samay ka nirdharan kiya jata hai aur agar hum baat kare akshansh rekhaon ke kuch mukhya binduon ki toh mukhyata teen akshansh rekhayen mahatvapurna hoti hain jisme hai yah aapka uttari golardh isko bolte hain ya kark rekha theek hai kark rekha 23 30 makar rekha 23 30 antarctica vritt 6 30 antarctica vritt adhikshak aur ek bhumadhya rekha hoti hai jo zero hoti hai aur ek ansh ansh ansh ke beech mein jo doori hoti hai vaah 111 kilometre hoti hai aapko pasand aayega dhanyavad sir

प्रिय दोस्त जैसा कि आपने बात किया है कि अक्षांश और देशांतर रेखाओं की डेफिनिशन के बारे में

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  266
KooApp_icon
WhatsApp_icon
2 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!