हम लोग सोते हैं तो आराम महसूस क्यों होता है?...


user

Akash Mishra

Yoga Expert | Author | Naturopathist | Acupressure Specialist |

1:06
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न हम लोग सोते हैं तो आराम महसूस क्यों होता है पूरे दिन के और कुछ मोमिन की थकावट आई होती है कार्य को अभी करने के बाद में जो उन्हें थकान और उनमें है सरकार छेड़ता जाती है उसको करने के बाद में जब हम जब हम आराम करते हैं नींद नींद लेते हैं सोते हैं तो हमारी मांसपेशियों को आराम मिलता है हमारे शरीर के अंगों को आराम मिलता है इस कारणवश इतना अच्छा और इतना आरामदायक महसूस होती है कि जितने भी शरीर के तंत्र हैं धीरे-धीरे कार्यक्रम का कार्य धीरा हो जाता है तो उन अंगों को आराम मिलता है और वह दिन के सभी कार्यों के लिए अपने आपको तैयार करते रहते हैं मेरा नाम आकाश आकाश यूट्यूब पर है तो बैंक शेयर लाइक और कमेंट करें धन्यवाद

aapka prashna hum log sote hain toh aaram mehsus kyon hota hai poore din ke aur kuch momin ki thakawat I hoti hai karya ko abhi karne ke baad mein jo unhe thakan aur unmen hai sarkar chedta jaati hai usko karne ke baad mein jab hum jab hum aaram karte hain neend neend lete hain sote hain toh hamari mansapeshiyon ko aaram milta hai hamare sharir ke angon ko aaram milta hai is karanvash itna accha aur itna aaramadayak mehsus hoti hai ki jitne bhi sharir ke tantra hain dhire dhire karyakram ka karya dhira ho jata hai toh un angon ko aaram milta hai aur vaah din ke sabhi karyo ke liye apne aapko taiyar karte rehte hain mera naam akash akash youtube par hai toh bank share like aur comment kare dhanyavad

आपका प्रश्न हम लोग सोते हैं तो आराम महसूस क्यों होता है पूरे दिन के और कुछ मोमिन की थकावट

Romanized Version
Likes  144  Dislikes    views  1129
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Gunjan

Junior Volunteer

0:19

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

और सोते हैं तो हमारी बॉडी इतना ज्यादा एक्टिव नहीं रहते हैं इसके कारण बॉडी को टाइम होता है कि जितने भी 10 साल से हमारे रखते होगा उसकी हीलिंग की जा सके ऐसे जन्म होते हैं तो हम को आराम महसूस होता है क्योंकि हमारी बॉडी अच्छे से कार्य करते हैं और एक नहीं अनेक जोश में भर्ती है

aur sote hain toh hamari body itna zyada active nahi rehte hain iske karan body ko time hota hai ki jitne bhi 10 saal se hamare rakhte hoga uski healing ki ja sake aise janam hote hain toh hum ko aaram mehsus hota hai kyonki hamari body acche se karya karte hain aur ek nahi anek josh mein bharti hai

और सोते हैं तो हमारी बॉडी इतना ज्यादा एक्टिव नहीं रहते हैं इसके कारण बॉडी को टाइम होता है

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!