राइट टू एजुकेशन: जब दिल्ली सरकार सबसे ज़्यादा ख़र्च बच्चों की पढ़ाई पर करती है तो JNU में फ़ीस को ले कर इतना हंगामा क्यूँ?...


user

Suraj Shaw

Entrepreneur, Career Counsellor

1:27
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो फ्रेंड्स देखिए जेएनयू जो है वह सेंट्रल यूनिवर्सिटी और सेंट्रल यूनिवर्सिटी का जो पैसा आता है वह स्टेट गवर्नमेंट नहीं देती वह जो सेंटर की गवर्नमेंट होती है वह देती है उसको मेंटेन करती है तो जेएनयू की पढ़ाई में दिल्ली सरकार का कोई रोल नहीं है पहली बार दूसरी बात कि पूरी दुनिया में जितने भी सेंट्रल यूनिवर्सिटीज है उन सब की फीस जो है उतनी ही भारत के पीछे अगर जैनियों की फीस बढ़ा दी जाती है तो यह वन ऑफ द कॉस्ट ऑफ कॉस्टली यूनिवर्सिटी बन जाएगी पूरी दुनिया की ठीक है और 300 गुना फीस बढ़ाई जा रही है और सिर्फ ₹10 की बात थी ₹300 की बात की है और भी बहुत सारे ऐसे चीज है जिसको क्या ऐड किया जा रहा है और इतना पैसा कोई भी फैमिली जो अलवर क्लास से बिलॉन्ग करते हैं वह नहीं यह फारवर्ड कर पाएगा और से बच्चों कॉलेज छोड़ना पड़ जाएगा यूनिवर्सिटी सोनीपत जाए और ऐसा नहीं कि वह बच्चे फालतू है वहां पर भु एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करने के बाद वापस मिशन लेते तो उन्होंने भी काफी मेहनत करिए और आगे भी करी दे एक अच्छा प्लेटफार्म है जहां पर वह बच्चे भी पढ़ सकते हैं जिनका फाइनैंशल बैकग्राउंड इतना अच्छा नहीं है फीस बढ़ने के बाद शायद बहुत सारे ऐसे बच्चे होंगे जो भी मोटिवेट हो जाए और पढ़ाई करना चाहते हैं लेकिन नहीं पढ़ पाए तो इसीलिए शायद मेरे ख्याल से जनों के बच्चे जब आऊंगा मगर

hello friends dekhiye jnu jo hai vaah central university aur central university ka jo paisa aata hai vaah state government nahi deti vaah jo center ki government hoti hai vaah deti hai usko maintain karti hai toh jnu ki padhai mein delhi sarkar ka koi roll nahi hai pehli baar dusri baat ki puri duniya mein jitne bhi central universities hai un sab ki fees jo hai utani hi bharat ke peeche agar jainiyon ki fees badha di jaati hai toh yah van of the cost of costly university ban jayegi puri duniya ki theek hai aur 300 guna fees badhai ja rahi hai aur sirf Rs ki baat thi Rs ki baat ki hai aur bhi bahut saare aise cheez hai jisko kya aid kiya ja raha hai aur itna paisa koi bhi family jo alwar class se Belong karte hain vaah nahi yah forward kar payega aur se baccho college chhodna pad jaega university sonipat jaaye aur aisa nahi ki vaah bacche faltu hai wahan par bhu entrance exam clear karne ke baad wapas mission lete toh unhone bhi kaafi mehnat kariye aur aage bhi kari de ek accha platform hai jaha par vaah bacche bhi padh sakte hain jinka fainainshal background itna accha nahi hai fees badhne ke baad shayad bahut saare aise bacche honge jo bhi motivate ho jaaye aur padhai karna chahte hain lekin nahi padh paye toh isliye shayad mere khayal se jano ke bacche jab aaunga magar

हेलो फ्रेंड्स देखिए जेएनयू जो है वह सेंट्रल यूनिवर्सिटी और सेंट्रल यूनिवर्सिटी का जो पैसा

Romanized Version
Likes  67  Dislikes    views  960
KooApp_icon
WhatsApp_icon
5 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!