MS धोनी के द्वारा कप्तानी छोड़ने का कारण क्या था?...


play
user

Pankaj Vasuja

Cinematographer

1:05

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

महेंद्र सिंह धोनी कैप्टन सौरव गांगुली ने किया था वह दुनिया को पता है सहवाग के साथ क्या किया था गौतम गंभीर बनो डाउट यार 2011 के वर्ल्ड कप में गंभीर ने जिताया था मैच वर्ल्ड कप उठाकर देख लो गंभीर ने जिताया था फिर भी गंभीर को प्ले रिंग प्लेइंग इलेवन में जगह नहीं मिली उसने बदला लिया आईपीएल कोलकाता में दो बार जीत के पर एम एस धोनी का समय आ गया था और समय की डिमांड थी युवा को आगे महत्व देना पड़े इसी दम पर इसी नीति पर चल कर युवा को महत्व दें इसमें 3 प्लेयर ओं को एक टाइम हटाया भी था तो नोएडा ऑडी बनो बेस्ट कैप्टन रहा है इसने बुक करके दिखाया पर फील्डर से की बॉडी फिटिंग की फिटनेस की कोई वह नहीं है पर यह आर्मी में भी जाना चाहता था देश प्रेम बिता तो इसमें कुछ नहीं कहा कि क्रिकेट भी चलता रहेगा और आईपीएल देखें खंभे चेन्नई वाला राम-राम

mahendra Singh dhoni captain saurav ganguly ne kiya tha vaah duniya ko pata hai sehwag ke saath kya kiya tha gautam gambhir bano doubt yaar 2011 ke world cup mein gambhir ne jitaya tha match world cup uthaakar dekh lo gambhir ne jitaya tha phir bhi gambhir ko play ring playing eleven mein jagah nahi mili usne badla liya IPL kolkata mein do baar jeet ke par M s dhoni ka samay aa gaya tha aur samay ki demand thi yuva ko aage mahatva dena pade isi dum par isi niti par chal kar yuva ko mahatva de isme 3 player on ko ek time hataya bhi tha toh noida audi bano best captain raha hai isne book karke dikhaya par fielder se ki body fitting ki fitness ki koi vaah nahi hai par yah army mein bhi jana chahta tha desh prem bita toh isme kuch nahi kaha ki cricket bhi chalta rahega aur IPL dekhen khambhe Chennai vala ram ram

महेंद्र सिंह धोनी कैप्टन सौरव गांगुली ने किया था वह दुनिया को पता है सहवाग के साथ क्या किय

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  152
WhatsApp_icon
6 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

4:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एम एस धोनी इंडिया के सर्वश्रेष्ठ कप्तानों में से एक हैं इंडिया के क्रिकेट टीम के तीन सर्वश्रेष्ठ कैप्टन इंडिया क्रिकेट इतिहास में है जिनका नाम स्वर्ण अक्षरों में लिखा हुआ है पहले उसका कपिल देव थे जिन्होंने इंडियन टीम को जीत के लिए खेलना सिखाया और टीम इंडिया जो उससे पहले डिफेंस के लिए खेलती थी अटैकिंग मेथड कभी नहीं अपनाते थे परिणाम स्वरूप इंडिया की हार ज्यादा होती थी या ड्रॉ में चौथे चित्रकला हो पाती चित्र कपिल देव ने कीमत अदा की और जीत के लिए खेलना सिखाया और प्रथम विश्व कप भारत के लिए लेकर आए उनकी एक परी जो जिंबावे के विरोध में उन्होंने इसके लिए 175 रन की पारी खेली थी बहुत संसार प्रसिद्ध पारीक है दूसरे कैप्टन हुए मिस्टर गांगुली गांगुली ने भी इस कपिल देव के द्वारा जो एक टीम भावना पैदा की गई थी उसको जिंदा रखा भर्ती खिलाड़ियों को अटैकिंग मैटर से खेलने के लिए प्रोत्साहित किया परिणामस्वरूप भारत जीत की राह पर चल पड़ा और भारत का नाम दिग्गज खिलाड़ियों में दिग्गज टीमों में काम किया जाने लगा कि शहीद कैप्टन आई महान कैप्टन जी को कहना चाहिए वह मिस्टर m.s. धोनी m.s. धोनी ने 2 विश्वकप दिलाए हैं और एमएस धोनी के समय में बहुत सारे नए खिलाड़ियों को पुरस्कार मिला है

imei s dhoni india ke sarvashreshtha kaptano mein se ek hain india ke cricket team ke teen sarvashreshtha captain india cricket itihas mein hai jinka naam swarn aksharon mein likha hua hai pehle uska kapil dev the jinhone indian team ko jeet ke liye khelna sikhaya aur team india jo usse pehle defence ke liye khelti thi attacking method kabhi nahi apanate the parinam swaroop india ki haar zyada hoti thi ya draw mein chauthe chitrakala ho pati chitra kapil dev ne kimat ada ki aur jeet ke liye khelna sikhaya aur pratham vishwa cup bharat ke liye lekar aaye unki ek pari jo jimbave ke virodh mein unhone iske liye 175 run ki paari kheli thi bahut sansar prasiddh parik hai dusre captain hue mister ganguly ganguly ne bhi is kapil dev ke dwara jo ek team bhavna paida ki gayi thi usko zinda rakha bharti khiladiyon ko attacking matter se khelne ke liye protsahit kiya parinaamasvaroop bharat jeet ki raah par chal pada aur bharat ka naam diggaj khiladiyon mein diggaj teamo mein kaam kiya jaane laga ki shaheed captain I mahaan captain ji ko kehna chahiye vaah mister m s dhoni m s dhoni ne 2 vishwacup dilaye hain aur ms dhoni ke samay mein bahut saare naye khiladiyon ko puraskar mila hai

एम एस धोनी इंडिया के सर्वश्रेष्ठ कप्तानों में से एक हैं इंडिया के क्रिकेट टीम के तीन सर्वश

Romanized Version
Likes  75  Dislikes    views  1462
WhatsApp_icon
user

Pradeep Sehgal

Sports Anchor & Journalist

3:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार दोस्तों मेरा नाम प्रदीप सेहगल है और मैं खुश हूं हमारे एक मित्र में सवाल पूछा है कि एम एस धोनी ने कप्तानी क्यों छोड़ी थी बनके कप्तानी छोड़ने की क्या वजह थी महेंद्र सिंह धोनी जो खिलाड़ी है ना ऐसे खिलाड़ी हैं वह कब क्या फैसला लेंगे किसी को नहीं पता क्या आपने कभी सुना था कि कोई एक खिलाड़ी है जो टीम का कप्तान है वह बीच सीरीज में न सिर्फ कप्तानी छोड़ेगा बल्कि टेस्ट क्रिकेट से संन्यास भी ले लेगा मुझे लगता नहीं है इससे पहले कभी ऐसा हुआ था लेकिन महेंद्र सिंह धोनी ने सबको चौंका दिया था 2014 में ऑस्ट्रेलिया ने सीरीज चल रही थी उन्होंने बीच सीरीज में संन्यास का ऐलान कर दिया था टेस्ट क्रिकेट से तो अगर आप यह देखे तो ऐसा पहले इससे पहले कभी किसी कप्तान नहीं किया था सीरीज खत्म होने के बाद जरूर संन्यास का ऐलान कर देते थे कप्तान लेकिन धोनी ने देखा कि मेरा प्रदर्शन ऐसा नहीं है काफी आलोचना भी हो रही थी उन्होंने कप्तानी की बात करें तो उन्होंने जो कप्तानी थी वह 2017 में छोड़ दी थी और उन्होंने 2017 में कप्तानी से छोड़ी थी क्योंकि वह चाहते थे 2019 के वर्ल्ड कप तक विराट कोहली जो है वह बतौर कप्तान मैच्योर हो जाएं क्योंकि 2017 से 2019 तक रिबन तकरीबन ढाई साल का जोक सिरसा उसमें नहीं चाहते थे कि विराट कोहली कप्तानी करें भारत के और वह इतने मैच्योर हो जाए इतना परिपक्व हो जाए कि वह अपने डिसीजंस खुद लेकर थे और वह कप्तानी की बारीकियों को समझ जाएं कि जब जो भी से क्वेश्चन आए उसमें किस तरह से रिजेक्ट करना और मुझे लगता है काफी हद तक महेंद्र सिंह धोनी जो थे वह उसमें कामयाब भी हुए 2019 के वर्ल्ड कप में विराट कोहली की कप्तानी बहुत ही अलग नजर आई बहुत ही अग्रसर कप्तानी की सोच के साथ कप्तानी की और अगर आप ही कहेंगे कि टीम इंडिया को सेमीफाइनल में हार का सामना करना पड़ा तो लेकर विराट कोहली लगातार कहते आए हैं कि 32 मिनट देना जिसमें भारत के टॉप के चार बल्लेबाज आउट हो गए थे न्यूजीलैंड के खिलाफ 2019 में 29 मिनट भारत के लिए जो है वह खराब है बाकी पूरा साल भारत के लिए बेहतरीन साल 2019 में भारत ने ऑस्ट्रेलिया में पहली बार टेस्ट सीरीज भी जीती तो एक कप्तान के तौर पर जरूर विराट कोहली मैच और हुए थे और महेंद्र सिंह धोनी ने सोचा था 2017 में कप्तानी छोड़ते हुए की विराट कोहली कप्तानी की बारीकियों को सीख जाएंगे उसमें सफल भी रहे थे लेकिन दुर्भाग्य है कि भारत वर्ल्ड कप नहीं जीत पाया 2019 वर्ल्ड कप भी है तो उम्मीद है कीजिए कि महेंद्र सिंह धोनी का घर आप फ्रेंड है आप चाहेंगे कि धोनी इस वर्ल्ड कप में जरूर चले आना कि वह भी इंटरनेशनल क्रिकेट नहीं खेल रहे हैं वर्ल्ड कप के बाद से अगर फैन है तो आप चाहेंगे कि वह 2019 का T20 वर्ल्ड कप भी खेल है और मुझे लगता है अभी क्लियर हो गया आपका आपको कि धोनी ने कप्तानी छोड़ी थी और अगर आपको मेरा यह जवाब पसंद आया है आप मेरे जवाब से सहमत हैं तो फेसबुक पर मेरा एक पेज है प्रदीप सेहगल के नाम से आप उसे लाइक कर सकते हैं मैं क्रिकेट से जुड़े हुए ज्यादा अपडेट क्यों हैं उस पेज पर देता हूं और भी खबरों के बारे में बताता हूं उनका अनिल ससपी करता हूं अगर आपको मेरा जो जवाब है वह पसंद आए तो प्लीज मेरे पेज को लाइक कर लीजिए ताकि आपको और ज्यादा अपडेट क्यों है वहां पर मिल करें तो सब धन्यवाद

namaskar doston mera naam pradeep sehagal hai aur main khush hoon hamare ek mitra mein sawaal poocha hai ki M s dhoni ne kaptani kyon chodi thi banke kaptani chodne ki kya wajah thi mahendra Singh dhoni jo khiladi hai na aise khiladi hai vaah kab kya faisla lenge kisi ko nahi pata kya aapne kabhi suna tha ki koi ek khiladi hai jo team ka captain hai vaah beech series mein na sirf kaptani chodega balki test cricket se sanyas bhi le lega mujhe lagta nahi hai isse pehle kabhi aisa hua tha lekin mahendra Singh dhoni ne sabko chaunka diya tha 2014 mein austrailia ne series chal rahi thi unhone beech series mein sanyas ka elaan kar diya tha test cricket se toh agar aap yah dekhe toh aisa pehle isse pehle kabhi kisi captain nahi kiya tha series khatam hone ke baad zaroor sanyas ka elaan kar dete the captain lekin dhoni ne dekha ki mera pradarshan aisa nahi hai kaafi aalochana bhi ho rahi thi unhone kaptani ki baat kare toh unhone jo kaptani thi vaah 2017 mein chod di thi aur unhone 2017 mein kaptani se chodi thi kyonki vaah chahte the 2019 ke world cup tak virat kohli jo hai vaah bataur captain mature ho jayen kyonki 2017 se 2019 tak ribbon takareeban dhai saal ka joke sirsa usme nahi chahte the ki virat kohli kaptani kare bharat ke aur vaah itne mature ho jaaye itna paripakva ho jaaye ki vaah apne disijans khud lekar the aur vaah kaptani ki barikiyon ko samajh jayen ki jab jo bhi se question aaye usme kis tarah se reject karna aur mujhe lagta hai kaafi had tak mahendra Singh dhoni jo the vaah usme kamyab bhi hue 2019 ke world cup mein virat kohli ki kaptani bahut hi alag nazar I bahut hi agrasar kaptani ki soch ke saath kaptani ki aur agar aap hi kahenge ki team india ko semifinal mein haar ka samana karna pada toh lekar virat kohli lagatar kehte aaye hai ki 32 minute dena jisme bharat ke top ke char ballebaaz out ho gaye the new zealand ke khilaf 2019 mein 29 minute bharat ke liye jo hai vaah kharab hai baki pura saal bharat ke liye behtareen saal 2019 mein bharat ne austrailia mein pehli baar test series bhi jeeti toh ek captain ke taur par zaroor virat kohli match aur hue the aur mahendra Singh dhoni ne socha tha 2017 mein kaptani chodte hue ki virat kohli kaptani ki barikiyon ko seekh jaenge usme safal bhi rahe the lekin durbhagya hai ki bharat world cup nahi jeet paya 2019 world cup bhi hai toh ummid hai kijiye ki mahendra Singh dhoni ka ghar aap friend hai aap chahenge ki dhoni is world cup mein zaroor chale aana ki vaah bhi international cricket nahi khel rahe hai world cup ke baad se agar fan hai toh aap chahenge ki vaah 2019 ka T20 world cup bhi khel hai aur mujhe lagta hai abhi clear ho gaya aapka aapko ki dhoni ne kaptani chodi thi aur agar aapko mera yah jawab pasand aaya hai aap mere jawab se sahmat hai toh facebook par mera ek page hai pradeep sehagal ke naam se aap use like kar sakte hai cricket se jude hue zyada update kyon hai us page par deta hoon aur bhi khabaro ke bare mein batata hoon unka anil sasapi karta hoon agar aapko mera jo jawab hai vaah pasand aaye toh please mere page ko like kar lijiye taki aapko aur zyada update kyon hai wahan par mil kare toh sab dhanyavad

नमस्कार दोस्तों मेरा नाम प्रदीप सेहगल है और मैं खुश हूं हमारे एक मित्र में सवाल पूछा है कि

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  161
WhatsApp_icon
user
0:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

धोनी कप्तान इसलिए छोड़े कि वह ज्यादा एजेंट हो गए थे उनसे अच्छा अब मतलब युवा में विराट कोहली आए थे उनको बहुत अच्छी कप्तानी कर रहे थे इसी वजह से धोनी ने कप्तानी छोड़ दिया क्योंकि धोनी व्हिच आते थे कि कुछ युवा लोग को मिले और वह एक दो साल में सन्यास भी लेने वाले धोनी इसी वजह से शायद उनका मन होली पर आ गया और कोहली को कप्तानी सॉन्ग बैठे

dhoni captain isliye chode ki vaah zyada agent ho gaye the unse accha ab matlab yuva mein virat kohli aaye the unko bahut achi kaptani kar rahe the isi wajah se dhoni ne kaptani chhod diya kyonki dhoni which aate the ki kuch yuva log ko mile aur vaah ek do saal mein sanyas bhi lene waale dhoni isi wajah se shayad unka man holi par aa gaya aur kohli ko kaptani song baithe

धोनी कप्तान इसलिए छोड़े कि वह ज्यादा एजेंट हो गए थे उनसे अच्छा अब मतलब युवा में विराट कोहल

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  159
WhatsApp_icon
user
1:02
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एम एस धोनी द्वारा कप्तानी छोड़ने का यही कारण था कि युवाओं को मौका देना युवाओं को मौका इसलिए आप ऐसे विराट कोहली है विराट कोहली अच्छा प्लेयर है अच्छा सब कुछ कर रहा है हाईएस्ट रन रन चेसर भी है और कहते हैं उन सेंचुरी भी सबसे सचिन सिम को लाओगे पहुंच चुका है मतलब विश्व में सबसे आगे है चक्कर में उसे एक तन इसलिए दी गई और क्योंकि वह युवा है युवा अभी से भाई साहब और प्रशासन डर कर लेता है एस एम एस धोनी है वैसे ही अशोक कैप्टन कूल है तेरी रांची सारे आंसर भी है और इसको बहुत प्रसन्न हिलने की आदत भी है प्रेशर चलेगा भाई साहब और हमारी भारतीय क्रिकेट टीम है वह सही हाथों में जा रही है इस चक्कर में एम एस धोनी ने कप्तानी छोड़ी और उसका मेन मोटिव है ताकि वह सत्ता में खेल रहा हूं तीन-चार साल तब तक भाई समय लुक और सिखा दूंगा इस चक्कर में एम एस धोनी कप्तानी छोड़ी

imei s dhoni dwara kaptani chodne ka yahi karan tha ki yuvaon ko mauka dena yuvaon ko mauka isliye aap aise virat kohli hai virat kohli accha player hai accha sab kuch kar raha hai highest run run chaser bhi hai aur kehte hain un century bhi sabse sachin sim ko laouge pohch chuka hai matlab vishwa mein sabse aage hai chakkar mein use ek tan isliye di gayi aur kyonki vaah yuva hai yuva abhi se bhai saheb aur prashasan dar kar leta hai s M s dhoni hai waise hi ashok captain cool hai teri ranchi saare answer bhi hai aur isko bahut prasann hilne ki aadat bhi hai pressure chalega bhai saheb aur hamari bharatiya cricket team hai vaah sahi hathon mein ja rahi hai is chakkar mein M s dhoni ne kaptani chodi aur uska main motive hai taki vaah satta mein khel raha hoon teen char saal tab tak bhai samay look aur sikha dunga is chakkar mein M s dhoni kaptani chodi

एम एस धोनी द्वारा कप्तानी छोड़ने का यही कारण था कि युवाओं को मौका देना युवाओं को मौका इसलि

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  178
WhatsApp_icon
user

Prakashkumar

Journalist

0:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

रवि शास्त्री और विराट कोहली के दोनों को ही जाने की वजह से महेंद्र सिंह धोनी को अपने कप्तान छोड़ने पड़े उनकी हाजिरी में व्यस्त होने का कुछ सादा संकुचित महसूस कर रहे थे इसलिए कप्तानी छोड़ सकती मेरा तो यही मानना है आप क्या कहते हो आप सूची

ravi shastri aur virat kohli ke dono ko hi jaane ki wajah se mahendra Singh dhoni ko apne captain chodne pade unki hajiri mein vyast hone ka kuch saada sankuchit mehsus kar rahe the isliye kaptani chod sakti mera toh yahi manana hai aap kya kehte ho aap suchi

रवि शास्त्री और विराट कोहली के दोनों को ही जाने की वजह से महेंद्र सिंह धोनी को अपने कप्तान

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  132
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!