महाराष्ट्र का सत्ता संग्राम : फ्लोर टेस्ट से पहले हर पार्टी दावों में दिखा रही है 'दम'। क्या है ये फ़्लोर टेस्ट?...


user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

1:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

महाराष्ट्र सत्ता संगम से पहले पार्टी गांव में दिखा रही है यह भी पार्टी करती है जो अध्यक्ष ने वह विधानसभा में मत प्रस्ताव रखते और जितने भी सांसद हैं अपना मत जिसे मुख्यमंत्री के रूप में जो नेता है उसको देते हैं उसकी सरकार बनती है जाने कि महाराष्ट्र में जिस पर से फ्लोर टेस्ट हुआ है उसे सुप्रीम कोर्ट ने बताया है कि वह मतदान जो करेंगे वह मुक्त नहीं रहेगा उक्त मतदान नहीं होगा सबको खुल कर सकते मतदान करना होगा इससे जो रंग प्रिंसी है अच्छे गए इसलिए जो विधानसभा में विधानसभा के द्वारा अपनी को अपना मुख्य जो मुख्यमंत्री ने विश्वास व्यक्त करते हैं उसे दिखाना होता है और जो मुख्यमंत्री जो है वह अगर मनुष्य में 145 से ज्यादा मस्ती करेगा उसको माना जाएगा इसको पोस्ट करते हैं क्योंकि महाराष्ट्र में शिवसेना कांग्रेस और एनसीपी नेता

maharashtra satta sangam se pehle party gaon mein dikha rahi hai yah bhi party karti hai jo adhyaksh ne vaah vidhan sabha mein mat prastaav rakhte aur jitne bhi saansad hain apna mat jise mukhyamantri ke roop mein jo neta hai usko dete hain uski sarkar banti hai jaane ki maharashtra mein jis par se floor test hua hai use supreme court ne bataya hai ki vaah matdan jo karenge vaah mukt nahi rahega ukth matdan nahi hoga sabko khul kar sakte matdan karna hoga isse jo rang prinsi hai acche gaye isliye jo vidhan sabha mein vidhan sabha ke dwara apni ko apna mukhya jo mukhyamantri ne vishwas vyakt karte hain use dikhana hota hai aur jo mukhyamantri jo hai vaah agar manushya mein 145 se zyada masti karega usko mana jaega isko post karte hain kyonki maharashtra mein shivsena congress aur ncp neta

महाराष्ट्र सत्ता संगम से पहले पार्टी गांव में दिखा रही है यह भी पार्टी करती है जो अध्यक्ष

Romanized Version
Likes  43  Dislikes    views  1270
WhatsApp_icon
6 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पहले यह जान ले कि जिस आपका प्रश्न है कि प्रोटेस्ट से पहले हर पार्टी गांव में दिखा दिखा रही है दम क्या है फ्लोर टेस्ट छोटे सदन में जो बहुमत का जो आंकड़ा है जैसे महाराष्ट्र में 145 तो मुख्यमंत्री को फ्लोर टेस्ट में पास होना जरूरी है जब सदन में प्रोटिस्ट होगा तो जादुई आंकड़ा 145 या उससे ऊपर उनके पक्ष में मतदान हो वह जो टेस्ट में पास होंगे रही बात प्रोटेस्ट पहले सब पार्टियों दवा दिखा रही है तो इसमें वजीर है क्योंकि शिवसेना भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी यह तीन दल है अब जैसा अजित पवार ने बीजेपी से हाथ मिला कर अपना समर्थन दिया था तो माना जा रहा था कि क्योंकि वह राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी के नेता नेता थे तो उनके साथ सारे जितने भी विधायक हैं अजित पवार के साथ होंगे और इसे एक आंकड़ा मानकर राज्यपाल ने उन्हें सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया लेकिन परिदृश्य बदला शरद पवार जी ने अजीत पवार को पार्टी के नेता पद से हटाया उसके बाद जैसा न्यूज़पेपर और मीडिया जैसा बताया कि शरद पवार द्वारा जब पार्टी की मीटिंग ली गई तो उसमें 50 विधायक उपस्थित हुए इसका मतलब कि अजीत पवार के साथ उनके सहित चार विधायक उनके साथ हैं अब ऐसे में जो बीजेपी के पास 105 विधायक और चार एनसीपी के कुल मिलाकर 102 और यदि सारे निर्दलीय जैसा जाना जा रहा है कि अगर निर्दलीय भी अगर उनके साथ जाते हैं तो भी उस फ्लोर टेस्ट में पास नहीं हो पाते हैं ऐसे में शिवसेना एनसीपी और कांग्रेस यदि अपने विधायकों को एकजुट करने में सफल रहती है तो फ्रूट एसपी नतीजे सरकार के खिलाफ जा सकते हैं

pehle yah jaan le ki jis aapka prashna hai ki protest se pehle har party gaon mein dikha dikha rahi hai dum kya hai floor test chote sadan mein jo bahumat ka jo akanda hai jaise maharashtra mein 145 toh mukhyamantri ko floor test mein paas hona zaroori hai jab sadan mein protist hoga toh jaduii akanda 145 ya usse upar unke paksh mein matdan ho vaah jo test mein paas honge rahi baat protest pehle sab partiyon dawa dikha rahi hai toh isme wajir hai kyonki shivsena bharatiya rashtriya congress rashtriya congress party yah teen dal hai ab jaisa ajit power ne bjp se hath mila kar apna samarthan diya tha toh mana ja raha tha ki kyonki vaah rashtriya congress party ke neta neta the toh unke saath saare jitne bhi vidhayak hain ajit power ke saath honge aur ise ek akanda maankar rajyapal ne unhe sarkar banane ke liye aamantrit kiya lekin paridrishya badla sharad power ji ne ajit power ko party ke neta pad se hataya uske baad jaisa Newspaper aur media jaisa bataya ki sharad power dwara jab party ki meeting li gayi toh usme 50 vidhayak upasthit hue iska matlab ki ajit power ke saath unke sahit char vidhayak unke saath hain ab aise mein jo bjp ke paas 105 vidhayak aur char ncp ke kul milakar 102 aur yadi saare nirdaliya jaisa jana ja raha hai ki agar nirdaliya bhi agar unke saath jaate hain toh bhi us floor test mein paas nahi ho paate hain aise mein shivsena ncp aur congress yadi apne vidhayakon ko ekjut karne mein safal rehti hai toh fruit SP natije sarkar ke khilaf ja sakte hain

पहले यह जान ले कि जिस आपका प्रश्न है कि प्रोटेस्ट से पहले हर पार्टी गांव में दिखा दिखा रही

Romanized Version
Likes  19  Dislikes    views  839
WhatsApp_icon
user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

1:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रोटेस्ट आते हैं जब विधानसभा में जो पार्टी अपना बहुमत बता रही है वह पार्टी अपना बहुमत वहां पर सिद्ध कर सके उसे पूर्व टेस्ट खा जाता है अर्थात वहां पर उसके विधायकों की संख्या अधिक होनी चाहिए विधानसभा में कुल सदस्यों की संख्या से आधे से अधिक उस पार्टी का बहुमत होना चाहिए यदि वहां पर है बहुमत तो उस हालात ने ही उन्हें राजपाल मुस्लिम की सीट के लिए आमंत्रित करते हैं और राजपाल के समक्ष जाकर के उनको अपने एमएलए होने का दावा प्रस्तुत करना होता है ग्लेज उनको दिखाने होते हैं जो वहां की विधान सभा के सदस्यों की संख्या से अधिक होने चाहिए

protest aate hain jab vidhan sabha mein jo party apna bahumat bata rahi hai vaah party apna bahumat wahan par siddh kar sake use purv test kha jata hai arthat wahan par uske vidhayakon ki sankhya adhik honi chahiye vidhan sabha mein kul sadasyon ki sankhya se aadhe se adhik us party ka bahumat hona chahiye yadi wahan par hai bahumat toh us haalaat ne hi unhe rajyapal muslim ki seat ke liye aamantrit karte hain aur rajyapal ke samaksh jaakar ke unko apne mla hone ka daawa prastut karna hota hai Glaze unko dikhane hote hain jo wahan ki vidhan sabha ke sadasyon ki sankhya se adhik hone chahiye

प्रोटेस्ट आते हैं जब विधानसभा में जो पार्टी अपना बहुमत बता रही है वह पार्टी अपना बहुमत वहा

Romanized Version
Likes  88  Dislikes    views  1805
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

महाराष्ट्र का सत्ता संग्राम फ्लोर टेस्ट से पहले हर पार्टी गांव में भिखारी है दम क्या है यह प्रोटेस्ट तो देखी फ्लोर टेस्ट है वह राज्यपाल के द्वारा लिए जाते हैं राज्य का जो राज्यपाल होते हैं वह उसके सामने सारी विधायकों को है वह गुजर जाते हैं जो नेता होता है यादव मुख्यमंत्री की सब लोग होते हैं उनके सामने बहुमत साबित करने के लिए भाग्य की सुल्तान की पिक्चर जितनी विधायक उनके साथ में थी उनके पीछे चलते हैं राज्यपाल के सामने से तो राज्यपाल क्या करते हैं उनको काउंटिंग करते हैं यानी जीत से नेता के पास में ज्यादा विधायक जदयू नेता है वह बहुमत साबित कर लेते हैं काउंटिंग नहीं मान लो उसको इतनी तैयार उसे उसके बाद ही नहीं विधायक बन रहे हैं जो टेस्ट स्कोर है वह मुख्यमंत्री बना था और जो नहीं कर पाती है वह उसके पास है जाती है तो इसमें फ्लोर टेस्ट होता के सारे विधायकों को है वह राज्यपाल के सामने से गुजरते हैं उनकी गिनती करता है कि किस नेता के पास है वह बहुमत है इन्हीं विधायकों की ज्यादा किसके पास नहीं तो उसको है वह मुख्यमंत्री बनाते हैं इस प्रकार है वह फ्लोर टेस्ट होता है राजनीति में

maharashtra ka satta sangram floor test se pehle har party gaon mein bhikhari hai dum kya hai yah protest toh dekhi floor test hai vaah rajyapal ke dwara liye jaate hain rajya ka jo rajyapal hote hain vaah uske saamne saree vidhayakon ko hai vaah gujar jaate hain jo neta hota hai yadav mukhyamantri ki sab log hote hain unke saamne bahumat saabit karne ke liye bhagya ki sultan ki picture jitni vidhayak unke saath mein thi unke peeche chalte hain rajyapal ke saamne se toh rajyapal kya karte hain unko counting karte hain yani jeet se neta ke paas mein zyada vidhayak jadayu neta hai vaah bahumat saabit kar lete hain counting nahi maan lo usko itni taiyar use uske baad hi nahi vidhayak ban rahe hain jo test score hai vaah mukhyamantri bana tha aur jo nahi kar pati hai vaah uske paas hai jaati hai toh isme floor test hota ke saare vidhayakon ko hai vaah rajyapal ke saamne se gujarate hain unki ginti karta hai ki kis neta ke paas hai vaah bahumat hai inhin vidhayakon ki zyada kiske paas nahi toh usko hai vaah mukhyamantri banate hain is prakar hai vaah floor test hota hai raajneeti mein

महाराष्ट्र का सत्ता संग्राम फ्लोर टेस्ट से पहले हर पार्टी गांव में भिखारी है दम क्या है यह

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  204
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

महाराष्ट्र संग्राम प्रोटेस्ट पहले पार्टी दावों में दिखाइए दाम क्या है एयरपोर्ट शुरू से बताना चाहूंगा कि महाराष्ट्र में जो इलेक्शन हुए बीजेपी को शो करें सीटें मिली हैं उसके बाद कांग्रेस पर आ जाते हैं कांग्रेस को 50 के करीब और एनसीपी को कितनी सीट मिली है तो कोई भी और बातें शिवसेना की उसको भी ल को कितनी सीटें मिली है तो कोई भी पार्टी है वह एक मचिया बहुमत अपना साबित करने में नाकाम रही है तू पहले तो बीजेपी और शिवसेना का आपस में जो गठबंधन था तो कहीं ना कहीं तो गठबंधन टूट गया कि जब सेना का कहना था कि हमारा श्याम होगा बीजेपी कहना था कि हमारे सीएम का गठबंधन टूट गया उसके बाद राज्यपाल ने जो टेस्ट के लिए बोला कि भाई अपना बहुमत साबित कीजिए बड़ी पार्टी तो पहले तो अचानक बुलाए सेना ने मना कर दिया लेकिन टाइम नहीं दिया रागिनी के बीच राज्यपाल शासन लागू कर दिया गया अभी सेंट में सेना को एनसीपी कांग्रेस का अधिवेशन हुआ था तो उन्हें सरकार बनाने के लिए पिकअप करने वाले थे उससे पहले सत्ता का दुरुपयोग होता है और राष्ट्रपति शासन जो हटकर सुबह 5:00 बजे और बीजेपी की जॉब देवेंद्र पांडे की जन्मतिथि एमसीबी किए जो नेता है अजित पवार उनको डिप्टी सीएम की शपथ दिलाई जाती है जिसके वापस मन का संग्राम बढ़ जाता है तेरे नाम को मिलकर पंगु साबित कर पाए अभी और ना ही ऐसी थी बीजेपी कांग्रेस मिलकर लोटस में कामयाब हो पाए हैं मतलब कि बहुमत साबित नहीं कर पाएंगे सबसे बड़ी बात मैं आपको यह बताना चाहूंगा कि बीजेपी कहीं ना कहीं तानाशाही बोतराई उसका रीजन है मैं यह आंकड़े अभिलाष हवाई फायर नहीं कह रहा हूं मैं जो सच्चाई बुआ को बताना चाह रहा हूं सुबह आ जाना 5:00 बजे लोकतंत्र का दुरुपयोग है कहना कि सत्ता के दुरुपयोग किया जा रहा है अभी क्या सामने आता है अगली दिनों में क्या बीजेपी और एनसीपी जॉब अजित पवार कुछ अपने विधायकों के साथ बैठक में शामिल हो जाएंगे बहुमत साबित कर देंगे और पाते हैं क्या मदद कर पाते हैं यह बड़ी बात होगी या फिर जिस तरीके से अभी एनसीटीई बीजेपी कांग्रेस सिंह के फोटो दिखाई दे रहे हैं इसे बहुमत साबित अगले दिनों में कर पाएंगे या नहीं कर पाएंगे पहले तो बीजेपी को साबित करना होगा भाई तुम्हें सरकार तो बना ली लेकिन अब किस तरीके से आप उनको दिखाना होगा सबसे बड़ी बात यह लगी कि जब जिस तरीके से रहने सीएम पद की शपथ दिला दी जाती है बिना बहुमत साबित किए तरीके से जो कुछ ड्रामा चल रहा है भाई यह कहना कि बहुत गलत है इसका विरोध तो करना चाहिए लेकिन कोई अब क्या बोलूं मैं आपको किस तरीके से या कहीं ना कहीं मीडिया को भी कदम उठाना चाहिए लेकिन मीडिया भी चुप्पी साधे हुए हैं

maharashtra sangram protest pehle party davon mein dikhaaiye daam kya hai airport shuru se bataana chahunga ki maharashtra mein jo election hue bjp ko show kare seaten mili hain uske baad congress par aa jaate hain congress ko 50 ke kareeb aur ncp ko kitni seat mili hai toh koi bhi aur batein shivsena ki usko bhi l ko kitni seaten mili hai toh koi bhi party hai vaah ek machiya bahumat apna saabit karne mein nakam rahi hai tu pehle toh bjp aur shivsena ka aapas mein jo gathbandhan tha toh kahin na kahin toh gathbandhan toot gaya ki jab sena ka kehna tha ki hamara shyam hoga bjp kehna tha ki hamare cm ka gathbandhan toot gaya uske baad rajyapal ne jo test ke liye bola ki bhai apna bahumat saabit kijiye badi party toh pehle toh achanak bulaye sena ne mana kar diya lekin time nahi diya ragini ke beech rajyapal shasan laagu kar diya gaya abhi sent mein sena ko ncp congress ka adhiveshan hua tha toh unhe sarkar banane ke liye pickup karne waale the usse pehle satta ka durupyog hota hai aur rashtrapati shasan jo hatakar subah 5 00 baje aur bjp ki job devendra pandey ki janmtithi mcb kiye jo neta hai ajit power unko deputy cm ki shapath dilai jaati hai jiske wapas man ka sangram badh jata hai tere naam ko milkar pangu saabit kar paye abhi aur na hi aisi thi bjp congress milkar lotus mein kamyab ho paye hain matlab ki bahumat saabit nahi kar payenge sabse badi baat main aapko yah bataana chahunga ki bjp kahin na kahin tanashahi botrai uska reason hai yah aankade abhilash hawai fire nahi keh raha hoon main jo sacchai buaa ko bataana chah raha hoon subah aa jana 5 00 baje loktantra ka durupyog hai kehna ki satta ke durupyog kiya ja raha hai abhi kya saamne aata hai agli dino mein kya bjp aur ncp job ajit power kuch apne vidhayakon ke saath baithak mein shaamil ho jaenge bahumat saabit kar denge aur paate kya madad kar paate hain yah badi baat hogi ya phir jis tarike se abhi NCTE bjp congress Singh ke photo dikhai de rahe hain ise bahumat saabit agle dino mein kar payenge ya nahi kar payenge pehle toh bjp ko saabit karna hoga bhai tumhe sarkar toh bana li lekin ab kis tarike se aap unko dikhana hoga sabse badi baat yah lagi ki jab jis tarike se rehne cm pad ki shapath dila di jaati hai bina bahumat saabit kiye tarike se jo kuch drama chal raha hai bhai yah kehna ki bahut galat hai iska virodh toh karna chahiye lekin koi ab kya bolu main aapko kis tarike se ya kahin na kahin media ko bhi kadam uthana chahiye lekin media bhi chuppi saadhe hue hain

महाराष्ट्र संग्राम प्रोटेस्ट पहले पार्टी दावों में दिखाइए दाम क्या है एयरपोर्ट शुरू से बता

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  126
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

फ्लोर टेस्ट उस चीज को कहते हैं जिसमें कोई भी राजनीतिक दल पूरी संख्या में ना हुआ उसे जो है किसी दूसरे की सहायता लेकर अपना बहुमत सिद्ध करना हो जैसे इस समय महाराष्ट्र में बीजेपी ने दवा डाला है और उसका साथ दे रही हैं एनसीपी एनसीपी के अजित पवार जो है वह उन्होंने आगे कहा है कि वह बीजेपी को सहायता करेंगे और इसीलिए जो है अब टेस्ट होगा सुप्रीम कोर्ट में गई है एनसीपी कांग्रेस शिवसेना और जैसा कि अनुमान लगाया जा रहा है कि जो जो टेस्ट के लिए पढ़ने को 24 घंटे का समय दिया जाएगा

floor test us cheez ko kehte hain jisme koi bhi raajnitik dal puri sankhya mein na hua use jo hai kisi dusre ki sahayta lekar apna bahumat siddh karna ho jaise is samay maharashtra mein bjp ne dawa dala hai aur uska saath de rahi hain ncp ncp ke ajit power jo hai vaah unhone aage kaha hai ki vaah bjp ko sahayta karenge aur isliye jo hai ab test hoga supreme court mein gayi hai ncp congress shivsena aur jaisa ki anumaan lagaya ja raha hai ki jo jo test ke liye padhne ko 24 ghante ka samay diya jaega

फ्लोर टेस्ट उस चीज को कहते हैं जिसमें कोई भी राजनीतिक दल पूरी संख्या में ना हुआ उसे जो है

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  147
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!